“कैसे पूरी तरह से मुँहासे |आप कैसे मुँहासे को खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका”

वात और कफ को शांत करने के लिए सूखी अदरक और काली मिर्च उत्कृष्ट हैं। ये श्वसन प्रणाली के स्वास्थ्य को बनाए रखने और पाचन और संचलन को बढ़ाने में सहायक होती है। ये सामग्री शरीर में गर्मी उत्पन्न करती हैं।

सांस की बदबू मुंह के कैंसर का प्रारंभिक संकेत है। कैंसर के कई प्रारंभिक संकेत है, जैसे कि मुंह के अंदर गांठ या सफेद, लाल, या गहरें दाग़ होना, चबाते समय, निगलते समय या जबड़े को हिलाते समय कठनाई होना, ऐसा लगना कि आपके गले में कुछ अटक गया हो, मुंह का सुन्न होना, गालो में सूजन होना, या आवाज़ का बदलना। अगर इनमे से कोई भी संकेत आपको नज़र आए तो डॉक्टर से मिलें।

अगर आपको बार-बार मुंह के छाले Muh ke chhale हो रहे हैं तो अपने मुंह की सफाई पर विशेष ध्यान दीजिए। ज्यादा मसालेदार और गरिष्ठ भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक न हो रहे हों तो जल्द चिकित्सक से सलाह व उपचार अवश्य लीजिए।

टॉन्सिल स्टोन्स (tonsil stones): ये टॉन्सिल पर सफेद धब्बे के रूप में दिखाई देते हैं जो कि केल्सीकृत भोजन, बलगम और बैक्टीरिया की गांठ हैं। यदि दिखें ,तो गलती से गले का संक्रमण मान लिए जाते हैं हालांकि कभी-कभी वे नग्न आंखों से दिखाई भी नहीं देते। हो सकता हैं आपने कसैला स्वाद अनुभव हो या निगलते समय दर्द महसूस हो।[६]

तो आज हमने आपको इस पोस्ट में बताया कि कैसे आप अपने चेहरे से कील मुहांसों को दूर कर सकते हैं कील मुहासे किस चीज से होते हैं और उनसे बचने का उपाय यदि आपको यह पोस्ट पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं.

यह आपके चेहरे पर कोई गलत परिणाम नहीं देते . मुहाँसे के लिए मेडिकल इलाज लेने से पहले हमेशा ही घरेलु इलाज लेना चाहिए क्यूंकि मेडिकल इलाज से चेहरे की प्राकृतिक सुन्दरता चली जाती हैं और चेहरा बेजान हो जाता हैं .अपने चेहरे से मुहाँसे हटाने के लिए पहले साधारण घरेलु इलाज करे जिससे चेहरे में और अधिक निखार आता हैं .

मुंह के छालो की समस्या दिखने में जितनी छोटी हैं उतनी ही अधिक कष्टदायी हैं। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।

कुछ लोग कानों की सफाई के लिए डॉक्टर का सहारा लेते हैं डॉक्टर के पास जाते हैं और डॉक्टर से कानों की सफाई करवाते हैं तो कुछ लोग राह चलते लोगों से जो भी काम साफ करने का काम करते हैं उनसे कानों की सफाई करवाते हैं लेकिन हम आपको बता दें कि यह सब आपको करने की जरूरत नहीं है आप आराम से घर बैठे कानों की सफाई कर सकते हैं जोकि सबसे आसान भी है और इसमें कोई पैसा भी खर्च नहीं होगा!

निवदेन – Friends अगर आपको ‘ Homemade Remedies for pimple solution in Hindi ‘ पर यह लेख अच्छा लगा हो तो हमारे Facebook Page को जरुर like करे और  इस post को share करे | और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

पिछले कई सालों से सिर दर्द, ठंड, खांसी, कंजस्टेड नाक, छाती और गले के कहर के इलाज के लिए विक्स वेपोरब का इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन यह इसका एकमात्र उपयोग नहीं है। आप इसे कई अन्य चीजों के लिए भी उपयोग कर सकते हैं

कॉफी और शराब का सेवन न करें। यह दोनो ही पेय आपके मुंह में बैक्टीरीया को बढ़ाते है, जो सांस की दुर्गंध का मुख्य कारण होते हैं। यह आपके मुंह को भी सूखाते है, जिस वजह से बैक्टीरिया दीर्घ काल तक मुंह में ही रहते हैं।

घरेलू नुस्खे चेहरे के किसी भी दाग धब्बों के निशानों को हल्का करने की क्षमता रखते हैं। इनका सही और ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाने के लिए इनका प्रयोग निरंतर रूप से और बताये गए नुस्खे के अनुसार लंबे समय तक करें। इससे आपको बेहतरीन परिणाम मिलेंगे।

हल्के, जो सूखी और छोटी त्वचा पैच द्वारा विशेषता है, सोरायसिस होने पर रोगियों इस बीमारी के बारे में लगता है नहीं हो सकता है। जब व्यक्ति दरिद्र बड़ी और मोटी पैच के लाल रंग के साथ कवर किया गया है निश्चित रूप से, यह मामला नहीं है। Psoriasis के इस डिग्री गंभीर है, पैच पूरे शरीर को कवर कर सकते हैं और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसेजानने के लिए की आवश्यकता होती है।

3 – गुलाब जल में बराबर मात्रा में निम्बू का रस मिलाकर मिश्रण तैयार कर लीजिये और उस मिश्रण को चेहरे पर करीब आधे घंटे तक लगा कर रखे फिर ताजे पानी से चेहरा धो ले, इस प्रयोग को चेहरे पर करीब 15  दिन तक करें, जिससे आपके चेहरे के मुँहासे ठीक हो जायेंगे.

Hare khire ko kaddukas kar ke uske ras ko ek bowl me nikal le, or is ras ko apne chehre par lagbhag ek ghante tak lga kar rakhe fir saf pani se chehre ko dho le pimples na kewal saf hunge balki pimples hona bhi kam ho jayega.

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

अस्वीकरण: इस साइट पर उपलब्द सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

ठीक है, अस्वीकरण: बहुत से इंसान इस उपचार की कसम खाता है, और यह हैला चिकना है (जो अब तक टूथपेस्ट के आसपास भोगता है ?!) लेकिन यह मील मुश्किल है उम्मीद कर रहे हैं कि आपकी त्वचा टूथपेस्ट के अपने लोगो के लिए प्रतिक्रिया करेगी। “टूथपेस्ट्स में पदार्थ और सुगंध शामिल हो सकते हैं जो त्वचा को खराब और नुकसान पहुंचाएंगे” बोवे कहते हैं। यदि आपको ऐसा करने की ज़रूरत है, तो निश्चित करें कि आप पहले किसी पैच का परीक्षण करते हैं, खासकर जब आपके पास संवेदनशील त्वचा होती है

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

मुँहासे एक गंभीर समस्या है, लेकिन साथ मेंसक्षम दृष्टिकोण और जटिल उपचार आपकी त्वचा बिल्कुल सही दिखेगी। विशेषज्ञों की सहायता कभी भी ज़रूरत से ज़्यादा नहीं होती है, बल्कि स्वतंत्र रूप से भी, दृढ़ता और दृढ़ता से दिखती है, चेहरे पर मुंह से छुटकारा पाना संभव है।

वैकल्पिक रूप से, डेढ़ चम्मच खीरे और नीबू का रस मिलाएं। इस मिश्रण को आपकी त्वचा पर लगाएं और इसे सूखने दें और फिर इसे गर्म पानी से धो लें। प्रतिदिन यह उपाय करें। इसका उपयोग झाइयों और सनबर्न को कम करने के लिए भी किया जा सकता है।(और पढ़ें – झाइयां हटाने के घरेलू उपाय)

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और त्वचा की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

लेज़र उपचार करवाएं: अगर आपके मुँहासे कई महीनों के बाद भी ठीक नहीं हो रहें हैं, तो लेज़र उपचार करवाएं | आप कौन सा इलाज करवाना चाहते हैं, उसके मुताबिक लेज़र कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करती है और दाग को भाप बनाकर साफ़ करती है |[९]

दालचीनी एक आम मसाला और स्वाद बढ़ाने वाला एजेंट है लेकिन इसके तेल में माइक्रोबियल विरोधी गुण होते हैं। शहद में पानी का असर बहुत कम होती है इसका मतलब है कि इसमें नमी ज्यादा नहीं होती जो सूक्ष्म जीवाणुओं के विकास को बढ़ावा देती है। यह ध्यान में रखते हुए कि मुँहासों का पैदा होना, त्वचा के छिद्र के भीतर होने वाले संक्रमण से होता है, शहद के साथ दालचीनी का संयोजन एक कारगर उपाय है।

कील और मुहाँसो को दूर करने के लिए चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें साबुन से चेहरा न धोये| सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें पानी अधिक मात्र में पिएं पूरी नींद लें तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ|

एक ह्यूमिडीफ़ायर (humidifier) का प्रयोग करें: अपनी हवा में नमी का स्तर बढ़ाने से आपके शरीर की बलगम पतली हो जाएगी और आसानी से संभाली जाएगी। जब भी आप घर पर हों और खासकर रात में सोेते समय, तब एक ह्यूमिडीफ़ायर को चलाए रखें। बलगम से और दम लगाकर लड़ने के लिए पानी में युकलिप्टुस का तेल डालें।

Psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसे? पहले एक रोग की अवस्था पर तय और बाद में सोरायसिस के उपचार की नियुक्ति। Psoriasis के प्रकारनिर्धारित कारकों में से एक है। अपने चिकित्सक शायद आप एक शुरुआत के लिए कुछ सामयिक क्रीम की सिफारिश करेगा और केवल बाद में एक अलग और अधिक गंभीर छालरोग उपचार दवाओं के साथ इलाज किया जा सकता।

नई द‍िल्‍ली : सर्दियों में मूली के पराठे, मूली की सब्‍जी, मूली का अचार और सलाद हर घर के भोजन का अहम हिस्‍सा हैं. हालांकि ज्‍यादातर लोग ऐसे हैं जो मूली की शक्‍ल देखकर ही मुंह बनाने लगते हैं. अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शामिल हैं तो आपके लिए मूली के फायदों को जानना बेहद जरूरी है. जी हां, मूली भले ही आपको मामूली सब्‍जी, लेकिन यह औषध‍िय गुणों से भरपूर है. अगर आप रोजाना इसे अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो कैंसर, डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर समेत कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे और आपकी लाइफस्‍टाइल हो जाएगी बेहद हेल्‍दी:

केसर के कुछ दानों को 2 चम्मच दूध में रातभर भिगोकर रख दें। इस पात्र को फ्रिज (fridge) में रखें, जिससे कि ये खराब ना हो जाए। सुबह केसर के दानों को दूध में मसल लें और इसका प्रयोग चेहरे पर करें। खासकर काले धब्बों और एक्ने (acne) के निशानों पर इसे लगाएं। इसे पूरी तरह सूखने दें और फिर सादे पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग रोजाना करने से आपको 1 हफ्ते में फर्क दिखने लगेगा।

2 चंदन का पाऊडर पिंपल भगाने में बहुत लाभकारी होता है। यह न सिर्फ आपके चेहरे को फ्रेश करेगा बल्कि पिंपल को दुबारा लौटने से भी रोकेगा। चंदन पाऊडर को पिंपल पर 2-3 घंटो के लिए लगा रहने दें और चेहरे को ठंडे पानी से धो कर सूखा लें।

जैसा कि आप जानते हैं, त्वचा हालत का एक संकेतक हैशरीर। चेहरे पर मुँहासे की उपस्थिति के कारण दोनों बाह्य और आंतरिक कारकों का असर हो सकता है। जलवायु की स्थिति, कॉस्मेटिक तैयारी का उपयोग, पर्यावरण की स्थिति बाह्य कारक हैं जो त्वचा की स्थिति को प्रभावित करते हैं। उदाहरण के लिए, गर्मी में मुंह का प्रकटन, पराबैंगनी प्रकाश या वृद्धि हुई पसीना आना के परिणामस्वरूप हो सकता है। त्वचा का संदूषण चेहरे पर छोटे खांघों की उपस्थिति की ओर जाता है

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *