“मुँहासे मदद +प्राकृतिक मुँहासे उपचार”

अपने मुँह को नम रखें: शुष्क मुँह बदबूदार मुँह होता है। यही कारण है कि आपकी सांस सुबह और भी बदतर हो जाती है सोते समय आपका मुँह कम लार पैदा करता है। आपके मुँह में लार मुँह की दुर्गंध के लिए दुश्मन का काम करती है क्यूंकि ये ना केवल बैक्टीरिया और अन्ना कणों को धोती है बल्कि यह एक एंटीसेप्टिक है और जीवाणुओं को मारने वाला एंजाइम का काम करती है।[४]

माथे पर मुँहासे हटाने के लिए कैसे? शायद, इस प्रश्न को प्रत्येक लड़की ने कम से कम एक बार खुद से पूछा, उसके प्रतिबिंब पर दर्पण की तलाश में। और, नींव लेते हुए और बैंग्स को कम करते हुए, उन्हें सार्वजनिक दृश्य से छिपाने की कोशिश की। हालांकि, मुँहासे से छुटकारा पाने का सही दृष्टिकोण थोड़ा अलग है: कारकों की पहचान, कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं से गुजरना, त्वचा की देखभाल के लिए सही साधन चुनना।

मेरे फेस पर पिंपल बहुत हो रहे हैं और बड़ते ही जा रहे हैं स्किन भी लूज होती जा रही है यानी कि मुरझाती जा रही है मेरी आँखों के नीचे काले धबे और झुरियाँ भी पड़ती जा रही हैं मेरी हेल्प करें यह मेरी गुज़ारिश है

धूप में अधिक रहने से सूरज की किरणें हमारे चेहरे का हाल बुरा कर देती है. सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणें हमारी त्वचा और हमारे चेहरे के लिए अच्छी नहीं होती. अधिक प्रदूषित जगहों पर जाने से आपको धूल और मिटटी का सामना करना पड़ता है जो आपकी Skin Cells के लिए सही नहीं होते.

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

This is a health and medical awareness book. It helps to easily identify diseases and explains the symptoms. It also indicates that in the daily routine what precautions are taken, cause of diseases, measures to avoid, things to consider, have been well contained. Moreover, “e;How to change the life style”e;, etc. have also been scientifically detailed in the book.

अपनी त्वचा को धूप से बचाएं: सूर्य कि UV किरणे, त्वचा कि पिग्मेंट निर्माण करने वाली कोशिकाओं को उत्तेजित करती हुई आपके मुँहासों के धब्बों को ओर ज्यादा खराब कर सकती है |[१]अगर आप धूप में जा रहें हैं, तो सनस्क्रीन या चौड़ी टोपी पहने और जहाँ तक हो छाँव में चलें |

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आप किसी पार्टी में जाने के लिए invited हों जहाँ तरह तरह के खाने-पीने की चीजों का इंतजाम हो… लेकिन इसी वक़्त कमबख्त मुंह के छालों ने आपको परेशान कर रखा हो? मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। 

गर्म मौसम में, पीठ पर मुँहासे वितरित की जाती हैमहिलाओं के सौंदर्य और मनोवैज्ञानिक परेशानी कई लोग यहां तक ​​कि इस तरह की चकत्ते के कारण बहुत सारे परिसरों का अनुभव करते हैं, समुद्र में आराम करने से इनकार करते हैं, एक स्विमिंग सूट में सार्वजनिक रूप से प्रकट नहीं करना चाहते। इसलिए, पीठ पर मुँहासे से छुटकारा पाने का सवाल सावधानीपूर्वक और विस्तृत अध्ययन के लिए है, और इस समस्या का उपचार एक एकीकृत दृष्टिकोण है।

खीरा तो हम सभी लोग खाते है. लेकिन यह खीरा हमारी त्वचा को भी स्वस्थ बनाये रखता है. चेहरे में खीरे का use करने से हमारे चेहरे पर निखार आता है और हमारी त्वचा ग्लो करती है. आप खीरे के पेस्ट को अपने मुंहासो में प्रयोग करे और फायदा देखे.

वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

नई दिल्ली: उत्तर पूर्व के तीन राज्यों में हुए चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी की इतनी बुरी हालात हो गई है। बीजेपी के बेहतर नतीजों के बाद पार्टी नेताओं ने कांग्रेस पार्टी पर हमले आरंभ कर दिए हैं। बीजेपी के वरिष्ठ [Read more…]

लहसुन खाएँ: अदरक की तरह, लहसुन बहुत शक्तिशाली होता है और जीवाणुओं को मारने और आपके गले को बलगम-मुक्त करने में अच्छा काम करता है। कच्चे लहसुन की कई कलियों को रोज़ खाएँ और अपने खाने में भी इसे घिसें। अगर आप कर सकते हैं, तो लहसुन को सुबह उठते ही खाएँ क्योंकि यह ढंग से बलगम बहने से पहले ही उसे मारने में मदद करता है।

झुर्रियाँ आप की उम्र के बड़ने के साथ आपके त्वचा में देखे जा सकते हैं | लेकिन आप निश्चित रूप से त्वचा को अच्छी तरह से hydrated रखकर उनकी उपस्थिति में देरी कर सकते हैं । बर्फ के क्यूब्स आपको quick facial देगा, यह आपके त्वचा को moisture locked प्रदान करते हैं |

अगर आपको बार-बार मुंह के छाले हो रहे हैं तो अपने मुंह की सफाई पर विशेष ध्यान दीजिए। ज्यादा मसालेदार और गरिष्ठ भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक न हो रहे हों तो जल्द चिकित्सक से सलाह व उपचार अवश्य लीजिए।

माथे पर चमड़े के नीचे और छोटे pimples पैदा कर सकते हैंबस अनुचित देखभाल के परिणामस्वरूप किसी भी मामले में आपको छोटे प्रदाहों को निचोड़ना चाहिए, जैसे कि रोगाणुओं, पड़ोसी छिद्रों में पड़ना, केवल माथे पर चिड़ियों की संख्या में वृद्धि होगी

Aloe vera has ancestral popularity for its antifungal and antibacterial properties. Aloe vera gel is available in the market, but if you have aloe vera leaves in your home, then you can make use of it. Apply the aloe vera extract on the pimple and let the skin absorb it for 10 minutes. It can be applied on the face also. It kills the bacteria and reduces the redness of pimple.

कभी अल्सर फूट भी सकता है जिससे पूरे पेट में संक्रमण हो जाता है तथा पेट में तेज दर्द रहता है। लम्बे समय तक अल्सर रहने से केंसर होने का खतरा हो सकता है। इसके साथ ही आयुर्वेदिक नुस्खे से भी एसिडिटी का इलाज किया जा सकता हैं |

नर्म नीम की पत्तियों का पेस्ट थोड़ा पानी मिलाकर बनाएं। इस पेस्ट में कुछ हल्दी पाउडर मिलाएं और फिर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। 20 मिनट के लिए इसको लगाकर छोड़ दें और फिर इसे धो लें। एक सप्ताह में कम से कम दो बार यह करें। आप दिन में एक या दो बार नीम का तेल भी लगा सकते हैं जब तक आपको सुधार ना दिखे।

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

 मस्सों से छुटाकारा पाने के लिए उपयोग में लाए जानें वाले घरेलू उपचारों का उपयोग करते समय आप डॉक्टर से परामर्श अवश्य ले लें और अपने  मस्सों की जांच भी करवा लें कि ये कहीं किसी प्रकार के कैंसर के लक्षण तो नहीं।

मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। तो आइये हम detail में जानते हैं कि Mouth Ulcers (muh ke chhale) होने के कारण क्या-क्या हैं और हम किस प्रकार इनसे निजात पा सकते हैं।

यह सबसे आसान तरीका है जिससे हमारे शरीर को थकान से छुटकारा मिलता है। टूटते बालों के पीछे का सबसे प्रमुख कारण थकान है। इस आसन को करने से मासिक धर्म में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है। इससे पाचन तंत्र भी सही रहता है।

कुछ व्यक्तियों के समय से पहले ही दाढ़ी और मूंछ के बाल सफेद हो जाते हैं. जिसके कारण उन्हें कई स्थानों पर अपने ही उम्र के लोगों के साथ या दोस्तों के साथ खड़े होने में शर्म महसूस होती है. दाढ़ी या मूंछ के बालों का रंग जल्द सफ़ेद हो जाने के पीछे भी बहुत से कारण हैं।

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

कई बार खूब साफ सुथरा रहने के बाद भी मुंह से बदबू आने की परेशानी हो जाती है। मुंह से आने वाली बदबू गलत छवि बनाती है। सार्वजनिक जगहों पर शर्मिंदा होना पड़ता है। सांसों की बदबू से बचने के लिए महंगे माउथवॉश जैसे प्रोडक्ट्स की नहीं, बल्कि शरीर में पानी की कमी न इसका ख्याल रखना होगा। मुंह से आने वाली बदबू से छुटकारा पाने चाहते हैं तो ये सब खाएं।

Home Remedy (Gharelu Nuskhe) for Pimple Marks (Acne Scars) on Face in Hindi. Muhase ke nishan se chutkara pane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay in Hindi. Muhase ke daag hatane ke upay in Hindi. Chehre (face) ke daag dhabbe hatane ke upay in Hindi. Kale daag mitane ke upay in Hindi.

मुंह की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आसान घरेलू उपाय – तुरंत दिखाएगी असर सांस की बदबू को हटाने के साथ-साथ यह नुस्खा आपके दांतों को भी सफेद करेगा – ELIMINATE BAD BREATH IN 5 MINUTES! ये जादुई ड्रिंक सांस की बदबू से लेकर कैंसर जैसी बिमारी को रोकने की क्षमता रखती है !! यह घरेलू औषधि दिला सकती है सांस की बदबू से छुटकारा – SAY GOODBYE TO BAD BREATH, PLAQUE, TARTAR AND KILL HARMFUL BACTERIA IN YOUR MOUTH WITH ONLY ONE INGREDIENT

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

एक चम्मच शहद और आधे नींबू के रस में एक कप पके हुए ओटमील को मिलाएं। इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर रगड़ें। 30 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। सप्ताह में एक या दो बार लगाएं। (और पढ़ें – शहद खाने के फायदे)

जिन लोगो को कब्ज की समस्या रहती है उन्हें कील – मुंहासे होने का सबसे ज्यादा खतरा होता है. जब हमारे शरीर से टोक्सिन (मल – मूत्र ) बाहर नहीं निकलते तो वह हमारे त्वचा पर फोड़े – फुंसियों के रूप में बाहर निकलता है. इसलिए अपने पेट को अच्छी तरह साफ़ कर ले.

ताज़े निम्बू का रस लगाएं: निम्बू में प्राकृतिक विरंजन (bleaching ) गुण होते है जिनसे मुहासों के दाग फीके हो जाते हैं | समान मात्रा में निम्बू का रस और पानी मिलाकर, इस मिश्रण को सिर्फ अपने धब्बों पर लगाएं | 15-20 मिनट के बाद धो लें या पूरी रात इस मिश्रण को लगे रहने दें | “चूंकि निम्बू के रस में 2 PH होता है और त्वचा की 4.0-7.0 PH होती है इसलिए अगर इसे लम्बे समय तक त्वचा पर छोड़ा जाए, तो त्वचा जल भी सकती है | खट्टे रस में बर्गप्टेन (Bergapten) नामक रसायन होते हैं जो डीएनए में मिलकर त्वचा को नुकसान पहुँचाते हैं |” इसलिए इसे सावधानी से प्रयोग करें और कम समय के लिए प्रयोग करने से शुरू करें।

सांस की बदबू मुंह के कैंसर का प्रारंभिक संकेत है। कैंसर के कई प्रारंभिक संकेत है, जैसे कि मुंह के अंदर गांठ या सफेद, लाल, या गहरें दाग़ होना, चबाते समय, निगलते समय या जबड़े को हिलाते समय कठनाई होना, ऐसा लगना कि आपके गले में कुछ अटक गया हो, मुंह का सुन्न होना, गालो में सूजन होना, या आवाज़ का बदलना। अगर इनमे से कोई भी संकेत आपको नज़र आए तो डॉक्टर से मिलें।

सामग्री: कैलेंडुला officinalis, आइरिस versicolor, आवश्यक तेल के मिश्रण (Cedrus एटलांटिका लकड़ी शेविंग्स, Melaleuca alternifolia पत्ता-शाखा, Melaleuca छोटी सी पत्ती), Persea gratissima फल तेल, Rosa mosqueta बीज का तेल, Simmondsia chinensis बीज का तेल, Triticum vulgare कर्नेल तेल)।

“pimples हटाने के लिए चीजें +कैसे रात भर एक zit छुटकारा पाने के लिए”

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

सबसे पहले तो आप ये जाने की ये पिम्पल्स और दाने चेहरे पर क्यों निकल रहे है, क्या आपने कोई मेकअप या क्रीम लगायी जो आपकी स्किन को सूट नहीं कर रही, अगर ऐसा है तो ऐसी क्रीम फिर से प्रयोग करने से बचे ताकि पिम्पल्स की समस्या से बचा जा सके. पिम्पल्स ठीक करने के लिए घरेलू उपाय व अन्य तरीके ऊपर लेख में पढ़े.

इंटरनेट डेस्क। मुंह में छाले होना युं तो बहुत आम सी बीमारी है परन्तु अगर इसका समय रहते मुंह के छाले का इलाज न करे तो ये बड़ी परेशानी का कारण बन सकती है। छाले होने के कई कारण हो सकते है जिसमें से ज्यादा चटपटा, मसालेदार और तीखा खाना मुख्य कारण है। कुछ लोगों को ये छाले बार-बार होते हैं और परेशान करते हैं। ऐसे लोगों को अपनी पूरी डॉक्टरी जाँच करानी चाहिए, ताकि उनके कारणों का पता लगाकर उचित इलाज किया जा सके। वहीँ कुछ घरेलु उपाय है जो आपको इससे निजात दिला सकते हैं…

धूम्रपान करने से और तम्बाकू चबाने से बचें: वैसे तो कई सारी वजह है धूम्रपान और तम्बाकू को छोड़ने के लिए (जैसे कैंसर), परंतु सांस की दुर्गंध होना भी एक कारण है। धूम्रपान करने से व्यक्ति की सांस की गंध बासी तम्बाकू जैसी लगती है, जिसे कई बार “ऐश ट्रे की गंध” आना कहा जाता है। इस गंध को रोकने का सबसे आसान तरीका, धूम्रपान छोड़ना ही है।[१०]

अपने दांतो को फ्लॉस करें: फ्लॉस करना अच्छे स्वस्थ मुंह का जरूरी अंश है। फ्लॉस करने से आपके दांतो के बीच में से प्लैक और बैक्टीरिया निकल जाता है, जो कि अच्छे से अच्छे ब्रश से भी नहीं निकलता। दिन में कम से कम एक बार फ्लॉस जरूर करें।[२]

साधारण पानी की बजाए, स्ट्रांग ग्रीन टी को बर्फ के ट्रे में जमा दें | अब इसका प्रयोग अपने मुँहासों पर करें | हरी चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो बर्फ के ठंडेपन के साथ और ज्यादा अच्छे से काम करते हैं |

Posted in Face, Skin    Tagged acne home remedies, acne problems, dermatologist in ghaziabad, dermatologist in greater noida, home remedies, pimple problems, skin doctor in ghaziabad, skin doctor in greater noida, skin problems, skin tips skin tips    Leave a comment   

    नीम बहुत से त्वचा सम्बन्धी बिमारिओं के बहुत से औषधीय गुण होने के कारण नीम का पत्ता बहुत ही गुणकारी माना जाता है, यह दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को बहुत आसानी से दूर करता है नीम के पत्तों में बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण मौजूद होते है जो मुंहासे,दाना, छाले, खाज-खुजली, एक्जिमा के अलावा सभी प्रकार के त्वचा सम्बन्धी रोग को दूर करने में मदद करता है। नीम के पत्तों का एक अच्छा सा पेस्ट तैयार कर लें, फिर उस पेस्ट को अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लेप लगा लें। सूखने के पश्चात अपने चेहरे को अच्छी तरह से धो ले, लगातार 4-5 दिन ऐसा करने से आपको असर दिखना शुरू हो जायेगा।

Mere face par pimples se bahut sare khddhe ho gaye hai jiske karn face bahut bhada dikhai de raha please khddhe bharne ka ghrelu ilaj ya koi aauderdik cream bataye our winter men face fat kar kala ho raha hai please iska bhi ilaj bataye

सांस की दुर्गंध, या दुर्गंधित श्वास, कभी न कभी इस समस्या का सामना सबको करना पड़ता है। सांस की दुर्गंध कई कारणों से हो सकती है, जैसे कि मुंह का सूखापन; आहार में प्रोटीन, शर्करा, या अम्ल की अधिक मात्रा; और धूम्रपान। कोई लम्बी बीमारी और दांत की सड़न भी सांस में दुर्गंध के कारण हो सकते हैं। अच्छी ओरल हेल्थ आदतों को अपनाने से और अपने आहार एवं जीवन शैली को बदलने से आप दुर्गंधयुक्त सांस से छुटकारा पा सकते हैं।

शहद, त्वचा की सतह पर जमा अतिरिक्त तेल को कम करने में मदद करता है। साथ ही छिद्र और झुर्रियों को भी होने से रोकता है। शहद में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो त्वचा को पोषण देते हैं और त्वचा को बिना ऑयली बनाये पर्याप्त रूप से मॉइस्चराइज करते हैं। इसके अलावा, शहद के प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण मुँहासे पैदा करने वाली ऑयली त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं।

height badhane ke liye aap yah padhe : https://www.nayichetana.com/2015/05/how-to-increase-height-in-hindi-height-kaise-badhaye-%E0%A4%B2%E0%A4%AE%E0%A5%8D%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%AC%E0%A5%9D%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A5%87.html

कई व्यक्तियों को देखे तो चेहरा पूरा पिम्पल्स और एक्ने से भरा हुआ होता है| उनको ख़ास सावधानी रखनी चाहिए की पिम्पल्स को ऊँगली या नाखून से न दबाये और न ही छेड़े| सवेरे और रात को ऊपर बताए गए नुस्खे, और ख़ास कर के भाप का प्रयोग करे|

माउथवॉश का इस्तेमाल करें: दुर्गंधयुक्त सांस पर शीघ्र प्रभाव करने के लिए माउथवॉश का इस्तेमाल करना एक उत्तम तरीका है। यह आपकी सांस को अस्थायी रूप से छिपा देता है, लेकिन यह काफी है अन्य लोगों को बुरा लगने से बचने के लिए।[७]

अपनी अपने अब अमेरिका आज आप इस इस के उन की उन के उन्हें उन्होंने उस का उस की उस के उस ने उसे एक ऐसा ऐसे कई कभी करते करने का काम कारण किया किसी कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या गए घर जब जा जाता है जाती जाने जिस जीवन जुगुनी जो ज्यादा तक तरह तुम तेजेंद्र तो था था कि थी थीं थे दवा दिन दिया दिल्ली दी दीक्षा दे देश नहीं ने कहा नेपाल के पटना पति पत्नी पर पहले फिर फिल्म फोन बन बना बहुत बात बेटी भाजपा भारत भी मन मुंबई मुझे में मेरी मेरे मैं ने यह या रहा है रही रहे हैं रुपए लगा लिया ले कर लेकिन लोग लोगों वह वाली वाले वे सब समय साल से हम हर ही हुआ हुई हुए है और है कि हैं होगा होता है होती होने

फिर ब्यूटीशियन पर जाएं एक अच्छा विशेषज्ञ या सिद्ध सैलून चुनना बेहतर है एक अनुभवी चिकित्सक, माथे पर मुँहासे को हटाने के लिए आवश्यक प्रक्रियाओं को सलाह देगा, और अपने चेहरे की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए आगे की देखभाल के लिए साधन का चयन करने में भी मदद करेगा।

5 टूथपेस्‍ट तो हम दांत साफ करने के लिए प्रयोग करते हैं, पर इसके इस्‍तमाल से आप अपने चेहरे के पिंपल को भी साफ कर सकते हैं। अगर रात में सोने से पहले इसको अपने चेहरे के मुहांसे पर लगा रहने देगें तो यह उन मुहासों को ठंडा कर के सुखा देगा।

कॉफी और शराब का सेवन न करें। यह दोनो ही पेय आपके मुंह में बैक्टीरीया को बढ़ाते है, जो सांस की दुर्गंध का मुख्य कारण होते हैं। यह आपके मुंह को भी सूखाते है, जिस वजह से बैक्टीरिया दीर्घ काल तक मुंह में ही रहते हैं।

यहाँ पर शायद कुछ चीज़ें कूल्हों (buttocks) पर मुँहासे (acne) होने की बजाय ज्यादा शर्मनाक है- मुख्यतः जब गर्मियाँ आती हैं और बिकनी (bikinis) बाहर निकलती हैं। खुद को बीच कवर-अप (beach cover-ups ) के पीछे छिपने से रोकें तथा अपने कूल्हों पर होने वाले मुँहासों की परेशानी का समाधान खोजें। नीचे दिए गए उपचारों को आजमायें और देखें कि आपके लिए कौन-सा उपयोगी है। हर किसी की त्वचा अलग होती है, इसलिए हतोत्साहित न हों। यदि कोई विशेष उपचार आपके मुँहासों का इलाज नहीं कर पाता, तो एक अलग कोशिश करें।

माथे पर मुँहासे हटाने के लिए कैसे? शायद, इस प्रश्न को प्रत्येक लड़की ने कम से कम एक बार खुद से पूछा, उसके प्रतिबिंब पर दर्पण की तलाश में। और, नींव लेते हुए और बैंग्स को कम करते हुए, उन्हें सार्वजनिक दृश्य से छिपाने की कोशिश की। हालांकि, मुँहासे से छुटकारा पाने का सही दृष्टिकोण थोड़ा अलग है: कारकों की पहचान, कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं से गुजरना, त्वचा की देखभाल के लिए सही साधन चुनना।

पिम्पल्स का इलाज के लिए रसायनिक पदार्थ का उपयोग करने से बेहतर होगा की आप प्राकृतिक उत्पादो का उपयोग करे। घरेलू उत्पाद बहुत सस्ते होते है और इनका कोई बुरा असर भी नही पड़ता। चेहरे पर दाने के उपाय, त्वचा की देखरेख करना वो भी सुंदरता के साथ यह बहुत ज़रूरी है। कुछ घरेलू उपचार की सूची नीचे दी गई है जो काले दाग (black spots) धब्बे, मुँहासे के निशान से दूर रहने मे आपकी मदद करेगे।

दोस्तों पिम्पल्स हटाने के तरीके, Home remedies tips to remove Pimples (Acne) in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास कील मुंहासे का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

विटामिन-डी से भरपूर आहार लें: विटामिन-डी आपके मुंह में बैक्टीरिया होने से रोकता है। विटामिन-डी का सेवन हम अपने आरक्षित आहार और पेय के रूप में कर सकते हैं, विटामिन-डी आम तौर पर और अधिक प्रभावशाली रूप में सूरज की रोशनी से मिलता है।[११]

यदि सम्भव हो तो अपने कूल्हों को धूप लगाएँ: यदि आपके पास अपना निजी आँगन (private backyard) है या न्यूड समुद्र तट (nude beach ) पास में है तो एक गर्म दिन पर अपने कूल्हों को कुछ धूप लगाएँ। सूरज प्राकृतिक रूप से ज्यादा तेल को सुखा देगा।

यदि आपके पास Hindi में कोई article, story, essay या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:[email protected].पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

नहाने के बाद एक टोपिकल मरहम (ointment) या लोशन (lotion) का प्रयोग करें: एक मरहम को खोजें जिसमें बेंजोईल पेरोक्साइड (benzoyl peroxide), सैलिसिलिक एसिड (salicylic acid) या अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (alpha hydroxy acid) हो। इनमें से ज्यादातर ब्राण्ड बिना पर्ची के मिल जाते हैं जैसे — क्लेअरसील (Clearasil) और प्रोएक्टिव (Proactive)। अगर आप एक लोशन का प्रयोग करना चाहते हैं जो वैज्ञानिक तौर पर, इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए बनाया गया है कि वह कूल्हों पर होने वाले मुँहासों को ठीक करे — ग्रीन हार्ट लैब्स का बट एक्ने क्लीयरिंग लोशन (Butt Acne Clearing Lotion)। ज्यादातर टूथपेस्ट में कई प्रकार के पेरोक्साइड (peroxide) होते हैं, यदि आपको कुछ और न मिले तो ये मुँहासों के इलाज में प्रयोग में लाए जा सकते हैं।

क्या आप भी मुंह से आने वाली बदबू से परेशान है। क्या आपके साथ बात करने वाले आपको हीन नजर से देखते हैं और आपसे दूर रहने की कोशिश करते हैं? अगर आपको भी इन परिस्थितियों से गुजरना पड़ता है तो अब घबराने की कोई बात नहीं है। आज हम आपको ऐसे टिप्स दे रहे हैं जो आपको मुंह से आने वाली बदबू से छुटकारा दिलाएंगे। फोटो Getty Images से..

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

“मुँहासे चाय के पेड़ के तेल से छुटकारा पाने के लिए +मुंह को दूर करने के लिए सबसे अच्छी चीज”

आप बेकिंग सोडा के दो बड़े चम्मच, एक चम्मच दालचीनी पाउडर, आधे नींबू का रस और पांच चम्मच शहद को एक साथ मिलाएं। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और पांच मिनट के बाद धो लें। आप अपनी त्वचा पर सप्ताह में एक या दो बार बेकिंग सोडा का प्रयोग करें।

नींबू के अम्लीय गुण मुँहासे के उपचार में बहुत उपयोगी हो सकते हैं। नींबू गंदगी को साफ कर बाहर करता है, जो रोम छिद्र में जमा हो जाती है। आप दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर यह त्वचा को अधिक शुष्क कर रहा है तो हर दो या तीन दिन में उपयोग करें।

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

Garlic  has strong antibacterial properties and fights pimple very soon. Crush two to three cloves of garlic and mix with water. Once it forms a paste like structure apply gently on the skin. After drying wash it off. Follow with face wash as the smell is very strong of garlic.

इस साइट की कुकीज़ की सामग्री और विज्ञापनों को अनुकूलित करने के लिए उपयोग किया जाता है, सामाजिक मीडिया सुविधाओं को उपलब्ध कराने और यातायात का विश्लेषण. Además, हम अपने सामाजिक मीडिया सहयोगियों के साथ वेब के अपने उपयोग के बारे में जानकारी साझा, विज्ञापन और वेब विश्लेषण.स्वीकारेंऔर अधिक पढ़ें

Erythrodermic सोरायसिस रोग है कि अक्सर पूरे शरीर पर फैल गया है की एक सबसे अधिक भाग के लिए भड़काऊ प्रकार है। Erythrodermic सोरायसिस अक्सर अस्थिर पट्टिका छालरोग के लिए नेतृत्व कर सकते हैं। प्रासंगिक, व्यापक, उज्ज्वल लाली इस अवधि के दौरान त्वचा की मुख्य विशेषताओं के होते हैं।

Sir .main pichle tren sala se raat ka cream chode nahi pa raha hoon .mera sab theek hai lekin main raat ka cream chode nahi pa raha hu.chodne par pure face per pimples ho jata hai iska kuch upay bataye aur gaddhe bharne ka upay bataye

5: 1 के अनुपात में जल के साथ ओर्गनिक बेकिंग सोडा मिक्स करें। यह एक गाढ़े पेस्ट के रूप में होना चाहिए। इस पेस्ट को मुँहासो के निशानों पर लगा कर रखें, जब तक यह पेस्ट सूख नहीं जाता है। उसके बाद इस पेस्ट को गुनगुने पानी से धो लें। इसे सप्ताह में तीन बार दोहराएँ जब तक आपको परिणाम ना दिख जाए।

मूली में विटामिन C, जिंक, B कांप्‍लेक्‍स और फॉस्‍फोरस होता है. मुंहासों के लिए मूली का टुकड़ा गोल काट कर मुंहासों पर लगाएं और तब तक लगाए रखें जब तक यह खुश्क न हो जाए. थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें. कुछ ही दिनों में चेहरा साफ हो जाएगा.

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

आश्चर्य की बात है कि जिस चीज़ से आप बचना चाहते हैं, वह उसी समय हो जाती है। जैसे एक अतिथि आपके दरवज़े पर आ जाये जब आप खरीदारी के लिए निकल रहे हों, टीवी पर फिल्म का चरमोत्कर्ष आने वाला हो और बिजली चली जाये, और हाँ, ज़्यादातर किशोरों(टीनएजर) की व्यथा – मुँहासों का प्रकोप कॉलेज फेस्ट या किसी की शादी के २-३ दिन पहले जब आप सबसे अच्छा दिखना चाहते हैं। पहली २ घटनाओं के बारे में आप तुरंत कुछ नहीं कर सकते लेकिन मुँहासों का नियंत्रण आप निश्चित रूप से कर सकते हैं। कुछ सरल सामग्री का उपयोग करके जो आमतौर से हर रसोई में मिल जाती हैं, उनसे इस भद्दे मुँहासों को ठीक करना संभव है।

अगर आप भी दाग – धब्बो या कील मुहांसों से परेशान है तो यह Article आपको इनसे छुटकारा पाने में बहुत Help कर सकता है. आप इस आर्टिकल में बताये गये Tips को अपनाकर अपने चेहरे से कील – मुंहासो को बड़ी आसानी खत्म कर सकते है.

कैस्टर ऑइल में त्वचा की मरम्मत के गुण होते हैं और यह काले धब्बे दूर करने में आपकी काफी सहायता करता है। प्रभावित भाग को अच्छे से साफ कर लें तथा इसके बाद अपनी त्वचा पर कैस्टर ऑइल से 5 मिनट तक मालिश करें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और एक गीले कपड़े से इसे पोंछ लेने से पहले चेहरे पर 5 मिनट तक दोबारा मालिश करें। अंत में इसे पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग दिन में 2 बार करके एक महीने में अच्छे परिणाम प्राप्त करें।

मुंह की बदबू का इलाज इन हिंदी: मुँह से दुर्गन्ध आने के कारण कई बार लोगों को शर्मिंदा होना पड़ता है। जिस व्यक्ति या महिला के मुंह से बदबू आती है अक्सर लोग उनसे दूर भागते है, उनकी पीठ पीछे उनका मजाक बनाते है और उनके साथ रहना पसंद नहीं करते। सांसो की बदबू रोकने के लिए आजकल बाजार में भी कुछ ऐसी चीजें और दवा आती है जिनके प्रयोग से कुछ देर के लिए मुंह से बदबू आना रुक जाती है, पर ये सब कुछ समय के लिए ही होते है और महंगे भी होते है। आप घर पर प्रयोग होने वाली कुछ चीजों को इस्तेमाल करके मुँह की दुर्गन्ध दूर करने के उपाय कर सकते है, घर पर किये जाने वाले ये घरेलू नुस्खे सस्ते तो होते ही है और इन्हें करना भी आसान है। Treatment for permanent bad breath problem solution in hindi.

यदि सम्भव हो तो अपने कूल्हों को धूप लगाएँ: यदि आपके पास अपना निजी आँगन (private backyard) है या न्यूड समुद्र तट (nude beach ) पास में है तो एक गर्म दिन पर अपने कूल्हों को कुछ धूप लगाएँ। सूरज प्राकृतिक रूप से ज्यादा तेल को सुखा देगा।

* लहसुन : लहसुन की 2 कलियों का रस निकालकर 1 गिलास पानी में मिलाकर कुल्ला करें। रोजाना 4 से 5 दिन तक इसका प्रयोग करने से मुंह के छाले कम हो जाते हैं। लहसुन की कली को पानी के साथ पीसकर उसमें थोड़ा-सा देसी घी मिलाकर मलहम तैयार करें। इस मलहम को छालों पर लगाने से छाले खत्म हो जाते हैं।

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

एक बलगम निकालने वाली दवाई लें: यह ऐसी दवाईयाँ होती हैं जो आपके गले और नाक की बलगम को तोड़ती हैं और आसानी से इसे खाँसकर अपने शरीर से निकालने में आपकी मदद करती हैं। इनमें से बहुत सारी स्थानीय दवा की दुकानों पर ओवर-द-काउंटर उपलब्ध होती हैं, जबकि कुछ को डॉक्टर लिखकर देते हैं। खुराक निर्देशों का पालन करें और बलगम की वजह से हो रहे जमाव से आराम पाने के लिए दवाई को रोज़ लें।[३]

lifestyle news bollywood news in hindi fashion fashion news love Cricket fashion_traind entertainment latest news beauty tips bollywood news bollywood lifestyle Entertainment_news entertainment news latest latest fashion trends lifestyle_news health news bollywood_actress

सच में बर्फ लगाने के कई फायदे है त्वचा के लिए, जानिए कैसे ice cubes कई तरह के benefits देता है हमारे skin को in Hindi. बर्फ के टुकड़े लगाने भर से चेहरे के सुजन से ले कर फुंसी तक कम हो जाती है | गर्मियों के महीनों में भयानक गर्म होती है, इसमे बर्फ का cube हमे राहत प्रदान करता है | ice cube पूरी तरह से आपके शरीर और आत्मा को शांत करता है और आपको तेज गर्मी से बचाता है । अपने सामान्य juice में दो या तीन बर्फ के cubes को जोड़ना आपके पूरे सिस्टम को शांत करता है | आप इसे अतिरिक्त शीतलता के लिए अपने सामान्य पानी में भी इस्तेमाल कर सकते हैं । कार्यालय में काम करते वक्त मुश्किल दिन बिताने के बाद,बर्फ का एक टुकड़ा वास्तव में आपको relax महसूस कराता है |

मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

एक अंडे के सफेद भाग फेटें फिर उसमें आधे नींबू का रस डालें और अच्छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए सूखने दें और फिर गर्म पानी से धो लें। यह त्वचा में कसाव लाता है और अतिरिक्त तेल को सोखता है।

जैसा कि आप जानते हैं, त्वचा हालत का एक संकेतक हैशरीर। चेहरे पर मुँहासे की उपस्थिति के कारण दोनों बाह्य और आंतरिक कारकों का असर हो सकता है। जलवायु स्थिति, कॉस्मेटिक तैयारी का उपयोग, पर्यावरण की स्थिति बाह्य कारक हैं जो त्वचा की स्थिति को प्रभावित करते हैं। उदाहरण के लिए, गर्मी में मुंह का प्रकटन, पराबैंगनी प्रकाश या वृद्धि हुई पसीना आना के परिणामस्वरूप हो सकता है। त्वचा का संदूषण चेहरे पर छोटे खांघों की उपस्थिति की ओर जाता है

ज्यादा रेशे वाले (फाइबर से भरपूर) आहार लें: ताजा और कुरकुरा भोजन आपके दांतो को साफ़ रखने के साथ-साथ, यह दुर्गन्धयुक्त सांस को भी रोकेगा। इससे आपकी पाचनशक्ति में सुधार होगा और विषैले तत्व आपके शरीर से निकल जाएंगे।[९]

शहद की एंटीबायोटिक गुण मुँहासे में सुधार करने में मदद कर सकते हैं प्रभावित क्षेत्रों में एक चम्मच को लागू करें, या 1 / 2 कप शहद को 1 कप सादे दलिया के साथ मिलाकर एक मुखौटा बनाएं और इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें। आप दालचीनी, हल्दी और शहद की एक पेस्ट भी बना सकते हैं, इसे 10 मिनट के लिए लागू करें और फिर से कुल्ला।

बवासीर में कच्ची मूली या मूली के पत्तों की सब्जी बनाकर खाना फायदेमंद होता है. हर रोज सुबह उठते ही एक कच्ची मूली खाने से पीलीया रोग में आराम मिलता है. अगर पेशाब का बनना बंद हो जाए तो मूली का रस पीने से पेशाब दोबारा बनने लगती है. आधा गिलास मूली का रस पीने से पेशाब के साथ होने वाली जलन और दर्द मिट जाता है. खट्टी डकारें आती है तो मूली के एक कप रस में मिश्री मिलाकर पीने से लाभ मिलता है.

रोजाना सुबह खाली पेट दो से तीन लहसुन की कलियाँ खाएं। अगर खाने में परेशानी हो तो आप लहसुन के तेल से मसाज भी ले सकती हैं। अगर ये तेल आपको बाजार में मिलना मुश्किल हो तो घर पर मसाज ऑयल बनाएं। उसके लिए एक चम्मच नारियल तेल, एक चम्मच सरसों का तेल, एक चम्मच तिल का तेल लें और इन तीनों में 8 से 9 कलियाँ लहसुन की डालकर हल्का गुनगुना कर लें। फिर इस तेल से मसाज करें।

एक नैचुरल एंटी एजिंग और एंटी ऐंजनंट है क्योंकि इसमें विटामिन ‘सी’ पाई जाती है जो चेहरे को अंदर गहराई से साफ करती है। नींबू का रस दाग धब्बों कील मुहांसों को दूर करने एवं चेहरे का स्कीन टोन को निखारने में मदद करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से चेहरा दाग धब्बों से रहित एवं ख़ूबसूरत बन जाता है।

“मुंहाल निशान से छुटकारा पाने के लिए _मुंह खोने का सबसे तेज़ तरीका”

प्राकृतिक जड़ी बूटियाँ खाएँ: मुलैठी (licorice), मेथी और चिकवीड (chickweed) जैसी जड़ी बूटियाँ खाना आपके गले से बलगम साफ करने में मदद करेगा। इन्हें अपने खाने में जोड़ें या अगर आप स्वाद को बर्दाशत कर सकते हैं, तो इन्हें कच्चा खाएँ या पानी में उबालकर इनकी चाय बनाएँ।[२]

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

धूम्रपान करने से और तम्बाकू चबाने से बचें: वैसे तो कई सारी वजह है धूम्रपान और तम्बाकू को छोड़ने के लिए (जैसे कैंसर), परंतु सांस की दुर्गंध होना भी एक कारण है। धूम्रपान करने से व्यक्ति की सांस की गंध बासी तम्बाकू जैसी लगती है, जिसे कई बार “ऐश ट्रे की गंध” आना कहा जाता है। इस गंध को रोकने का सबसे आसान तरीका, धूम्रपान छोड़ना ही है।[१०]

त्वचा को ठंडक पहुंचाने वाले, सफाई करने और कसाव लाने के गुणों के कारण टमाटर तेलीय त्वचा के लिए किसी वरदान से कम नहीं होते हैं। टमाटर में मौजूद विटामिन सी की उच्च मात्रा मुँहासे युक्त त्वचा के लिए बहुत उपयोगी होती है। इसके अलावा, टमाटर में तेल अवशोषित करने वाला एसिड भी पाया जाता है। जो अतिरिक्त तेल से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। 

अगर आप को जल्दी चेहरे पर से कील मुहांसों से छुटकारा पाना है तो आप रोज कुच्छ दिनो तक सफेद प्याज का रस में एक चमच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएँ चेहरा सूखने पर धोकर साफ टॉवेल से साफ करके स्टीम लें जल्दी ही आप के कील और मुहाँसे सॉफ हो जाएँगे

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच मेथी के बीज को पीसें और उसका पाउडर बनाएं और एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा सा गर्म पानी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाएं। 20 मिनट या रात भर लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें, यह सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।

टमाटर अम्लीय (एसिडिक) होते है और दानों पर उनकी लुगदी लगाने से त्वचा शुष्क होती है और इस वजह से त्वचा के छिद्र कस जाते हैं। इसका मतलब है कि छिद्र में से कम तेल निकलने की और मुँहासे न पैदा करने की सम्भावना होती है। टमाटर एंटीऑक्सीडेंट में समृद्ध है, और त्वचा पर लगाने से सूजन और त्वचा की क्षति को कम करता है।

मुल्तानी मिट्टी तैलीय और मुँहासे प्रवण त्वचा के लिए अच्छी है और यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर, उनको रोम छिद्र से मुक्त करती है। यह आपके रंग में सुधार करने में भी मदद करती है। (और पढ़ें – आठ दिन के लिए यह उबटन लगाएँ, काले से गोरा रंग और सुंदर त्वचा पाएँ)

कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। सैर करना, तैरना या साइकिल चलाना सुरक्षित व्यायाम हैं। तैराकी जहां वजन तो कम करती है, वहीं यह कमर के लिए भी लाभकारी है। आपको बता दें कि साइकिल चलाते समय कमर सीधी रखनी चाहिए। व्यायाम करने से मांसपेशियों को ताकत मिलेगी तथा वजन भी नहीं बढ़ेगा।

शहद, त्वचा की सतह पर जमा अतिरिक्त तेल को कम करने में मदद करता है। साथ ही छिद्र और झुर्रियों को भी होने से रोकता है। शहद में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो त्वचा को पोषण देते हैं और त्वचा को बिना ऑयली बनाये पर्याप्त रूप से मॉइस्चराइज करते हैं। इसके अलावा, शहद के प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण मुँहासे पैदा करने वाली ऑयली त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं।

कभी-कभी हल्के-फुल्के बुखार के साथ भी छाले हो जाते हैं, वहीं कुछ स्त्रियों में महावारी आने से पहले ये हो जाते हैं। तनाव के कारण भी छाले हो सकते हैं। छालों होने का कारण दांतों की समस्या से भी जुड़ा हो सकता है। किसी दांत का तेज किनारा, ब्रश करते हुए या डेंचर पहनते व उतारते समय बने जख्म भी छाले बन परेशानी पैदा कर सकते हैं।

नियमित रूप से अच्छी तरह अपने मुँह को साफ करें: जीभ और दाँतों के बीच में अच्छे से ब्रश करें, इसलिए नहीं की अच्छे लगे, बल्कि ओरल हेल्थ और साफ़ सांस के लिए। मुँह की दुर्गंध के दो प्रमुख स्त्रोत बैक्टीरिया और खाद्य कण का सड़ना है। आपके मुँह में अनेक कोने और सुराख होते हैं जिनमे खाने के कण फंस जाते हैं और सड़ जाते हैं। जिसके लिए सिर्फ दांतो को ब्रश करना नाकाफी है।

परेशान करने वाली चीज़ों से दूर रहें: घरेलू क्लीनर्स, एनैमल्स (enamels), रंग के धुएँ और अन्य रसायन रेस्पीरेटरी स्थिति को बिगाड़ते हैं और बलगम के स्तर को बढ़ाते हैं। अपने घर में ताजी हवा आने के लिए अपनी खिड़कियों को खुला रखें, अपनी बीमारी के दौरान परेशान करने वाली चीज़ों को अंदर रखें और ऐसी जगह जाने से बचें जहाँ ये सब होने की संभावना है (जैसे बार या एक पेंट की दुकान।[४]

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

एक नैचुरल एंटी एजिंग और एंटी ऐंजनंट है क्योंकि इसमें विटामिन ‘सी’ पाई जाती है जो चेहरे को अंदर गहराई से साफ करती है। नींबू का रस दाग धब्बों कील मुहांसों को दूर करने एवं चेहरे का स्कीन टोन को निखारने में मदद करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से चेहरा दाग धब्बों से रहित एवं ख़ूबसूरत बन जाता है।

अच्छी क्वालिटी के च्युंगम चबायें: जैसा कि पिछले चरण में उल्लेख किया है, कोई भी च्युंगम दुर्गंध हटाने में मदद करता है क्यूंकि चबाने के कार्य से लार का उत्पादन अधिक होता है। हालांकि, कुछ गम दूसरों की तुलना में बुरी सांस से लड़ने की बेहतर क्षमता रखते हैं:

यदि आप एलर्जिक हैं तो उपयुक्त उत्पादों का प्रयोग न करें। यदि आप सुनिश्चित नहीं है कि आपको एलर्जी है या नहीं तो क्रीम को अपने शरीर के किसी बड़े हिस्से पर लगाने से पहले, आप अपने हाथ पर सैंपल टेस्ट कर सकती हैं।

मेलनिन के मात्रा कम होने के कारण मूछ और दाढ़ी के बाल सफेद होने लगते है मेलनिन ऐसा तत्व है जो आपके बालों और त्वचा के रंग को सही रखने में मदद करता है लेकिन उम्र के साथ शरीर में मेलनिन की मात्र कम होने के कारण बालों और त्वचा का रंग फीका पड़ने लगता है

बवासीर में कच्ची मूली या मूली के पत्तों की सब्जी बनाकर खाना फायदेमंद होता है. हर रोज सुबह उठते ही एक कच्ची मूली खाने से पीलीया रोग में आराम मिलता है. अगर पेशाब का बनना बंद हो जाए तो मूली का रस पीने से पेशाब दोबारा बनने लगती है. आधा गिलास मूली का रस पीने से पेशाब के साथ होने वाली जलन और दर्द मिट जाता है. खट्टी डकारें आती है तो मूली के एक कप रस में मिश्री मिलाकर पीने से लाभ मिलता है.

Turmeric has great antimicrobial and antiseptic properties and works for all skin problems. It can be used by mixing with water and making a thick and smooth paste. Apply this paste properly in the pimple region and leave it for some time to dry. It helps in killing the bacteria in the pimple. Once it is dried wash it off with normal water. Repeat the process daily to see better results.

“आप कैसे मुंह से छुटकारा पा सकते हैं मुँहासे के मुँहासे उपचार”

* लहसुन : लहसुन की 2 कलियों का रस निकालकर 1 गिलास पानी में मिलाकर कुल्ला करें। रोजाना 4 से 5 दिन तक इसका प्रयोग करने से मुंह के छाले कम हो जाते हैं। लहसुन की कली को पानी के साथ पीसकर उसमें थोड़ा-सा देसी घी मिलाकर मलहम तैयार करें। इस मलहम को छालों पर लगाने से छाले खत्म हो जाते हैं।

यदि आप जोखिम के समूह हैं और यह आपको एक जीन वाहक के रूप में विकसित कर सकते हैं तो कोई अपने परिवार में इस रोग से ग्रस्त है। उसके बाद में 50% मामलों की वे भी इस रोग से ग्रस्त बच्चों मामले में दोनों भागीदारों के एक जोड़े में सोरायसिस है है। किसी परिवार से यह रूप में अच्छी तरह से था, क्योंकि 30% psoriasis के साथ मरीजों की समस्या प्राप्त किया।

आप अपना चेहरा भाप कर सकते हैं गर्म वाष्प में त्वचा को नरम करने की क्षमता होती है, साथ में मृत त्वचा कोशिकाओं, बाएं-पीछे के सौंदर्य प्रसाधन, तेल और बैक्टीरिया जो प्लग छिद्रता है। इस बैक्टीरिया, गंदगी और त्वचा के छिद्रों में फंसे तेलों को हल्का ढंग से चेहरे को साफ़ करने से हटा दिया जा सकता है।

अपने आहार का मूल्यांकन करें और इसे करना शुरू करेंअधिक विविध, स्वस्थ, संतृप्त विटामिन इस कदम के बाद माथे पर मुँहासे का इलाज कैसे करें? एक त्वचाविज्ञानी और एक cosmetologist परामर्श करने के लिए सुनिश्चित करें

नारियल का तेल और कड़ी पत्ता : दाढ़ी और मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पाने के लिए कुछ कड़ी पत्ते ले और इन्हे नारियल के तेल में डालकर उबाल ले तेल में पत्तो को उबालने के बाद उसे उतारकर ठंडा कर ले और फिर इस तेल से अपनी दाढ़ी और मूछो की मालिश करें इस तेल का प्रयोग आप अपने सिर के बालों को काला करने के लिए भी कर सकते है इस तेल से मालिश करने से आपके सफेद बाल कुछ ही दिनों में काले हो जायंगे।

जब भी आप अपने डेस्क तथा कंप्यूटर पर लम्बे समय तक बैठते हैं तो बीच-बीच में खड़े हों और एक ब्रिस्क वॉक (brisk walk) लें। यहाँ तक कि अपनी डेस्क पर ही कूल्हों या पैरों की कसरत करें जिससे खून के प्रवाह में मदद मिलेगी।

3 चम्‍मच दलिये को थोड़ा पानी लेकर पकाएँ। अब इसमें 4 चम्‍मच शहद डाल दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ठंडा होने के पश्चात इसको अपनी पीठ पर फैला कर लगा दें। इसको कम से कम 15 से 20 तक लगा रहने दें। फिर इसको गुनगुने पानी से धो दीजिए। इस देसी इलाज को रोज़ाना ही दोहराएँ।

वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच मेथी के बीज को पीसें और उसका पाउडर बनाएं और एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा सा गर्म पानी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाएं। 20 मिनट या रात भर लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें, यह सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।

दालचीनी एक आम मसाला और स्वाद बढ़ाने वाला एजेंट है लेकिन इसके तेल में माइक्रोबियल विरोधी गुण होते हैं। शहद में पानी का असर बहुत कम होती है इसका मतलब है कि इसमें नमी ज्यादा नहीं होती जो सूक्ष्म जीवाणुओं के विकास को बढ़ावा देती है। यह ध्यान में रखते हुए कि मुँहासों का पैदा होना, त्वचा के छिद्र के भीतर होने वाले संक्रमण से होता है, शहद के साथ दालचीनी का संयोजन एक कारगर उपाय है।

लार में सोडियम, पोटैशियम, फास्फेट, कैल्शियम, प्रोटीन, ग्लूकोज जैसे तत्व होते हैं जो दांतों को मजबूत बनाते हैं। इसमें मौजूद तत्व दांतों को हानिकारक संक्रमणों से बचाते हैं जिससे दांत सड़ते नहीं। यह दांतों पर सुरक्षा कवच की तरह काम करती है।

दालचीनी के बहुत सारे लाभ तो हैं परंतु आपको बताई गई कुछ सावधानियों को भी नहीं भूलना चाहिए। अतः इसके उपभोग से पहले इसके लाभ-हानि को अच्छे से समझ लें और इसका सेवन उच्च मात्रा में ना ही करें तो अच्छा होगा।

पिम्पल्स के दाग कैसे दूर करे – आधा-आधा चम्मच नींबू का रस और हल्दी में चौथाई चम्मच नमक और एक चम्मच पानी मिलाकर गर्म करके चेहरे पर लगाये फिर सूखने के बाद चेहरा धोयें। चेहरे के दाने मुँहासे व उनके निशान मिट जायेंगे। यह हर चौथे दिन लगायें

शुगर फ्री गम या मिंट का इस्तेमाल करें: पानी की तरह ही, शुगर फ्री गम या मिंट भी आपके मुंह में लार (सलाइवा) तैयार करने में और हानिकारक बैक्टीरिया को बाहर निकालने में आपकी मदद करते है। शुगर फ्री गम या मिंट आपकी दुर्गन्धयुक्त सांस को कुछ समय के लिए छुपा भी सकते हैं।[५]

क्या आपको पता है? बर्फ क्यूब्स आपको मुँहासे से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है, इसके अलावे Triglow cream भी इसी चीज के लिए उपयोग किया जाता है । यह आपके त्वचा से blackheads को भी दूर करता है | प्रभावित क्षेत्र में एक बर्फ के टुकडे को रगड़ने से blackheads जैसी परेशानी से निबटा जा सकता है |

जिस तरह हम लोग रोज नहाए रोज मुंह धोए बिना नहीं रह पाते हैं उसी तरह हमें अपने कानों का भी जरुर ख्याल रखना चाहिए क्योंकि कानों की सफाई अगर हम नहीं करेंगे तो धीरे-धीरे कान के अंदर जो हमारा महल है वह जनता जाएगा जनता जाएगा और एक समय ऐसा आएगा कि उसकी वजह से हमारे कान की सुनने की क्षमता बहुत ही ज्यादा कम हो जाएगी साथ ही कान में दर्द होना भी शुरू हो जाएगा!

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

फुंसियों का हमारे फेस पर होने का सबसे बड़ा कारण गंदे हाथो को face पर बार – बार लगाना भी है. हाथो में जीवाणु और बैक्टीरिया होते हैं इसलिए कभी भी दिन में अपनी त्वचा को हाथो से ना छुए. जब भी अपने चेहरे पर हाथ Touch करना हो तो उन्हें पहले अच्छी तरह धो ले.

1- अगर आपको सर्दी जुकाम की समस्या है तो इससे आराम पाने के लिए 10 ग्राम मुलेठी, 10 ग्राम काली मिर्च, 5 ग्राम लौंग, 5 ग्राम हरीतकी और 20 ग्राम मिश्री को एक साथ मिलाकर पीस लें. अब इसके पाउडर में 1 चम्मच शहद मिलाकर चाट लें. ऐसा करने से  कफ, सर्दी-खांसी और जुकाम समस्या दूर हो जाएगी.

मेथी हमारे चेहरे को साफ़ रखने में सहायक होती है. यह दाग – धब्बे हटाने काफी सहायता करती है. मेथी के पत्तो का या मेथी के बीजो को उबालकर आप इनका पेस्ट बना सकते है और जहाँ आपके Pimple है वहां पर Use कर सकते है. इसके पेस्ट को अपने face पर 15 minute लगाये रखे और फिर पानी से धो ले.

* लौंग का तेल : आप मुंह के छालों को ठीक करने के लिए लौंग के तेल की भी मदद ले सकते हैं। क्योंकि आपकी जीभ काफी संवेदनशील होती है, अतः इसके उपचार का तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है। इस उपचार के लिए 4 से 5 बूँदें लौंग का तेल, आधा चम्मच जैतून का तेल, गर्म पानी और रुई की आवश्यकता होगी।

टमाटर अम्लीय (एसिडिक) होते है और दानों पर उनकी लुगदी लगाने से त्वचा शुष्क होती है और इस वजह से त्वचा के छिद्र कस जाते हैं। इसका मतलब है कि छिद्र में से कम तेल निकलने की और मुँहासे न पैदा करने की सम्भावना होती है। टमाटर एंटीऑक्सीडेंट में समृद्ध है, और त्वचा पर लगाने से सूजन और त्वचा की क्षति को कम करता है।

इंटरनेट डेस्क। खूबसूरत दिखना किसे अच्छा नहीं लगता। हर लड़की की चाहत होती है कि उनकी साफ और दमकती त्वचा रहे है लेकिन चेहरे पर होने वाले पिम्पल्स आजकल होना आम बात हो गई इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत सारे तरीको को अपनाती हैकई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती है। लेकिन ये उपाय कुछ देर तक ही प्रभावी रह पाते हैं।

सूर्य किरणों: रोगियों के बहुमत आमतौर पर लगता है कि सूरज की रोशनी के लिए उनकी हालत अच्छी है। फिर भी, कुछ विचार बहुत अधिक सूरज की रोशनी अपने लक्षण बदतर बना देता है कि। धूप की कालिमा सोरायसिस एक बहुत बढ़ रहा है।

समुद्री नमक के इलाज से वास्तव में आपको मुँहासे से मुक्ति मिल सकती है। जिन जिन लोगों ने पीठ के मुँहासे के इलाज के लिए इस उपाय का इस्तेमाल किया है, उन्होनें इसके तुरंत और प्रभावी समाधान की हमेशा प्रशंसा की है।

चंदन का घोल तैयार करें: चंदन से त्वचा की कई बीमारियां ठीक होती है और इसे बनाना भी एकदम आसान है | 1 बड़ा चमच्च चंदन पाउडर को गुलाबजल या दूध में मिलाकर घोल बनाएं | अब इस घोल को प्रभावित क्षेत्र पर 30 मिनट तक लगाकर धोलें | इस प्रक्रिया को दोहराते रहें, जब तक आपके धब्बे पूरी तरह से गायब न हो जाए |

मेथी को अपने सूजन को कम करने, एंटीऑक्सिडेंट और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण मुँहासे के उपचार में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। पानी के साथ ताजा मेथी के पत्ते मिक्स कर एक चिकना पेस्ट बनाएं। प्रभावित क्षेत्र पर हर्बल पेस्ट को लगाएं और 10 से 15 मिनट के लिए इसे लगाकर छोड़ दें। फिर गर्म पानी से अपना चेहरा धो लें। मुँहासो को ठीक करने के लिए, तीन से चार दिनों के लिए यह प्रक्रिया दोहराएं।

भारतीय घर आम तौर पर मसालों और जड़ी-बूटियों से भरे होते हैं जो रोजाना खाना पकाने में इस्तेमाल होते हैं। लेकिन आप इन मसालों और जड़ी-बूटियों को देसी काढ़े बनाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं जो न केवल रोगों का इलाज करते हैं बल्कि समग्र स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। काढ़ा एक पेय है जिसमें जड़ी-बूटियों और मसालों को पानी में आम तौर पर लंबे समय के लिए उबाला जाता है। जड़ी बूटियों का चुनाव आप अपनी बीमारी के अनुसार कर सकते हैं। स्वाद भी उसी के अनुसार भिन्न होता है। एक बार जब काढ़ा तैयार हो जाता है तो आप दिन में कई बार काढ़े का सेवन कर सकते हैं। आप इसे स्टोर भी कर सकते हैं और फिर इसे पीने से पहले गर्म कर सकते हैं। यहां पांच ऐसे आयुर्वेदिक काढ़े बताये गए हैं जिनका आपको नीचे दी गई बीमारियों में इस्तेमाल करना चाहिए।

    लड़का हो या लड़की हर किसी को अपना चेहरा सबसे प्यारा होता है। यदि उस चेहरे पर दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne) आ जाते हैं तो बहुत बुरा लगता हैं, कहीं बाहर जाने से कतराते हैं, हर जगह अपना चेहरा छुपाने का कोशिश में लगे रहते हैं। सेल्फी के शौकीन होते हुए भी सेल्फी लेने से कतराते हैं वजह सिर्फ चेहरे पर दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne) का आ जाना… तो आइये जानते हैं दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne)  होने की वजह क्या है? और इसको हटाने का घरेलु उपाय  (how to remove pimple and acne at home).

गुलाब जल फेस क्लीन करने में काफ़ी उपयोगी है। गुलाब जल में काली मिर्च के दस से बारह दाने पीस कर मिलाये और रात को चेहरे पर लगा कर सुबह गुनगुने पानी से फेस धो ले। इस उपाय से स्किन पर निखार आता है और मुंहासे भी साफ़ होते है।

March Masik HoroscopeNarendra ModiTripura Election Result LivePNB Fraud CaseShare MarketHoli 2018Weekly Horoscope in HindiMeghalaya Chunav Parinam 2018Aaj Ka RashifalTripura Chunav Result 2018Holi 2018 CelebrationTripura Chunav 2018Happy Holi 2018 WishesKiren RijijuTripura Elections 2018RRB Recruitment 20182018 RashifalNagaland Chunav 2018Nagaland Chunav 2018 ParinamSBI Interest RatesSensex Today LiveTripura Chunav Parinam 2018Share BazarAnshu Prakashहिंदी न्यूज़Meghalaya Chunav 2018Rajasthan Police admit CardAssembly Elections 2017Madhya Pradesh NewsChhattisgarh NewsTV News in HindiHimachal Pradesh NewsMaharashtra NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiRajasthan NewsGujarat NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in HindiJokes in HindiHindi Headlines

नियमित रूप से अच्छी तरह अपने मुँह को साफ करें: जीभ और दाँतों के बीच में अच्छे से ब्रश करें, इसलिए नहीं की अच्छे लगे, बल्कि ओरल हेल्थ और साफ़ सांस के लिए। मुँह की दुर्गंध के दो प्रमुख स्त्रोत बैक्टीरिया और खाद्य कण का सड़ना है। आपके मुँह में अनेक कोने और सुराख होते हैं जिनमे खाने के कण फंस जाते हैं और सड़ जाते हैं। जिसके लिए सिर्फ दांतो को ब्रश करना नाकाफी है।

“मुँहासे संयोजन त्वचा _एक दिन में मुंह से छुटकारा पाना”

आप एक पूरक के रूप में मौखिक रूप से ई पोषण भी ले सकते हैं, हालांकि असाधारण परिणामों के लिए, आप अपनी त्वचा पर तुरंत तेल लगाने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपको पियर्स और त्वचा गुस्से में आ जाती है तो आपको एक बार फिर से जला देना पड़ता है।     कोर्टिसोन इंजेक्शन ………..

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी तरह से सफाई कर देंगे।[४]

डायबिटीज (71) डायरिया (25) डेंगू (7) डैंड्रफ (8) थकान (37) दमा (33) दांत दर्द (56) दांतों के लिए (71) दाद-खाज (23) दिल की बीमारी (43) दिल के दौरे (25) देशी नुस्खे (1642) नपुंसकता (11) नींद की समस्या (25) पथरी (42) पसीने की बदबू (9) पाइल्स (14) पाचन (136) पीरियड्स (23) पीलिया (18) पेट की चर्बी (38) पेट के लिए (118) पेट दर्द (83) पेशाब में जलन (9) पैरों की लिए (27) पैरों की बदबू (11) बच्चों के रोग (20) बवासीर (52) बालों के लिए (229) बुखार (66) ब्लड शुगर (16) मधुमेह (41) मधुमेह (शुगर) (91) माइग्रेन (35) माहवारी के (12) मुंह की दुर्गध (21) मुँहासे (17) मोटापा (141) योगा टिप्स (21) वजन कम (51) वजन घटाने (38) वज़न घटायें (15) विटामिन (1) शीघ्रपतन (9) सर्दी जुकाम (70) सिरदर्द (65) सीने में जलन (17) सेक्स पावर (12) सेहत के लिए (10) स्वस्थ जीवन का सूत्र (219) हार्ट अटैक (30) हार्ट ब्लॉकेज (11) हृदय रोग (7) हेयर लोस (4) हेल्थ टिप्स (8) Beauty Tips (5) Health Tips (162) Yoga Tips (8)

अगर इस में लापरवाही रखे तो आगे जाके यह काले दाग और धब्बे छोड़ देते है जिन्हें निकालना मुश्किल होता है| इसीलिए जवानी में ख़ास सावधानी रखे स्वछता की तो मुहासे ही न हो और अगर हो भी जाए तो बिना दाग के आप मिटा दे| पिम्पल हटाने के उपाय (pimples ke liye gharelu upay) आप जानिये और रहे मुक्त इस परेशानी से|

दातों के नुकसान से बचें: हर 6 महीने में दाँतों की सफाई कराएं (अगर ज्यादा महंगा हो तो काम से काम साल में एक बार)। यह दाँतों में सख्त पत्थर या टार्टर (कठोर दंत पट्टिका का एक रूप है) और अन्य खनिजों के संचय को रोकने में मदद करता हैं । समय के साथ दाँतों और मसूड़ों के बीच के इस जमाव के कारण दाँत ढीले और खराब होने लगते हैं।

Disclaimer: TheHealthSite.com does not guarantee any specific results as a result of the procedures mentioned here and the results may vary from person to person. The topics in these pages including text, graphics, videos and other material contained on this website are for informational purposes only and not to be substituted for professional medical advice.

– गर्मियों में हरा ताजा पुदीना पानी मेें उबाल कर छान लें। गुनगुने पानी से कुल्ला करने से भी आराम मिलता है। इसी प्रकार मेथी को पानी में उबालकर ठंडा कर छान लें और गुनगुने पानी से कुल्ला करें। मसूड़ों की सूजन भी दूर होगी और दुर्गन्ध भी।

इंटरनेट डेस्क। खूबसूरत दिखना किसे अच्छा नहीं लगता। हर लड़की की चाहत होती है कि उनकी साफ और दमकती त्वचा रहे है लेकिन पर होने वाले पिम्पल्स आजकल होना आम बात हो गई इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत सारे तरीको को अपनाती हैकई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती है। लेकिन ये उपाय कुछ देर तक ही प्रभावी रह पाते हैं।

लहसुन खाएँ: अदरक की तरह, लहसुन बहुत शक्तिशाली होता है और जीवाणुओं को मारने और आपके गले को बलगम-मुक्त करने में अच्छा काम करता है। कच्चे लहसुन की कई कलियों को रोज़ खाएँ और अपने खाने में भी इसे घिसें। अगर आप कर सकते हैं, तो लहसुन को सुबह उठते ही खाएँ क्योंकि यह ढंग से बलगम बहने से पहले ही उसे मारने में मदद करता है।

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

भेंट के अलावा एक टिप घर का सौंदर्य उपचार है कि कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए समझाने की मांग लोगों के लिए, इस पोस्ट के माध्यम से हम भी अनुशंसा करते हैं कि, जब यह ग्रेनाइट के लिए एक अंत डाल करने के लिए आता है, दैनिक त्वचा के अपने प्रकार के अनुसार उत्पादों के साथ अपने चेहरे को साफ करने के लिए याद रखें, आप exfolies सप्ताह में एक बार त्वचा, आप तनाव और तम्बाकू से दूर चलाने के लिए और एक स्वस्थ और संतुलित आहार संतृप्त वसा के नि: शुल्क ले लो.

शरीर में जल का स्तर का संतुलन ही सिर्फ सांसों की ताजगी को बनाए रखा जा सकता है। जब हमारे शरीर में जल का स्तर कम हो जाता है तो मुंह में लार का बनना कम हो जाता है। जिससे सांसों में बदबू पनपती है। विटामिन सी- संतरा, निंबू या सभी खट्टे रस वाले फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, ये सांसों की बदबू दूर करने में मददगार हैं। विटामिन सी को जीवाणुओं से लड़ने वाले पदार्थ के रूप में जाना जाता है।

“मुँहासे उपचार जो तेजी से काम करते हैं |मुँहासे का समाधान”

दरअसल मुंह में छाले होना एक आम समस्या है। कई बार भोजन में गडबड़ी या तीखा भोजन करने से जीभ पर, होंठों पर और अंदर छाले हो जाते हैं जो आमतौर पर पांच सात दिन में ठीक भी हो जाते हैं। कभी-कभी छाले लम्बे समय तक ठीक नहीं होते जो भोजन करते व बोलते समय तकलीफ देते हैं। कई बार गंभीर हो जाने पर इनसे खून भी निकलता है। ऐसे में डॉक्टर से इनकी जांच अवश्य करानी चाहिए, क्योंकि ये घातक भी हो सकते हैं।

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

आप एक पूरक के रूप में मौखिक रूप से ई पोषण भी ले सकते हैं, हालांकि असाधारण परिणामों के लिए, आप अपनी त्वचा पर तुरंत तेल लगाने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपको पियर्स और त्वचा गुस्से में आ जाती है तो आपको एक बार फिर से जला देना पड़ता है।     कोर्टिसोन इंजेक्शन ………..

नेज़ल रिन्स (nasal rinse) का प्रयोग करें: अपनी दवा की दुकान से एक खारा नेज़ल रिन्स खरीदें या पुराने ज़माने के नेति पॉट का उपयोग करें। अपने साइनस से खारा पानी और एक नमकीन घोल निकालने से आपकी नाक और गले के पीछे की बलगम साफ होगी।

जिन लोगो को समय समय पर पिम्प्लेस हो जाते है उन लोगो के लिए करेला एक बहुत ही अच्छा उपाय है. करेले को काटकर उबाल ले या उसके रस को निकालकर पीने से यह खून (blood) को साफ कर देता है. जिससे पिम्प्लेस (pimples) पूरी तरह से खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर व कोमल दिखाई देने लग जाता है.

Hello sir, mera naam Sonika h,, mere face pr pimples to ab nhi h Lekin unke nishan reh Gye h jisse face bht khrab dikhta h aap Aisa kuch btayiye jisse meri skin bht beautiful ho jaye, time jyada lgega uski koi problem nhi h bs thik hona chahiye….

हैलीमिटर का इस्तेमाल करें: अगर आप लगातार सांस की दुर्गंध से परेशान है, तो इसके इलाज के लिए आपके डेंटिस्ट के पास हैलीमिटर होगा। हैलीमिटर एक प्रकार का विशेष यंत्र है जो आपकी सांस की गति को जानने के लिए बनाया गया है। यह एक प्रकार का सांस की जांच करने वाला यंत्र है जो शराब या अन्य पदार्थ की जांच करता है जिसे पुलिस भी इस्तेमाल करती है।[१७]

इस साइट की कुकीज़ की सामग्री और विज्ञापनों को अनुकूलित करने के लिए उपयोग किया जाता है, सामाजिक मीडिया सुविधाओं को उपलब्ध कराने और यातायात का विश्लेषण. Además, हम अपने सामाजिक मीडिया सहयोगियों के साथ वेब के अपने उपयोग के बारे में जानकारी साझा, विज्ञापन और वेब विश्लेषण.स्वीकारेंऔर अधिक पढ़ें

डेयरी उत्पाद न खाएँ: सारे डेयरी प्रोडक्टस में एक विशेष प्रोटीन, कैसिइन (casein), होता है जो ठंडा करता है और आपके शरीर में और बलगम बनाता है। अनावश्यक रूप से अधिक बलगम का निर्माण रोकने के लिए, दूध, चीज़, दही या आइसक्रीम जैसे डेयरी प्रोडक्टस न खाएँ।

उन मामलों में जहां चेहरे पर चकत्ते का कारण होता हैबाह्य कारकों के प्रभाव से, सौंदर्य प्रसाधन चिकित्सक, चेहरे पर मुँहासे के लिए एक उपाय का चयन करता है, जिससे त्वचा के प्रकार और विशेषताओं को ध्यान में रखता है। इसके समानांतर, त्वचा की देखभाल की रणनीति परिभाषित की जाती है, और वातावरण की नकारात्मक प्रभाव से चेहरे की त्वचा की रक्षा के लिए तैयारी भी निर्धारित की जाती है।

डायबिटीज (71) डायरिया (25) डेंगू (7) डैंड्रफ (8) थकान (37) दमा (33) दांत दर्द (56) दांतों के लिए (71) दाद-खाज (23) दिल की बीमारी (43) दिल के दौरे (25) देशी नुस्खे (1642) नपुंसकता (11) नींद की समस्या (25) पथरी (42) पसीने की बदबू (9) पाइल्स (14) पाचन (136) पीरियड्स (23) पीलिया (18) पेट की चर्बी (38) पेट के लिए (118) पेट दर्द (83) पेशाब में जलन (9) पैरों की लिए (27) पैरों की बदबू (11) बच्चों के रोग (20) बवासीर (52) बालों के लिए (229) बुखार (66) ब्लड शुगर (16) मधुमेह मधुमेह (शुगर) (91) माइग्रेन (35) माहवारी के (12) मुंह की दुर्गध (21) मुँहासे (17) मोटापा (141) योगा टिप्स (21) वजन कम (51) वजन घटाने (38) वज़न घटायें (15) विटामिन (1) शीघ्रपतन (9) सर्दी जुकाम (70) सिरदर्द (65) सीने में जलन (17) सेक्स पावर (12) सेहत के लिए (10) स्वस्थ जीवन का सूत्र (219) हार्ट अटैक (30) हार्ट ब्लॉकेज (11) हृदय रोग (7) हेयर लोस (4) हेल्थ टिप्स (8) Beauty Tips (5) Health Tips (162) Yoga Tips (8)

* बेकिंग सोडा : अगर आपके मुँह में छाला खट्टे पदार्थों के खाने से हुआ हो तो यह सबसे बेहतरीन उपाय है। एक कटोरे में थोड़ा सा बैंकिंग सोडा लें और उसमे थोड़ी सी पानी की मात्रा मिलाएं ज्यादा मोती पेस्ट भी नहीं बनाएं। इसके बाद इसे आप अपने छालों पर लगा लें। आप इसका उपयोग दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बैंकिंग सोडा को सीधे छालों पर लगा सकते हैं।

“स्पॉट से छुटकारा _विटामिन बी 5 मुँहासे”

All the information, content and live chat provided on the site is intended to be for informational purposes only, and not a substitute for professional or medical advice. You should always speak with your doctor before you follow anything that you read on this website. Any health question asked on this site will be visible to the people who browse this site. Hence, the user assumes the responsibility not to divulge any personally identifiable information in the question. Use of this site is subject to our Terms & Conditions

कोई फर्क नहीं पड़ता कि कारण क्या है, लगभग हर किसी के लिए चिंताओं का कारण हमेशा चिंतन होता है हालांकि, यदि आप मुँहासे से ग्रस्त हैं तो त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करना एक अच्छा विचार है, लेकिन आप इन उपायों से छुटकारा पाने के लिए इन घरेलू उपचारों की कोशिश कर सकते हैं:

मुंह के छालों की समस्या जितनी सामान्य हैं उतनी ही बुरी भी। एक बार यह समस्या हो जाती हैं तो भोजन करना भी दूबर हो जाता हैं। यह समस्या कई कारणों से हो सकती हैं, जिसमें से मुख्य तीखा खाना या अपच होना हो सकता हैं। सामान्यत: छाले 5-7 दिन में ठीक हो जाते हैं। लेकिन इनको जल्दी समाप्त करने के लिए कुछ उपाय करने की आवश्यकता होती हैं। तो आइये जानते हैं उन उपायों के बारे में जिनकी सहायता से मुंह के छालों से निजात पायी जा सकें।

जल्दी से कील मुहांसों से मुक्ति पाने के लिए सबसे अपना पेट सॉफ रखें बाहर का खाना जैसे की जंक फूड तो बिल्कुल हि ना खाएँ प्रापर नींद लें तनाव मुक्त रहें चेहरे को धूल मिटी से बचाएँ हरी पतेदार सब्जी खाएँ साबुन का प्रयोग ना करें|

A) पंप या मुँहासे का कारण बनता है जब त्वचा ग्रंथियों के उत्पादन सेबम (त्वचा के तेल) के छिद्र भरा हो जाता है और इस प्रकार सेबम बच नहीं सकते वे हार्मोनल परिवर्तन, तनाव, पसीना, अत्यधिक नमी और स्टेरॉयड के उपयोग सहित कई कारकों से शुरू हो रहे हैं।

ठंड के दिनों में धुप में बैठने में बहुत मज़ा आता है, और इस आराम के दौरान सनबर्न को ध्यान नहीं देते । ये sunburns आपकी त्वचा की गुणवत्ता को बर्बाद कर सकते हैं और यह वास्तव में दर्द का कारण बन सकते हैं | ice cube को aloe vera के साथ इस्तेमाल करना sunburn के सबसे अच्छा उपचार में से एक हो सकता है | Aoe vera का शीतलन प्रभाव सनबर्न में आराम प्रदान करता है | इसके स्थान पर खीरा का भी इस्तेमाल किया जा सकता है |

ऑयल पुलिंग बहुत ही पुराना नुस्‍खा है जो कैविटी को कम करने के साथ-साथ मसूढ़ों से खून बहना और सांस की बदबू को भी दूर करता है। साथ ही यह दंत समस्याओं के विभिन्न प्रकारों के लिए जिम्मेदार हानिकारक बैक्‍टीरिया को मुंह से साफ करने में मदद करता है। इसके लिए तिल के तेल की एक चम्‍मच को मुंह में रखें। फिर इससे 20 मिनट तक मुंह में रखकर थूक दें। लेकिन इसे निगलने से बचें। फिर अपने मुंह को गुनगुने पानी से धो लें। रोगाणुरोधी लाभ पाने के लिए नमक के पानी का प्रयोग करें। फिर हमेशा की तरह अपने दांतों को ब्रश करें। इस उपाय को रोजाना सुबह खाली पेट करें। यह उपाय सूरजमुखी या नारियल के तेल के साथ भी किया जा सकता है।

तो आज हमने आपको इस पोस्ट में बताया कि कैसे आप अपने चेहरे से कील मुहांसों को दूर कर सकते हैं कील मुहासे किस चीज से होते हैं और उनसे बचने का उपाय यदि आपको यह पोस्ट पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं.

कोलकाता : मैंने क्लब के 100 दिनों के रिपोर्ट को देखा जिसमें यह पाया कि हिन्दुस्तान क्लब काफी बेहतर कार्य कर रहा है। यह उन्नति के मार्ग में अन्य क्लबों से काफी आगे हैं। उक्त बातें हिन्दुस्तान क्लब के स्थापना [Read more…]

लेकिन कॉलेज के समय में जो पिम्पल मेरे चेहरे पर आये उनको छुड़ाने में मुझे 8 महीने से ज्यादा लग गये. मेरे चेहरे में पहले एक फुंसी आई फिर दूसरी और देखते ही देखते ही यह संख्या रोजाना लगातार बढती जा रही थी. जो भी पिम्पल पुराना हो जाता है वह चेहरे पर मुंहासे में बदल जाता. जो मेरे चेहरे पर एक काले दाग की तरह दिखाई देता था.

डॉक्टर का निदान होगा यदि मुर्गा नहीं हैंकुछ अन्य त्वचा रोग, और आवश्यक विटामिन दवाओं से संतृप्त लेने में मदद करें। इसके अलावा, यदि आप माथे पर प्रजनन करने वाले चिड़ियों के साथ चिंतित हैं, तो उपचार में विशेष मलहम शामिल हो सकते हैं।

“एक बड़े दाना से छुटकारा पाने के तरीके |मुँहासे के निशान से छुटकारा पाने के लिए रात भर”

एक टमाटर को काटकर उसके गूदे या रस को निकालकर मुँहासों पर लगाएं। यदि यह आपकी त्वचा के सूखने का कारण बनता है, तो थोड़ा सा पानी उपयोग करके टमाटर का गूदा पतला कर लें। इसे दिन में १ या २ बार से ज़्यादा बार न लगाएं क्योंकि यह त्वचा के अत्यधिक सूखने का कारण बन सकता है।

पैर पर इस तकनीक को अप्लाई करने के लिए एंकल प्वांइट मतलब एड़ी के ऊपर वाले हिस्से की हड्डी के पीछे की ओर यहां पर खत्म होती है। उसे अपने हाथ की उंगली और अंगूठे से दबाने से भूख पर कंट्रोल होगा जिससे वजन भी कम होगा।

एंटी बैक्‍टीरियल के साथ-साथ एंटीबायोटिग गुणों से समृद्ध होने के कारण, लहसुन दांतों के टूटने और कैविटी की समस्‍या को दूर करने में मदद करता है। यह दर्द से राहत देने और स्‍वस्‍थ मसूड़ों और दांतों के लिए भी अच्‍छा होता है। 3 से 4 लहसुन की कली को कुचलकर और 1/4 चम्‍मच सेंधा नमक मिलाकर पेस्ट बना लें। फिर इसे संक्रमित दांत पर लगाकर 10 के लिए छोड़ दें। कैविटी को कम करने के लिए इस उपाय को कुछ दिनों के लिए दिन में दो बार करें।  

मुंहासों की समस्‍या एक आम समस्‍या है जो कभी भी हो सकती है, अगर आपके घर में अगले दिन कोई कार्यक्रम है और चेहरे पर एक्‍ने निकल जाये तो यह एक बुरी स्थिति होती है। इस समस्‍या से निजात पाने वाले नुस्‍खे आप घर पर भी आजमा सकते हैं। सफेद टूथपेस्‍ट सबके घर में होता है, इसे मुहांसो पर लगाकर पूरी रात के लिए छोड़ दीजिए, इससे वह गायब हो जायेगा। लहसुन को लेकर इसका रस मुहांसों पर लगा दीजिए, इससे मुहांसे आसानी से दूर हो जायेंगे।

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

ड्राई ब्रशिंग विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद करती है। ड्राई ब्रशिंग के जरिए बॉडी पर जमा गंदगी व डेड सेल्स से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके अलावा यह सेल्युलाइट यानि वसा से भी निजात दिलाती है। पांच से दस मिनट के करीब, धीरे धीरे ड्राई ब्रश प्रभावित क्षेत्रों पर उपयोग करें। सेल्युलाइट की समस्या में बॉडी ब्रशिंग तकनीक मददगार साबित होती है।

क्या आपको पता है? बर्फ क्यूब्स आपको मुँहासे से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है, इसके अलावे Triglow cream भी इसी चीज के लिए उपयोग किया जाता है । यह आपके त्वचा से blackheads को भी दूर करता है | प्रभावित क्षेत्र में एक बर्फ के टुकडे को रगड़ने से blackheads जैसी परेशानी से निबटा जा सकता है |

Pimples ko medicaly muhase kaha jata hai. Aajkal pimples hona aam samsya ho gayi hai. Pimples purusho or mahilao dono ko prbhawit karta hai or ye kisi bhi umar me ho sakta hai, or pimples koi chetawani dekkar nahi aata kabhi bhi ho sakta hai. Tamam kosiso ke bawjud kai bar chehre par pimples yani muhase ho jate hai. Khaskar teenage me yah samsya jayada hoti hai. Muhase chehre par kai karno se ho sakte hai, jaise chehre par jami gandagi ko saaf na karna ya chehre ka atyadhik tailiy hona aadi, muhase hone par hame coffee ya msaledar bhojan ka upyog kam karna chahiye or falo ka sewan adhik se adhik karna chahiye, pimples ko dur karne ka sabse aasan tarika aap ghar par rahkar aajma sakte hai.

हर्बल चाय पिएँ: गरम चाय खिजे हुए गले को आराम पहुँचाने और तनाव कम करने के लिए एक सामान्य सहायता अपने पसंदीदा हर्बल चाय के एक कप को शहद के साथ बनाएँ और धीरे धीरे पिएँ। गर्माहट आपके गले में बलगम को तोड़ने में मदद करेगी और पानी व शहद की नमी खिजी हुई अन्नप्रणाली (esophagus) को आराम देगी। अदरक, कैमोमाइल (chamomile) और नींबू की चाय बलगम से छुटकारा पाने के लिए विशेष रूप से उपयोगी हैं।

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

आप बेकिंग सोडा के दो बड़े चम्मच, एक चम्मच दालचीनी पाउडर, आधे नींबू का रस और पांच चम्मच शहद को एक साथ मिलाएं। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और पांच मिनट के बाद धो लें। आप अपनी त्वचा पर सप्ताह में एक या दो बार बेकिंग सोडा का प्रयोग करें।

कमर दर्द की समस्या आजकल आम हो गई है। सिर्फ बड़ी उम्र के लोग ही नहीं बल्कि युवाओं में भी कमर दर्द की शिकायत रहती हैं। इसकी मुख्य वजह बेतरतीब जीवनशैली और शारीरिक श्रम न करना है। अधिकतर लोगों को कमर के मध्य या निचले भाग में दर्द महसूस होता है। यह दर्द कमर के दोनों और तथा कूल्हों तक भी फैल सकता है। बढ़ती उम्र के साथ यह समस्या बढ़ती जाती है जिससे काम करने में परेशानी होती है। आप अपनी कुछ आदतों को बदलकर इससे काफी हद तक बच सकती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप कमर दर्द को छूमंतर कर सकती है।

निजी स्वच्छता के नियमों की उपेक्षा मत करो दिन में 2 बार अपना चेहरा धो लें, एक व्यक्तिगत तौलिया या नैपकिन के साथ त्वचा को साफ करें आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त अतिरिक्त चेहरे का शुद्ध उपयोग करें। विशेष रूप से अच्छी तरह से बिस्तर पर जाने से पहले त्वचा को साफ;

शहद और गिलेसरीन के प्रयोग से भी आप छालों की समस्या से छुटकारा पा सकते है.  मुंह में छाले होने पर शहद और गिलेसरीन का इस्तेमाल काफी अच्छा रहता है. शहद और गिलेसरीन को आपस में मिलाये और इस मिश्रण को कॉटन की मदद से लों में लगाए. इससे मुंह के छाले धीरे-धीरे कम होने लगेंगे.

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

माथे पर चमड़े के नीचे और छोटे pimples पैदा कर सकते हैंबस अनुचित देखभाल के परिणामस्वरूप किसी भी मामले में आपको छोटे प्रदाहों को निचोड़ना चाहिए, जैसे कि रोगाणुओं, पड़ोसी छिद्रों में पड़ना, केवल माथे पर चिड़ियों की संख्या में वृद्धि होगी

जैतून का तेल(Extra virgin olive oil) पौष्टिक गुणों के साथ भरपूर है। यह उचित ब्लड सर्कुलेशन को बनाए रखता है और त्वचा में सुधार करता है। आप कुछ समय के लिए जैतून के तेल के साथ अपने प्रभावित क्षेत्रों पर मालिश कर सकते हैं। इसे दैनिक रूप से उपयोग करें। 

जब भी आपको अपने घर से बाहर किसी काम के लिए जाना होता है तो उसके बाद जब आप घर आते हो तो तब आप अपना मुँह अवश्य धो ले. बाहर के प्रदूषण से आपके चेहरे पर धूल – मिटटी जम जाती है. जो हमारे फेस को नुकसान पहुँचा देता है. आगे से इस बात का ख्याल जरुर रखे.

हाइड्रेटेड रहें: सभी बीमारियों की तरह, जल्दी ठीक होने के लिए हाइड्रेटेड रहना आवश्यक है। दिन भर में हर घंटे पानी पीकर अपने शरीर को बलगम बाहर निकालने में मदद करें। आप अपनी फ्लूइड (fluid) इन्टेक (intake) को सप्लीमेन्ट (supplement) करने के लिए जूस और चाय भी ले सकते हैं।

मुंह के छालों की समस्या जितनी सामान्य हैं उतनी ही बुरी भी। एक बार यह समस्या हो जाती हैं तो भोजन करना भी दूबर हो जाता हैं। यह समस्या कई कारणों से हो सकती हैं, जिसमें से मुख्य तीखा खाना या अपच होना हो सकता हैं। सामान्यत: छाले 5-7 दिन में ठीक हो जाते हैं। लेकिन इनको जल्दी समाप्त करने के लिए कुछ उपाय करने की आवश्यकता होती हैं। तो आइये जानते हैं उन उपायों के बारे में जिनकी सहायता से मुंह के छालों से निजात पायी जा सकें।

इन उपायों को जब आप अपनाते है तो अपना धैर्य बनाये रखे क्योंकि आयुर्वेदिक तरीके अपना असर धीरे – धीरे करते है. अगर आप लगातार यह करते रहोगे तो आपको भी दाग – धब्बो से छुटकारा मिल जायेगा और चेहरे में निखार आने लगेगा.

जो लोग जानते हैं कि कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए करना चाहते हैं में अपने महान सहयोगी ककड़ी बनाना, के बाद से इस प्राकृतिक घटक के रूप में कार्य करता है एक कसैले और ग्रेनाइट की सूजन कम कर देता है इसके सुखदायक संपत्तियों के लिए धन्यवाद.

वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच मेथी के बीज को पीसें और उसका पाउडर बनाएं और एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा सा गर्म पानी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाएं। 20 मिनट या रात भर लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें, यह सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।

सावधान: आपको नाक साफ करने के लिए सिर्फ जीवाणुरहित पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। पानी को जीवाणुरहित करने के लिए उसे उबाल लें, फिर इस्तेमाल करने से पहले उसे ढक दें और रूम टेंपेरेचर तक ठंडा होने दें। नलके का पानी पीने के लिए सुरक्षित प्रमाणित तो हो सकता है, लेकिन तब भी उसमें रोगज़नक़ हो सकते हैं जो साइनस में घुसकर संक्रमण पैदा कर सकते हैं।

नारियल का तेल और कड़ी पत्ता : दाढ़ी और मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पाने के लिए कुछ कड़ी पत्ते ले और इन्हे नारियल के तेल में डालकर उबाल ले तेल में पत्तो को उबालने के बाद उसे उतारकर ठंडा कर ले और फिर इस तेल से अपनी दाढ़ी और मूछो की मालिश करें इस तेल का प्रयोग आप अपने सिर के बालों को काला करने के लिए भी कर सकते है इस तेल से मालिश करने से आपके सफेद बाल कुछ ही दिनों में काले हो जायंगे।

हमारे दिमाग को काम करने के लिए अधिक मात्रा में ऑक्सीजन और आयरन की जरूरत होती है। एक शरीर को तभी फिट माना जाता है जब उसके शरीर में किसी तरह के विषाक्त पदार्थ और फैट ना हो। इस आसन को करीब एक सप्ताह के लिए नियमित रूप से करें, ऐसा करने से आपको फर्क खुद देखने को मिलेगा। इस आसन को करने से बालों का झड़ना भी काफी कम होता है।

चेहरे की सफाई के लिये एलोवेरा एक बेहतरीन स्किन टोनर है। इसका उपयोग चेहरे पर रोज करने से त्‍वचा से अतिरिक्‍त तेल निकलता है। जिससे पिम्पल्‍स दूर होते हैं, और इसके रोजाना इस्तेमाल से दाग़ धब्बे भी खत्म हो जाते हैं। इसका इस्तेमाल आसान है बस ताजी एलोवेरा कि पत्ती लिजिए और उसे दो हिस्सों में काट दिजिए और फिर उस से निकलने वाले जेल को किनारे से निकालते हुए चेहरे पर लगाएं और 20- 25 मिनट तक चेहरे का मशाज करे। फिर चेहरा को गुनगुने पानी से धो लें।

खाने पिने में कुछ परहेज कर के और खाने की गलत आदतों को सुधार कर हम बार बार पिम्पल होना रोक सकते है। रिफाइंड आयल, आइस क्रीम, चाय, कॉफी, जंक फुड और कोल्ड ड्रिंक जैसी चीजों के सेवन से दूर रहे और अगर आपकी स्किन ऑयली है तो इसके उपाय करे।

सुरेश ने पुलिस को बताया कि उसने मारिया की हत्या 11 जनवरी को तकिया से मुंह दबा कर की थी। हत्या के बाद सुरेश ने मारिया की लाश रजाई में बांध कर बेड के बक्से में छिपा दी और अपने गांव भाग गया। सुरेश ने बताया कि उसने हत्या की योजना तब बनाई जब उसकी पहली पत्नी लता को मारिया के बारे में पता लगा। लता ने सुरेश से कहा कि वह मारिया को छोड़ दे। सुरेश भी मारिया से छुटकारा पाना चाहता था और उसने हत्या को अंजाम दिया।

माउथवॉश का इस्तेमाल करें: दुर्गंधयुक्त सांस पर शीघ्र प्रभाव करने के लिए माउथवॉश का इस्तेमाल करना एक उत्तम तरीका है। यह आपकी दुर्गंधित सांस को अस्थायी रूप से छिपा देता है, लेकिन यह काफी है अन्य लोगों को बुरा लगने से बचने के लिए।[७]

Bahut acche topic par post likhi hai aapne! aajkal pimples ki bahut jyada problem young generation me ho rahi hai….khubsurat banne ki chahat sabhi ko hoti hai…aapne jo upay bataye hain veh bahut kaam ke hain….dhanyabad!

height badhane ke liye aap yah padhe : https://www.nayichetana.com/2015/05/how-to-increase-height-in-hindi-height-kaise-badhaye-%E0%A4%B2%E0%A4%AE%E0%A5%8D%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%AC%E0%A5%9D%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A5%87.html

“कैसे रात भर एक zit छुटकारा पाने के लिए तेजी से पंप साफ करने के लिए”

#1 – Dermasis, 94 अंक हमारे 100 के। Dermasis लक्षण है कि त्वचा लाल और एक दो गुना दृष्टिकोण के साथ बद देखो करने के लिए कारण से लड़ने में मदद करता है एक प्राकृतिक छालरोग उपचार फार्मूला है। Dermasis के सक्रिय संघटक, चिरायता का एसिड, 2% को उत्तेजित करता मृत की इस परत के बहा त्वचा कोशिकाओं आपके सोरायसिस को कम करने में मदद करने के लिए।

फूड एलर्जैन्स से बचें: किसी भी खाने के लिए एलर्जी या संवेदनशीलता बलगम का निर्माण एवं उसे गाढ़ा कर सकती है। अगर आपकी बलगम की समस्या स्थायी है और किसी विशिष्ट कोल्ड या बीमारी से संबंधित नहीं है, तो उसका टेस्ट कराना फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इससे आप यह जान पाएँगे कि कहीं इस बलगम का कारण फूड एलर्जी तो नहीं है। सबसे आम फूड एलर्जैन्स हैं:

उसे बाहर निकालें: ऐसा करने में काफी शोर मच सकता है और यह ग्रॉस (gross) व शर्मनाक भी हो सकता है, लेकिन अपने शरीर से बलगम बाहर निकालना इससे छुटकारा पाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। जब भी आपको बलगम को खाँसने या अपनी नाक को ब्लो (blow) करने की इच्छा हो, तब उसे नजरअंदाज न करें। बलगम निगलने से वह आपके शरीर में वापस घुस सकती है और भरी हुई या बहती नाक को अंदर रखना असुविधाजनक है। एक टिशु-बॉक्स को पास रखना और बलगम को निकालना सबसे अच्छा है।

वैसे तो मुंह की सफाई रखना ही मुंह की बदबू को दूर करने का अचूक उपाय है। इसलिए मुंह की सफाई रखें और खाना खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें। साथ ही दिन में दो बार अच्छे से ब्रश करें। ऐसा लगातार करने से मुंह की बदबू हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

सोरायसिस आमतौर पर कर सकते हैं हो प्रतिष्ठित से अन्य रोगों द्वारा विशेष लक्षण psoriasis के लक्षण: लाल और गुलाबी रंग के धब्बे जो thickened है, शुष्क त्वचा। यह आमतौर पर घुटने, कोहनी और खोपड़ी को प्रभावित करती है। मूल रूप से अभिव्यक्ति हर जगह शरीर पर प्रकट कर सकते हैं। लेकिन अधिक बार यह आघात, पुनरावर्ती मलाई, abrasions के स्थान पर प्रकट होता है।

फिटकरी और गुलाब जल : फिटकरी और गुलाब जल से बने पेस्ट को अपनी मूछो पर लगाकर आप मनचाहा रंग प्राप्त कर लम्बे समय तक आप जंवा बने रह सकते है इसके लिए फिटकरी को पीसकर इसके पाउडर को गुलाब जल में मिलाकर आप अपनी मूछ पर लगाए।

त्वचा के छिद्र भर जाने पर सूजन आ जाती है और उस छिद्र में बैक्टीरिया के कारण पस भर जाती है इस को पिम्पल्स कहते हैं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ भरपूर नींद लें पानी अधिक मात्रा में लें चेहरे को बार बार धोएँ फल और सब्जी ज़ायेदा खाएँ साबुन की जगह बेसन के उबटन से मुँह धोएँ

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

अपनी त्वचा को धूप से बचाएं: सूर्य कि UV किरणे, त्वचा कि पिग्मेंट निर्माण करने वाली कोशिकाओं को उत्तेजित करती हुई आपके मुँहासों के धब्बों को ओर ज्यादा खराब कर सकती है |[१]अगर आप धूप में जा रहें हैं, तो सनस्क्रीन या चौड़ी टोपी पहने और जहाँ तक हो छाँव में चलें |

बालों में डेंड्रफ होना आम बात हैं। कई बार ये डेंड्रफ इतना ज्यादा बड़ जाता हैं जिससे दिनभर खुजली होती रहती हैं। खुजली की वजह से हम कई पर आसानी से बैठ भी नहीं पाते हैं। अगर आपको भी खुजली और डेंड्रफ हो रहा हैं तो हम आपको कुछ उपाए बता रहे हैं जिससे आपको खुजली से राहत मिलेगी।

साधारण पानी की बजाए, स्ट्रांग ग्रीन टी को बर्फ के ट्रे में जमा दें | अब इसका प्रयोग अपने मुँहासों पर करें | हरी चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो बर्फ के ठंडेपन के साथ और ज्यादा अच्छे से काम करते हैं |

अपने चेहरे पर बर्फ के क्यूब्स को नियमित रूप से रगड़ने की आदत को बढावा दें | इससे आपके चेहरे पर blood circulation को बढ़ाने में मदद मिलेगी और बेहतर blood circulation आपके चेहरे को एक स्वस्थ और ताजा रखने में मदद कर सकता है |

सुरेश ने पुलिस को बताया कि उसने मारिया की हत्या 11 जनवरी को तकिया से मुंह दबा कर की थी। हत्या के बाद सुरेश ने मारिया की लाश रजाई में बांध कर बेड के बक्से में छिपा दी और अपने गांव भाग गया। सुरेश ने बताया कि उसने हत्या की योजना तब बनाई जब उसकी पहली पत्नी लता को मारिया के बारे में पता लगा। लता ने सुरेश से कहा कि वह मारिया को छोड़ दे। सुरेश भी मारिया से छुटकारा पाना चाहता था और उसने हत्या को अंजाम दिया।

अगर आपको बार-बार मुंह के छाले हो रहे हैं तो अपने मुंह की सफाई पर विशेष ध्यान दीजिए। ज्यादा मसालेदार और गरिष्ठ भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक न हो रहे हों तो जल्द चिकित्सक से सलाह व उपचार अवश्य लीजिए।

मुँह में दुर्गन्ध पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों से बचें:आप शायद पहले से ही जानते हैं कि प्याज, लहसुन, पनीर, और कॉफी (या उन्हें खाने के बाद कम से कम अच्छे से ब्रश करें) जैसे बदबूदार खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।[५]

इसे भाप से बाहर निकालें: भाप आपके सीने, नाक और गले में बलगम को तोड़ने में मदद करती है जिससे आप आसानी से इसे अपने शरीर से बाहर निकाल पाते हैं। एक बर्तन में पानी उबालें और इसमें युकलिप्टुस (eucalyptus) के तेल की कुछ बूंदें मिलाएँ। अपने चेहरे को बर्तन के ऊपर रखें और कई मिनटों तक भाप लें। इसके अतिरिक्त आप बलगम को तोड़ने के लिए गर्म स्नान (shower) कर सकते हैं।[१]

* लहसुन : लहसुन की 2 कलियों का रस निकालकर 1 गिलास पानी में मिलाकर कुल्ला करें। रोजाना 4 से 5 दिन तक इसका प्रयोग करने से मुंह के छाले कम हो जाते हैं। लहसुन की कली को पानी के साथ पीसकर उसमें थोड़ा-सा देसी घी मिलाकर मलहम तैयार करें। इस मलहम को छालों पर लगाने से छाले खत्म हो जाते हैं।

बर्फ के क्यूब्स का उपयोग त्वचा से बड़े आकार के छिद्रों को रोकने के लिए किया जा सकता है | वे न केवल छिद्र को कम करते हैं और उन्हें छोटा करते हैं, बल्कि आपके चेहरे पर अतिरिक्त तेल के उत्पादन को रोकते हैं | लगातार त्वचा में ice cube से massage करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है |

डायबिटीज, कैंसर और दिमागी रोगों के लिए फायदेमंद है दालचीनी वाला दूधखतरनाक बीमारी है लिवर सिरोसिस, तुरंत बदलें अपने खान-पान की आदतेंये 7 चीजें शरीर में पानी की कमी को पूरा कर देती हैं पर्याप्त पोषणये 3 घरेलू नुस्खे अस्‍थमा के असर को तुरंत कर देंगे कमरोजाना खाएं ये 6 फूड, 60 साल तक याद्दाश्‍त रहेगी तेजरोज सुबह पीएं लहसुन वाली चाय, होंगे ये 5 चमत्कारिक फायदे

March Masik HoroscopeNarendra ModiTripura Election Result LivePNB Fraud CaseShare MarketHoli 2018Weekly Horoscope in HindiMeghalaya Chunav Parinam 2018Aaj Ka RashifalTripura Chunav Result 2018Holi 2018 CelebrationTripura Chunav 2018Happy Holi 2018 WishesKiren RijijuTripura Elections 2018RRB Recruitment 20182018 RashifalNagaland Chunav 2018Nagaland Chunav 2018 ParinamSBI Interest RatesSensex Today LiveTripura Chunav Parinam 2018Share BazarAnshu Prakashहिंदी न्यूज़Meghalaya Chunav 2018Rajasthan Police admit CardAssembly Elections 2017Madhya Pradesh NewsChhattisgarh NewsTV News in HindiHimachal Pradesh NewsMaharashtra NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiRajasthan NewsGujarat NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in HindiJokes in HindiHindi Headlines

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

चेहरे से कील मुंहासे, झुर्रियां और काले दाग धब्बे हटाने में चंदन एक उत्तम उपाय है। दूध और हल्दी पाउडर चंदन में मिला कर उबटन बना ले। इस उबटन को त्वचा पर लगाने से स्किन की जलन और कील मुंहासों का इलाज कर सकते है।

तला हुआ खाना न खाएँ: बहुत ज़्यादा चिकना तला हुआ खाना आपके शरीर को बलगम तोड़ने में दिक्कत देता है जिससे आपका बलगम को सहने का समय बढ़ जाता है। इससे बचने के लिए कुछ भी तला हुआ या बहुत सारे तेल में बना हुआ न खाएँ।

कैस्टर ऑयल के साथ टी-ट्री ऑयल को मिलाकर मिश्रण तैयार करें। इस मिश्रण को रूई की सहायता से मस्से के पर थपथपाते हुए रखें। इसके बाद रूई को उस क्षेत्र पर चिपका दें और इसे 3-4 घंटे के लिए छोड़ दें। इस प्रक्रिया को दिन में दो बार अवश्य रूप से दोहराएं।

अगर आपको बार-बार मुंह के छाले Muh ke chhale हो रहे हैं तो अपने मुंह की सफाई पर विशेष ध्यान दीजिए। ज्यादा मसालेदार और गरिष्ठ भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक न हो रहे हों तो जल्द चिकित्सक से सलाह व उपचार अवश्य लीजिए।