“मुँहासे हटाने के लिए सबसे अच्छा तरीका +कैसे 5 में मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए”

मुल्तानी मिट्टी तैलीय और मुँहासे प्रवण त्वचा के लिए अच्छी है और यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर, उनको रोम छिद्र से मुक्त करती है। यह आपके रंग में सुधार करने में भी मदद करती है। (और पढ़ें – आठ दिन के लिए यह उबटन लगाएँ, काले से गोरा रंग और सुंदर त्वचा पाएँ)

Psoriasis त्वचा है कि तेजी से प्रजनन लाल रंग के सूखे धब्बे का कारण बनता है पर त्वचा की सतह और त्वचा और अधिक मोटा होना त्वचा सेल की जरूरत पर जोर देता की एक शर्त है। हालत बढ़ नहीं रहा है। के रूप में बहुत जल्दी त्वचा सेल बनाता है, तराजू कि परिणाम के रूप में दिखाई देते हैं और गुच्छे भी सूखी। सोरायसिस आमतौर पर घुटने, कोहनी, खोपड़ी पर फैला हुआ है।

इस तरह मुंह की लार से हम मुफ्त में कई बीमारियों का इलाज कर सकते है। इसके पीछे वैज्ञानिक कारण यह है कि इस लार में वो सभी 18 तत्‍व पाये जाते है जो मिट्टी में पाए जाते है। लेकिन बहुत अफसोस की बात हैं कि आज मनुष्य खुद ही अपना दुश्मन बनता जा रहा है। वह धूम्रपान और नशीले पदार्थों के चलते लार को खत्म करता जा रहा है और अपने लिए दुःख तकलीफो को न्योते पर न्योता दिए जा रहा है । धूम्रपान से लार दूषित हो जाती है और असर नहीं करती। जर्दा, पान अन्य पदार्थ से बार-बार थूकने से लार जरूरत से ज्यादा बाहर निकलती है। वहीं तीसरा ड्रग आदि के प्रयोग से मुंह सूख जाता है और लार नहीं रहती। इसलिए लार को बचाने के लिए आपको इन सब आदतों को भी छोड़ना होगा।ताकि लार हमारे शरीर को बीमारियों से बचा सके |

गुलाबजल का रोजाना इस्तेमाल भी दाग-धब्बों को कम करता है क्योंकि गुलाबजल हमारी त्वचा से धूल-मिट्टी को हटाता है तथा त्वचा का सौंदर्य निखरने में अहम भूमिका निभाता है। आप डाबर गुलाबरी का प्रयोग कर सकते हैं।

पिम्पल्स ऑयली त्वचा पर अधिक निकलते है, पिम्पल्स हटाने के घरेलू नुस्खे आप ऊपर पढ़ सकते है और ऑयली स्किन के उपाय आप यहां पढ़े :: http://hindi.kyakyukaise.com/face-beauty-tips-oily-dry-skin-ka-ilaj-gharelu-upay-nuskhe/

परीक्षण करें, अगर आपको सांस की दुर्गंध की समस्या है: यह बताना मुश्किल है कि कब आपकी सांस दूसरो को बदबूदार लगें। अगर आपकी सांस बदबूदार है, तो इन परीक्षण का इस्तेमाल करके, आप अपने मुंह में मौजूद सल्फर नमक को किसी और चीज़ में मिलाकर, सूंघ सकते हैं और स्वयं ही अपने सांस की दुर्गंध को पहचान सकते हैं।[१५]

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

All the tips mentioned here are strictly informational. This site does not provide any medical or health or beauty advice. Consult with your doctor or other health care provider before using any of these tips or treatments. Copyright 2014 Gharelu Nuskhe

एक ह्यूमिडीफ़ायर (humidifier) का प्रयोग करें: अपनी हवा में नमी का स्तर बढ़ाने से आपके शरीर की बलगम पतली हो जाएगी और आसानी से संभाली जाएगी। जब भी आप घर पर हों और खासकर रात में सोेते समय, तब एक ह्यूमिडीफ़ायर को चलाए रखें। बलगम से और दम लगाकर लड़ने के लिए पानी में युकलिप्टुस का तेल डालें।

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

1  नीबू के रस में बराबर मात्रा में गुलाब जल डालकर मिश्रण तैयार करें और उसे चेहरे पर लगाये उसे आधे घंटे रखे फिर ताजे पानी से चेहरा धोले . इस प्रयोग को 10 से 15 दिन तक करें जिससे मुँहासे ठीक हो जाते हैं .

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

मुंह की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आसान घरेलू उपाय – तुरंत दिखाएगी असर सांस की बदबू को हटाने के साथ-साथ यह नुस्खा आपके दांतों को भी सफेद करेगा – ELIMINATE BAD BREATH IN 5 MINUTES! ये जादुई ड्रिंक सांस की बदबू से लेकर कैंसर जैसी बिमारी को रोकने की क्षमता रखती है !! यह घरेलू औषधि दिला सकती है सांस की बदबू से छुटकारा – SAY GOODBYE TO BAD BREATH, PLAQUE, TARTAR AND KILL HARMFUL BACTERIA IN YOUR MOUTH WITH ONLY ONE INGREDIENT

बेकिंग सोडा विरोधी-कवक और विरोधी सेप्टिक गुणों के साथ पैक किया जाता है। मोटी पेस्ट बनाने के लिए पानी की कुछ बूंदों के साथ 1 चम्मच बेकिंग सोडा मिलाएं। पेस्टल पर सीधे इस पेस्ट को लागू करें 5 मिनट के बाद सामान्य पानी के साथ बंद करो।

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

आंतरिक अंगों, अधिक कामकाज और रोगों के रोगतनाव, हार्मोनल विकार, एलर्जी प्रतिक्रियाओं त्वचा पर चकत्ते की उपस्थिति के आंतरिक कारण हैं। एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं चेहरे पर लाल मुँहासे की उपस्थिति से होती हैं, अधिकतर गालों पर। जीवों के नशे में, बैक्टीरिया या चेहरे पर शरीर और शरीर के कामों की गड़बड़ी के प्रभाव के कारण, मर्दों के धब्बे होते हैं। चेहरे पर गहरे चमड़े के नीचे मुँहासे अंतःस्रावी विकार का एक परिणाम हो सकता है। जब सफेद धब्बे चेहरे पर दिखाई देते हैं, तो यह आंतरिक परजीवी के लिए जांच करने के लिए आवश्यक नहीं होगा।

खाने पिने में कुछ परहेज कर के और खाने की गलत आदतों को सुधार कर हम बार बार पिम्पल होना रोक सकते है। रिफाइंड आयल, आइस क्रीम, चाय, कॉफी, जंक फुड और कोल्ड ड्रिंक जैसी चीजों के सेवन से दूर रहे और अगर आपकी स्किन ऑयली है तो इसके उपाय करे।

मेरी उम्र 25 साल की है पीईचले दो महीनो से अब मेरे चेहरे पर बहुत से दाने निकल रहे हैं मैं किया करूँ कोई जल्दी से कील मुहाँसो को मिटाने का आसान सा घरेलू तरीके और नुस्खे बताएँ जिससे मेरा चेहरा पहले की तरह सॉफ हो जाए|

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

चेहरे से दाग धब्बे, झुर्रियां और पिम्पल्स हटाने के लिए अक्सर हम कई प्रकार की क्रीम और फेस पैक प्रयोग करते है, क्योंकि ये केमिकल्स युक्त होते इसलिए अगर स्किन को सूट ना करे तो इन ब्यूटी प्रोडक्ट्स के साइड इफेक्ट्स भी हो सकते है। आप घर पर घरेलू नुस्खे प्रयोग करके पिम्पल्स से छुटकारा पा सकते है जो करने में आसान होते है और मेंहगे भी नहीं होते।

    संतरे के छिलके में सिट्रिक एसिड (citric acid) और विटामिन सी (vitamin c) भरपूर मात्रा में पायी जाती है। संतरे के छिलके को आप दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से छुटकारा पाने के लिए इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आप संतरा का रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, हालांकि संतरे का छिलका मुंहासों को दूर करने में ज्‍यादा कारगर साबित होता है। संतरे के छिलकों को धूप में सुखा ले, पूरी तरह सूखने के बाद पाउडर तैयार कर के डब्बे में रख लें। पाउडर को पानी में अच्छी तरह मिलाकर पेस्‍ट तैयार कर लें। इस पेस्‍ट को दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) पर लगाएं और इसको अच्छी तरह सूखने दें। इसके बाद अपने चेहरे को हल्का गुनगुने पानी से धो लें इससे आपको दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से जल्द ही छुटकारा मिलेगी।

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

हैलीमिटर का इस्तेमाल करें: अगर आप लगातार सांस की दुर्गंध से परेशान है, तो इसके इलाज के लिए आपके डेंटिस्ट के पास हैलीमिटर होगा। हैलीमिटर एक प्रकार का विशेष यंत्र है जो आपकी सांस की गति को जानने के लिए बनाया गया है। यह एक प्रकार का सांस की जांच करने वाला यंत्र है जो शराब या अन्य पदार्थ की जांच करता है जिसे पुलिस भी इस्तेमाल करती है।[१७]

जो लोग जानते हैं कि कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए करना चाहते हैं में अपने महान सहयोगी ककड़ी बनाना, के बाद से इस प्राकृतिक घटक के रूप में कार्य करता है एक कसैले और ग्रेनाइट की सूजन कम कर देता है इसके सुखदायक संपत्तियों के लिए धन्यवाद.

“मुँहासे का इलाज करने के लिए सबसे अच्छा तरीका _मुंह से छुटकारा पाने के लिए सबसे तेज़ तरीका”

सोने के अभाव, बहुत अधिक तनाव, अस्वस्थ भोजन की आदत और एक व्यस्त जीवन शैली भी मुँहासे पैदा होने का कारण हो सकती है। मुँहासे चेहरे, छाती पर, पीठ और सिर पर दिखाई दे सकते हैं। यद्यपि इनका कोई निश्चित इलाज नहीं है, किंतु कई सरल घरेलू प्राकृतिक सामग्री हैं, जिनका उपयोग मुँहासे हटाने के लिए किया जा सकता है।

जो लोग परीक्षा की चिंता या घबराहट से चिंतित हैं, वे मन को शांत रखने के लिए दालचीनी से बनी हुई चाय पी सकते हैं। यकीन मानिये यह वास्तव में आपके चिंता को कोसों दूर भेज उसे आनंद और एकाग्रता से प्रतिस्थापित कर देगा और आप ख़ुशी-ख़ुशी अपना कार्य पूरा कर सकेंगे।

चेहरे के पिंपल्ज़ किस प्रकार से मिटेंगे मेरे चेहरा पिंपल्ज़ से बहुत जाएदा भर गया है मेरा पूरा चेहरा इतना खराब हो गया है कि मुझे भी अच्छा नहीं लगता पता नहीं कि ठीक भी होंगे या नहीं बहुत ही परेशान हूँ मेरी परेशानी का हल ज़रूर बताएँ|

कोशिश करें की मांस न खाएँ: मांस का बलगम के उत्पादन के साथ संबंध है इसलिए कोल्ड में इसे खाना बहुत अच्छा नहीं है। बंद नाक के साथ आप मांस के असली फ्लेवर को टेस्ट नहीं कर पाएँगे और साथ ही साथ आपकी नाक और भी खराब हो सकती है। सावधानी बरतें और बहुत ज़्यादा बलगम से जूझते वक्त मांस से दूर रहें।

FROM WEB10 Indian divas who never got marriedCRITICSUNIONSend Money to India for $0 + Great Exchange RatesVianex10 best Mortgage Lenders of 2018.CRITICS UNIONFROM NAVBHARAT TIMESसर्जरी की वजह से श्रीदेवी का न‍िधन बताने वालों को एकता कपूर ने दिया जवाब पेश हुई एक मिसाल अमिताभ को पहले ही हो गया था श्रीदेवी की मौत का आभास? From The WebMore From NBT

आजकल खुबसूरत दिखने की चाह में लोग बाजारों में बिकने वाले क्रीम और पाउडर का अधिक मात्रा में use करते है. यह आपके चेहरे को निखारने के बजाय उसको नुकसान पहुँचा देता है. अगर आप कॉस्मेटिक का उपयोग करते भी है तो कम मात्रा में करे.

height badhane ke liye aap yah padhe : https://www.nayichetana.com/2015/05/how-to-increase-height-in-hindi-height-kaise-badhaye-%E0%A4%B2%E0%A4%AE%E0%A5%8D%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%AC%E0%A5%9D%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A5%87.html

जितना हो सके पानी पीएं और संतुलित आहार खाएं: शायद संतुलित आहार खाने से आपके धब्बे गायब नहीं होंगे | लेकिन, संतुलित आहार आपके शरीर को संतुलित बनाकर त्वचा को अच्छा बनाने में मदद करेगा | 8 से 10 गिलास पानी पीने से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर फ़ेंक कर आपको पतला और जवान बनाता हैं | आप विटामिन ए, सी, और इ भी लें सकते हैं |

This is a health and medical awareness book. It helps to easily identify diseases and explains the symptoms. It also indicates that in the daily routine what precautions are taken, cause of diseases, measures to avoid, things to consider, have been well contained. Moreover, “e;How to change the life style”e;, etc. have also been scientifically detailed in the book.

#2 – H-सोरायसिस, 88 अंक हमारे 100 के। H-सोरायसिस सूत्र एक निर्णायक सामयिक होम्योपैथिक उत्पाद है। सूत्र भी शुद्ध प्राकृतिक आवश्यक तेलों शामिल हैं और सुरक्षित और कोई हानिकारक रसायन या additives के साथ प्रभावी है। यह एक गहरी मर्मज्ञ क्रिया है, आपकी त्वचा पर कोमल है, और जलन, खुजली, जलन या scarring का कारण नहीं करना चाहिए।

अपने चेहरे पर बर्फ के क्यूब्स को नियमित रूप से रगड़ने की आदत को बढावा दें | इससे आपके चेहरे पर blood circulation को बढ़ाने में मदद मिलेगी और बेहतर blood circulation आपके चेहरे को एक स्वस्थ और ताजा रखने में मदद कर सकता है |

Rat ko sone se pahle kacche dudh ke sath jayfal ko ghise or isk alep tayaar kar le, or is lep ko chehre par laga kar so jaye. Subh chehra saaf pani se dho dey. Kuch din aisa lgatar karne se chehre par hone wale muhaso se chutkara milta hai.

बलगम (जिसे कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।

चेहरे से  फुंसी मुहांसे से बचने के लिए साफ सफाई का पूरा ध्यान रखे, कील मुहासों से बचने के लिए अपने चेहरे को पूरी तरह साफ रखे और चेहरे को साफ पानी से ही धोए और धोते समय चेहरे को ज्यादा न रगड़े व चेहरे को बार बार हाथ न लगाये जिससे हाथ पर जमा धुल के कण चेहरे पर नही आयंगे तोलिये और रुमाल को बिना धोए अधिक समय तक उपयोग मे न लाये नही तो पिम्प्लेस और अधिक हो जायंगे

मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

4. नींबू  (Nimbu):-  मुहासों वाले चेहरे पर नींबू के रस को लगाने से यह त्वचा (skin) से oilly परत को हटा देता है और चेहरे के पिम्प्लेस को साफ करता है. नीबू के रस मे शहद (honey) को मिला कर इसका पेस्ट बना ले और इसे चेहरे पर 10 से 15 मिनट तक लगाये रखे. इसके बाद चेहरे को साफ व शीतल जल से धो ले इस प्रयोग से चहरे के अंदर की धुल मिटटी साफ हो जाती है. चहरे से पिम्प्लेस भी खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर दिखाई देने लग जाता है.

“मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए सबसे प्रभावी तरीका +बुरा मुँहासे”

यह सबसे आसान तरीका है जिससे हमारे शरीर को थकान से छुटकारा मिलता है। टूटते बालों के पीछे का सबसे प्रमुख कारण थकान है। इस आसन को करने से मासिक धर्म में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है। इससे पाचन तंत्र भी सही रहता है।

Ice cubes are easily available in each home. Gently rubbing an ice cube on the pimple reduces the temperature of the affected area and kills the bacteria. You can repeat this process often at home for quick heal.

जड़ीबूटी और मसालों का इस्तेमाल करें: अजवाइन को कच्चा खाने से आपका मुंह और दांत साफ़ रहते हैं, और इससे आपकी सांस दुर्गंध भी दूर हो जाती है। इलायची, छिलकों के साथ या पिसी हुई खाने से आपकी सांस को ताजा रखने में मदद मिलती है। मसालेदार भोजन के बाद सौंफ को चबाएं, या इन्हें पीस कर टूथब्रश पर छिड़कर ब्रश करें।[१३]

जब लोक उपचार के चेहरे पर मुँहासे का इलाज करते हैंप्रयोग करने और संदिग्ध व्यंजनों का प्रयोग न करें इसके अलावा, सुनिश्चित करें कि उत्पाद आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त है। उपयोग की अनुशंसित विधि का पालन करें, अन्यथा, मुँहासे ठीक होने पर, आप एक क्षतिग्रस्त त्वचा के साथ शेष जोखिम उठा सकते हैं।

रूई को नींबू के रस में अच्छे से डुबोएं। लगभग 10 मिनट के लिए अपनी त्वचा के प्रभावित क्षेत्र पर रूई को लगा कर रखें और फिर रात भर नींबू के रस को लगा छोड़ दें। सुबह में, गुनगुने पानी से अपना चेहरा धो लें।

भेंट के अलावा एक टिप घर का सौंदर्य उपचार है कि कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए समझाने की मांग लोगों के लिए, इस पोस्ट के माध्यम से हम भी अनुशंसा करते हैं कि, जब यह ग्रेनाइट के लिए एक अंत डाल करने के लिए आता है, दैनिक त्वचा के अपने प्रकार के अनुसार उत्पादों के साथ अपने चेहरे को साफ करने के लिए याद रखें, आप exfolies सप्ताह में एक बार त्वचा, आप तनाव और तम्बाकू से दूर चलाने के लिए और एक स्वस्थ और संतुलित आहार संतृप्त वसा के नि: शुल्क ले लो.

Psoriasis त्वचा है कि तेजी से प्रजनन लाल रंग के सूखे धब्बे का कारण बनता है पर त्वचा की सतह और त्वचा और अधिक मोटा होना त्वचा सेल की जरूरत पर जोर देता की एक शर्त है। हालत बढ़ नहीं रहा है। के रूप में बहुत जल्दी त्वचा सेल बनाता है, तराजू कि परिणाम के रूप में दिखाई देते हैं और गुच्छे भी सूखी। सोरायसिस आमतौर पर घुटने, कोहनी, खोपड़ी पर फैला हुआ है।

यदि आप जोखिम के समूह हैं और यह आपको एक जीन वाहक के रूप में विकसित कर सकते हैं तो कोई अपने परिवार में इस रोग से ग्रस्त है। उसके बाद में 50% मामलों की वे भी इस रोग से ग्रस्त बच्चों मामले में दोनों भागीदारों के एक जोड़े में सोरायसिस है है। किसी परिवार से यह रूप में अच्छी तरह से था, क्योंकि 30% psoriasis के साथ मरीजों की समस्या प्राप्त किया।

जल्दी से कील मुहाँसो से जल्दी छुटकारा पाने के लिए आप रोज चेहरे को सॉफ रखेंगे तो भी आप इन चीज़ों से मुक्ति पा सकते हैं चन्दन, मुलैठी और हल्दी जैसे घरेलू नुस्खे त्वचा के पुराने दाग धब्बों के निशानों को भी हल्का करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि काफी अच्छी तरह से इनका इस्तेमाल करने पर भी इस बात की काफी संभावना होती है कि इनका असर काफी जल्दी में दिखे।

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी तरह से सफाई कर देंगे।[४]

आप अपना चेहरा भाप कर सकते हैं गर्म वाष्प में त्वचा को नरम करने की क्षमता होती है, साथ में मृत त्वचा कोशिकाओं, बाएं-पीछे के सौंदर्य प्रसाधन, तेल और बैक्टीरिया जो प्लग छिद्रता है। इस बैक्टीरिया, गंदगी और त्वचा के छिद्रों में फंसे तेलों को हल्का ढंग से चेहरे को साफ़ करने से हटा दिया जा सकता है।

– गर्मियों में हरा ताजा पुदीना पानी मेें उबाल कर छान लें। गुनगुने पानी से कुल्ला करने से भी आराम मिलता है। इसी प्रकार मेथी को पानी में उबालकर ठंडा कर छान लें और गुनगुने पानी से कुल्ला करें। मसूड़ों की सूजन भी दूर होगी और दुर्गन्ध भी।

एक नैचुरल एंटी एजिंग और एंटी ऐंजनंट है क्योंकि इसमें विटामिन ‘सी’ पाई जाती है जो चेहरे को अंदर गहराई से साफ करती है। नींबू का रस दाग धब्बों कील मुहांसों को दूर करने एवं चेहरे का स्कीन टोन को निखारने में मदद करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से चेहरा दाग धब्बों से रहित एवं ख़ूबसूरत बन जाता है।

1- अगर आपको सर्दी जुकाम की समस्या है तो इससे आराम पाने के लिए 10 ग्राम मुलेठी, 10 ग्राम काली मिर्च, 5 ग्राम लौंग, 5 ग्राम हरीतकी और 20 ग्राम मिश्री को एक साथ मिलाकर पीस लें. अब इसके पाउडर में 1 चम्मच शहद मिलाकर चाट लें. ऐसा करने से  कफ, सर्दी-खांसी और जुकाम समस्या दूर हो जाएगी.

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

नींबू के अम्लीय गुण मुँहासे के उपचार में बहुत उपयोगी हो सकते हैं। नींबू गंदगी को साफ कर बाहर करता है, जो रोम छिद्र में जमा हो जाती है। आप दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर यह त्वचा को अधिक शुष्क कर रहा है तो हर दो या तीन दिन में उपयोग करें।

साधारण पानी की बजाए, स्ट्रांग ग्रीन टी को बर्फ के ट्रे में जमा दें | अब इसका प्रयोग अपने मुँहासों पर करें | हरी चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो बर्फ के ठंडेपन के साथ और ज्यादा अच्छे से काम करते हैं |

2 – मसूर की दाल 2 चम्मच लेकर महीन पीस लें। इसमें थोड़ा सा घी और दूध पतला-पतला लेप बना लें। इस लेप को मुंहासों पर लगाएं और सूखने दे, सूखने के बाद चेहरा साफ पानी से धो दे पिम्पल्स ठीक होने लगेंगे.

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

सोरायसिस में अलग अलग तरीकों से पता चला है। कभी कभी छोटी bumps चपटा कर रहे हैं, कई बार बड़े सजीले टुकड़े के साथ उठाया त्वचा मोटी कर रहे हैं। बढिया, लाल रंग के धब्बे विशिष्ट सोरायसिस, के साथ ही सूखी त्वचा गुलाबी रंग के होते हैं।

दोस्तों क्या आप जानते है हमारे मुँह की लार ही हमारी अनेक बीमारियों को चुटकी में ही ठीक कर सकती है हर रोज रात में सोने से पहले दांतों को साफ करके सोएं और सुबह उठकर बिना कुल्ला किये अपने मुँह की लार का प्रयोग करें | मुंह की लार हमारे शरीर के लिए बहुत ही उत्तम है । मुंह में बनने वाली लार हमारी सेहत के लिए कितनी फायदेमंद है इस बारे में हम कभी ध्यान ही नहीं देते। लेकिन अगर शरीर में इसकी कमी हो जाए तो मुंह का स्वाद बरकरार रखने से लेकर कई तरह की बीमारियां और संक्रमण का खतरा हो सकता है। साथ ही यह आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचाए रखने में मददगार होती है। लार बाज़ार में नही मिलती यह सभी के मुँह में भगवान ने उपहार स्वरुप दी है। आइये जाने लार क्या क्या कर सकती है। आइये जाने हमारे मुँह की लार क्या क्या कर सकती है।

Barf ke tukde थके आँखों को शांत करने का काम करता है | काम पर एक लंबा और थका देने वाला दिन होने के बाद, कुछ सुखदायक प्रभावों के लिए अपनी आंखों पर कुछ बर्फ के cubes रखें । यह आसान तरीका सिर्फ आपकी आंखों पर शीतलन प्रभाव नहीं देगा, बल्कि थकन आँखों को राहत भी दे सकता है । जब भी आप थके हुए है तो इस आसान सौंदर्य टिप को आज़माएं | Tips on eye care से जुडी जानकारी यहाँ पर पढ़े |

दालचीनी मैंगनीज का भंडार है। इससे स्‍मरण शक्‍ति बढ़ती है। इसलिये बच्‍चों , महिलाओं, मानसिक श्रम करने वालों को ब्रेड पर मक्‍खन या शहद के साथ आधा चम्‍मच दालचीनी पाउडर लगा कर दिन में दो बार लेना लाभदायक होता है।

यह सभी सोरायसिस से पीड़ित रोगियों का 80% के साथ सबसे बड़े पैमाने पर छालरोग के प्रकार है। यह चांदी सफेद रंग के पैमाने और लाल रंग की सूजन पैच द्वारा प्रतिष्ठित है। घुटने, कोहनी, पीठ के निचले हिस्से पर एक यह खोज कर सकते हैं, और खोपड़ी, लेकिन यह कहीं भी हो सकते हैं।

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

बालों के लिए अंडा काफी अच्छा माना जाता है। नहाने से 20 मिनट पहले दो अंडों को फेंट कर लगाने से डेंड्रफ से छुटकारा मिल सकता है। ऐसा एक हफ़्ते में  दो बार अपनाने से डेंड्रफ बिल्कुल खत्म हो जाएगा और साथ ही बालों में चमक आएगी।

हमेशा शुगर फ्री गम या मिंट का ही इस्तेमाल करें, क्योंकि शक्कर हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ाने में मदद कर सकता है, और जैसे ही शुगर वाली गम या मिंट खाकर खत्म हो जाएगी, तो आपकी सांस की दुर्गंध और ज्यादा बढ़ जाएगी।

–> कील मुहाँसे का इलाज करने में जो सबसे असरकारक घरेलू फेस पैक (Homemade Face Pack) है उसे बनाने के लिए आपको बस इतना करना है कि दो चम्मच खीरे का रस, दो चम्मच गुलाबजल, एक चम्मच ब्रांडी, एक चम्मच अंडे की सफेदी और थोड़ा सा नीबू का रस आपस में मिलाकर लोशन तैयार कीजिए | इस लोशन को धीरे – धीरे मलते हुए चेहरे पर लगाइए और सूखने के उपरान्त गुनगुने पानी से धो लीजिए | इस उपाय को करने से न सिर्फ कील – मुंहासा दूर होते है बल्कि कील मुहासे के दाग – धब्बों से भी छुटकारा मिलता है | 

इपोह: सुल्तान अजलान शाह कप के दूसरे मुकाबले में भारत जीत की ओर अग्रसर थी। टीम ने गत चैंपियन इंग्लैंड के खिलाफ 52वें मिनट तक एक गोल की बढ़त थी लेकिन उसने बार बार मौके गंवाते हुए 27वें सुल्तान अजलान [Read more…]

“प्राकृतिक मुँहासे उपचार _12 घंटे में मुँहासे से छुटकारा पाने”

चेहरे पर कील मुहाँसे ना हों इसके लिए आप रोज फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल न करें पानी अधिक मात्रा में पिएं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पूरी नींद लें साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें|

किशोरावस्था एक ऐसी अवस्था है जिसमे शरीर का विकास (growth) पूरी तरह से होने लग जाता है जिससे शरीर के हारमोंस मे बदलाव आते रहते है इसी वजह से चेहरे पर कील, मुहांसे, दाने जैसी समस्या शुरु होने लग जाती है. तथा फुंसी और मुहासों का एक कारण skin पर मौजूद तैलीय परत को भी माना जाता है .जिससे रुखी त्वचा की ऊपर आने की प्रकिया रुक जाती है और पिम्प्लेस हो जाते है

मोटापे से परेशान लोग वजन घटाने के लिए व्ययाम, योगा, खाने पर कंट्रोल क्या कुछ करते हैं। कुछ लोग जिम जा कर घंटो एक्सरसाइज करके पसीना बहाते हैं। कई बार ज्यादा देर जिम करने से कई तरह की शरीरिक प्रॉब्लम भी शुरू हो जाती है। ऐसे में वजन घटाने के लिए आप एक्यूप्रेशर तकनीक को भी अपना सकते हैं। यह एक ऐसी तकनीक है जिसमें शरीर के बिंदुओं को दबाना होता हैं। जिससे आपको भूख कम लगेगी और आपके वजन पर भी कंट्रोल होगा। मानव शरीर पर ऐसे बिंदु होते है जिसे दबाने से कई रोगों से छुटकारा पाया जा सकता है और मोटापे को भी कम किया जा सकता है।

अगर आप चेहरे पर फुंसी और मुहांसे (Pimples) से परेशान है तो आगे इस पोस्ट में बताये  उपायों को अपनाकर आप इनसे छुटकारा पा सकते है लोगो के तरह तरह के उपायों के बाद भी चेहरे पर Pimples यानि मुहासे हो जाते है और यह समस्या आम तोर पर किशोरावस्था (Teenage) मे बहुत अधिक देखी है वैसे तो ये  ज्यादा दिन तक चेहरे पर नही रहते पर ये  खत्म होते हुए चेहरे पर बहुत ही गहरे निशान छोड़ जाते है जो चेहरे की सुन्दरता को पूरी तरह से खराब कर देते है और महंगे विदेसी प्रोडक्ट व लोशन लगाने से भी नही जाते.

एक्‍ने खूबसूरत त्‍वचा चहरे को भी बदरंग बना सकते हैं। इस लिए इसके संभावित कारणों को जानना चाहिए ताकि इससे बचाव किया जा सके। थोड़ी सावधानी बरतकर आप मुहांसो से छुटकारा और खूबसूरत व बेदाग त्‍वचा पा सकते हैं।

बलगम (जिसे कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।

वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

गोरे चेहरे पर अगर एक भी दाग हो तो वह सुदरता को कम कर देता है। आजकल हर कोई कभी न कभी मुहासों से जरूर परेशान होता है चाहे वह लड़का हो या लड़की। कई तो इसके लिए बहुत ही महंगे प्रॉडक्ट इस्तेमाल करते है और डॉक्टर से भी कई प्रकार की दवाइयाँ लेते है लेकिन कोई फायदा नही। मुहासे हॉर्मोन्स गड़बड़ी,पेट की गड़बड़ी, किसी चीज से एलर्जि, ओइली स्किन और कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का ज्यादा इस्तेमाल से हो सकता है।

त्वचा को लंबे समय तक खूबसूरत बनाए रखना है तो आपको उसका प्राकृतिक उपचार करने की जरूरत है।इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीको के बारे में बताने जा रहे है जिनके इस्तेमाल से आप सिर्फ कुछ दिनों में पिम्पल्स की समस्या से छुटकारा पा सकती है।

यदि आप एलर्जिक हैं तो उपयुक्त उत्पादों का प्रयोग न करें। यदि आप सुनिश्चित नहीं है कि आपको एलर्जी है या नहीं तो क्रीम को अपने शरीर के किसी बड़े हिस्से पर लगाने से पहले, आप अपने हाथ पर सैंपल टेस्ट कर सकती हैं।

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

गर्म मौसम में, पीठ पर मुँहासे वितरित की जाती हैमहिलाओं के सौंदर्य और मनोवैज्ञानिक परेशानी कई लोग यहां तक ​​कि इस तरह की चकत्ते के कारण बहुत सारे परिसरों का अनुभव करते हैं, समुद्र में आराम करने से इनकार करते हैं, एक स्विमिंग सूट में सार्वजनिक रूप से प्रकट नहीं करना चाहते। इसलिए, पीठ पर मुँहासे से छुटकारा पाने का सवाल सावधानीपूर्वक और विस्तृत अध्ययन के लिए है, और इस समस्या का उपचार एक एकीकृत दृष्टिकोण है।

 Sarita, for more than 6 decades, has been refreshing the minds and moods of millions of its readers. It appeals to an urban and socially conscious intelligentsia. Sarita carries a distinctive mix of articles on subjects ranging from politics, society, economy, travel, health, fiction, poetry, life and entertainment. Its deeply introspective articles invite its readers to delve into the softer issues of life, relationship, family and personal development, and prepare themselves for a modern, progressive lifestyle. Sarita’s stories always make a delightful read. Humour and satire remain an integral part of Sarita. No edition of Sarita is complete without its refreshing cartoon strips and satirical illustrations.

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

आंतरिक अंगों, अधिक कामकाज और रोगों के रोगतनाव, हार्मोनल विकार, एलर्जी प्रतिक्रियाओं त्वचा पर चकत्ते की उपस्थिति के आंतरिक कारण हैं। एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं चेहरे पर लाल मुँहासे की उपस्थिति से होती हैं, अधिकतर गालों पर। जीवों के नशे में, बैक्टीरिया या चेहरे पर शरीर और शरीर के कामों की गड़बड़ी के प्रभाव के कारण, मर्दों के धब्बे होते हैं। चेहरे पर गहरे चमड़े के नीचे मुँहासे अंतःस्रावी विकार का एक परिणाम हो सकता है। जब सफेद धब्बे चेहरे पर दिखाई देते हैं, तो यह आंतरिक परजीवी के लिए जांच करने के लिए आवश्यक नहीं होगा।

Gulab jal me barabar matra me nimbu ka ras milakar mishran tayaar kar lijiye or us mishran ko chehre par karib aadhe ghante tak laga kar rakhe fir taje pani se chehra dho le, is pryog ko chehre par karib 15 din tak kare , jisse apke chehre ke muhase thik ho jayenge.

सबसे पहले ऊपर दी गई सामग्रियों को मिलाकर मिश्रण तैयार करें और इस पेस्ट को मस्सों पर लगाकर उसे कपड़े से कवर कर दें। फिर इसे रात भर लगे रहने दें। इस प्रक्रिया को पुनः दोहराएं ऐसा करने से आपके चेहरे का मस्सें हट जाएंगे।

हर हफ्ते कम-से-कम एक बार कूल्हों की त्वचा की पपड़ी उतारें: मुँहासे रोकने वाली एक्सफ़ोलिएटिंग क्रीम (exfoliating cream) और लूफ़्हा (loofah) का प्रयोग करें। यह एक्सफोलिएशन मृत त्वचा के सेल हटा देगा ताकि आपके रोम छिद्र बंद न हों।

मुंह से आने वाली शराब की बदबू से बहुत से लोग परेशान रहते हैं और इसे दूर करने के उपाय के बारे में जानने की कोशिश करते हैं। मुंह में कुछ वोलेटाइल मॉलिक्युल्स होते हैं जिसकी वजह से मुंह से बदबू आती है। शराब भी एक वोलेटाइल मॉलिक्युल्स है जिसकी वजह से बदबू की समस्या होती है। शराब आसानी से पचाने में परेशानी होती है क्योंकि शरीर इसे टॉक्सिन के रूप में देखता है। हमारा लीवन एक ड्रिंक को पचाने में एक घंटा लेता है। इस धीमे प्रोसेस की वजह से एल्कोहल आपकी रक्त कोशिकाओं में इकट्ठा हो जाता है जिस कारण बदबू आती है। आइए जानते हैं मुंह से शराब की बदबू कैसे दूर करें। [ये भी पढ़ें: शहद और नींबू के रस की मदद से करें खांसी का इलाज]

Hare khire ko kaddukas kar ke uske ras ko ek bowl me nikal le, or is ras ko apne chehre par lagbhag ek ghante tak lga kar rakhe fir saf pani se chehre ko dho le pimples na kewal saf hunge balki pimples hona bhi kam ho jayega.

“चेहरे पर मुंह से छुटकारा कैसे मिलता है |कैसे मुँहासे का इलाज करने के लिए”

गार्गल का इस्तेमाल करें: एक कप गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिलाएँ और मिश्रण को 30 सेकंड के लिए गार्गल करें। एक दिन में कई बार यह करने से आपको अपने गले के पीछे और आपकी नाक में अटके बलगम को निकालने में मदद मिलेगी।

मुँहासे हटाने के लिए घरेलु उपाय  यह हिंदी पाठको के लिए हिंदी में लिखे गये घरेलु उपाय हैं जिन्हें पढ़े एवं अपनाये इससे आपके चेहरे पर निखार आएगा . आपको हमारा आर्टिकल मुँहासे हटाने के लिए घरेलु उपाय  कैसा लगा अपने विचार हमसे जरूर शेयर करे.

All the information, content and live chat provided on the site is intended to be for informational purposes only, and not a substitute for professional or medical advice. You should always speak with your doctor before you follow anything that you read on this website. Any health question asked on this site will be visible to the people who browse this site. Hence, the user assumes the responsibility not to divulge any personally identifiable information in the question. Use of this site is subject to our Terms & Conditions

छालों के उपचार के लिए मार्किट में कई सरे और क्रीम उपलब्ध है. लेकिन अगर आप चाहे तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं। आज हम आपको 6 ऐसे आसान उपाए बताएँगे जिनके प्रयोग से आप बहुत जल्द ही मुँह के छालों से छुटकारा पा सकते है.

घरेलू नुस्खे चेहरे के किसी भी दाग धब्बों के निशानों को हल्का करने की क्षमता रखते हैं। इनका सही और ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाने के लिए इनका प्रयोग निरंतर रूप से और बताये गए नुस्खे के अनुसार लंबे समय तक करें। इससे आपको बेहतरीन परिणाम मिलेंगे।

अपने मुंह में मौजूद खराब स्वाद को पहचाने: अगर आपके मुंह का स्वाद खराब है, तो इसका अर्थ यह है कि, आपकी सांस दूर्गंधित है। आपने कई बार ध्यान दिया होगा कि, खाना खाने के बाद, भोजन का स्वाद आपके मुंह में कई देर तक बना रहता है। कई पदार्थ जिनका स्वाद तेज होता है और वह अपनी खुशबूदार गुणों से भी जाने जाते है, जैसे कि लहसुन, प्याज़, या अधिक ज्यादा मसालेदार भोजन।[१६]

चेहरे पर कील मुहाँसे ना हों इसके लिए आप रोज फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल न करें पानी अधिक मात्रा में पिएं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पूरी नींद लें साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें|

Home Remedy (Gharelu Nuskhe) for Pimple Marks (Acne Scars) on Face in Hindi. Muhase ke nishan se chutkara pane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay in Hindi. Muhase ke daag hatane ke upay in Hindi. Chehre (face) ke daag dhabbe hatane ke upay in Hindi. Kale daag mitane ke upay in Hindi.

ज्यादा से ज्यादा हर्बल और सौम्य उत्पादों का उपयोग करें: कई लोग अपनी त्वचा से धब्बों को निकालने के लिए इतने उत्सुक रहते हैं कि किसी भी उत्पाद का इस्तेमाल करके अपनी त्वचा को और ज्यादा खराब कर देते हैं | इसलिये अपनी त्वचा अनुसार उत्पादनों का चयन करें | अगर कोई क्रीम आपकी त्वचा पर बुरा असर कर रही है, तो उसका प्रयोग तुरंत बंद कर दें | सौम्य फ़ेशियल क्लीन्ज़र, मेकअप रिमूवर, स्क्रब आदि जो आपकी त्वचा को खराब करने की बजाए अच्छा बनाती है, का ही चयन करें |

Sir mere face par pimpals ho gaye hai aur kali si keel ho jati hai aur funsi jesi ho jati hai please help me aur sir agar ham garmi ke mosam me haldi lagae to koi nuksan to nahi hoga kyo haldi garm hoti hai

भोजन में दालचीनी पाउडर का 1 चम्‍मच रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम करता है। इसके प्रयोग से टाइप टू डायबीटिज में रक्‍त शर्करा 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकती है। टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के लिए दालचीनी एक वरदान से कम नहीं है। दालचीनी टाइप-2 मधुमेह पर सकरात्मक प्रभाव डालता है और मधुमेह रोगी को एक स्वस्थ और साधारण जीवन व्यतीत करने में मदद करता है।

गुलाबजल का रोजाना इस्तेमाल भी दाग-धब्बों को कम करता है क्योंकि गुलाबजल हमारी त्वचा से धूल-मिट्टी को हटाता है तथा त्वचा का सौंदर्य निखरने में अहम भूमिका निभाता है। आप डाबर गुलाबरी का प्रयोग कर सकते हैं।

अपने मुँह को नम रखें: शुष्क मुँह बदबूदार मुँह होता है। यही कारण है कि आपकी सांस सुबह और भी बदतर हो जाती है सोते समय आपका मुँह कम लार पैदा करता है। आपके मुँह में लार मुँह की दुर्गंध के लिए दुश्मन का काम करती है क्यूंकि ये ना केवल बैक्टीरिया और अन्ना कणों को धोती है बल्कि यह एक एंटीसेप्टिक है और जीवाणुओं को मारने वाला एंजाइम का काम करती है।[४]

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी तरह से सफाई कर देंगे।[४]

दोस्तों पिम्पल्स हटाने के तरीके, Home remedies tips to remove Pimples (Acne) in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास कील मुंहासे का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

विटामिन-डी से भरपूर आहार लें: विटामिन-डी आपके मुंह में बैक्टीरिया होने से रोकता है। विटामिन-डी का सेवन हम अपने आरक्षित आहार और पेय के रूप में कर सकते हैं, विटामिन-डी आम तौर पर और अधिक प्रभावशाली रूप में सूरज की रोशनी से मिलता है।[११]

कोई समस्या नहीं निचोड़ pimples में विशेष रूप से खतरनाक चेहरे पर आंतरिक pimples फैलाएंगे। जब संक्रमण का एक बहुत बड़ा खतरा फैलता है, जो सबसे ज्यादा त्वचा की गिरावट को उत्तेजित करता है, और सबसे खराब – मस्तिष्क के जहाजों में मिल सकता है। धब्बे के बाहर फैलाए जाने के बाद के निशान हैं, फिर से छुटकारा पाने में बहुत मुश्किल है;

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

समुद्री नमक के इलाज से वास्तव में आपको मुँहासे से मुक्ति मिल सकती है। जिन जिन लोगों ने पीठ के मुँहासे के इलाज के लिए इस उपाय का इस्तेमाल किया है, उन्होनें इसके तुरंत और प्रभावी समाधान की हमेशा प्रशंसा की है।

Rat ko sone se pahle kacche dudh ke sath jayfal ko ghise or isk alep tayaar kar le, or is lep ko chehre par laga kar so jaye. Subh chehra saaf pani se dho dey. Kuch din aisa lgatar karne se chehre par hone wale muhaso se chutkara milta hai.

“मुँहासे के क्रेटर से छुटकारा पा सकते हैं _मुँहासे से रातोंरात छुटकारा पाने के तरीके”

किसी भी प्रकार का दाद हो, उस पर सुबह उठकर बिना मुहं धोये मुहं की लार लगाने से पुराने से पुराना दाद भी ठीक हो जाता है। साथ ही एक्जिमा, अन्‍य फोड़े-फुन्‍सी, मुंहासे ठीक करने में भी सुबह की लार का उपयोग किया जाता है। शरीर में होने वाले फोड़े-फुन्सियों या घाव के पश्‍चात जो दाग शेष रह जाते है उनको दूर करने में भी सुबह की लार बहुत काम आती है। शरीर में कही कट छिल गया हो, अथवा कोई घाव हो गया हो तो भी उसके लिए सुबह की लार बहुत फायदा करती है।

सेब- सेब को काटकर खाने से मुंह में लार का स्राव तेजी से होता है। इससेमुंह की सफाई हो जाती है, सारे जिवाणु निकल जाते हैं। फिर सांसों में बदबू पैदा नहीं होती। पानी-शरीर में पानी की कमी न होने दें। पानी की कमी हो तो लिक्विड ज्यादा मात्रा में लें। मुंह में थोड़ा पानी लेकर हल्के-हल्के कुल्ला करें। खड़े गरम मसालों में शुमार दालचीनी की चाय पीने से मुंह से आने वाली बदबू से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

पिम्पल्स हटाने के तरीके इन हिंदी: गोरे चेहरे पर कोई दाग धब्बा या निशान पड़ जाए तो चेहरे की सुंदरता फीकी पड़ने लगती है। चेहरे पर कील मुंहासे (acne) निकलना आजकल आम हो गया है। ऑयली स्किन पर पिम्पल्स निकलने की समस्या अधिक होती है। पिम्पल को अगर हाथ से फोड़ दे तो पिम्पल्स के दाग चेहरे पर रह जाते है। अक्सर कील मुंहासों के ज़रिए शरीर की गर्मी बाहर निकलती है जो खाने पिने की गलत आदतों से हो जाती है। अगर त्वचा को पोषण देने वाली चीज़े खाए और तले हुए फुड से दूर रहे तो बार बार पिम्पल का निकलना रोक सकते है। हरी सब्जियां, फल और पानी त्वचा को स्वस्थ रखने का उत्तम उपाय है। आज इस लेख में पिम्पल्स कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे जानेंगे, natural home remedies tips to remove pimples in hindi.

मूली में विटामिन C, जिंक, B कांप्‍लेक्‍स और फॉस्‍फोरस होता है. मुंहासों के लिए मूली का टुकड़ा गोल काट कर मुंहासों पर लगाएं और तब तक लगाए रखें जब तक यह खुश्क न हो जाए. थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें. कुछ ही दिनों में चेहरा साफ हो जाएगा.

यदि आप जानना चाहती है कि इस प्रक्रिया को करने के बाद आपको इसके परिणाम कितने समय के बाद देखने को मिलेंगे तो हम आपको बता दें कि यह आपके मस्सों के आकार पर निर्भर करता है। यदि आप इस पेस्ट को थोड़े समय के अतंराल में करेंगी तो इससे आपके मस्से के स्थान पर दाग हो सकता है। इसलिए ऊपर दी गई प्रक्रिया को रोज दोहराएं।

चेहरे से  फुंसी मुहांसे से बचने के लिए साफ सफाई का पूरा ध्यान रखे, कील मुहासों से बचने के लिए अपने चेहरे को पूरी तरह साफ रखे और चेहरे को साफ पानी से ही धोए और धोते समय चेहरे को ज्यादा न रगड़े व चेहरे को बार बार हाथ न लगाये जिससे हाथ पर जमा धुल के कण चेहरे पर नही आयंगे तोलिये और रुमाल को बिना धोए अधिक समय तक उपयोग मे न लाये नही तो पिम्प्लेस और अधिक हो जायंगे

खीरा तो हम सभी लोग खाते है. लेकिन यह खीरा हमारी त्वचा को भी स्वस्थ बनाये रखता है. चेहरे में खीरे का use करने से हमारे चेहरे पर निखार आता है और हमारी त्वचा ग्लो करती है. आप खीरे के पेस्ट को अपने मुंहासो में प्रयोग करे और फायदा देखे.

एक स्टेरॉयड (steroid ) इंजेक्शन लें: यदि आपको विशेष रूप से बड़े पित्त वाले मुँहासे हो गए हैं जो कि बहुत ज्यादा दर्दनाक भी है तो आप स्टेरॉयड इंजेक्शन का सहारा ले सकते हैं। ये एक दिन से कम समय में ही उसके आकार को घटा सकते हैं तथा मुँहासों में होने वाले दर्द को भी कम कर सकते हैं।

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी से सफाई कर देंगे।[४]

धूप में संतरे के छिलके डालकर उनको पूरी तरह से सुखाएँ। सूखे छिलकों को पाउडर के रूप में पीसें और एक पेस्ट बनाने के लिए पानी मिलाएँ। प्रभावित क्षेत्र पर लगाएँ और 10 से 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। फिर गर्म पानी से अपना चेहरा धो लें।

ठंड के दिनों में धुप में बैठने में बहुत मज़ा आता है, और इस आराम के दौरान सनबर्न को ध्यान नहीं देते । ये sunburns आपकी त्वचा की गुणवत्ता को बर्बाद कर सकते हैं और यह वास्तव में दर्द का कारण बन सकते हैं | ice cube को aloe vera के साथ इस्तेमाल करना sunburn के सबसे अच्छा उपचार में से एक हो सकता है | Aoe vera का शीतलन प्रभाव सनबर्न में आराम प्रदान करता है | इसके स्थान पर खीरा का भी इस्तेमाल किया जा सकता है |

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

सांसों की दुर्गन्ध और मुंह की बदबू एक ऐसी समस्‍या है, जो कई लोगों  में पाई जाती है। आपके मित्र, सहकर्मी और अन्‍य आपके पास बैठने से कतराते हैं। मुंह से आती दुर्गन्ध और सांस की बदबू (हैलाटोसिस) अक्सर मुंह में मौजूद एक बैक्टेरिया से होती है। इस बैक्टेरिया से निकलने वाले ‘सल्फर कम्पाउंड’ की वजह से सांस की बदबू पैदा होती है। कई बार तो लोग इस समस्या से अंजान होते हैं। इस बदबू के कई कारण होते हैं, जैसे-गंदे दांत, पाचन की समस्या और धूम्रपान। कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर इस समस्‍या से छुटकारा पाया जा सकता है।

– गर्मियों में हरा ताजा पुदीना पानी मेें उबाल कर छान लें। गुनगुने पानी से कुल्ला करने से भी आराम मिलता है। इसी प्रकार मेथी को पानी में उबालकर ठंडा कर छान लें और गुनगुने पानी से कुल्ला करें। मसूड़ों की सूजन भी दूर होगी और दुर्गन्ध भी।

दालचीनी में शक्तिशाली रोगाणुरोधी, एंटी-इंफ्लेमेटरी, संक्रामक विरोधी और एंटी-क्लोटिंग गुण होते हैं। यह एंटी-ऑक्सिडेंट, पॉलीफेनोल और मैंगनीज, लोहा और आहार फाइबर जैसे खनिजों का भी एक अति उत्कृष्ट स्रोत है। यह सभी आवश्यक पोषक तत्व आपके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा यह शर्करा, कार्बोहाइड्रेट, फैटी एसिड और एमिनो एसिड का एक प्राकृतिक स्रोत है| तो आइये जानेते है दालचीनी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के बारे में-

मुँहासे हटाने के लिए घरेलु उपाय  यह हिंदी पाठको के लिए हिंदी में लिखे गये घरेलु उपाय हैं जिन्हें पढ़े एवं अपनाये इससे आपके चेहरे पर निखार आएगा . आपको हमारा आर्टिकल मुँहासे हटाने के लिए घरेलु उपाय  कैसा लगा अपने विचार हमसे जरूर शेयर करे.

“गहरे छेद” दाँतों में जड़ो के पास हो जाते हैं जो की नियमित तौर पर फ्लॉस नहीं हो पाते।इनमे सड़ा अन्न और कीड़े पैदा हो जाते हैं जिससे साँसों में दुर्गन्ध आती हैं – जो सड़े हुए दाँतों (दर्दनाक, संक्रमित मसूड़ों) को जन्म देता हैं।

ऊपर दी गई सामग्री को मिलाकर पेस्ट तैयार करें और इस पेस्ट को मस्से के ऊपर लगाते हुए इसे कपड़े से कवर कर लें। कुछ घंटों तक पट्टी लगे रहने के बाद दोबारा इस प्रक्रियां को दोहराते हुए दूसरी पट्टी का उपयोग करें। इसी प्रक्रिया को इसी तरह से दोहराने से आपको जल्द ही अच्छे परिणाम प्राप्त हो जाएंगे। जल्दी परिणाम प्राप्त करने के लिए इसे आप दिन में दो बार करें।

उसे बाहर निकालें: ऐसा करने में काफी शोर मच सकता है और यह ग्रॉस (gross) व शर्मनाक भी हो सकता है, लेकिन अपने शरीर से बलगम बाहर निकालना इससे छुटकारा पाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। जब भी आपको बलगम को खाँसने या अपनी नाक को ब्लो (blow) करने की इच्छा हो, तब उसे नजरअंदाज न करें। बलगम निगलने से वह आपके शरीर में वापस घुस सकती है और भरी हुई या बहती नाक को अंदर रखना असुविधाजनक है। एक टिशु-बॉक्स को पास रखना और बलगम को निकालना सबसे अच्छा है।

नींबू के अम्लीय गुण मुँहासे के उपचार में बहुत उपयोगी हो सकते हैं। नींबू गंदगी को साफ कर बाहर करता है, जो रोम छिद्र में जमा हो जाती है। आप दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर यह त्वचा को अधिक शुष्क कर रहा है तो हर दो या तीन दिन में उपयोग करें।

कील मुंहासे का इलाज, जई सिर्फ़ सर्वोत्तम आहार के रूप मे ही नही बल्कि औषधि के रूप मे भी उपयोग होता है जो की चेहरे के दाग, धब्बे , मुहासे ठीक करता है। मुहासे की दवा, काले दाग (black spot), धब्बे और मुहासे के निशान से छुटकारा पाने के लिए चेहरे पर ज़ई के आटे का मुखौटा(मास्क) लगाए। ज़ई के आटे मे नीबू का रस मिलाए और गाढ़ा घोल बना कर मास्क की तरह चेहरे पर लगाए और कुछ देर तक मले फिर गर्म पानी से धो ले। तुरंत आराम के लिए इस विधि का उपयोग हफ्ते मे दो बार करे।

मुंह से आने वाली दुर्गंध कई बार लोगों से दूरी का सबसे बड़ा कारण बन जाती हैं। हम दोस्तों के बीच बैठे हैं और कोई हमसे हमारे मुंह से आ रही दुर्गंध (बदबू) के बारे में कहता हैं, तो हमें दोस्तों के बीच नीचा देखना पड़ता हैं । इसी बीच दोस्त हमें दस तरह के उपाय बताने लगते हैं, कोई अच्छे टूथपेस्ट का सुझाव देता हैं तो कोई माउथ स्प्रे के बारे में बतलाने लगता हैं, लेकिन इन सबके बीच यदि आप कुछ घरेलू नुस्खे या उपाय अपनाएं तो आप मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पा सकते हैं । ये किफायती भी होंगे और असरकारक भी । दुर्गंध को यूं पहचानें घर पर अकेले में या बात करते समय जब लोग आपके सामने न खड़े हों तो उस वक्त अपने मुंह पर हथेली रखकर सांस छोड़िए, इससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि आपका सांसों में दुर्गंध हैं या नहीं ।

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

मुलेठी में भरपूर मात्रा में आयुर्वेदिक गुण मौजूद होते हैं. जिसके कारण ये हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है. मुलेठी में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक, प्रोटीन और वसा के गुण मौजूद होते हैं. इसके सेवन से सर्दी-खांसी, जुकाम, कफ, गले और यूरिन इंफैक्शन जैसी समस्याओं से आराम मिलता है. आज हम आपको मुलेठी के कुछ घरेलु नुस्खों के बारे में बताने जा रहें हैं.

दाग धब्बों को दूर करने के लिए लाल मसूर की दाल और दूध का भी पैक बनाया जा सकता है। 1 चम्मच साफ़ और धुली लाल मसूर की दाल को कच्चे दूध में भिगोकर रखें। सुबह इसे दूध के साथ पीसकर एक दानेदार पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर हलके हाथों से रगडें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और इसके बाद कुछ देर तक दोबारा अपने चेहरे को रगड़कर इसे गुनगुने पानी से धो लें। हफ्ते में इसका 2 बार प्रयोग करने पर आपको 15 दिनों में फर्क दिखने लगेगा।

Pimples ko medicaly muhase kaha jata hai. Aajkal pimples hona aam samsya ho gayi hai. Pimples purusho or mahilao dono ko prbhawit karta hai or ye kisi bhi umar me ho sakta hai, or pimples koi chetawani dekkar nahi aata kabhi bhi ho sakta hai. Tamam kosiso ke bawjud kai bar chehre par pimples yani muhase ho jate hai. Khaskar teenage me yah samsya jayada hoti hai. Muhase chehre par kai karno se ho sakte hai, jaise chehre par jami gandagi ko saaf na karna ya chehre ka atyadhik tailiy hona aadi, muhase hone par hame coffee ya msaledar bhojan ka upyog kam karna chahiye or falo ka sewan adhik se adhik karna chahiye, pimples ko dur karne ka sabse aasan tarika aap ghar par rahkar aajma sakte hai.

TAGS : #pimples hatane ke tarike #pimple hatane ke upay #gharelu nuskhe in hindi for face pimples #muhase ke daag hatane ke upay #pimple ke gharelu nuskhe #keel muhase treatment in hindi #pimples problem solution in hindi #muhase hatane ke upay #pimples hatane ka tarika #pimple hatane ke gharelu upay #kil muhase ka gharelu upay #pimples ke daag hatane ke gharelu upay

यदि आप चाहते है की आपकी दाढ़ी और मूछ का रंग सफेद न हो तो इसके लिए अपने रोजाना के भोजन में फल, हरि सब्जियां, दाल तथा प्रोटीन युक्त पदार्थो का सेवन करें तथा जंक फ़ूड खाना,शराब का सेवन करना छोड़ दे इसके साथ ही अपने सफेद बालों को छुपाने के लिए डाई का प्रयोग बिलकुल न करें क्योकि इनमे केमिकल मिले होते है।

यदि आपके पास Hindi में कोई article, story, essay या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:[email protected].पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

लहसुन रक्त से विषाक्त पदार्थों की सफाई करके मुँहासों से मुक्त, और दमकती त्वचा देता है। लहसुन को छील लें और जहाँ मुँहासे हैं, वहां मल लें। या फिर, लहसुन की कलियों को पीसकर दही के साथ मिलाएं और जहाँ दाने हैं वहां लगाएं।

March Masik HoroscopeNarendra ModiTripura Election Result LivePNB Fraud CaseShare MarketHoli 2018Weekly Horoscope in HindiMeghalaya Chunav Parinam 2018Aaj Ka RashifalTripura Chunav Result 2018Holi 2018 CelebrationTripura Chunav 2018Happy Holi 2018 WishesKiren RijijuTripura Elections 2018RRB Recruitment 20182018 RashifalNagaland Chunav 2018Nagaland Chunav 2018 ParinamSBI Interest RatesSensex Today LiveTripura Chunav Parinam 2018Share BazarAnshu Prakashहिंदी न्यूज़Meghalaya Chunav 2018Rajasthan Police admit CardAssembly Elections 2017Madhya Pradesh NewsChhattisgarh NewsTV News in HindiHimachal Pradesh NewsMaharashtra NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiRajasthan NewsGujarat NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in HindiJokes in HindiHindi Headlines

“मैं कैसे मुँहासे से छुटकारा मुँहासे के उपचार से छुटकारा”

मुंह से शराब की बदबू को दूर करने के लिए लोग परेशान रहते हैं, लेकिन उन्हें इससे छुटकारा पाने का सही से पता नहीं चल पाता है। शराब पीने के बाद अत्यधिक पानी पीने से भी शराब की बदबू से निजात पाया जा सकता है।

मेरे चेहरे पर बहुत सारे पिंपल्ज़ हैं यह बीच बीच में ठीक भी हो जाते हैं लेकिन फिर से वापस भी आ जाते हैं यदि मैं भाप वाला फार्मूला पर्योग करूँ तो क्या यह पिंपल्ज़ हमेशा के लिए ठीक हो सकते हैं? प्लीज़ रेप्लाई सर

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

लक्षणात्मक उपचार मुंह के छालों से निपटने का प्राथमिक तरीका है। यदि उनका कारण ज्ञात हो, तो उस स्थिति के उपचार की भी अनुशंसा की जाती है। पर्याप्त मौखिक स्वच्छता भी लक्षणों से राहत देने में सहायक हो सकती है। अगर आपके मुंह के छाले 3 हफ्ते से ज्‍यादा रहें तो उसे तुरंत ही डॉक्‍टर को दिखाएं। आइये जानते हैं मुंह के छाले ठीक करने के घरेलू उपचार।

दोस्तो Bad Breathing के कारण अगर आप भी अपने साथियों के सामने शर्मिंदा नहीं होना चाहते तो आज इस लेख में बताए गये नुस्खे को जरुर आजमाए | इससे mouth bad smell से छुटकारा मिले गा और साँसों में फरेशनेश आएगी |

All the tips mentioned here are strictly informational. This site does not provide any medical or health or beauty advice. Consult with your doctor or other health care provider before using any of these tips or treatments. Copyright 2014 Gharelu Nuskhe

सबसे पहले ऊपर दी गई सामग्रियों को मिलाकर मिश्रण तैयार करें और इस पेस्ट को मस्सों पर लगाकर उसे कपड़े से कवर कर दें। फिर इसे रात भर लगे रहने दें। इस प्रक्रिया को पुनः दोहराएं ऐसा करने से आपके चेहरे का मस्सें हट जाएंगे।

कान के पास के बिंदु को दबाने से भूख पर कंट्रोल होता है और जरूरत से ज्यादा खाने की आदत से छुटकारा होता हैं। एक्यूप्रेशर तकनीक अपनाते हुए कान के पास फ्लैप हिस्से को दो से तीन मिनट तक दबाना होगा। वैसे तो आप इस तकनीक को सुबह या शाम किसी भी वक्त अपना सकते हैं, लेकिन सुबह के समय इस हिस्से को दबाना ज्यादा बढ़िया रहेगा।

सांस की बदबू होने के तीन रासायनिक कारण है; डाइमिथाइल सल्फाइड, हाइड्रोजन सल्फाइड, और मिथाइल मेरकाप्टन। जब आप जान जाए कि इनमे से क्या आपकी सांस में मौजूद है, तो आप आसानी से जान जाएंगे कि आपको अपनी सांस के लिए किस उपचार की जरूरत है।

त्वचा के चकत्ते का इलाज – (Freckles)- त्वचा पर जहाँ कहीं भी चकते हों, उन पर नींबू का टुकड़ा मसले। नींबू में फिटकरी का पाउडर भरकर धीरे धीरे लगाये। इससे चकते हल्के होते हैं और त्वचा में निखार आ जाता है। इसके अलावा हाथ धोकर नींबू का रस रगड़ने से हाथ नरम हो जाते हैं और नाखून सुंदर हो जाते है|

English: Get Rid of Acne Scars Fast, Português: Se Livrar de Cicatrizes de Acne Rapidamente, Deutsch: Aknenarben über Nacht loswerden, 中文: 快速祛除痘疤, Русский: быстро убрать следы от угрей, Français: se débarasser rapidement des cicatrices d’acné, Nederlands: Snel van acnelittekens afkomen, Čeština: Jak se rychle zbavit jizev po akné, العربية: التخلص من ندوب حب الشباب بشكل سريع, ไทย: กำจัดรอยแผลเป็นจากสิวอย่างรวดเร็ว, 한국어: 여드름 자국 빨리 없애는 방법, Tiếng Việt: Trị Sẹo mụn Nhanh chóng, Español: deshacerse de las manchas y cicatrices dejadas por el acné, Bahasa Indonesia: Menghilangkan Parut dan Luka Bekas Jerawat, Italiano: Eliminare le Cicatrici Lasciate dall’Acne

अगर इस में लापरवाही रखे तो आगे जाके यह काले दाग और धब्बे छोड़ देते है जिन्हें निकालना मुश्किल होता है| इसीलिए जवानी में ख़ास सावधानी रखे स्वछता की तो मुहासे ही न हो और अगर हो भी जाए तो बिना दाग के आप मिटा दे| पिम्पल हटाने के उपाय (pimples ke liye gharelu upay) आप जानिये और रहे मुक्त इस परेशानी से|

वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

अधिक अपने आदि इस इस रोग इसके इससे इसे उपचार उसे एक ऐसे और कई कम कर करता है करते करना करें का का रस काली मिर्च किसी की की कमी कुछ के कारण के लिए के साथ कोई खाएं गरम ग्राम घी चम्मच चाहिए चूर्ण जब ज़रूरी जा जाए जाएगा जाती जाते जाना जाने जो ठीक डालकर तक तथा तरह तीन तेल तो दर्द दिन में दूध दें दो नमक नहीं नीबू पदार्थ पर पानी में पीने पूरी पेशाब प्याज प्रकार प्रतिदिन प्रोटीन फायदा बात बाद बार भी भोजन मात्रा मिलाकर यदि यह या ये रहता है रहती रहना रहे रोग रोगी को लक्षण लगता लहसुन लाभ ले लें वसा वह विटामिन व्यक्ति शरीर के शरीर में शहद सकता है सकते सभी समय सिर से से भी हम हमारे शरीर ही है कि हैं हो जाता है हो सकता होगा होता है होती होना होने

चाहे बच्चा हो या कोई जवान , जिस किसी की भी आँखें कमजोर है और उसको कोई भी नंबर का चश्मा लगा हो उन लोगो को पानी की कुल्ला किये बिना , रात भर मुँह में इकट्ठी हुई लार को आँखों में काजल या गुलाब जल की तरह लगानी है | यह आप रात को सोते समय और सुबह उठकर लगाये और मुँह 1-2 घंटे बाद धोये ताकि लार अपना काम कर कैसा भी चश्मा हो उतरने के 100% आसार रहते है लेकिन आपको प्रयोग तब तक जारी रखना पड़ेगा जब तक आपके चश्मे का नंबर धीरे धीरे कम होकर शून्य न हो जाये परिणाम 100% मिलेगा बच्चो का चश्मा जल्दी उतर जायेगा लेकिन बड़ो को कुछ वक़्त लग सकता है लार का कोई साइड इफ़ेक्ट नही है

क्या चेहरे के दाग धब्बे, मुँहासे के निशान और त्वचा का रंग भी, मुहासे होने का कारण आपको शर्मिंदा कर रहा है किसी समूह का सदस्य बनने से!! क्या आप सौंदर्य प्रसाधन का उपयोग करते करते तक गए है! तो एक नज़र डालिए घर मे बने हुए मिश्रण पर जो सारे दाग धब्बे निकाल देगा।

एक्‍ने त्‍वचा की समस्‍या है, इसके उपचार के लिए आयुर्वेद अपनाना फायदेमंद है। आयुर्वेद में कुछ ऐसे एंटीऑक्सीडेंट्स हैं जिनके उपयोग से एक्ने की समस्या से आसानी से निजात पाई जा सकती हैं। आइए जानें एक्ने के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में।

भोजन में दालचीनी पाउडर का 1 चम्‍मच रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम करता है। इसके प्रयोग से टाइप टू डायबीटिज में रक्‍त शर्करा 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकती है। टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के लिए दालचीनी एक वरदान से कम नहीं है। दालचीनी टाइप-2 मधुमेह पर सकरात्मक प्रभाव डालता है और मधुमेह रोगी को एक स्वस्थ और साधारण जीवन व्यतीत करने में मदद करता है।

मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। तो आइये हम detail में जानते हैं कि Mouth Ulcers (muh ke chhale) होने के कारण क्या-क्या हैं और हम किस प्रकार इनसे निजात पा सकते हैं।

March Masik HoroscopeNarendra ModiTripura Election Result LivePNB Fraud CaseShare MarketHoli 2018Weekly Horoscope in HindiMeghalaya Chunav Parinam 2018Aaj Ka RashifalTripura Chunav Result 2018Holi 2018 CelebrationTripura Chunav 2018Happy Holi 2018 WishesKiren RijijuTripura Elections 2018RRB Recruitment 20182018 RashifalNagaland Chunav 2018Nagaland Chunav 2018 ParinamSBI Interest RatesSensex Today LiveTripura Chunav Parinam 2018Share BazarAnshu Prakashहिंदी न्यूज़Meghalaya Chunav 2018Rajasthan Police admit CardAssembly Elections 2017Madhya Pradesh NewsChhattisgarh NewsTV News in HindiHimachal Pradesh NewsMaharashtra NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiRajasthan NewsGujarat NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in HindiJokes in HindiHindi Headlines

शुद्ध टी ट्री आयल लगाना अगर त्वचा में जलन, लालिमा या ज़्यादा शुष्क त्वचा का कारण बनता है, तो टी ट्री आयल में पानी का उपयोग कर उसको पतला करें या एलोवेरा जैल के साथ यह मिश्रण बनाएं और फिर अपने चहरे पर लगाएं। (और पढ़ें – टी ट्री ऑयल के फायदे)

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

दालचीनी के बहुत सारे लाभ तो हैं परंतु आपको बताई गई कुछ सावधानियों को भी नहीं भूलना चाहिए। अतः इसके उपभोग से पहले इसके लाभ-हानि को अच्छे से समझ लें और इसका सेवन उच्च मात्रा में ना ही करें तो अच्छा होगा।

चन्दन, मुलैठी और हल्दी जैसे घरेलू नुस्खे त्वचा के पुराने दाग धब्बों के निशानों को भी हल्का करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि काफी अच्छी तरह से इनका इस्तेमाल करने पर भी इस बात की काफी संभावना होती है कि इनका असर काफी महीनों में दिखे।

रात को सोते समय एक चम्मच मलाई में कुछ बूंदें नींबू के रस की मिलाकर चेहरे पर लगाये । सुबह चेहरा धो लें। इससे चेहरे के दाग कम हो जाते हैं। यदि आपकी त्वचा तैलीय है, तो दिन में कई बार नींबू का पानी पियें, त्वचा का तैलीयपन कम हो जायेगा।

Garlic  has strong antibacterial properties and fights pimple very soon. Crush two to three cloves of garlic and mix with water. Once it forms a paste like structure apply gently on the skin. After drying wash it off. Follow with face wash as the smell is very strong of garlic.

“मुँहासे का लाल निशान से छुटकारा _मुँहासे शरीर धोने”

March Masik HoroscopeNarendra ModiTripura Election Result LivePNB Fraud CaseShare MarketHoli 2018Weekly Horoscope in HindiMeghalaya Chunav Parinam 2018Aaj Ka RashifalTripura Chunav Result 2018Holi 2018 CelebrationTripura Chunav 2018Happy Holi 2018 WishesKiren RijijuTripura Elections 2018RRB Recruitment 20182018 RashifalNagaland Chunav 2018Nagaland Chunav 2018 ParinamSBI Interest RatesSensex Today LiveTripura Chunav Parinam 2018Share BazarAnshu Prakashहिंदी न्यूज़Meghalaya Chunav 2018Rajasthan Police admit CardAssembly Elections 2017Madhya Pradesh NewsChhattisgarh NewsTV News in HindiHimachal Pradesh NewsMaharashtra NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiRajasthan NewsGujarat NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in HindiJokes in HindiHindi Headlines

हर्बल चाय पिएँ: गरम चाय खिजे हुए गले को आराम पहुँचाने और तनाव कम करने के लिए एक सामान्य सहायता है। अपने पसंदीदा हर्बल चाय के एक कप को शहद के साथ बनाएँ और धीरे धीरे पिएँ। गर्माहट आपके गले में बलगम को तोड़ने में मदद करेगी और पानी व शहद की नमी खिजी हुई अन्नप्रणाली (esophagus) को आराम देगी। अदरक, कैमोमाइल (chamomile) और नींबू की चाय बलगम से छुटकारा पाने के लिए विशेष रूप से उपयोगी हैं।

वास्तव में, दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन से स्वस्थ को खतरा हो सकता है और आपके लिवर को नुकसान पहुंच सकता है। दालचीनी या उसका तेल का अधिक उपयोग समय से पूर्व दर्द को उत्पन्न कर सकता है या फिर गर्भाशय के संकुचन को भी प्रेरित कर सकता है।

आप अपना चेहरा भाप कर सकते हैं गर्म वाष्प में त्वचा को नरम करने की क्षमता होती है, साथ में मृत त्वचा कोशिकाओं, बाएं-पीछे के सौंदर्य प्रसाधन, तेल और बैक्टीरिया जो प्लग छिद्रता है। इस बैक्टीरिया, गंदगी और त्वचा के छिद्रों में फंसे तेलों को हल्का ढंग से चेहरे को साफ़ करने से हटा दिया जा सकता है।

उन मामलों में जहां चेहरे पर चकत्ते का कारण होता हैबाह्य कारकों के प्रभाव से, सौंदर्य प्रसाधन चिकित्सक, चेहरे पर मुँहासे के लिए एक उपाय का चयन करता है, जिससे त्वचा के प्रकार और विशेषताओं को ध्यान में रखता है। इसके समानांतर, त्वचा की देखभाल की रणनीति परिभाषित की जाती है, और वातावरण की नकारात्मक प्रभाव से चेहरे की त्वचा की रक्षा के लिए तैयारी भी निर्धारित की जाती है।

यह उनमे से किसी के भी साथ हो सकता हैं जो लोग व्रत रखते हैं, चाहे वो धार्मिक कारणों के लिए, या जो खाने में रूचि नहीं लेते। यदि आप खाने में रूचि नहीं लेते हैं तो मुँह से दुर्गंध ही एक कारण हैं खुद को भूखा न रखने का।

बर्फ के प्रयोग से भी आप जल्द ही मुँह के छालों से छुटकारा पा सकते है. मुंह में छाले होने पर बर्फ के एक टुकड़े को लेकर छाले वाले जगह पर सिकाई करें. इससे छालो के दर्द से काफी राहत मिलती है और इसके कुछ समय के प्रयोग से छाले जल्दी सही हो जाती है.

सेहत संबंधी कई ऐसी समस्याएं होती हैं जिन्हें हम रोग तो नहीं कह सकते हैं लेकिन दर्द, संक्रमण, खाने और निगलने में दिक्कतें आदि हमारे लिए परेशानी का सबब होती हैं। मुंह के छाले भी एक ऐसी ही समस्या है। इनसे उपचार के लिए अगर बाजार में मिलने वाले जेल या क्रीम उपलब्ध हैं लेकिन आ तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं।

4. नींबू  (Nimbu):-  मुहासों वाले चेहरे पर नींबू के रस को लगाने से यह त्वचा (skin) से oilly परत को हटा देता है और चेहरे के पिम्प्लेस को साफ करता है. नीबू के रस मे शहद (honey) को मिला कर इसका पेस्ट बना ले और इसे चेहरे पर 10 से 15 मिनट तक लगाये रखे. इसके बाद चेहरे को साफ व शीतल जल से धो ले इस प्रयोग से चहरे के अंदर की धुल मिटटी साफ हो जाती है. चहरे से पिम्प्लेस भी खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर दिखाई देने लग जाता है.

उसे बाहर निकालें: ऐसा करने में काफी शोर मच सकता है और यह ग्रॉस (gross) व शर्मनाक भी हो सकता है, लेकिन अपने शरीर से बलगम बाहर निकालना इससे छुटकारा पाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। जब भी आपको बलगम को खाँसने या अपनी नाक को ब्लो (blow) करने की इच्छा हो, तब उसे नजरअंदाज न करें। बलगम निगलने से वह आपके शरीर में वापस घुस सकती है और भरी हुई या बहती नाक को अंदर रखना असुविधाजनक है। एक टिशु-बॉक्स को पास रखना और बलगम को निकालना सबसे अच्छा है।

ग्रीन या ब्लैक टी (चाय) पीएं: चाय में पॉलीफेनोल्स (polyphenols) मौजूद होता है, जो सल्फर को दूर करने में और मुंह के बैक्टीरिया को कम करने में मदद करता है। यह मुंह को हाइड्रेट (जलयोजित) करने में भी सहायता करता है। अच्छे नतीजे के लिए दिन में कई बार बिना मिठास वाली गर्म चाय को पीयें।[१४]

एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़े से शहद के साथ एक छोटी दालचीनी का पाउडर मिलाएं; पानी न मिलाये क्योंकि यह शहद के असर नष्ट कर देगा। प्रत्येक दाने पर पेस्ट की एक छोटी सी परत लगाएं और रात भर के लिए रहने दें; अगली सुबह गुनगुने पानी से धो लें। यदि आवश्यक हो तो कुछ दिनों के लिए दोहराएँ।

नई दिल्‍ली : सांसों की दुर्गन्ध और मुंह की बदबू एक ऐसी समस्‍या है, जो कई लोगों  में पाई जाती है। आपके मित्र, सहकर्मी और अन्‍य आपके पास बैठने से कतराते हैं। मुंह से आती दुर्गन्ध और सांस की बदबू (हैलाटोसिस) अक्सर मुंह में मौजूद एक बैक्टेरिया से होती है। इस बैक्टेरिया से निकलने वाले ‘सल्फर कम्पाउंड’ की वजह से सांस की बदबू पैदा होती है। कई बार तो लोग इस समस्या से अंजान होते हैं। इस बदबू के कई कारण होते हैं, जैसे-गंदे दांत, पाचन की समस्या और धूम्रपान। कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर इस समस्‍या से छुटकारा पाया जा सकता है।

I am showing the Bay leaf plant & in our local language it is called Tejpat (তেজ পাত). The leaves have a very good aroma and are mainly used as a spice in Indian cooking since ages. The fresh leaves are very mild and do not develop their full flavor until several weeks after picking and drying. The bay leaves can be powdered and if consumed for 30 days is very effective in treating diabetes. I am showing here two ways how to get the maximum health benefit from its leaves.

अपने कूल्हों पर एक एस्पिरिन (aspirin) का मास्क लगायें: चार या पाँच एस्पिरिन की गोलियों को पीस लें। यह सुनिश्चित करें कि गोलियों के बाहर कोई भी आवरण (coating) न हो। इसे एक टेबल स्पून हल्के गर्म पानी के साथ मिलाएँ या फिर शहद या सादे दही के बड़े हिस्से के साथ मिलाएँ, यह आपकी इच्छा पर निर्भर है।

“लाल मुंह से मुक्त होने के तरीके |गाल मुँहासे से छुटकारा पाने के तरीके”

मूली में विटामिन C, जिंक, B कांप्‍लेक्‍स और फॉस्‍फोरस होता है. मुंहासों के लिए मूली का टुकड़ा गोल काट कर मुंहासों पर लगाएं और तब तक लगाए रखें जब तक यह खुश्क न हो जाए. थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें. कुछ ही दिनों में चेहरा साफ हो जाएगा.

गुलाबजल का रोजाना इस्तेमाल भी दाग-धब्बों को कम करता है क्योंकि गुलाबजल हमारी त्वचा से धूल-मिट्टी को हटाता है तथा त्वचा का सौंदर्य निखरने में अहम भूमिका निभाता है। आप डाबर गुलाबरी का प्रयोग कर सकते हैं।

दाल और आलू का पेस्ट : इस बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खे से आप मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पा सकते है आलू और दाल से बना पेस्ट मूछ के सफेद बाल को हटाने में बहुत मदद आता है आलू में ब्लीचिंग के प्राकृतिक गुण होने के कारण आलू को दाल के साथ मिलाकर दाढ़ी व् मूछो का प्राकृतिक रंग वापिस आ जाता है।

स्‍वाद और सुगंध से भरपूर दालचीनी को मसालों में अहम स्‍थान दिया गया है। दालचीनी का दोनों ही मसाले और दवा के रूप में उपयोग का लंबा इतिहास है। वास्तव में प्राचीन काल में, यह मसाला इतना बहुमूल्य खजाना माना जाता था कि इसकी कीमत सोने से भी ज्यादा थी।यह श्रीलंका एवं दक्षिण भारत में बहुतायत में मिलता है। यह एक वृक्ष की छाल होती है। यह गरम मसाला तो है ही यह पाचन, वातहर, स्तंभण, गर्भाशय उत्तेजक, गर्भाशय संकोचक एवं शरीर उत्तेजक है। चाय, काफी में दालचीनी डालकर पीने से मीठी हो जाती है तथा सर्दी भी ठीक हो जाता है।

एक्‍ने खूबसूरत त्‍वचा चहरे को भी बदरंग बना सकते हैं। इस लिए इसके संभावित कारणों को जानना चाहिए ताकि इससे बचाव किया जा सके। थोड़ी सावधानी बरतकर आप मुहांसो से छुटकारा और खूबसूरत व बेदाग त्‍वचा पा सकते हैं।

ज्यादा रेशे वाले (फाइबर से भरपूर) आहार लें: ताजा और कुरकुरा भोजन आपके दांतो को साफ़ रखने के साथ-साथ, यह दुर्गन्धयुक्त सांस को भी रोकेगा। इससे आपकी पाचनशक्ति में सुधार होगा और विषैले तत्व आपके शरीर से निकल जाएंगे।[९]

–> संतरे में मौजूद विटामिन सी पिपल्स को निकालने में मदद करता है | संतरे को मुहांसे पर इस्तेमाल करने से पूर्व त्वचा को भली – भांति गुनगुने पानी से धो ले ताकि त्वचा के पोर्स खुल सके | इसके बाद संतरे के छिलके को pimple पर लगाकर  एक घंटे तक छोड़ दे |

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

मोटापे से परेशान लोग वजन घटाने के लिए व्ययाम, योगा, खाने पर कंट्रोल क्या कुछ करते हैं। कुछ लोग जिम जा कर घंटो एक्सरसाइज करके पसीना बहाते हैं। कई बार ज्यादा देर जिम करने से कई तरह की शरीरिक प्रॉब्लम भी शुरू हो जाती है। ऐसे में वजन घटाने के लिए आप एक्यूप्रेशर तकनीक को भी अपना सकते हैं। यह एक ऐसी तकनीक है जिसमें शरीर के बिंदुओं को दबाना होता हैं। जिससे आपको भूख कम लगेगी और आपके वजन पर भी कंट्रोल होगा। मानव शरीर पर ऐसे बिंदु होते है जिसे दबाने से कई रोगों से छुटकारा पाया जा सकता और मोटापे को भी कम किया जा सकता है।

जो लोग परीक्षा की चिंता या घबराहट से चिंतित हैं, वे मन को शांत रखने के लिए दालचीनी से बनी हुई चाय पी सकते हैं। यकीन मानिये यह वास्तव में आपके चिंता को कोसों दूर भेज उसे आनंद और एकाग्रता से प्रतिस्थापित कर देगा और आप ख़ुशी-ख़ुशी अपना कार्य पूरा कर सकेंगे।

नींबू में मुहांसों से लड़ने के कुछ रासायनिक गुण मौजूद होते है| नींबू का सबसे बड़ा गुण आयल (चिकनाई) को खत्म करने का होता है क्योंकि इसके एसिड की रासायनिक संरचना क्षार या कसैला होती है| दूसरा नींबू एक नेचुरल एंटी बैक्टीरियल एंटीसेप्टिक है | कील मुहांसों के लिए नींबू का इस्तमाल सदियों से होता आ रहा है और आजकल काफी सारी कंपनिया नींबू युक्त प्रोडक्ट बाज़ार में उतार रही है जो पिम्पल्स के इलाज में काम आती है | इस पोस्ट में हम बतायेंगे की कैसे आप नींबू की मदद से  कील मुहासों से छुटकारा पाए|

Garlic  has strong antibacterial properties and fights pimple very soon. Crush two to three cloves of garlic and mix with water. Once it forms a paste like structure apply gently on the skin. After drying wash it off. Follow with face wash as the smell is very strong of garlic.

आप अपना चेहरा भाप कर सकते हैं गर्म वाष्प में त्वचा को नरम करने की क्षमता होती है, साथ में मृत त्वचा कोशिकाओं, बाएं-पीछे के सौंदर्य प्रसाधन, तेल और बैक्टीरिया जो प्लग छिद्रता है। इस बैक्टीरिया, गंदगी और त्वचा के छिद्रों में फंसे तेलों को हल्का ढंग से चेहरे को साफ़ करने से हटा दिया जा सकता है।

आजकल खुबसूरत दिखने की चाह में लोग बाजारों में बिकने वाले क्रीम और पाउडर का अधिक मात्रा में use करते है. यह आपके चेहरे को निखारने के बजाय उसको नुकसान पहुँचा देता है. अगर आप कॉस्मेटिक का उपयोग करते भी है तो कम मात्रा में करे.

जितना हो सके पानी पीएं और संतुलित आहार खाएं: शायद संतुलित आहार खाने से आपके धब्बे गायब नहीं होंगे | लेकिन, संतुलित आहार आपके शरीर को संतुलित बनाकर त्वचा को अच्छा बनाने में मदद करेगा | 8 से 10 गिलास पानी पीने से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर फ़ेंक कर आपको पतला और जवान बनाता हैं | आप विटामिन ए, सी, और इ भी लें सकते हैं |

बर्फ के क्यूब्स आपके गले पर बुरा प्रभाव दाल सकते हैं | यह आपके tonsils को प्रभावित करता है और ठंड और खांसी पैदा कर सकती है | tonsillitis से पीड़ित लोगों को वास्तव में बर्फ़ क्यूब्स से दूर रहना चाहिए | भले ही ice cube आपके गले को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं, लेकिन बर्फ के टुकड़े  लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती हैं | आप इससे फायदा प्राप्त करने के लिए अपने चहेर पर लागू कर सकते हैं | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं | अपने daily beauty regime में बर्फ के क्यूब्स को शामिल करना एक बहुत अच्छा विचार हो सकता है | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं जो की निम्नलिखित हैं |

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

दालचीनी आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है, लेकिन यह सोचकर इसका अधिक मात्रा में सेवन न करें। यदि आपको लगता है कि एक बार में जादा खुराक लेने से आपको दालचीनी का जल्दी लाभ मिलेगा, तो आप जो सोच रहे है वह बिलकुल गलत है। क्योंकि इसके बहुत जादा सेवन से आपको लाभ मिले ना मिले परंतु इसके दुस्प्रभाव का सामना आपको अवश्य करना पड़ सकता है

क्या चेहरे के दाग धब्बे, मुँहासे के निशान और त्वचा का रंग भी, मुहासे होने का कारण आपको शर्मिंदा कर रहा है किसी समूह का सदस्य बनने से!! क्या आप सौंदर्य प्रसाधन का उपयोग करते करते तक गए है! तो एक नज़र डालिए घर मे बने हुए मिश्रण पर जो सारे दाग धब्बे निकाल देगा।

ज्यादा अदरक खाएँ: अदरक के प्राकृतिक जीवाणुरोधी गुणों की वजह से, इसका सदियों से कोल्ड और साइनस (sinus) के लक्षणों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया गया है। अदरक ऐसे गुणों के लिए भी जाना जाता है जो बलगम को तोड़ते हैं। अगर आप स्वाद को बर्दाशत कर सकते हैं, तो इसे कच्चा खाएँ या हल्के कैन्डीड फॉर्म (candied form) में खाएँ। आप अदरक को उबलते पानी में घिसकर एक चाय भी बना सकते हैं जो आपके गले को बलगम मुक्त करने के लिए दोगुना काम करेगी।

You must be worried about what is pimple, what are the reasons behind acne on face, why pimples are coming on my face and so on so… find here answers to all the questions and ask us if any questions. … Continue reading What is pimples and reasons behind acne – know Everything

भारतीय बकाइन को नीम के रूप में भी जाना जाता है, इसे विभिन्न त्वचा की समस्याओं के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें एंटीसेप्टिक और रोगाणुरोधी गुण हैं जो कि मुँहासो को बनाने वाले बैक्टीरिया को मारने में मदद करते हैं। इसके अलावा, नीम लालिमा और त्वचा की सूजन में आराम देता है। (और पढ़ें – नीम के फायदे इन हिंदी)

इन उपायों को जब आप अपनाते है तो अपना धैर्य बनाये रखे क्योंकि आयुर्वेदिक तरीके अपना असर धीरे – धीरे करते है. अगर आप लगातार यह करते रहोगे तो आपको भी दाग – धब्बो से छुटकारा मिल जायेगा और चेहरे में निखार आने लगेगा.

मुँहासे एक गंभीर समस्या है, लेकिन साथ मेंसक्षम दृष्टिकोण और जटिल उपचार आपकी त्वचा बिल्कुल सही दिखेगी। विशेषज्ञों की सहायता कभी भी ज़रूरत से ज़्यादा नहीं होती है, बल्कि स्वतंत्र रूप से भी, दृढ़ता और दृढ़ता से दिखती है, चेहरे पर मुंह से छुटकारा पाना संभव है।

height badhane ke liye aap yah padhe : https://www.nayichetana.com/2015/05/how-to-increase-height-in-hindi-height-kaise-badhaye-%E0%A4%B2%E0%A4%AE%E0%A5%8D%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%AC%E0%A5%9D%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A5%87.html

इसके अलावा महत्वपूर्ण त्वचा का प्रकार है – तेल में तेल के साथ लोगों मेंमुंह से त्वचा की समस्या अधिक बार होती है यही कारण है कि “चेहरे पर मुँहासे का इलाज कैसे करें” सवाल के साथ- एक विशेषज्ञ से संपर्क करना बेहतर होगा जो समस्या के कारण सभी कारकों को ध्यान में रखे।

डॉक्टर का निदान होगा यदि मुर्गा नहीं हैंकुछ अन्य त्वचा रोग, और आवश्यक विटामिन दवाओं से संतृप्त लेने में मदद करें। इसके अलावा, यदि आप माथे पर प्रजनन करने वाले चिड़ियों के साथ चिंतित हैं, तो उपचार में विशेष मलहम शामिल हो सकते हैं।

बहुत ही खूब सुरेंद्र जी, इस Post में आपने कील-मुहांसो के सभी कारणों की जानकारी दे दी और साथ ही साथ उनसे राहत पाने के लिए सबसे उपयोगी सभी घरेलू नुस्खों के बारे में भी बता दिया। बहुत से लोग chemicals का उपयोग करते है ,उन्हें लगता है कि तरह तरह की chemicals वाली creams और lotions use करके उन्हें इससे छुटकारा मिल जाएगा ,छुटकारा तो उन्हें मिल जाता है, मगर जो उनकी skin को नुकसान होता है उसके बारे में वह कभी सोचते भी नहीं न ही उन्हें जानकारी होती है। आपने सभी घरेलू नुस्खे बताये है जोकि बहुत ही फायदेमंद है और skin की natural glow को बनाये रखते है। इतनी उपयोगी जानकारी के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

आज हम आपको बतांगे कैसे आप सांसों तथा मुहं की दुर्गन्ध से छुटकारा पा सकते हो इसके लिए आपको कहीं  बाहर जाने की आवश्कता नहीं बल्कि आप घर बैठे ही इस समस्या का समाधान कर सकते हो ,तो आये जानते है Bad Breathing Home Remedy के बारे में |

“मुँहासे को जल्दी कैसे साफ़ करें _30 मिनट में मुँहासे से छुटकारा”

एक बड़ी चम्मच दालचीनी पाउडर और शहद मिक्स करें जब तक आपको एक गाढ़ा पेस्ट ना मिल जाए। ज़ख्म क्षेत्र पर यह पेस्ट लगाएँ, 10 मिनट के बाद इसे धो लें। इसे दैनिक रूप से दोहराएँ जब तक आपको परिणाम नही मिल जाते हैं।

यह सभी सोरायसिस से पीड़ित रोगियों का 80% के साथ सबसे बड़े पैमाने पर छालरोग के प्रकार है। यह चांदी सफेद रंग के पैमाने और लाल रंग की सूजन पैच द्वारा प्रतिष्ठित है। घुटने, कोहनी, पीठ के निचले हिस्से पर एक यह खोज कर सकते हैं, और खोपड़ी, लेकिन यह कहीं भी हो सकते हैं।

अपनी नाक को ज़्यादा ब्लो न करें, खासकर एक साइड पर। उसका ज़ोर बलगम को आपके साइनस और कानों में और अंदर ब्लो कर सकता है, जिससे सिरदर्द व कान में दर्द होगा। अगर आपको ब्लो करने की ज़रूरत है, तो ऐसा आराम से व दोनों नॉस्ट्रील्स के साथ करें।

कील और मुहाँसो को दूर करने के लिए चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें साबुन से चेहरा न धोये| सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें पानी अधिक मात्र में पिएं पूरी नींद लें तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ|

क्या आपको याद है आपकी दादी आपके घावों पर हल्दी छिड़कने के लिए कहती थीं? खैर, चिकित्सा शोधकर्ताओं ने अब पता किया है कि हल्दी में ऐसी सामग्री शामिल होती हैं जो उसे एक शक्तिशाली रोगाणुरोधी बनाती हैं। कोई आश्चर्य नहीं कि भारत में महिलाओं ने अब तक अपनी त्वचा को स्वस्थ और दमकती रखने के लिए हल्दी के उबटन का उपयोग किया है। आप सीधे त्वचा पर हल्दी का पेस्ट लगा सकते हैं, गर्म दूध के साथ लेने से भी आप साफ़ त्वचा पा सकते हैं।

पायरिया से परेशान लोग मूली के रस से दिन में 2-3 बार कुल्ले करें और इसका रस पिएं तो फायदा होगा. मूली के रस से कुल्ला करना, मसूड़ों-दांतों पर मलना और पीना दांतों के लिये बहुत लाभकारी है. मूली को चबा-चबा कर खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं.

6 नींबू का रस पिंपल भगाने में सबसे कारगर उपाय है। इसके रस से अपने चेहरे की 10-15 मिनट तक मालिश करने से राहत मिलेगी। हां, अगर इसके प्रयोग से आपकी स्‍किन में जलन महसूस हो रही हो तो इसको डाइरेक्‍त ना इस्‍तमाल करें। तब इसको पानी या चंदन पाऊडर में मिला कर लगाएं।

Psoriatic गठिया अधिक दर्द का कारण बनता है और जोड़ों और त्वचा पर धब्बे दिखाई देते हैं। इस रोग में जोड़ों के आसपास सूजन त्वचा द्वारा लक्षण वर्णन किया जा कर सकते हैं। अनुमान के अनुसार लगभग एक मिलियन वयस्कों से पीड़ित हैं। सूजन, जोड़ों का दर्द बढ़ रही, तराजू, लालिमा, त्वचा के घावों psoriatic गठिया के दौरान गौर कर रहे हैं।

मुल्तानी मिट्टी में कई प्राकृतिक खनिज होते हैं और इसमें त्वचा का रंग साफ करने के भी गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

चेहरे से पिंपल और कील निकालना आजकल साधारण सी बात हो गयी है लेकिन इनके निशान बाद मे रह जाते है जिससे चेहरे पर धब्बे जैसे नजर आते है। अगर आप अपने खान पान पर ध्यान नही रखते है तब भी आपके चेहरे पर मुहासे हो सकते है। अगर आप अपनी स्किन हो Hydrate रखते है तो आपको इस समस्या का सामना नही करना पड़ेगा इसके लिए आप दिन मे भरपूर पानी का सेवन करे।

मुंह की बदबू हटाने में खट्टे फल सबसे अधिक कारगर होते हैं। बता दें कि संतरा, नींबू, आंवला, अंगूर जैसे फलों में विटामिन सी की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है। इनका सेवन करने से मुंह की बदबू से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है।

एक प्रक्रिया बुलाया सेल कारोबार में, त्वचा कोशिकाओं है कि आपकी त्वचा में गहरी बढ़ने सतह को जन्म। आम तौर पर, यह एक महीने लग जाते है। क्योंकि अपने कक्षों में भी तेजी से वृद्धि में सोरायसिस, यह बस के दिनों में होता है।

बेबी ऑयल में किसी तरह के केमिक्ल्स नहीं होते और डेंड्रफ को कम करने में मदद करता है। इसलिए रात को सोने से पहले बेबी ऑयल लगा कर बालों को तौलिये से बांध लें और सुबह उठ कर अच्छे एंटी-डेंड्रफ शैम्पू से बालों को साफ करें।

The information Provided in this video is based out of various Ayurvedic & Natural Medicare books. If you have or suspect that you have a health problem, contact your personal health care Provider / Doctor.

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

दखल, जो आंतरिक समस्याओं के कारण दिखाई दिया,व्यापक रूप से इलाज किया जाता है ऐसे मामलों में, यहां तक ​​कि सबसे महंगी दवाओं के साथ उपचार का कोई सकारात्मक परिणाम नहीं होगा यदि आप एक साथ पूरे जीव का इलाज नहीं करते हैं। इसलिए, इलाज करने और चेहरे पर मुँहासे से छुटकारा पाने से पहले, समस्या का सही कारण स्थापित करने के लिए इतना महत्वपूर्ण है। पहले से ही परीक्षा के परिणाम को ध्यान में रखते हुए, सौंदर्य प्रसाधन ने अतिरिक्त त्वचा देखभाल उत्पादों को नियुक्त किया है।

* लौंग का तेल : आप मुंह के छालों को ठीक करने के लिए लौंग के तेल की भी मदद ले सकते हैं। क्योंकि आपकी जीभ काफी संवेदनशील होती है, अतः इसके उपचार का तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है। इस उपचार के लिए 4 से 5 बूँदें लौंग का तेल, आधा चम्मच जैतून का तेल, गर्म पानी और रुई की आवश्यकता होगी।

कोशिश करें की मांस न खाएँ: मांस का बलगम के उत्पादन के साथ संबंध है इसलिए कोल्ड में इसे खाना बहुत अच्छा नहीं है। बंद नाक के साथ आप मांस के असली फ्लेवर को टेस्ट नहीं कर पाएँगे और साथ ही साथ आपकी नाक और भी खराब हो सकती है। सावधानी बरतें और बहुत ज़्यादा बलगम से जूझते वक्त मांस से दूर रहें।