“सबसे अच्छा मुँहासे -मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए सबसे प्रभावी तरीका”

इस तरह के चकत्ते का उपचार लंबे समय से है, क्योंकिComedones हल नहीं करते हैं और अपने आप से बाहर मत जाओ। गुणात्मक उपचार के लिए इस तरह के मुँहों का कारण जानने के लिए महत्वपूर्ण है, जो एक नियम के रूप में, हार्मोनल असंतुलन या अनुचित शरीर स्वच्छता के होते हैं।

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और त्वचा की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

एक टमाटर को काटकर उसके गूदे या रस को निकालकर मुँहासों पर लगाएं। यदि यह आपकी त्वचा के सूखने का कारण बनता है, तो थोड़ा सा पानी उपयोग करके टमाटर का गूदा पतला कर लें। इसे दिन में १ या २ बार से ज़्यादा बार न लगाएं क्योंकि यह त्वचा के अत्यधिक सूखने का कारण बन सकता है।

अगर आप चेहरे पर पिम्पल्स की समस्या से छुटकारा पाने के लिए लहसुन की कलियों को पीसकर पेस्ट बनाए। ऐसा करने से आपके पिम्पल्स की समस्या दूर हो सकती है। पिम्पल्स की समस्या से छुटकारा पाने के लिए लहसुन को शहद में मिलाकर पिम्पल्स पर लगाए। ऐसा करने से आपके पिम्पल्स की समस्या दूर हो सकती है।

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

मुंह में छालों  का होना एक आम बात है. यह समस्या कभी भी किसी को भी हो सकती है. मुँह में छालों के होने पर हमे खाना खाने में काफी समस्या होती है और कभी कभी यही छाले इतने बढ़ जाते है कि व्यक्ति को बोलने में भी काफी तकलीफ होती है.

मुंह के छालो की समस्या दिखने में जितनी छोटी हैं उतनी ही अधिक कष्टदायी हैं। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।

इस तरह मुंह की लार से हम मुफ्त में कई बीमारियों का इलाज कर सकते है। इसके पीछे वैज्ञानिक कारण यह है कि इस लार में वो सभी 18 तत्‍व पाये जाते है जो मिट्टी में पाए जाते है। लेकिन बहुत अफसोस की बात हैं कि आज मनुष्य ही अपना दुश्मन बनता जा रहा है। वह धूम्रपान और नशीले पदार्थों के चलते लार को खत्म करता जा रहा है और अपने लिए दुःख तकलीफो को न्योते पर न्योता दिए जा रहा है । धूम्रपान से लार दूषित हो जाती है और असर नहीं करती। जर्दा, पान अन्य पदार्थ से बार-बार थूकने से लार जरूरत से ज्यादा बाहर निकलती है। वहीं तीसरा ड्रग आदि के प्रयोग से मुंह सूख जाता है और लार नहीं रहती। इसलिए लार को बचाने के लिए आपको इन सब आदतों को भी छोड़ना होगा।ताकि लार हमारे शरीर को बीमारियों से बचा सके |

Tags:muhase hatane ke upay, Pimple hatane ke upay, pimple ke gharelu nuskhe, pimple ke upay in hindi, Pimples ka ilaj, चेहरे के गड्डे, चेहरे के गड्ढे, चेहरे पर फुंसियां, चेहरे से फुंसी, फुंसी का घरेलू इलाज, मुहासे से छुटकारा

मुँहासे को बंद करने का एक और छोटा तरीका नींबू का रस का उपयोग कर रहा है, यह आहार में समृद्ध है। नींबू का रस पंपों को तेजी से सुखा देता है चमकदार नींबू के रस का उपयोग करने के लिए सकारात्मक रहें और अब बोतलबंद रस नहीं है, जो संरक्षक हैं। इस उपचार को लागू करने के लिए कई दृष्टिकोण हैं     टूथपेस्ट को छोड़ दें ……….

Ice Cube का सबसे लोकप्रिय उपयोगों में से एक मुँहासे सिकुड़ने के लिए है | बर्फ लालिमा और सूजन को शांत कर सकता है, खासकर cystic acne को | हालांकि, याद रखें कि pimples संवेदनशील होते हैं और बैक्टीरिया से भी भरा होता है | इसलिए pimple के उपचार लिए ice का उपयोग करते वक्त सौधानियाँ बरते |

नींबू का अम्लीय गुण खराब त्वचा के उपचार में बहुत सहायक हो सकता है। नींबू त्वचा की धूल मिट्टी को साफ कर देगा जो रोमछिद्रों में इकट्ठा हो चुका है और सीबम को मजबूत करेगा। नींबू का रस में साइट्रिक एसिड (citric acid) एक शक्तिशाली एस्ट्रिंजेंट (astringent) है जो मृत त्वचा कोशिकाओं को हटता है और नई त्वचा वृद्धि को प्रोत्साहित करता है। ये मुहांसों को सूखा देता है और उनके निशानों को हल्का कर देता है।

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

खाने पिने में कुछ परहेज कर के और खाने की गलत आदतों को सुधार कर हम बार बार पिम्पल होना रोक सकते है। रिफाइंड आयल, आइस क्रीम, चाय, कॉफी, जंक फुड और कोल्ड ड्रिंक जैसी चीजों के सेवन से दूर रहे और अगर आपकी स्किन ऑयली है तो इसके उपाय करे।

कोलकाता : मैंने क्लब के 100 दिनों के रिपोर्ट को देखा जिसमें यह पाया कि हिन्दुस्तान क्लब काफी बेहतर कार्य कर रहा है। यह उन्नति के मार्ग में अन्य क्लबों से काफी आगे हैं। उक्त बातें हिन्दुस्तान क्लब के स्थापना [Read more…]

टॉन्सिल स्टोन्स (tonsil stones): ये टॉन्सिल पर सफेद धब्बे के रूप में दिखाई देते हैं जो कि केल्सीकृत भोजन, बलगम और बैक्टीरिया की गांठ हैं। यदि दिखें ,तो गलती से गले का संक्रमण मान लिए जाते हैं हालांकि कभी-कभी वे नग्न आंखों से दिखाई भी नहीं देते। हो सकता हैं आपने कसैला स्वाद अनुभव हो या निगलते समय दर्द महसूस हो।[६]

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved. CNN and the CNN logo are registered marks of Cable News Network, LP LLLP, displayed with permission. Use of the CNN name and/or logo on or as part of NEWS18.com does not derogate from the intellectual property rights of Cable News Network in respect of them. © Copyright Network18 Media and Investments Ltd 2016. All rights reserved.

ठंड के दिनों में धुप में बैठने में बहुत मज़ा आता है, और इस आराम के दौरान सनबर्न को ध्यान नहीं देते । ये sunburns आपकी त्वचा की गुणवत्ता को बर्बाद कर सकते हैं और यह वास्तव में दर्द का कारण बन सकते हैं | ice cube को aloe vera के साथ इस्तेमाल करना sunburn के सबसे अच्छा उपचार में से एक हो सकता है | Aoe vera का शीतलन प्रभाव सनबर्न में आराम प्रदान करता है | इसके स्थान पर खीरा का भी इस्तेमाल किया जा सकता है |

    शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल (anti-becterial) के गुण पाये जाते है। जो सौन्दर्य और स्वास्थ्य दोनों क्षेत्र में बहुत ही अच्छा काम करता है। इसको खाने के अलावा अपने मुंहासो पर रोजाना शहद लगाने से चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) आसानी से दूर हो जातें हैं। शहद का लेप को 10 – 15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्का गरम पानी से धो लें। इससे दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से आसानी से निजात पाया जा सकता है।

ऑइली त्वचा से पूरी तरह से छुटकारा पाना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप इस सामान्य समस्या को हल करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं। महंगे और केमिकल युक्त उत्पादों का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बहुत से लोगों ने घरेलू उपायों को इस समस्या के लिए मेहतर और प्रभावी पाया है। 

मेरा यह सबसे Best Tips है जो मैं आपको देना चाहूँगा इसने मुझे Acne और Pimple को कम करने में काफी help की. आपको जब भी पानी दिखे तो अपना मुँह धो ले. अगर आप कोई काम करते है तो उसके बाद साफ़ पानी से मुँह धोये. रात को सोने से पहले भी अपना चेहरा पानी से अवश्य धो ले. यह आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा.

काले दाग (black spots) धब्बे होने के कई कारण है जिनमे से मुख्य कारण कील, मुहासे, काले सिरे (ब्लैक हेड्स), फुडिया होते है। मुहासे से छुटकारा, सूरज की तेज किरण के कारण चेहरे के गड्ढे, दाग धब्बे ओर भी बढ़ जाते है जो चेहरे के सावले होने का कारण बनती है। इसके लिए आप जब भी बाहर जाए तो सन क्रीम लगा कर जाए और नीचे कुछ विधिया दी गई है मुहांसे के कारण जो दाग धब्बे से निजात दिलाने मे आपकी मदद करेगे।

ज्यादा से ज्यादा हर्बल और सौम्य उत्पादों का उपयोग करें: कई लोग अपनी त्वचा से धब्बों को निकालने के लिए इतने उत्सुक रहते हैं कि किसी भी उत्पाद का इस्तेमाल करके अपनी त्वचा को और ज्यादा खराब कर देते हैं | इसलिये अपनी त्वचा अनुसार उत्पादनों का चयन करें | अगर कोई क्रीम आपकी त्वचा पर बुरा असर कर रही है, तो उसका प्रयोग तुरंत बंद कर दें | सौम्य फ़ेशियल क्लीन्ज़र, मेकअप रिमूवर, स्क्रब आदि जो आपकी त्वचा को खराब करने की बजाए अच्छा बनाती है, का ही चयन करें |

सेब मृत त्वचा को हटाने का काम करता है। साथ ही उसमें एंटीसेप्टिक, त्वचा में कसाव लाने वाले और मुलायम बनाने के गुण भी होते हैं, जो त्वचा का तेल कम करने के लिए उसे एक बेहतरीन घरेलू उपाय बनाते हैं। सेब में मौजूद मैलिक एसिड (Malic acid), मृत त्वचा कोशिकाओं और त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में मदद करता है। (और पढ़ें – सेब के फायदे)

पिम्पल का देसी इलाज नीम है नीम के पत्ते को पीस दें और साथ में हल्दी मिला के चेहरे पर लगाएँ तो पिम्पल्स गायब हो जायेंगे पिंपल्स हटाने के लिए आप एलोवेरा का रस, मुल्तानी मिटटी और हल्दी का मिश्रण पिम्पल्स पर लगाएँ गुलाब की पंखुड़ी को पीस दें और निम्बू के रस के साथ अपने चेहरे पर घिसें और 30 मिनट के बाद धो दें पिंपल्स हटाने के लिए आप हल्दी और बेसन का निम्बू के रस के साथ उबटन बना के चेहरे पर अच्छी तरह से पांच मिनट तक घिसें केटली में पानी उबालें और भाप को त्वचा पर लगाएँ और साथ में रुई या कपड़े से चेहरा घिसते जाइए ताकि मैल, मृत कोशिका और तेल सभी कुछ निकल जाए|

दालचीनी में शक्तिशाली रोगाणुरोधी, एंटी-इंफ्लेमेटरी, संक्रामक विरोधी और एंटी-क्लोटिंग गुण होते हैं। यह एंटी-ऑक्सिडेंट, पॉलीफेनोल और मैंगनीज, लोहा और आहार फाइबर जैसे खनिजों का भी एक अति उत्कृष्ट स्रोत है। यह सभी आवश्यक पोषक तत्व आपके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा यह शर्करा, कार्बोहाइड्रेट, फैटी एसिड और एमिनो एसिड का एक प्राकृतिक स्रोत है| तो आइये जानेते है दालचीनी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के बारे में-

लेकिन कॉलेज के समय में जो पिम्पल मेरे चेहरे पर आये उनको छुड़ाने में मुझे 8 महीने से ज्यादा लग गये. मेरे चेहरे में पहले एक फुंसी आई फिर दूसरी और देखते ही देखते ही यह संख्या रोजाना लगातार बढती जा रही थी. जो भी पिम्पल पुराना हो जाता है वह चेहरे पर मुंहासे में बदल जाता. जो मेरे चेहरे पर एक काले दाग की तरह दिखाई देता था.

एक चम्मच शहद और आधे नींबू के रस में एक कप पके हुए ओटमील को मिलाएं। इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर रगड़ें। 30 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। सप्ताह में एक या दो बार लगाएं। (और पढ़ें – शहद खाने के फायदे)

अधिक तरलदार और कम वसा वाला पौष्टिक भोजन भी सेल्युलाइट को कम करने में मदद कर सकता है। प्रोटीन युक्त भोज्य पदार्थ सेल्युलाइट की मात्रा को घटाते हैं। नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करने से फैट जलता है और सेल्‍युलाइट में कमी आती है। इसके अलावा एक अच्छी मात्रा में पानी पीने और एक्‍सरसाइज के दौरान पसीना आने से शरीर के विषाक्‍त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *