“मुंह को खत्म करने के लिए कैसे करें |मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए सरल तरीके”

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

माथे पर चमड़े के नीचे और छोटे pimples पैदा कर सकते हैंबस अनुचित देखभाल के परिणामस्वरूप किसी भी मामले में आपको छोटे प्रदाहों को निचोड़ना चाहिए, जैसे कि रोगाणुओं, पड़ोसी छिद्रों में पड़ना, केवल माथे पर चिड़ियों की संख्या में वृद्धि होगी

पिम्पल्स का इलाज के लिए रसायनिक पदार्थ का उपयोग करने से बेहतर होगा की आप प्राकृतिक उत्पादो का उपयोग करे। घरेलू उत्पाद बहुत सस्ते होते है और इनका कोई बुरा असर भी नही पड़ता। चेहरे पर दाने के उपाय, त्वचा की देखरेख करना वो भी सुंदरता के साथ यह बहुत ज़रूरी है। कुछ घरेलू उपचार की सूची नीचे दी गई है जो काले दाग (black spots) धब्बे, मुँहासे के निशान से दूर रहने मे आपकी मदद करेगे।

–> अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा भी मौजूद है तो समझिए पिंपल रफूचक्कर हो गया क्योंकि असल में बर्फ पिंपल की लालिमा को कम करती है और उसके इर्द – गिर्द जमा गंदगी और तेल को निकाल देती है | आप को केवल इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटकर उसे कुछ सेकेण्ड के लिए त्वचा पर फेरना है |

यदि आप अक्सर पेट की बीमारियों से पीड़ित होते हैं जैसे गैस, अपच, कब्ज, सूजन आदि। यह अक्सर तब होता है जब आपकी पाचन प्रणाली अच्छी तरह से काम नहीं कर रही होती है। इसे सुधारने के लिए आप सौंफ और अजवाइन से बना काढ़े का सेवन कर सकते हैं। दोनों में कार्मिनटिव गुण होते हैं जो गैस को बनने से रोकते हैं और बेहतर पाचन में सहायता करते हैं।

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

Hello sir, mera naam Sonika h,, mere face pr pimples to ab nhi h Lekin unke nishan reh Gye h jisse face bht khrab dikhta h aap Aisa kuch btayiye jisse meri skin bht beautiful ho jaye, time jyada lgega uski koi problem nhi h bs thik hona chahiye….

एक नैचुरल एंटी एजिंग और एंटी ऐंजनंट है क्योंकि इसमें विटामिन ‘सी’ पाई जाती है जो चेहरे को अंदर गहराई से साफ करती है। नींबू का रस दाग धब्बों कील मुहांसों को दूर करने एवं चेहरे का स्कीन टोन को निखारने में मदद करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से चेहरा दाग धब्बों से रहित एवं ख़ूबसूरत बन जाता है।

यहां तक ​​कि यहां तक ​​कि जब तक आप मुँहासे से दूर रखने के लिए अपनी पूरी कोशिश करते हैं, कभी-कभी आप मुँहासे के साथ उभरने लगते हैं सौभाग्य से, एक दाना बंद करने के लिए बहुत सारे तरीके हैं सबसे आसान विकल्प में ग्लोलिक एसिड या बैंजोल पेरोक्साइड वाले सामयिक जवाब हैं। यदि आप एक हर्बल तकनीक का चयन करते हैं, तो आप चाय के पेड़ के तेल का जवाब पढ़ सकते हैं या बर्फ का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक समय में एक उपचार की कोशिश करें, और अपने छिलके और त्वचा को चौबीस घंटे छूट दें, इससे पहले कि आप कुछ नया प्रयास करें ..

How to Remove Pimples from Face in Hindi. Teji/tezi se muhase hatane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay. Muhase hatane ke upay. Muhase ke liye gharelu upay. Pimple hatane ke tarike Hindi me. Pimple ke gharelu nuskhe. Muhase ka gharelu ilaj Hindi me. Muhase ka ilaj. मुँहासे हटाने के उपाय। मुहासे हटाने के लिए घरेलू उपचार। Pimples on face treatment at home in Hindi. Pimples problem solution in Hindi. Pimple and acne treatment in Hindi.

मुल्तानी मिट्टी में कई प्राकृतिक खनिज होते हैं और इसमें त्वचा का रंग साफ करने के भी गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

मुल्तानी मिट्टी तैलीय और मुँहासे प्रवण त्वचा के लिए अच्छी है और यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर, उनको रोम छिद्र से मुक्त करती है। यह आपके रंग में सुधार करने में भी मदद करती है। (और पढ़ें – आठ दिन के लिए यह उबटन लगाएँ, काले से गोरा रंग और सुंदर त्वचा पाएँ)

बलगम (जिसे कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।

मुंह की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आसान घरेलू उपाय – तुरंत दिखाएगी असर सांस की बदबू को हटाने के साथ-साथ यह नुस्खा आपके दांतों को भी सफेद करेगा – ELIMINATE BAD BREATH IN 5 MINUTES! ये जादुई ड्रिंक सांस की बदबू से लेकर कैंसर जैसी बिमारी को रोकने की क्षमता रखती है !! यह घरेलू औषधि दिला सकती है सांस की बदबू से छुटकारा – SAY GOODBYE TO BAD BREATH, PLAQUE, TARTAR AND KILL HARMFUL BACTERIA IN YOUR MOUTH WITH ONLY ONE INGREDIENT

अपने मुँह को नम रखें: शुष्क मुँह बदबूदार मुँह होता है। यही कारण है कि आपकी सांस सुबह और भी बदतर हो जाती है सोते समय आपका मुँह कम लार पैदा करता है। आपके मुँह में लार मुँह की दुर्गंध के लिए दुश्मन का काम करती है क्यूंकि ये ना केवल बैक्टीरिया और अन्ना कणों को धोती है बल्कि यह एक एंटीसेप्टिक है और जीवाणुओं को मारने वाला एंजाइम का काम करती है।[४]

लेकिन कॉलेज के समय में जो पिम्पल मेरे चेहरे पर आये उनको छुड़ाने में मुझे 8 महीने से ज्यादा लग गये. मेरे चेहरे में पहले एक फुंसी आई फिर दूसरी और देखते ही देखते ही यह संख्या रोजाना लगातार बढती जा रही थी. जो भी पिम्पल पुराना हो जाता है वह चेहरे पर मुंहासे में बदल जाता. जो मेरे चेहरे पर एक काले दाग की तरह दिखाई देता था.

हमेशा शुगर फ्री गम या मिंट का ही इस्तेमाल करें, क्योंकि शक्कर हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ाने में मदद कर सकता है, और जैसे ही शुगर वाली गम या मिंट खाकर खत्म हो जाएगी, तो आपकी सांस की दुर्गंध और ज्यादा बढ़ जाएगी।

वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच मेथी के बीज को पीसें और उसका पाउडर बनाएं और एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा सा गर्म पानी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाएं। 20 मिनट या रात भर लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें, यह सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।

English: Get Rid of Bad Breath, Français: se débarrasser de sa mauvaise haleine, Italiano: Curare l’Alito Cattivo, Español: eliminar el mal aliento, Português: Se Livrar do Mau Hálito, Deutsch: Mundgeruch loswerden, Nederlands: Van een slechte adem afkomen, Русский: избавиться от запаха изо рта, 中文: 摆脱口臭, Čeština: Jak se zbavit páchnoucího dechu, Bahasa Indonesia: Mengatasi Napas Tak Sedap, ไทย: ดับกลิ่นปาก, العربية: التخلُّص من رائحة الفم الكريهة, Tiếng Việt: Đẩy lùi chứng Hôi miệng, 한국어: 심한 입 냄새 제거하는 법, 日本語: 口臭を消す

हर्बल चाय पिएँ: गरम चाय खिजे हुए गले को आराम पहुँचाने और तनाव कम करने के लिए एक सामान्य सहायता है। अपने पसंदीदा हर्बल चाय के एक कप को शहद के साथ बनाएँ और धीरे धीरे पिएँ। गर्माहट आपके गले में बलगम को तोड़ने में मदद करेगी और पानी व शहद की नमी खिजी हुई अन्नप्रणाली (esophagus) को आराम देगी। अदरक, कैमोमाइल (chamomile) और नींबू की चाय बलगम से छुटकारा पाने के लिए विशेष रूप से उपयोगी हैं।

मसालेदार खाना जैसा कि आप अनुमान लगा रहे होंगे, मसालेदार खाना आपकी नाक में बलगम को तोड़ देता है और ज़्यादा आसानी से उसे बहने देता है। आप जितना संभाल सकते हैं उतना मसालेदार खाना खाकर अपने शरीर को उसकी सारी बलगम तोड़ने में मदद करेें। यह हो सकता है- तीखी मिर्च, हॉर्सरैडिश (horseradish) या वसाबी (wasabi)।

त्वचा के छिद्र भर जाने पर सूजन आ जाती है और उस छिद्र में बैक्टीरिया के कारण पस भर जाती है इस को पिम्पल्स कहते हैं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ भरपूर नींद लें पानी अधिक मात्रा में लें चेहरे को बार बार धोएँ फल और सब्जी ज़ायेदा खाएँ साबुन की जगह बेसन के उबटन से मुँह धोएँ

अपनी त्वचा को धूप से बचाएं: सूर्य कि UV किरणे, त्वचा कि पिग्मेंट निर्माण करने वाली कोशिकाओं को उत्तेजित करती हुई आपके मुँहासों के धब्बों को ओर ज्यादा खराब कर सकती है |[१]अगर आप धूप में जा रहें हैं, तो सनस्क्रीन या चौड़ी टोपी पहने और जहाँ तक हो छाँव में चलें |

अपने दांत अच्छे से साफ करें: मुंह कि दुर्गन्ध को दूर करने के लिए दांतो को अच्छी तरह से साफ करना एक अच्छा तरीका है, जो आप आसानी से कर सकते हैं। दिन में दो बार, कम से कम दो मिनट के लिए ब्रश करें और ध्यान रखें कि आप मुंह के अंदर सभी जगह अच्छी तरह से साफ कर रहे हैं। खास तौर पर जहां दांत और मसूड़े आपस में मिलते हैं वहां ध्यान केंद्रित करें।[१]

नींबू के अम्लीय गुण मुँहासे के उपचार में बहुत उपयोगी हो सकते हैं। नींबू गंदगी को साफ कर बाहर करता है, जो रोम छिद्र में जमा हो जाती है। आप दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर यह त्वचा को अधिक शुष्क कर रहा है तो हर दो या तीन दिन में उपयोग करें।

एसिडिटी का प्रमुख लक्षण है रोगी के सीने या छाती में जलन। अनेक बार एसिडिटी की वजह से सीने में दर्द भी रहता है, मुंह में खट्टा पानी आता है। जब यह तकलीफ बार-बार होती है तो गंभीर समस्या का रूप धारण कर लेती है।

hi nihal.. pimple ko khtm karne ka best tarika hai ki pimple hone ka kaara. aap dekho ki aapki kis bad habits ke kaaran pimples ho rahe hai. kai baar galat daily routine and other bad habis ke kaaran pimple aa jaate hai. if you quit root of couse you can end pimples on your face. aap hamari yah post padhe and then usme batayi gai couse and solution achchi tarah se read kare aur apne pimples ke saath use samjhe.. aapko problems and solution mil jayega. all the best.. visit this post : http://www.nayichetana.com/2017/02/pimple-dark-spot-kaise-door-kare-5-best-tips-in-hindi.html

इसके अलावा महत्वपूर्ण त्वचा का प्रकार है – तेल में तेल के साथ लोगों मेंमुंह से त्वचा की समस्या अधिक बार होती है यही कारण है कि “चेहरे पर मुँहासे का इलाज कैसे करें” सवाल के साथ- एक विशेषज्ञ से संपर्क करना बेहतर होगा जो समस्या के कारण सभी कारकों को ध्यान में रखे।

अगर इस में लापरवाही रखे तो आगे जाके यह काले दाग और धब्बे छोड़ देते है जिन्हें निकालना मुश्किल होता है| इसीलिए जवानी में ख़ास सावधानी रखे स्वछता की तो मुहासे ही न हो और अगर हो भी जाए तो बिना दाग के आप मिटा दे| पिम्पल हटाने के उपाय (pimples ke liye gharelu upay) आप जानिये और रहे मुक्त इस परेशानी से|

बर्फ के क्यूब्स का उपयोग त्वचा से बड़े आकार के छिद्रों को रोकने के लिए किया जा सकता है | वे न केवल छिद्र को कम करते हैं और उन्हें छोटा करते हैं, बल्कि आपके चेहरे पर अतिरिक्त तेल के उत्पादन को रोकते हैं | लगातार त्वचा में ice cube से massage करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है |

एक चम्मच शहद और आधे नींबू के रस में एक कप पके हुए ओटमील को मिलाएं। इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर रगड़ें। 30 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। सप्ताह में एक या दो बार लगाएं। (और पढ़ें – शहद खाने के फायदे)

नॉन-एलर्जेनिक (non-allergenic) कपड़े धोने की साबुन और ब्लीच का प्रयोग अपने कपड़े तथा चादर धोने में करें: यह विशिष्ट (specific) डिटर्जेंट उन लोगों के लिए है जिनकी त्वचा बहुत संवेदनशील है। इन उत्पादों का प्रयोग जब सम्भव हो तब जलन से बचने के लिए करें या एलर्जी की प्रतिक्रिया से बचने के लिए जो कि आपके वर्तमान डिटर्जेंट से हो सकता है।

तमाम कोशिशों के बावजूद कई बार चेहरे पर पिंपल्स यानी मुंहासे हो जाते हैं। खासकर टीनएज में यह समस्या ज्यादा होती है. मुँहासे चेहरे पर कई कारणों से हो सकते हैं , जैसे चेहरे पर जमी गन्दगी को ठीक से साफ न करना या चेहरे का अत्यधिक तैलीय होना आदि , मुँहासे होने पर हमें काफी या मसालेदार भोजन का उपयोग कम करना चाहिए और फलों का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए, पिम्पल्स को दूर करने का सबसे आसान तरीका आप घर पर रह कर आजमा सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *