“अपने मुंह को दूर करने के लिए -बर्फ का उपयोग मुँहासे से छुटकारा”

मुंह से आने वाली दुर्गंध कई बार लोगों से दूरी का सबसे बड़ा कारण बन जाती हैं। हम दोस्तों के बीच बैठे हैं और कोई हमसे हमारे मुंह से आ रही दुर्गंध (बदबू) के बारे में कहता हैं, तो हमें दोस्तों के बीच नीचा देखना पड़ता हैं । इसी बीच दोस्त हमें दस तरह के उपाय बताने लगते हैं, कोई अच्छे टूथपेस्ट का सुझाव देता हैं तो कोई माउथ स्प्रे के बारे में बतलाने लगता हैं, लेकिन इन सबके बीच यदि आप कुछ घरेलू नुस्खे या उपाय अपनाएं तो आप मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पा सकते हैं । ये किफायती भी होंगे और असरकारक भी । दुर्गंध को यूं पहचानें घर पर अकेले में या बात करते समय जब लोग आपके सामने न खड़े हों तो उस वक्त अपने मुंह पर हथेली रखकर सांस छोड़िए, इससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि आपका सांसों में दुर्गंध हैं या नहीं ।

Sir mere chere pr chote chote ched type ke gadde achanak do mah se ho rahe ha aur maine ej scrub kiya tha to chamra chil kr kala ho gaya ha aur apbe aap katne ke jaisa lamba lline face pr tun chaar jagah ho gaya ha. Maine ek doctor ko bhi dikhaya pr usko lagane se gadde aur bhi barne lage ha sir mai kya karu plz plese help me

सूर्य किरणों: रोगियों के बहुमत आमतौर पर लगता है कि सूरज की रोशनी के लिए उनकी हालत अच्छी है। फिर भी, कुछ विचार बहुत अधिक सूरज की रोशनी अपने लक्षण बदतर बना देता है कि। धूप की कालिमा सोरायसिस एक बहुत बढ़ रहा है।

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

पीठ के मुहाँसे भी चेहरे के मुहंसों की तरह ही भयानक होते है। रिसर्च में ये पता चला है कि जिन लोगों को चेहरे के मुहांसों की समस्या ज़्यादा होती है, वही लोग पीठ के मुहांसों से भी उतने ही पीड़ित होते है। पीठ के मुहांसों का एक पहलू ये भी है कि इनके तक पहुँचना और इनका इलाज करना बहुत मुश्किल है क्योंकि इन तक पहुँचना और इनको देख पाना एक आसान नहीं है। मुहांसों का कहीं भी शरीर पर निकलना में मुख्य कारण हार्मोनल असंतुलन है। ये यौवन अवधि के दौरन एस्ट्रोजन (estrogen) और टेस्टास्टरोन (testosterone) हॉर्मोन (hormones) के अधिक स्राव के कारण होते है और जैसे ही कोई 20 साल की उम्र को पार करता है ये अपने आप चले जाते है। ये मुंहासे आपकी छाती, कंधे, पैर और हिप्स पर भी हो सकते हैं। बॉडी लोशन, मसाज ऑयल (massage oil) और सनस्क्रीन (sunscreen) आदि का इस्तेमाल करने से रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और मुंहासे हो जाते हैं। तनाव, अनियमित नींद, अस्वस्थ लाइफस्टाइल, खानपान की ग़लत आदतें और अधिक काम का बोझ भी कुछेक कारण है मुहाँसे निकालने का। यहाँ हम आज कुछ ऐसे ही घरेलू उपाय और घरेलू उपचारों की बात करेगें जिसकी मदद से आप पीठ के कील मुहांसों से निजात पा सकेगें।

गम में ज़ाइलीटोल (Xylitol) पाया जाता है, एक शुगर-फ्री स्वीटनर जो की सनौबर पेड़ की छाल (birch bark) से बनता है, खासतौर पर दुर्गंधयुक्त सांस को रोकने में मददगार होता है। यह आपके दांत को खराब होने से बचाता है, और के घिसे हुए इनेमल को मिनरल देकर पुनः निर्माण करने में मदद कर सकता है।[६]

टूथपेस्ट का आप नियमित रूप से उपयोग अपने दांत साफ करने के लिए करते हैं, लेकिन यह आपकी मुँहासो की समस्या को भी ठीक कर सकता है। यह मुँहासों के लिए सबसे आसान घरेलू उपचारों में से एक है। बिस्तर पर जाने से पहले प्रभावित क्षेत्र पर सफेद टूथपेस्ट की एक छोटी सी मात्रा लगाएं। टूथपेस्ट सूजन को कम करता है और मुँहासों को सुखा देता है। एक या दो दिन के भीतर आप महत्वपूर्ण सुधार देख सकते हैं। (और पढ़ें – टूथपेस्ट के हैरान कर देने वाले पाँच फायदे)

एक बलगम निकालने वाली दवाई लें: यह ऐसी दवाईयाँ होती हैं जो आपके गले और नाक की बलगम को तोड़ती हैं और आसानी से इसे खाँसकर अपने शरीर से निकालने में आपकी मदद करती हैं। इनमें से बहुत सारी स्थानीय दवा की दुकानों पर ओवर-द-काउंटर उपलब्ध होती हैं, जबकि कुछ को डॉक्टर लिखकर देते हैं। खुराक निर्देशों का पालन करें और बलगम की वजह से हो रहे जमाव से आराम पाने के लिए दवाई को रोज़ लें।[३]

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और त्वचा की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

घर सौंदर्य ट्रिक्स यह अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम यूरोपीय संघ में एक भागीदार है, एक विज्ञापन कार्यक्रम सहबद्ध वेबसाइटों विज्ञापन और Amazon.es के लिए लिंक के लिए कमीशन प्राप्त करने के लिए एक साधन प्रदान करने के लिए बनाया.

कभी अल्सर फूट भी सकता है जिससे पूरे पेट में संक्रमण हो जाता है तथा पेट में तेज दर्द रहता है। लम्बे समय तक अल्सर रहने से केंसर होने का खतरा हो सकता है। इसके साथ ही आयुर्वेदिक नुस्खे से भी एसिडिटी का इलाज किया जा सकता हैं |

निजी स्वच्छता के नियमों की उपेक्षा मत करो दिन में 2 बार अपना चेहरा धो लें, एक व्यक्तिगत तौलिया या नैपकिन के साथ त्वचा को साफ करें आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त अतिरिक्त चेहरे का शुद्ध उपयोग करें। विशेष रूप से अच्छी तरह से बिस्तर पर जाने से पहले त्वचा को साफ;

आज का दौर खुद को दूसरो से बेहतर साबित करने का दौर है. हर किसी की चाह अपनी अलग पहचान बनाने की है. लेकिन जब किसी भी Person के Face पर pimples हो जाते है तो यह उसके Confidence को बहुत Low कर देता है. उसके मन में खुद के लिए हीन – भावना आने लगती है. वह व्यक्ति लोगो से मिलने में कतराने लगता है.

Tags: Home remedies for pimples in hindiपिम्पल की दवापिम्पल कैसे दूर करेपिम्पल टिप्स इन हिंदीपिम्पल ट्रीटमेंटपिम्पल मुँहासे कैसे हटाएपिम्पल हटाने के घरेलू उपाय नुस्खेपिम्पल्स के दागपिम्पल्स हटाने के तरीकेमुँहासे हटाने के उपाय

तमाम कोशिशों के बावजूद कई बार चेहरे पर पिंपल्स यानी मुंहासे हो जाते हैं। खासकर टीनएज में यह समस्या ज्यादा होती है. मुँहासे चेहरे पर कई कारणों से हो सकते हैं , जैसे चेहरे पर जमी गन्दगी को ठीक से साफ न करना या चेहरे का अत्यधिक तैलीय होना आदि , मुँहासे होने पर हमें काफी या मसालेदार भोजन का उपयोग कम करना चाहिए और फलों का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए, पिम्पल्स को दूर करने का सबसे आसान तरीका आप घर पर रह कर आजमा सकते हैं.

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

एसिडिटी का प्रमुख लक्षण है रोगी के सीने या छाती में जलन। अनेक बार एसिडिटी की वजह से सीने में दर्द भी रहता है, मुंह में खट्टा पानी आता है। जब यह तकलीफ बार-बार होती है तो गंभीर समस्या का रूप धारण कर लेती है।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

जिन लोगो को समय समय पर पिम्प्लेस हो जाते है उन लोगो के लिए करेला एक बहुत ही अच्छा उपाय है. करेले को काटकर उबाल ले या उसके रस को निकालकर पीने से यह खून (blood) को साफ कर देता है. जिससे पिम्प्लेस (pimples) पूरी तरह से खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर व कोमल दिखाई देने लग जाता है.

This is a health and medical awareness book. It helps to easily identify diseases and explains the symptoms. It also indicates that in the daily routine what precautions are taken, cause of diseases, measures to avoid, things to consider, have been well contained. Moreover, “e;How to change the life style”e;, etc. have also been scientifically detailed in the book.

सर मेने भी बहुत क्रीम उपयोग करके देखि पर कुछ फर्क नही पडा है और मैने डॉक्टर से इलाज भी करवाया परन्तु जब तक इलाज चलता तब तक थोडे कम हो जाते है पिम्पल फिर इलाज बंद होने के बाद वापस शुरू हो जाते है। मैं पिछले 3 साल से परेशान हु पिम्पल से बहुत बार इलाज भी करवाया परन्तु कुछ फर्क नही पडा।अब मुझे क्या करना की मैं पिम्पल से छुटकारा पा सकु

लहसुन खाएँ: अदरक की तरह, लहसुन बहुत शक्तिशाली होता है और जीवाणुओं को मारने और आपके गले को बलगम-मुक्त करने में अच्छा काम करता है। कच्चे लहसुन की कई कलियों को रोज़ खाएँ और अपने खाने में भी इसे घिसें। अगर आप कर सकते हैं, तो लहसुन को सुबह उठते ही खाएँ क्योंकि यह ढंग से बलगम बहने से पहले ही उसे मारने में मदद करता है।

रेडकरंट आंवला परिवार का सदस्य है और यह काले धब्बों पर जमे मेलेनिन (melanin) को हल्का करता है। कुछ रेडकरंट लें और इन्हें पीसकर 1 चम्मच शहद के साथ मिश्रित करें। इस पैक को अपने चेहरे पर लाएं और काले धब्बों पर ध्यान केन्द्रित करें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़कर पानी से धो लें। अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना करें।

अपनी पहली पत्नी के साथ न रह पाने से परेशान एक फिजियोथेरपिस्ट ने अपनी दूसरी पत्नी मारिया मैसी की हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने अपनी पत्नी का शव बेड के ही बॉक्स में छिपा दिया। महिला का शव कई दिनों बाद पुलिस ने तुगलकाबाद घर से बरामद किया।

How to get rid of acne and pimples, how to remove acne, how to stop acne by simple beauty secrets. Remove acne scars, remove acne over night, remove acne at home, acne treatment, how to get rid of acne scars, how to get rid of acne naturally,

FROM WEB10 Indian divas who never got marriedCRITICSUNIONSend Money to India for $0 + Great Exchange RatesVianex10 best Mortgage Lenders of 2018.CRITICS UNIONFROM NAVBHARAT TIMESसर्जरी की वजह से श्रीदेवी का न‍िधन बताने वालों को एकता कपूर ने दिया जवाब पेश हुई एक मिसाल अमिताभ को पहले ही हो गया था श्रीदेवी की मौत का आभास? From The WebMore From NBT

दाल और आलू का पेस्ट : इस बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खे से आप मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पा सकते है आलू और दाल से बना पेस्ट मूछ के सफेद बाल को हटाने में बहुत मदद आता है आलू में ब्लीचिंग के प्राकृतिक गुण होने के कारण आलू को दाल के साथ मिलाकर दाढ़ी व् मूछो का प्राकृतिक रंग वापिस आ जाता है।

एलोविरा का प्रयोग करें: एलोविरा का रस एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो कई प्रकार कि बिमारियों, चोट लगना, जल जाना, या मुँहासों को दूर करता है | यह त्वचा को फिर से नया बनाकर नमी प्रदान करता है | एलोविरा को किसी भी दुकान में पाया जा सकता है, लेकिन एलोविरा के पत्तियों का रस सब से ज्यादा उपयोगी माना गया है | इसके जैल को धब्बों पर लगाकर छोड़ दें | धोने की भी जरुरत नहीं है |

Rat ko sone se pahle kacche dudh ke sath jayfal ko ghise or isk alep tayaar kar le, or is lep ko chehre par laga kar so jaye. Subh chehra saaf pani se dho dey. Kuch din aisa lgatar karne se chehre par hone wale muhaso se chutkara milta hai.

डायबिटीज, कैंसर और दिमागी रोगों के लिए फायदेमंद है दालचीनी वाला दूधखतरनाक बीमारी है लिवर सिरोसिस, तुरंत बदलें अपने खान-पान की आदतेंये 7 चीजें शरीर में पानी की कमी को पूरा कर देती हैं पर्याप्त पोषणये 3 घरेलू नुस्खे अस्‍थमा के असर को तुरंत कर देंगे कमरोजाना खाएं ये 6 फूड, 60 साल तक याद्दाश्‍त रहेगी तेजरोज सुबह पीएं लहसुन वाली चाय, होंगे ये 5 चमत्कारिक फायदे

“वापस मुँहासे उपचार -तेज मुँहासे उपचार”

जैसा की हम सभी जानते है की गर्मी के समय बर्फ को कई तरह से use किया जाता है, पर और सभी मौसम में भी चहरे पर बर्फ लगाने से कई तरह के लाभ होते है, तो आइये जानते है इसके health और skin benefits के बारे में विस्तार से:

दूध चेहरे की रंगत बढ़ाता है, दूध मे लॅकटिक अम्ल होता है जो त्वचा को कोमल और सुंदर बनाता है। इसके लिए कच्चे दूध का उपयोग करे। दूध मे रूई भिगोकर पूरे चेहरे पर लगाए फिर 15 मिनिट के बाद गर्म पानी से धो ले,रोज सुबह इस विधि का उपयोग करे।

अम्लिय पेय से बचें। यह आपकी सांस और दांत के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, क्योंकि अम्लिय पेय आपके दांतो के इनेमल को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। जितना हो सके अम्लिय पेय पीने से बचे और अगर पीना ही है तो ध्यान रखें कि आप स्ट्रा के जरिए या जल्दी से पीए, बिना मुंह में रखें। आप पानी का इस्तेमाल करके कुल्ला करके अपने खाने के अवशेष को दूर करें।

“गहरे छेद” दाँतों में जड़ो के पास हो जाते हैं जो की नियमित तौर पर फ्लॉस नहीं हो पाते।इनमे सड़ा अन्न और कीड़े पैदा हो जाते हैं जिससे साँसों में दुर्गन्ध आती हैं – जो सड़े हुए दाँतों (दर्दनाक, संक्रमित मसूड़ों) को जन्म देता हैं।

लौंग कैविटी के साथ-साथ किसी भी प्रकार की दांतों से जुडी समस्‍याओं के लिए रामबाण होता है। एंटी-इंफ्लेमेंटरी, एनाल्‍जेसिक और एंटी-बैक्‍ट‍ीरियल गुणों के कारण लौंग दर्द को कम करने और कैविटी को फैलने से रोकता है। समस्‍या होने पर 1/4 चम्‍मच तिल के तेल में 2 से 3 बूंदें लौंग के तेल की मिलाकर लें। इस मिश्रण को रात को सोने से पहले कॉटन बॉल में लेकर प्रभावित दांत में लगाये।   

दाग धब्बों को खुरचने से बचें: खुरचना आपकी त्वचा को ठीक करने की बजाए और ज्यादा खराब कर सकती है | आपके हाथों के बैक्टीरिया खुरचे हुए मुँहासों में मिलकर, आपकी त्वचा को संक्रमित करके सूजा सकती है | इसलिए, हमेशा खुरचने से बचें |

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आप किसी पार्टी में जाने के लिए invited हों जहाँ तरह तरह के खाने-पीने की चीजों का इंतजाम हो… लेकिन इसी वक़्त कमबख्त मुंह के छालों ने आपको परेशान कर रखा हो? मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। 

Barf ke tukde थके आँखों को शांत करने का काम करता है | काम पर एक लंबा और थका देने वाला दिन होने के बाद, कुछ सुखदायक प्रभावों के लिए अपनी आंखों पर कुछ बर्फ के cubes रखें । यह आसान तरीका सिर्फ आपकी आंखों पर शीतलन प्रभाव नहीं देगा, बल्कि थकन आँखों को राहत भी दे सकता है । जब भी आप थके हुए है तो इस आसान सौंदर्य टिप को आज़माएं | Tips on eye care से जुडी जानकारी यहाँ पर पढ़े |

पुनरुज्जीवित करने वाले गुण होते है। यह फंगल संक्रमण वाले कीटाणुओं को मारता है, घावों और निशानों को भरता है, त्वचा को चिकना कर देता है और नरम बनाता है, और प्रभावित क्षेत्र में नई कोशिकाओं के विकास को प्रोत्साहित करता है।

चेहरे से कील मुंहासे, झुर्रियां और काले दाग धब्बे हटाने में चंदन एक उत्तम उपाय है। दूध और हल्दी पाउडर चंदन में मिला कर उबटन बना ले। इस उबटन को त्वचा पर लगाने से स्किन की जलन और कील मुंहासों का इलाज कर सकते है।

नींबू में मुहांसों से लड़ने के कुछ रासायनिक गुण मौजूद होते है| नींबू का सबसे बड़ा गुण आयल (चिकनाई) को खत्म करने का होता है क्योंकि इसके एसिड की रासायनिक संरचना क्षार या कसैला होती है| दूसरा नींबू एक नेचुरल एंटी बैक्टीरियल एंटीसेप्टिक है | कील मुहांसों के लिए नींबू का इस्तमाल सदियों से होता आ रहा है और आजकल काफी सारी कंपनिया नींबू युक्त प्रोडक्ट बाज़ार में उतार रही है जो पिम्पल्स के इलाज में काम आती है | इस पोस्ट में हम बतायेंगे की कैसे आप नींबू की मदद से  कील मुहासों से छुटकारा पाए|

बर्फ के क्यूब्स आपके गले पर बुरा प्रभाव दाल सकते हैं | यह आपके tonsils को प्रभावित करता है और ठंड और खांसी पैदा कर सकती है | tonsillitis से पीड़ित लोगों को वास्तव में बर्फ़ क्यूब्स से दूर रहना चाहिए | भले ही ice cube आपके गले को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं, लेकिन बर्फ के टुकड़े  लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती हैं | आप इससे फायदा प्राप्त करने के लिए अपने चहेर पर लागू कर सकते हैं | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं | अपने daily beauty regime में बर्फ के क्यूब्स को शामिल करना एक बहुत अच्छा विचार हो सकता है | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं जो की निम्नलिखित हैं |

Scientifically it happens when the dead skin cell and the oil secreted in skin pore club and clot in the pore and block it. This environment gives rise to bacteria which continue to reproduce and swell the area and cause redness. Various other causes like genetic problem, hormonal effect, dairy products, skincare products, forgetting to clean makeup,oily food, mental stress, etc. can also be the reason. To know more about reasons of pimples read causes of pimples and acne.

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

सोरायसिस आमतौर पर कर सकते हैं हो प्रतिष्ठित से अन्य रोगों द्वारा विशेष लक्षण psoriasis के लक्षण: लाल और गुलाबी रंग के धब्बे जो thickened है, शुष्क त्वचा। यह आमतौर पर घुटने, कोहनी और खोपड़ी को प्रभावित करती है। मूल रूप से अभिव्यक्ति हर जगह शरीर पर प्रकट कर सकते हैं। लेकिन अधिक बार यह आघात, पुनरावर्ती मलाई, abrasions के स्थान पर प्रकट होता है।

आंवला जैसी जड़ी-बूटी भी कैविटी के इलाज में मददगार होती है। इसमें भरपूर मात्रा में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और विटामिन सी के कारण यह बैक्‍टीरिया और संक्रमण से लड़ने में मदद करती है। यह संयोजी ऊतक के विकास को बढ़ावा देकर मसूड़ों के लिए बहुत लाभकारी होती है। इसके अलावा, यह मुंह को साफ करने और बदबूदार सांस से छुटकारा पाने में आपी मदद करता है। नियमित रूप से ताजा आंवला खाये। यह आधा गिलास पानी के साथ आधा चम्‍मच आंवला पाउडर नियमित रूप से लें।

सुरेश ने पुलिस को बताया कि उसने मारिया की हत्या 11 जनवरी को तकिया से मुंह दबा कर की थी। हत्या के बाद सुरेश ने मारिया की लाश रजाई में बांध कर बेड के बक्से में छिपा दी और अपने गांव भाग गया। सुरेश ने बताया कि उसने हत्या की योजना तब बनाई जब उसकी पहली पत्नी लता को मारिया के बारे में पता लगा। लता ने सुरेश से कहा कि वह मारिया को छोड़ दे। सुरेश भी मारिया से छुटकारा पाना चाहता था और उसने हत्या को अंजाम दिया।

नई द‍िल्‍ली : सर्दियों में मूली के पराठे, मूली की सब्‍जी, मूली का अचार और सलाद हर घर के भोजन का अहम हिस्‍सा हैं. हालांकि ज्‍यादातर लोग ऐसे हैं जो मूली की शक्‍ल देखकर ही मुंह बनाने लगते हैं. अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शामिल हैं तो आपके लिए मूली के फायदों को जानना बेहद जरूरी है. जी हां, मूली भले ही आपको मामूली सब्‍जी, लेकिन यह औषध‍िय गुणों से भरपूर है. अगर आप रोजाना इसे अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो कैंसर, डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर समेत कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे और आपकी लाइफस्‍टाइल हो जाएगी बेहद हेल्‍दी:

कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। सैर करना, तैरना या साइकिल चलाना सुरक्षित व्यायाम हैं। तैराकी जहां वजन तो कम करती वहीं यह कमर के लिए भी लाभकारी है। आपको बता दें कि साइकिल चलाते समय कमर सीधी रखनी चाहिए। व्यायाम करने से मांसपेशियों को ताकत मिलेगी तथा वजन भी नहीं बढ़ेगा।

घर सौंदर्य ट्रिक्स यह अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम यूरोपीय संघ में एक भागीदार है, एक विज्ञापन कार्यक्रम सहबद्ध वेबसाइटों विज्ञापन और Amazon.es के लिए लिंक के लिए कमीशन प्राप्त करने के लिए एक साधन प्रदान करने के लिए बनाया.

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

मुझे कील – मुंहासो से सबसे ज्यादा राहत नींबू के रस से ही मिली थी. नींबू बड़ी आसानी से कम Price में बाजार में उपलब्ध हो जाता है. यह हमारे त्वचा को काफी सुन्दर बनाता है. आप नींबू को काटकर उसका रस अपने दाग या मुंहासो में लगा ले.

आजकल खुबसूरत दिखने की चाह में लोग बाजारों में बिकने वाले क्रीम और पाउडर का अधिक मात्रा में use करते है. यह आपके चेहरे को निखारने के बजाय उसको नुकसान पहुँचा देता है. अगर आप कॉस्मेटिक का उपयोग करते भी है तो कम मात्रा में करे.

हर्बल चाय पिएँ: गरम चाय खिजे हुए गले को आराम पहुँचाने और तनाव कम करने के लिए एक सामान्य सहायता है। अपने पसंदीदा हर्बल चाय के एक कप को शहद के साथ बनाएँ और धीरे धीरे पिएँ। गर्माहट आपके गले में बलगम को तोड़ने में मदद करेगी और पानी व शहद की नमी खिजी हुई अन्नप्रणाली (esophagus) को आराम देगी। अदरक, कैमोमाइल (chamomile) और नींबू की चाय बलगम से छुटकारा पाने के लिए विशेष रूप से उपयोगी हैं।

बहुत ही खूब सुरेंद्र जी, इस Post में आपने कील-मुहांसो के सभी कारणों की जानकारी दे दी और साथ ही साथ उनसे राहत पाने के लिए सबसे उपयोगी सभी घरेलू नुस्खों के बारे में भी बता दिया। बहुत से लोग chemicals का उपयोग करते है ,उन्हें लगता है कि तरह तरह की chemicals वाली creams और lotions use करके उन्हें इससे छुटकारा मिल जाएगा ,छुटकारा तो उन्हें मिल जाता है, मगर जो उनकी skin को नुकसान होता है उसके बारे में वह कभी सोचते भी नहीं न ही उन्हें जानकारी होती है। आपने सभी घरेलू नुस्खे बताये है जोकि बहुत ही फायदेमंद है और skin की natural glow को बनाये रखते है। इतनी उपयोगी जानकारी के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

मुंह की बदबू हटाने में खट्टे फल सबसे अधिक कारगर होते हैं। बता दें कि संतरा, नींबू, आंवला, अंगूर जैसे फलों में विटामिन सी की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है। इनका सेवन करने से मुंह की बदबू से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है।

हल्दी में मौजूद एन्टीसेप्टिक और एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण छालों को न सिर्फ ठीक करते हैं बल्कि यह गुण छालों को दुबारा होने से भी रोकते हैं। हल्दी पाउडर में कुछ बूंद पानी मिलकर पेस्ट तैयार  कर ले और अब इस पेस्ट को छालों पर लगायें, इससे दर्द से तुरन्त राहत मिल जाएगा।

“कैसे एक दिन में एक zit से छुटकारा पाने के लिए +कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए”

Home Remedy (Gharelu Nuskhe) for Pimple Marks (Acne Scars) on Face in Hindi. Muhase ke nishan se chutkara pane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay in Hindi. Muhase ke daag hatane ke upay in Hindi. Chehre (face) ke daag dhabbe hatane ke upay in Hindi. Kale daag mitane ke upay in Hindi.

अच्छी क्वालिटी के च्युंगम चबायें: जैसा कि पिछले चरण में उल्लेख किया है, कोई भी च्युंगम दुर्गंध हटाने में मदद करता है क्यूंकि चबाने के कार्य से लार का उत्पादन अधिक होता है। हालांकि, कुछ गम दूसरों की तुलना में बुरी सांस से लड़ने की बेहतर क्षमता रखते हैं:

रेटिनॉइड स्किन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें: रेटिनॉइड्स, विटामिन ए के डेरीवेटिव हैं जिसे कई प्रकार के त्वचा देखभाल पदार्थो (जो झुर्रियां, त्वचा के धब्बे, और मुँहासे का इलाज करती हैं) में इस्तेमाल किया जाता हैं। रेटिनॉइड्स, कोलेजन उत्पादन को बढ़ाता हैं और कोशिकाओं को तेज करता हैं, जो कील मुँहासो से लड़ने के लिए सर्वोत्तम विकल्प हैं। यह क्रीम थोड़ी महंगी हो सकती हैं लेकिन जल्द और अच्छे नतीजे पाने के लिए, त्वचा विशेषज्ञ इन्हें उपयोग करने की सलाह देते हैं |

TAGS : #pimples hatane ke tarike #pimple hatane ke upay #gharelu nuskhe in hindi for face pimples #muhase ke daag hatane ke upay #pimple ke gharelu nuskhe #keel muhase treatment in hindi #pimples problem solution in hindi #muhase hatane ke upay #pimples hatane ka tarika #pimple hatane ke gharelu upay #kil muhase ka gharelu upay #pimples ke daag hatane ke gharelu upay

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

एंटी बैक्‍टीरियल के साथ-साथ एंटीबायोटिग गुणों से समृद्ध होने के कारण, लहसुन दांतों के टूटने और कैविटी की समस्‍या को दूर करने में मदद करता है। यह दर्द से राहत देने और स्‍वस्‍थ मसूड़ों और दांतों के लिए भी अच्‍छा होता है। 3 से 4 लहसुन की कली को कुचलकर और 1/4 चम्‍मच सेंधा नमक मिलाकर पेस्ट बना लें। फिर इसे संक्रमित दांत पर लगाकर 10 के लिए छोड़ दें। कैविटी को कम करने के लिए इस उपाय को कुछ दिनों के लिए दिन में दो बार करें।  

पिम्पल्स को मेडिकली मुँहासे  कहा जाता हैं. आजकल पिम्पल्स(Pimples)  होना एक आम समस्या हो गयी हैं. पिम्पल्स(Pimples) पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करता है और ये किसी भी उम्र में हो सकता है, और पिम्पल्स(Pimples)  कोई चेतावनी देकर नहीं आता कभी भी हो सकता हैं.

यह आपको जमे हुए फैट से लड़ने, सेल्युलाईट और खिंचाव के निशान हटाकर त्वचा के टिश्यू फर्म बनाने में सहायता कर सकता है। आपको सिर्फ विक्स वेपोरब, कपूर, बेकिंग सोडा और थोड़े से अल्कोहल के साथ एक क्रीम तैयार करने की ज़रूरत है। समस्याग्रस्त क्षेत्रों में परिणामस्वरूप क्रीम लगाएं और काले प्लास्टिक या एक क्लैंपिंग स्ट्रिप के साथ कवर करें। यह आप घर पर, ऑफिस में या व्यायाम करने से पहले कर सकते हैं।

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी तरह से सफाई कर देंगे।[४]

आज का दौर खुद को दूसरो से बेहतर साबित करने का दौर है. हर किसी की चाह अपनी अलग पहचान बनाने की है. लेकिन जब किसी भी Person के Face पर pimples हो जाते है तो यह उसके Confidence को बहुत Low कर देता है. उसके मन में खुद के लिए हीन – भावना आने लगती है. वह व्यक्ति लोगो से मिलने में कतराने लगता है.

Muje kafi time se pimple aa rahe hai aur maine sb try kr liya hai bt kuch farak nahi ho raha hai pahele too muje pime normal hote the bt ab jabhi pimple aate hai too vo jagh pe muje sujan aur bahut hi pain hota hai jiski vajh seuje full day sir dukhta hai pls muje iska reason bataye aur kya main isle ilaj ke liye homeopathy ka treatment lu ki ayuervedic

इंटरनेट डेस्क। खूबसूरत दिखना किसे अच्छा नहीं लगता। हर लड़की की चाहत होती है कि उनकी साफ और दमकती त्वचा रहे है लेकिन चेहरे पर होने वाले पिम्पल्स आजकल होना आम बात हो गई इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत सारे तरीको को अपनाती हैकई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती है। लेकिन ये उपाय कुछ देर तक ही प्रभावी रह पाते हैं।

कील मुंहासे हाथ से फोड़ने पर इसके दाग धब्बे त्वचा पर रह जाते है। पिम्पल्स के दाग और निशान हटाने के लिए पुदीने को पीस कर एक पेस्ट बना ले और चेहरे पर लगाए। एक महीने तक इस उपाय को करने से चेहरा सुंदर और साफ़ होता है।

उन मामलों में जहां चेहरे पर चकत्ते का कारण होता हैबाह्य कारकों के प्रभाव से, सौंदर्य प्रसाधन चिकित्सक, चेहरे पर मुँहासे के लिए एक उपाय का चयन करता है, जिससे त्वचा के प्रकार और विशेषताओं को ध्यान में रखता है। इसके समानांतर, त्वचा की देखभाल की रणनीति परिभाषित की जाती है, और वातावरण की नकारात्मक प्रभाव से चेहरे की त्वचा की रक्षा के लिए तैयारी भी निर्धारित की जाती है।

शहद इस्तेमाल करें: शहद से ना सिर्फ मुँहासे साफ़ होंगे बल्कि जो लाल दाग पीछे रह जाते हैं, वे भी साफ़ हो जाएंगे | शहद में मौजूदा एंटी-बैक्टीरियल गुण से त्वचा कोमल और सूजन मुक्त बनेगी | किसी भी क्यू-टिप से इसे सीधे निशानों पर लगाया जा सकता है |

दोस्तों पिम्पल्स हटाने के तरीके, Home remedies tips to remove Pimples (Acne) in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास कील मुंहासे का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

मुंह की दुर्गंध (Mouth Smell) की समस्या अक्सर दूसरों के सामने शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। जिसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे ब्रेकफास्ट न करना, मुंह की सफाई न करना, खराब डाइजेशन (Digestion Problem ) और सलाइवा की कमी जैसी कई समस्याएं होती हैं। इसे खान-पान में सुधार करके काफी हद तक कम किया जा सकता है|

सेल्‍युलाइट से ज्यादातर महिलाओं को भय होता है। यह 80% से अधिक महिलाओं को प्रभावित करता है। फैट के शरीर पर जमाव को सेल्‍युलाइट कहते हैं, जिससे त्‍वचा असमान हो जाती है। सेल्युलाइट ज्यादातर थाईज, पेट और हिप्स में पाया जाता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं को आम तौर पर सेल्‍युलाइट होने का खतरा अधिक होता है। हालांकि इसके लिए कोई निश्चित कारण नहीं है। सेल्‍युलाइट के कई कारण हो सकते हैं जैसे आहार, हार्मोन परिवर्तन, निर्जलीकरण, धीमी चयापचय दर, कुल शरीर की चर्बी और शारीरिक गतिविधि में कमी आदि। यहां तक कि अधिक तनाव भी सेल्‍युलाइट का कारण बन सकता है। महंगी सर्जरी के बजाय आप कुछ घरेलू तरीकों के द्वारा सेल्‍युलाइट से छुटकारा पा सकते हैं। आइए प्राकृतिक रूप से सेल्‍युलाइट को कम करने के उपायों के बारे में जानें :-

चेहरे पर पंप हमेशा मनोवैज्ञानिक कारण होते हैंअसुविधा, और कठिन संक्रमण वर्षों में कई परिसरों का कारण हो सकता है और कोई नींव या पाउडर इस समस्या को हल करने में मदद कर सकता है। इतना कैसे अपने चेहरे पर pimples से छुटकारा पाने के लिए? सबसे पहले, यह समझना चाहिए कि कोई भीत्वचा पर चकत्ते सिर्फ एक कॉस्मेटिक समस्या नहीं हैं एक अनुभवी त्वचाविद् या कॉस्मेटोलॉजिस्ट के साथ परामर्श करने से चेहरे पर मुँहासे के उपचार के उपाय और विधि के चयन के लिए समय कम हो जाएगा। इसके अलावा विशेषज्ञ सलाह देंगे कि क्या चिकित्सक को पता करने के लिए आवश्यक है, कि वह परिभाषित करें, चेहरे पर क्यों मौजूद हैं।

Garlic  has strong antibacterial properties and fights pimple very soon. Crush two to three cloves of garlic and mix with water. Once it forms a paste like structure apply gently on the skin. After drying wash it off. Follow with face wash as the smell is very strong of garlic.

6 नींबू का रस पिंपल भगाने में सबसे कारगर उपाय है। इसके रस से अपने चेहरे की 10-15 मिनट तक मालिश करने से राहत मिलेगी। हां, अगर इसके प्रयोग से आपकी स्‍किन में जलन महसूस हो रही हो तो इसको डाइरेक्‍त ना इस्‍तमाल करें। तब इसको पानी या चंदन पाऊडर में मिला कर लगाएं।

Sir mere face pimpals ho gaye hai aur kali si keel ho jati hai aur funsi jesi ho jati hai please help me aur sir agar ham garmi ke mosam me haldi lagae to koi nuksan to nahi hoga kyo haldi garm hoti hai

कैमोमाइल फूलों का एक बड़ा चमचा भरेंउबलते पानी का एक गिलास और 5 मिनट के लिए उबाल लें या इसे पानी के नहाने पर खड़े रहें। 40 मिनट के बाद, तनाव, जलसेक प्राप्त हुआ, सुबह में और बिस्तर पर जाने से पहले चेहरे को पोंछते हैं। कैमोमाइल लिंडन फूलों के साथ मिश्रण कर सकते हैं

सेब के सिरके में महान स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह त्वचा के लिए भी अच्छा होता है। सेल्युलाईट से प्रभावित क्षेत्रों पर सेब के सिरके का उपयोग करने से त्वचा में फंसे विषाक्त पदार्थों को निकाला जा सकता है। यह सूजन को कम करने में भी मदद करता है। त्वचा में इसके प्रयोग से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। सेब के सिरके में पानी की बराबर मात्रा मिलाकर त्वचा पर लगा सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, यह शहद या पानी के साथ मौखिक रूप से भी लिया जा सकता है। यह वजन घटाने और सेल्युलाईट को कम करने में मदद करता है। 

Aditya, Pimple hone par aapko unhe chhuna nahi chhaiye, kitna chhedchad karoge utna hi daag hone ki sambhavna badhegi. Oily face par pimple jyada hote hain, isse bachne ke liye chehre ko baar baar dhote rahe aur uper likhe gharelu nuskhe kare.

जब लोक उपचार के चेहरे पर मुँहासे का इलाज करते हैंप्रयोग करने और संदिग्ध व्यंजनों का प्रयोग न करें इसके अलावा, सुनिश्चित करें कि उत्पाद आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त है। उपयोग की अनुशंसित विधि का पालन करें, अन्यथा, मुँहासे ठीक होने पर, आप एक क्षतिग्रस्त त्वचा के साथ शेष जोखिम उठा सकते हैं।

यह सबसे आसान तरीका है जिससे हमारे शरीर को थकान से छुटकारा मिलता है। टूटते बालों के पीछे का सबसे प्रमुख कारण थकान है। इस आसन को करने से मासिक धर्म में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है। इससे पाचन तंत्र भी सही रहता है।

वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच मेथी के बीज को पीसें और उसका पाउडर बनाएं और एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा सा गर्म पानी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाएं। 20 मिनट या रात भर लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें, यह सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।

वज्रासन को डायमंड पोज के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को आप खाना खाने के बाद भी कर सकती हैं। ऐसा नहीं है कि खाना खाने के बाद इसे करने से आपको किसी तरह का कोई नुकसान होगा । यह आसन उनके लिए काफी फायदेमंद होता है जो कि अपना वजन कम करना चाहते हैं। इतना ही नहीं इस आसन को करने से सूजन से भी छुटकारा मिलता है, साथ ही पाचन संबंधित परेशानियों से बालों का झड़ना भी बढ़ जाता है।

जड़ीबूटी और मसालों का इस्तेमाल करें: अजवाइन को कच्चा खाने से आपका मुंह और दांत साफ़ रहते हैं, और इससे आपकी सांस दुर्गंध भी दूर हो जाती है। इलायची, छिलकों के साथ या पिसी हुई खाने से आपकी सांस को ताजा रखने में मदद मिलती है। मसालेदार भोजन के बाद सौंफ को चबाएं, या इन्हें पीस कर टूथब्रश पर छिड़कर ब्रश करें।[१३]

सेब मृत त्वचा को हटाने का काम करता है। साथ ही उसमें एंटीसेप्टिक, त्वचा में कसाव लाने वाले और मुलायम बनाने के गुण भी होते हैं, जो त्वचा का तेल कम करने के लिए उसे एक बेहतरीन घरेलू उपाय बनाते हैं। सेब में मौजूद मैलिक एसिड (Malic acid), मृत त्वचा कोशिकाओं और त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में मदद करता है। (और पढ़ें – सेब के फायदे)

Muhase (pimples) hatane ke gharelu upay (Home remedies) in hindi आज कल लड़का हो या लड़की सभी अपने चेहरे पर होने वाले मुहांसों से परेशान  रहते हैं और जिसके लिए डॉक्टर्स को दिखाते हैं और महंगे- महंगे ट्रीटमेंट करवाते हैं कई बार इन ट्रीटमेंट्स के गलत परिणाम भी भुगतने पड़ते हैं . जिससे रोग कम नहीं होता बल्कि अन्य गलत परिणाम सामने आ जाते हैं . इसलिए  मुहांसे की परेशानी से निजात पाने के लिए मुँहासे हटाने के लिए घरेलु उपाय करें .

“रात भर मुँहासे के लिए घरेलू उपचार _मुँहासे के खून से छुटकारा”

जड़ीबूटी और मसालों का इस्तेमाल करें: अजवाइन को कच्चा खाने से आपका मुंह और दांत साफ़ रहते हैं, और इससे आपकी सांस दुर्गंध भी दूर हो जाती है। इलायची, छिलकों के साथ या पिसी हुई खाने से आपकी सांस को ताजा रखने में मदद मिलती है। मसालेदार भोजन के बाद सौंफ को चबाएं, या इन्हें पीस कर टूथब्रश पर छिड़कर ब्रश करें।[१३]

5: 1 के अनुपात में जल के साथ ओर्गनिक बेकिंग सोडा मिक्स करें। यह एक गाढ़े पेस्ट के रूप में होना चाहिए। इस पेस्ट को मुँहासो के निशानों पर लगा कर रखें, जब तक यह पेस्ट सूख नहीं जाता है। उसके बाद इस पेस्ट को गुनगुने पानी से धो लें। इसे सप्ताह में तीन बार दोहराएँ जब तक आपको परिणाम ना दिख जाए।

जवानी की देहलीज़ पर कदम रखते ही पिंपल्स याने मुहासे प्रकट होते है| इस के पीछे मुख्या कारण है की शरीर में होरमोन्स का निर्माण होने लगता है और इस के कारण त्वचा में तेल उत्पन्न होने लगता है जो मेल के साथ मिल के छिद्र को बंद कर देते है| परिणाम यह होता है की छिद्र के अन्दर बैक्टीरिया का फैलाव होता है और त्वचा पर मुहासे निकल आते है|

मुलैठी त्वचा से मेलेनिन दूर करने की अपनी खूबी की वजह से जानी जाती है। मुलैठी की जडें किसी भी काले धब्बे को दूर करने में काफी कारगर साबित होती हैं। मुलैठी की जड़ों का एक पेस्ट तैयार करें और इसमें शहद की कुछ बूँदें मिश्रित करें। इस पेस्ट को चेहरे के काले धब्बों पर लगाएं और 15 मिनट रखने के बाद पानी से धो लें। रोजाना इस विधि का प्रयोग करने पर आपको 1 से 2 हफ़्तों में अच्छे परिणाम मिलने शुरू हो जाएंगे। चेहरे पर मुलैठी का प्रयोग करने से पहले एक पैच टेस्ट (patch test) करवा लें।

पिम्पल्स हटाने के तरीके इन हिंदी: गोरे चेहरे पर कोई दाग धब्बा या निशान पड़ जाए तो चेहरे की सुंदरता फीकी पड़ने लगती है। चेहरे पर कील मुंहासे (acne) निकलना आजकल आम हो गया है। ऑयली स्किन पर पिम्पल्स निकलने की समस्या अधिक होती है। पिम्पल को अगर हाथ से फोड़ दे तो पिम्पल्स के दाग चेहरे पर रह जाते है। अक्सर कील मुंहासों के ज़रिए शरीर की गर्मी बाहर निकलती है जो खाने पिने की गलत आदतों से हो जाती है। अगर त्वचा को पोषण देने वाली चीज़े खाए और तले हुए फुड से दूर रहे तो बार बार पिम्पल का निकलना रोक सकते है। हरी सब्जियां, फल और पानी त्वचा को स्वस्थ रखने का उत्तम उपाय है। आज इस लेख में पिम्पल्स कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे जानेंगे, natural home remedies tips to remove pimples in hindi.

Rat ko sone se pahle kacche dudh ke sath jayfal ko ghise or isk alep tayaar kar le, or is lep ko chehre par laga kar so jaye. Subh chehra saaf pani se dho dey. Kuch din aisa lgatar karne se chehre par hone wale muhaso se chutkara milta hai.

अगर आपके मुंह से हमेशा बदबू आती रहती है तो आप इलायची का ज्यादा इस्तेमाल करें। इलायची मुंह की बदबू हटाने में सबसे कारगर साबित होती है और इलायची व पुदीनायुक्त पान चबाने से भी मुंह की बदबू से निजात मिलती है।

यह सभी सोरायसिस से पीड़ित रोगियों का 80% के साथ सबसे बड़े पैमाने पर छालरोग के प्रकार है। यह चांदी सफेद रंग के पैमाने और लाल रंग की सूजन पैच द्वारा प्रतिष्ठित है। घुटने, कोहनी, पीठ के निचले हिस्से पर एक यह खोज कर सकते हैं, और खोपड़ी, लेकिन यह कहीं भी हो सकते हैं।

कील मुंहासे का इलाज, जई सिर्फ़ सर्वोत्तम आहार के रूप मे ही नही बल्कि औषधि के रूप मे भी उपयोग होता है जो की चेहरे के दाग, धब्बे , मुहासे ठीक करता है। मुहासे की दवा, काले दाग (black spot), धब्बे और मुहासे के निशान से छुटकारा पाने के लिए चेहरे पर ज़ई के आटे का मुखौटा(मास्क) लगाए। ज़ई के आटे मे नीबू का रस मिलाए और गाढ़ा घोल बना कर मास्क की तरह चेहरे पर लगाए और कुछ देर तक मले फिर गर्म पानी से धो ले। तुरंत आराम के लिए इस विधि का उपयोग हफ्ते मे दो बार करे।

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

ऑयल पुलिंग बहुत ही पुराना नुस्‍खा है जो कैविटी को कम करने के साथ-साथ मसूढ़ों से खून बहना और सांस की बदबू को भी दूर करता है। साथ ही यह दंत समस्याओं के विभिन्न प्रकारों के लिए जिम्मेदार हानिकारक बैक्‍टीरिया को मुंह से साफ करने में मदद करता है। इसके लिए तिल के तेल की एक चम्‍मच को मुंह में रखें। फिर इससे 20 मिनट तक मुंह में रखकर थूक दें। लेकिन इसे निगलने से बचें। फिर अपने मुंह को गुनगुने पानी से धो लें। रोगाणुरोधी लाभ पाने के लिए नमक के पानी का प्रयोग करें। फिर हमेशा की तरह अपने दांतों को ब्रश करें। इस उपाय को रोजाना सुबह खाली पेट करें। यह उपाय सूरजमुखी या नारियल के तेल के साथ भी किया जा सकता है।

Bahut acche topic par post likhi hai aapne! aajkal pimples ki bahut jyada problem young generation me ho rahi hai….khubsurat banne ki chahat sabhi ko hoti hai…aapne jo upay bataye hain veh bahut kaam ke hain….dhanyabad!

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

पिम्पल्स ऑयली त्वचा पर अधिक निकलते है, पिम्पल्स हटाने के घरेलू नुस्खे आप ऊपर पढ़ सकते है और ऑयली स्किन के उपाय आप यहां पढ़े :: http://hindi.kyakyukaise.com/face-beauty-tips-oily-dry-skin-ka-ilaj-gharelu-upay-nuskhe/

अधिकतर लोगों को खुद भी नहीं मालूम होता की उनके मुँह से दुर्गन्ध आती है, ये जानने के लिए की आप की मुंह से सांस की बदबू आती है की नहीं, आप मुंह के आगे हाथ रखे और ज़ोर से साँस छोड़े और अपने हाथ को सूँघे, अब अगर हाथ से बदबू आये तो आपको मुंह से बदबू आने की समस्या है। मुंह और जीभ के छाले, मसूड़ो में इन्फेक्शन और बार बार मुंह में लार मुंह की बदबू के कुछ लक्षण है।

खीरा तो हम सभी लोग खाते है. लेकिन यह खीरा हमारी त्वचा को भी स्वस्थ बनाये रखता है. चेहरे में खीरे का use करने से हमारे चेहरे पर निखार आता है और हमारी त्वचा ग्लो करती है. आप खीरे के पेस्ट को अपने मुंहासो में प्रयोग करे और फायदा देखे.

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

अस्वीकरण पत्र- इस साइट पर सभी जानकारी और सामग्री केवल सूचना और शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए हैं। इस जानकारी को किसी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी की चिकित्सा के निदान और उपचार दोनों के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। हमेशा बीमारी के निदान और उपचार के लिए एक योग्य चिकित्सक की सलाह लीजिये।

गुलाब जल फेस क्लीन करने में काफ़ी उपयोगी है। गुलाब जल में काली मिर्च के दस से बारह दाने पीस कर मिलाये और रात को चेहरे पर लगा कर सुबह गुनगुने पानी से फेस धो ले। इस उपाय से स्किन पर निखार आता है और मुंहासे भी साफ़ होते है।

कॉफी एक बहुत अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है। यह ब्लड सर्कुलेशन को उचित रखने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है। यह सेल्‍युलाइट को कम करने में मदद करता है। आप नारियल तेल और कॉफी पाउडर को मिलाकर, कॉफी स्क्रब बनाएँ और इसे अपनी जांघों और नितंबों पर लगाएँ। इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें। इसके अलावा, कॉफी के बीज का पाउडर बनाकर उसे अपने बॉडी लोशन में मिलाएं और त्वचा पर 5 मिनट तक इसे लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इस उपाय को हफ्ते में दो बार करें।

नीम भी कैविटी के इलाज के लिए एक अन्‍य लोकप्रिय उपाय है। इसकी एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍ट‍ीरिया के कारण होने वाली कैविटी को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा यह दांतों और मसूड़ों को स्‍वस्‍थ और मजबूत बनाने में भी मदद करता है। दांतों और मसूड़ों पर नीम के पत्तों के रस रगड़ें, कुछ मिनट के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें। इस उपाय को दिन में एक या दो बार करें। इसके अलावा आप नीम की स्टिक का इस्‍तेमाल दांतों में ब्रश करने के लिए भी कर सकते हैं।

सेब- सेब को काटकर खाने से मुंह में लार का स्राव तेजी से होता है। इससेमुंह की सफाई हो जाती है, सारे जिवाणु निकल जाते हैं। फिर सांसों में बदबू पैदा नहीं होती। पानी-शरीर में पानी की कमी न होने दें। पानी की कमी हो तो लिक्विड ज्यादा मात्रा में लें। मुंह में थोड़ा पानी लेकर हल्के-हल्के कुल्ला करें। खड़े गरम मसालों में शुमार दालचीनी की चाय पीने से मुंह से आने वाली बदबू से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

यह सबसे आसान तरीका है जिससे हमारे शरीर को थकान से छुटकारा मिलता है। टूटते बालों के पीछे का सबसे प्रमुख कारण थकान है। इस आसन को करने से मासिक धर्म में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है। इससे पाचन तंत्र भी सही रहता है।

“मुँहासे कीलॉइडलिस नूचिया से छुटकारा पाएं +मुँहासे नियंत्रण”

अब आपको भी अपने Pimple और Acne हटाने के लिए थोड़ा Serious हो जाना चाहिए और इन्हें हटाने के लिए गंभीरता से सोचना चाहिए. अपने कील – मुंहासो को दूर करने के लिए आप ऊपर बताये गये, सभी टिप्स और उपायों को अपनी दिनचर्या में शामिल करे.

यह सोचा है कि सोरायसिस ठीक नहीं किया जा सकता है और त्वचा की यह स्थिति पुरानी है। जब आप छालरोग उपचार दवा लेने या समय-समय खराब अस्थिर होने के नाते, यह सुधार कर सकते हैं। समय पर सोरायसिस साल छूट अवस्था में रहने के लिए प्रकट नहीं होता है। सर्दियों की अवधि समय जबकि गर्मियों के महीनों, इसके विपरीत, धूप में घूमना – एक असली प्राकृतिक छालरोग उपचार के लिए धन्यवाद त्वचा में सुधार जब हालत, खराब कर सकते हैं हो सकता है।

Psoriatic गठिया अधिक दर्द का कारण बनता है और जोड़ों और त्वचा पर धब्बे दिखाई देते हैं। इस रोग में जोड़ों के आसपास सूजन त्वचा द्वारा लक्षण वर्णन किया जा कर सकते हैं। अनुमान के अनुसार लगभग एक मिलियन वयस्कों से पीड़ित हैं। सूजन, जोड़ों का दर्द बढ़ रही, तराजू, लालिमा, त्वचा के घावों psoriatic गठिया के दौरान गौर कर रहे हैं।

ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड का उपयोग करें: ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड कई त्वचा उत्पादनों में पाए गए हैं, जैसे कि क्रीम, मलहम, और स्क्रब | ये त्वचा के धब्बों को पूरी तरह हटाने से पहले, त्वचा की परत को निकालकर, हाइपरपिगमेंट को बाहर लाती है |[७]

मेरी उम्र 25 साल की है पीईचले दो महीनो से अब मेरे चेहरे पर बहुत से दाने निकल रहे हैं मैं किया करूँ कोई जल्दी से कील मुहाँसो को मिटाने का आसान सा घरेलू तरीके और नुस्खे बताएँ जिससे मेरा चेहरा पहले की तरह सॉफ हो जाए|

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

में घर सौंदर्य ट्रिक्स हम पुरुषों और महिलाओं को जो एक अंत डाल के लिए चाहते में मदद करने के लिए चाहते हैं pimples उपलब्ध कराने के सरल व्यंजनों, आर्थिक और प्राकृतिक कि यह कुछ ही मिनटों में घर पर विकसित किया जा सकता.

हल्दी खाएँ: यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक आपके शरीर में बलगम बनाने वाले बैक्टीरिया को मारता है। आप जो कुछ भी पीते हैं उसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाएँ या इसे एक गिलास पानी के साथ पिएँ। प्रतिदिन इस पदार्थ के कुछ छोटे चम्मच आपको बहुत जल्दी बलगम-मुक्त कर देंगे।

#health solution #health tips #www.onlyinayurveda.com #crazy india #ayurveda for healthy life Health website health article health news Ghrelu Nuskhe health remedy #how to cure health problems solution in ayurveda desi nuskhe #how to get rid from health problems solution in ayurveda top news ayurvedic medicine #astronomy ayurved tips news #how to cure health problems solution with home remedy only in ayurveda ayurveda health tips health solution with home remedy #vastu tips for wealth creation #vastu tips for money home remedies

यह सभी सोरायसिस से पीड़ित रोगियों का 80% के साथ सबसे बड़े पैमाने पर छालरोग के प्रकार है। यह चांदी सफेद रंग के पैमाने और लाल रंग की सूजन पैच द्वारा प्रतिष्ठित है। घुटने, कोहनी, पीठ के निचले हिस्से पर एक यह खोज कर सकते हैं, और खोपड़ी, लेकिन यह कहीं भी हो सकते हैं।

तला हुआ खाना न खाएँ: बहुत ज़्यादा चिकना तला हुआ खाना आपके शरीर को बलगम तोड़ने में दिक्कत देता है जिससे आपका बलगम को सहने का समय बढ़ जाता है। इससे बचने के लिए कुछ भी तला हुआ या बहुत सारे तेल में बना हुआ न खाएँ।

यह आपके चेहरे पर कोई गलत परिणाम नहीं देते . मुहाँसे के लिए मेडिकल इलाज लेने से पहले हमेशा ही घरेलु इलाज लेना चाहिए क्यूंकि मेडिकल इलाज से चेहरे की प्राकृतिक सुन्दरता चली जाती हैं और चेहरा बेजान हो जाता हैं .अपने चेहरे से मुहाँसे हटाने के लिए पहले साधारण घरेलु इलाज करे जिससे चेहरे में और अधिक निखार आता हैं .

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

यहाँ पर शायद कुछ चीज़ें कूल्हों (buttocks) पर मुँहासे (acne) होने की बजाय ज्यादा शर्मनाक है- मुख्यतः जब गर्मियाँ आती हैं और बिकनी (bikinis) बाहर निकलती हैं। खुद को बीच कवर-अप (beach cover-ups ) के पीछे छिपने से रोकें तथा अपने कूल्हों पर होने वाले मुँहासों की परेशानी का समाधान खोजें। नीचे दिए गए उपचारों को आजमायें और देखें कि आपके लिए कौन-सा उपयोगी है। हर किसी की त्वचा अलग होती है, इसलिए हतोत्साहित न हों। यदि कोई विशेष उपचार आपके मुँहासों का इलाज नहीं कर पाता, तो एक अलग कोशिश करें।

ऊपर दी गई सामग्री को मिलाकर पेस्ट तैयार करें और इस पेस्ट को मस्से के ऊपर लगाते हुए इसे कपड़े से कवर कर लें। कुछ घंटों तक पट्टी लगे रहने के बाद दोबारा इस प्रक्रियां को दोहराते हुए दूसरी पट्टी का उपयोग करें। इसी प्रक्रिया को इसी तरह से दोहराने से आपको जल्द ही अच्छे परिणाम प्राप्त हो जाएंगे। जल्दी परिणाम प्राप्त करने के लिए इसे आप दिन में दो बार करें।

किसी भी प्रकार का दाद हो, उस पर सुबह उठकर बिना मुहं धोये मुहं की लार लगाने से पुराने से पुराना दाद भी ठीक हो जाता है। साथ ही एक्जिमा, अन्‍य फोड़े-फुन्‍सी, मुंहासे ठीक करने में भी सुबह की लार का उपयोग किया जाता है। शरीर में होने वाले फोड़े-फुन्सियों या घाव के पश्‍चात जो दाग शेष रह जाते है उनको दूर करने में भी सुबह की लार बहुत काम आती है। शरीर में कही कट छिल गया हो, अथवा कोई घाव हो गया हो तो भी उसके लिए सुबह की लार बहुत फायदा करती है।

कई व्यक्तियों को देखे तो चेहरा पूरा पिम्पल्स और एक्ने से भरा हुआ होता है| उनको ख़ास सावधानी रखनी चाहिए की पिम्पल्स को ऊँगली या नाखून से न दबाये और न ही छेड़े| सवेरे और रात को ऊपर बताए गए नुस्खे, और ख़ास कर के भाप का प्रयोग करे|

कॉफी एक बहुत अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है। यह ब्लड सर्कुलेशन को उचित रखने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है। यह सेल्‍युलाइट को कम करने में मदद करता है। आप नारियल तेल और कॉफी पाउडर को मिलाकर, कॉफी स्क्रब बनाएँ और इसे अपनी जांघों और नितंबों पर लगाएँ। इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें। इसके अलावा, कॉफी के बीज का पाउडर बनाकर उसे अपने बॉडी लोशन में मिलाएं और त्वचा पर 5 मिनट तक इसे लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इस उपाय को हफ्ते में दो बार करें।

नीम भी कैविटी के इलाज के लिए एक अन्‍य लोकप्रिय उपाय है। इसकी एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍ट‍ीरिया के कारण होने वाली कैविटी को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा यह दांतों और मसूड़ों को स्‍वस्‍थ और मजबूत बनाने में भी मदद करता है। दांतों और मसूड़ों पर नीम के पत्तों के रस रगड़ें, कुछ मिनट के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें। इस उपाय को दिन में एक या दो बार करें। इसके अलावा आप नीम की स्टिक का इस्‍तेमाल दांतों में करने के लिए भी कर सकते हैं।

इन उपायों को जब आप अपनाते है तो अपना धैर्य बनाये रखे क्योंकि आयुर्वेदिक तरीके अपना असर धीरे – धीरे करते है. अगर आप लगातार यह करते रहोगे तो आपको भी दाग – धब्बो से छुटकारा मिल जायेगा और चेहरे में निखार आने लगेगा.

अपने मुँह को नम रखें: शुष्क मुँह बदबूदार मुँह होता है। यही कारण है कि आपकी सांस सुबह और भी बदतर हो जाती है सोते समय आपका मुँह कम लार पैदा करता है। आपके मुँह में लार मुँह की दुर्गंध के लिए दुश्मन का काम करती है क्यूंकि ये ना केवल बैक्टीरिया और अन्ना कणों को धोती है बल्कि यह एक एंटीसेप्टिक है और जीवाणुओं को मारने वाला एंजाइम का काम करती है।[४]

यदि आप अपने चेहरे पर कपूर के अंदर नींबू रस , हल्दी पाउडर , और 2,3, चम्मच बेसन मिला कर लगते है. तो इससे आपके मुह से मुहासे और झुरिया साफ हो जाती है और यदि बेसन को लस्सी या दही में मिला कर फेस पर लगाने से भी झाइयां और कील मुँहासे दूर हो जाते है.

चेहरे पर पंप हमेशा मनोवैज्ञानिक कारण होते हैंअसुविधा, और कठिन संक्रमण वर्षों में कई परिसरों का कारण हो सकता है और कोई नींव या पाउडर इस समस्या को हल करने में मदद कर सकता है। इतना कैसे अपने चेहरे पर pimples से छुटकारा पाने के लिए? सबसे पहले, यह समझना चाहिए कि कोई भीत्वचा पर चकत्ते सिर्फ एक कॉस्मेटिक समस्या नहीं हैं एक अनुभवी त्वचाविद् या कॉस्मेटोलॉजिस्ट के साथ परामर्श करने से चेहरे पर मुँहासे के उपचार के उपाय और विधि के चयन के लिए समय कम हो जाएगा। इसके अलावा विशेषज्ञ सलाह देंगे कि क्या चिकित्सक को पता करने के लिए आवश्यक है, कि वह परिभाषित करें, चेहरे पर क्यों मौजूद हैं।

नई दिल्‍ली : सांसों की दुर्गन्ध और मुंह की बदबू एक ऐसी समस्‍या है, जो कई लोगों  में पाई जाती है। आपके मित्र, सहकर्मी और अन्‍य आपके पास बैठने से कतराते हैं। मुंह से आती दुर्गन्ध और सांस की बदबू (हैलाटोसिस) अक्सर मुंह में मौजूद एक बैक्टेरिया से होती है। इस बैक्टेरिया से निकलने वाले ‘सल्फर कम्पाउंड’ की वजह से सांस की बदबू पैदा होती है। कई बार तो लोग इस समस्या से अंजान होते हैं। इस बदबू के कई कारण होते हैं, जैसे-गंदे दांत, पाचन की समस्या और धूम्रपान। कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर इस समस्‍या से छुटकारा पाया जा सकता है।

Neem is the king of all antiinflammation and antibacterial herbs. For its usage you can make a paste of neem leaves powder, multani mitti(Fuller’s Earth) and rose water and mix it thoroughly. All the ingredients have their own benefits, but their mixture works superficially. Apply this paste on to the pimple and leave it till it dries. Clean it off with cotton gently. You will feel a reduced size of pimple.This is one of the most effective methods.

Mere face par pimples se bahut sare khddhe ho gaye hai jiske karn face bahut bhada dikhai de raha please khddhe bharne ka ghrelu ilaj ya koi aauderdik cream bataye our winter men face fat kar kala ho raha hai please iska bhi ilaj bataye

दालचीनी के बहुत सारे लाभ तो हैं परंतु आपको बताई गई कुछ सावधानियों को भी नहीं भूलना चाहिए। अतः इसके उपभोग से पहले इसके लाभ-हानि को अच्छे से समझ लें और इसका सेवन उच्च मात्रा में ना ही करें तो अच्छा होगा।

Home remedies for acne on face: Almost everyone, in the age of puberty and adolescence, encounters pimples. This age is more prone to pimples because this is the growth age, where body undergoes so many physical, biological and hormonal changes. Pimple is a kind of skin inflammation in which a red swollen structure or lesion full of puss forms on the skin and irritates the  area by causing itching and pain.

दलिया तेल, गंदगी और अन्य टॉक्सिन्स को बाहर निकल देता है। शहद में जीवाणुरोधी गुण होता है जो बैक्टीरिया से मुकाबला करता है और एक्ने (acne) बनाने के कारण को रोकती है और इसका ठंडक देने वाला गुण प्रभावित क्षेत्र को ठीक करने में मदद करता है और लाली और सूजन को रोकता है।

घर के बने दलिये का फेशियल इस्तेमाल करें | 1 चमच्च दलिये को पानी में मिलाएं | इसे निचोड़कर इसके पानी को पूरे चेहरे पर 1 मिनट तक लगाएं | आँखों और होंठों पर ना लगाएं | पानी से चेहरा धोलें | यह तरीका कई लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ है |

जल्दी से कील मुहांसों से मुक्ति पाने के लिए सबसे पहले अपना पेट सॉफ रखें बाहर का खाना जैसे की जंक फूड तो बिल्कुल हि ना खाएँ प्रापर नींद लें तनाव मुक्त रहें चेहरे को धूल मिटी से बचाएँ हरी पतेदार सब्जी खाएँ साबुन का प्रयोग ना करें|

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

“कैसे मुँहासे स्पॉट से छुटकारा पाने के लिए नाक के नीचे मुँहासे से छुटकारा”

English: Get Rid of Bad Breath, Français: se débarrasser de sa mauvaise haleine, Italiano: Curare l’Alito Cattivo, Español: eliminar el mal aliento, Português: Se Livrar do Mau Hálito, Deutsch: Mundgeruch loswerden, Nederlands: Van een slechte adem afkomen, Русский: избавиться от запаха изо рта, 中文: 摆脱口臭, Čeština: Jak se zbavit páchnoucího dechu, Bahasa Indonesia: Mengatasi Napas Tak Sedap, ไทย: ดับกลิ่นปาก, العربية: التخلُّص من رائحة الفم الكريهة, Tiếng Việt: Đẩy lùi chứng Hôi miệng, 한국어: 심한 입 냄새 제거하는 법, 日本語: 口臭を消す

* बेकिंग सोडा : अगर आपके मुँह में छाला खट्टे पदार्थों के खाने से हुआ हो तो यह सबसे बेहतरीन उपाय है। एक कटोरे में थोड़ा सा बैंकिंग सोडा लें और उसमे थोड़ी सी पानी की मात्रा मिलाएं ज्यादा मोती पेस्ट भी नहीं बनाएं। इसके बाद इसे आप अपने छालों पर लगा लें। आप इसका उपयोग दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बैंकिंग सोडा को सीधे छालों पर लगा सकते हैं।

6 नींबू का रस पिंपल भगाने में सबसे कारगर उपाय है। इसके रस से अपने चेहरे की 10-15 मिनट तक मालिश करने से राहत मिलेगी। हां, अगर इसके प्रयोग से आपकी स्‍किन में जलन महसूस हो रही हो तो इसको डाइरेक्‍त ना इस्‍तमाल करें। तब इसको पानी या चंदन पाऊडर में मिला कर लगाएं।

ध्यान रखें, अपनी जीभ को भी अवश्य साफ करें, क्योंकि आप की जीभ पर काफी बैक्टीरिया जमा हुए होते हैं, जिसकी वजह से सांस में दुर्गन्ध हो सकती है। जीभ के ऊपर पीछे से आगे की तरफ ब्रश करें और जीभ के कोनों को न भूलें। अपने जीभ पर चार बार से ज्यादा बार ब्रश न करें और ध्यान रखें कि ब्रश करते वक्त जीभ के ज्यादा पीछे तक ब्रश न करें।

    नीम बहुत से त्वचा सम्बन्धी बिमारिओं के बहुत से औषधीय गुण होने के कारण नीम का पत्ता बहुत ही गुणकारी माना जाता है, यह दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को बहुत आसानी से दूर करता है नीम के पत्तों में बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण मौजूद होते है जो मुंहासे,दाना, छाले, खाज-खुजली, एक्जिमा के अलावा सभी प्रकार के त्वचा सम्बन्धी रोग को दूर करने में मदद करता है। नीम के पत्तों का एक अच्छा सा पेस्ट तैयार लें, फिर उस पेस्ट को अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लेप लगा लें। सूखने के पश्चात अपने चेहरे को अच्छी तरह से धो ले, लगातार 4-5 दिन ऐसा करने से आपको असर दिखना शुरू हो जायेगा।

5 टूथपेस्‍ट तो हम दांत साफ करने के लिए प्रयोग करते हैं, पर इसके इस्‍तमाल से आप अपने चेहरे के पिंपल को भी साफ कर सकते हैं। अगर रात में सोने से पहले इसको अपने चेहरे के मुहांसे पर लगा रहने देगें तो यह उन मुहासों को ठंडा कर के सुखा देगा।

जल्दी से कील मुहांसों से मुक्ति पाने के लिए सबसे पहले अपना पेट सॉफ रखें बाहर का खाना जैसे की जंक फूड तो बिल्कुल हि ना खाएँ प्रापर नींद लें तनाव मुक्त रहें चेहरे को धूल मिटी से बचाएँ हरी पतेदार सब्जी खाएँ साबुन का प्रयोग ना करें|

कभी अल्सर फूट भी सकता है जिससे पूरे पेट में संक्रमण हो जाता है तथा पेट में तेज दर्द रहता है। लम्बे समय तक अल्सर रहने से केंसर होने का खतरा हो सकता है। इसके साथ ही आयुर्वेदिक नुस्खे से भी एसिडिटी का इलाज किया जा सकता हैं |

घरेलू नुस्खे चेहरे के किसी भी दाग धब्बों के निशानों को हल्का करने की क्षमता रखते हैं। इनका सही और ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाने के लिए इनका प्रयोग निरंतर रूप से और बताये गए नुस्खे के अनुसार लंबे समय तक करें। इससे आपको बेहतरीन परिणाम मिलेंगे।

इसे भाप से बाहर निकालें: भाप आपके सीने, नाक और गले में बलगम को तोड़ने में मदद करती है जिससे आप आसानी से इसे अपने शरीर से बाहर निकाल पाते हैं। एक बर्तन में पानी उबालें और इसमें युकलिप्टुस (eucalyptus) के तेल की कुछ बूंदें मिलाएँ। अपने चेहरे को बर्तन के ऊपर रखें और कई मिनटों तक भाप लें। इसके अतिरिक्त आप बलगम को तोड़ने के लिए गर्म स्नान (shower) कर सकते हैं।[१]

डायबिटीज, कैंसर और दिमागी रोगों के लिए फायदेमंद है दालचीनी वाला दूधखतरनाक बीमारी है लिवर सिरोसिस, तुरंत बदलें अपने खान-पान की आदतेंये 7 चीजें शरीर में पानी की कमी को पूरा कर देती हैं पर्याप्त पोषणये 3 घरेलू नुस्खे अस्‍थमा के असर को तुरंत कर देंगे कमरोजाना खाएं ये 6 फूड, 60 साल तक याद्दाश्‍त रहेगी तेजरोज सुबह पीएं लहसुन वाली चाय, होंगे ये 5 चमत्कारिक फायदे

आंतरिक अंगों, अधिक कामकाज और रोगों के रोगतनाव, हार्मोनल विकार, एलर्जी प्रतिक्रियाओं त्वचा पर चकत्ते की उपस्थिति के आंतरिक कारण हैं। एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं चेहरे पर लाल मुँहासे की उपस्थिति से होती हैं, अधिकतर गालों पर। जीवों के नशे में, बैक्टीरिया या चेहरे पर शरीर और शरीर के कामों की गड़बड़ी के प्रभाव के कारण, मर्दों के धब्बे होते हैं। चेहरे पर गहरे चमड़े के नीचे मुँहासे अंतःस्रावी विकार का एक परिणाम हो सकता है। जब सफेद धब्बे चेहरे पर दिखाई देते हैं, तो यह आंतरिक परजीवी के लिए जांच करने के लिए आवश्यक नहीं होगा।

मुँहासे से छुटकारा पाने में सबसे मुश्किल हैकिशोरावस्था। इस तरह की चकत्ते हार्मोनल विकारों के परिणाम हैं। एण्ड्रोजन के अधिक मात्रा में वसामय ग्रंथियों की वृद्धि हुई गतिविधि होती है, जिसके परिणामस्वरूप त्वचा पर चकरा पड़ता है। ऐसे मामलों में हार्मोन थेरेपी में दुष्प्रभाव हो सकते हैं, इसलिए आपको मुँहासे के लिए विशेष रूप से धन के चयन की आवश्यकता है। कुछ मामलों में, ब्यूटीशियन अतिरिक्त प्रक्रियाओं को लिख सकता है, उदाहरण के लिए तरल नाइट्रोजन के साथ मालिश, त्वचा पिलिंग, विशेष सफाई। इसके अलावा, दवाएं जो वसामय ग्रंथियों की गतिविधि को कम करती हैं, और संयुक्त दवाएं जो बैक्टीरिया को नियंत्रित करने में प्रभावी होती हैं

बेबी ऑयल में किसी तरह के केमिक्ल्स नहीं होते और डेंड्रफ को कम करने में मदद करता है। इसलिए रात को सोने से पहले बेबी ऑयल लगा कर बालों को तौलिये से बांध लें और सुबह उठ कर अच्छे एंटी-डेंड्रफ शैम्पू से बालों को साफ करें।

हर हफ्ते कम-से-कम एक बार कूल्हों की त्वचा की पपड़ी उतारें: मुँहासे रोकने वाली एक्सफ़ोलिएटिंग क्रीम (exfoliating cream) और लूफ़्हा (loofah) का प्रयोग करें। यह एक्सफोलिएशन मृत त्वचा के सेल हटा देगा ताकि आपके रोम छिद्र बंद न हों।

    शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल (anti-becterial) के गुण पाये जाते है। जो सौन्दर्य और स्वास्थ्य दोनों क्षेत्र में बहुत ही अच्छा काम करता है। इसको खाने के अलावा अपने मुंहासो पर रोजाना शहद लगाने से चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) आसानी से दूर हो जातें हैं। शहद का लेप को 10 – 15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्का गरम पानी से धो लें। इससे दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से आसानी से निजात पाया जा सकता है।

एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और रोज़ रात को सोने से पहले इसे पी लें। यह हार्मोन संतुलन में मदद करेगा, जो त्वचा में अतिरिक्त तेल के उत्पादन को नियंत्रित करेगा। (और पढ़ें – हार्मोन्स का महत्व महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए)

3 चम्‍मच दलिये को थोड़ा पानी लेकर पकाएँ। अब इसमें 4 चम्‍मच शहद डाल दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ठंडा होने के पश्चात इसको अपनी पीठ पर फैला कर लगा दें। इसको कम से कम 15 से 20 तक लगा रहने दें। फिर इसको गुनगुने पानी से धो दीजिए। इस देसी इलाज को रोज़ाना ही दोहराएँ।

अगर आपके मुंह से हमेशा बदबू आती रहती है तो आप इलायची का ज्यादा इस्तेमाल करें। इलायची मुंह की बदबू हटाने में सबसे कारगर साबित होती है और इलायची व पुदीनायुक्त पान चबाने से भी मुंह की बदबू से निजात मिलती है।

hi nihal.. pimple ko khtm karne ka best tarika hai ki pimple hone ka kaara. aap dekho ki aapki kis bad habits ke kaaran pimples ho rahe hai. kai baar galat daily routine and other bad habis ke kaaran pimple aa jaate hai. if you quit root of couse you can end pimples on your face. aap hamari yah post padhe and then usme batayi gai couse and solution achchi tarah se read kare aur apne pimples ke saath use samjhe.. aapko problems and solution mil jayega. all the best.. visit this post : http://www.nayichetana.com/2017/02/pimple-dark-spot-kaise-door-kare-5-best-tips-in-hindi.html

“मुँहासे हटाने का सबसे तेज़ तरीका कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए वास्तव में तेजी से”

बर्फ के क्यूब्स का उपयोग त्वचा से बड़े आकार के छिद्रों को रोकने के लिए किया जा सकता है | वे न केवल छिद्र को कम करते हैं और उन्हें छोटा करते हैं, बल्कि आपके चेहरे पर अतिरिक्त तेल के उत्पादन को रोकते हैं | लगातार त्वचा में ice cube से massage करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है |

मुलैठी त्वचा से मेलेनिन दूर करने की अपनी खूबी की वजह से जानी जाती है। मुलैठी की जडें किसी भी काले धब्बे को दूर करने में काफी कारगर साबित होती हैं। मुलैठी की जड़ों का एक पेस्ट तैयार करें और इसमें शहद की कुछ बूँदें मिश्रित करें। इस पेस्ट को चेहरे के काले धब्बों पर लगाएं और 15 मिनट रखने के बाद पानी से धो लें। रोजाना इस विधि का प्रयोग करने पर आपको 1 से 2 हफ़्तों में अच्छे परिणाम मिलने शुरू हो जाएंगे। चेहरे पर मुलैठी का प्रयोग करने से पहले एक पैच टेस्ट (patch test) करवा लें।

ऑयली त्वचा पर निम्बू रगड़ने से त्वचा की चिकनाई दूर होती है और पिम्पल्स भी साफ़ होते है। शहद को नींबू में मिला कर पेस्ट बनाए और फेस पर लगाए और 15 – 20 मिनट के बाद धो ले। इस नुस्खे से चेहरे में निखार आता है और पिम्पल ठीक होते है।

यदि आपको मिल गया है तो एक दाना दिया गया है जो वास्तव में दूर नहीं जा सकता है, विटामिन ई की गोली को ख़त्म कर दें (या कुछ आहार ई तेल खरीद लें) और अपने दोष को रगड़ें। आप इसे 10 मिनट या एक ही दिन में छोड़ सकते हैं, हालांकि खाद्य आहार उसी समय मॉइस्चराइज रखता है जैसे कि किसी भी लाली और दूषित घटते समय (जो वास्तव में आप की तलाश में हैं)। यह पिलकों को खोलने में मदद कर सकता है और आपको ब्रेकआउट्स बचा सकता है अगर आप इसे नियमित आधार पर उपयोग करते हैं।

मुंह में एक छोटा सा घाव होता है जिसे हम अल्‍सर बोलते हैं। अगर यह मुंह में छाला हो जाए तो खाने-पीने में बड़ी तकलीफ हो जाती है। इसमें काफी जलन और दर्द भी महसूस होती है। वैसे तो यह बीमारी कुछ ही दिनों के लिए होती है और हफ्ते भर में ठीक भी हो जाती है।

यदि आप अक्सर पेट की बीमारियों से पीड़ित होते हैं जैसे गैस, अपच, कब्ज, सूजन आदि। यह अक्सर तब होता है जब आपकी पाचन प्रणाली अच्छी तरह से काम नहीं कर रही होती है। इसे सुधारने के लिए आप सौंफ और अजवाइन से बना काढ़े का सेवन कर सकते हैं। दोनों में कार्मिनटिव गुण होते हैं जो गैस को बनने से रोकते हैं और बेहतर पाचन में सहायता करते हैं।

सेल्‍युलाइट से ज्यादातर महिलाओं को भय होता है। यह 80% से अधिक महिलाओं को प्रभावित करता है। फैट के शरीर पर जमाव को सेल्‍युलाइट कहते हैं, जिससे त्‍वचा असमान हो जाती है। सेल्युलाइट ज्यादातर थाईज, पेट और हिप्स में पाया जाता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं को आम तौर पर सेल्‍युलाइट होने का खतरा अधिक होता है। हालांकि इसके लिए कोई निश्चित कारण नहीं है। सेल्‍युलाइट के कई कारण हो सकते हैं जैसे आहार, हार्मोन परिवर्तन, निर्जलीकरण, धीमी चयापचय दर, कुल शरीर की चर्बी और शारीरिक गतिविधि में कमी आदि। यहां तक कि अधिक तनाव भी सेल्‍युलाइट का कारण बन सकता है। महंगी सर्जरी के बजाय आप कुछ घरेलू तरीकों के द्वारा सेल्‍युलाइट से छुटकारा पा सकते हैं। आइए प्राकृतिक रूप से सेल्‍युलाइट को कम करने के उपायों के बारे में जानें :-

योगासन के अलावा आपको कुछ पैसे आयुर्वेदिक उत्पादों पर भी लगाने चाहिए, जिनकी मदद से आपके बालों में मौजदू गंदगी और जमा हुआ मैल बाहर निकल आएगा। इसके अलावा यह आपके बालों को झड़ने से भी बचाता है। क्योंकि सब इस बात को जानते हैं कि रोकथाम इलाज से बेहतर है।

वहाँ रहे हैं एक बार आप छालरोग उपचार खोजने का फैसला किया, लेकिन केवल डॉक्टर कि चुना छालरोग उपचार दवा की प्रभावकारिता का मूल्यांकन कर सकते हैं विकल्प की एक बहुत कुछ के अनुरूप होगा आप व्यक्तिगत रूप से। सोरायसिस के उपचार कोई साइड इफेक्ट नहीं होना चाहिए।

” यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। ”

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

छाछ मे लॅकटिक एसिड होता है जो की अल्फा हाइड्रॉक्सिल एसिड की तरह काम करता है। यह एक प्रकार का प्रकतिक एसिड है जो चेहरे की मृत त्वचा, धूल और तेल को निकालता है। एक कटोरी मे छाछ ले और रूई की मदद से दाग पर लगाए और अगर मुमकिन है तो आधी मात्रा मे नीबू का रस भी मिला कर मास्क की तरह भी उपयोग सकते है।

दखल, जो आंतरिक समस्याओं के कारण दिखाई दिया,व्यापक रूप से इलाज किया जाता है ऐसे मामलों में, यहां तक ​​कि सबसे महंगी दवाओं के साथ उपचार का कोई सकारात्मक परिणाम नहीं होगा यदि आप एक साथ पूरे जीव का इलाज नहीं करते हैं। इसलिए, इलाज करने और चेहरे पर मुँहासे से छुटकारा पाने से पहले, समस्या का सही कारण स्थापित करने के लिए इतना महत्वपूर्ण है। पहले से ही परीक्षा के परिणाम को ध्यान में रखते हुए, सौंदर्य प्रसाधन ने अतिरिक्त त्वचा देखभाल उत्पादों को नियुक्त किया है।

वैसे तो मुंह की सफाई रखना ही मुंह की बदबू को दूर करने का अचूक उपाय है। इसलिए मुंह की सफाई रखें और खाना खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें। साथ ही दिन में दो बार अच्छे से ब्रश करें। ऐसा लगातार करने से मुंह की बदबू हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

हालाँकि, ऐन्टिसेपटिक माउथवॉश हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म कर देता है, जो गंदी दुर्गंध को छुपाने से भी ज्यादा मददगार है। ऐसे माउथवॉश का इस्तेमाल करें, जिसमें क्लोरहेक्सिडाइन (chlorhexidine), सिटाइलपायरिडिनियम क्लोराइड (cetylpyridinium chloride), क्लोरीन डाइऑक्साइड (chlorine dioxide), ज़िंक क्लोराइड (zinc chloride) और ट्राइक्लोसैन (triclosan) मौजूद हो, जो बैक्टीरिया को खत्म करते है।

चेहरे के काले दाग धब्बे, प्याज मे क्रत्रिम प्रतिरोधक गुण होते है जो की मुहसो के दाग धब्बे दूर करने मे आपकी मदद करेगे। तो शांतीपूवर्क इस विधि का उपयोग करे। प्याज ले और उसका रस निकल कर चेहरे के संक्रमित स्थान पर लगाए और कुछ मिनिट तक रहने दे फिर साधारण पानी से धो दे।

पिम्पल्स हटाने के तरीके इन हिंदी: गोरे चेहरे पर कोई दाग धब्बा या निशान पड़ जाए तो चेहरे की सुंदरता फीकी पड़ने लगती है। चेहरे पर कील मुंहासे (acne) निकलना आजकल आम हो गया है। ऑयली स्किन पर पिम्पल्स निकलने की समस्या अधिक होती है। पिम्पल को अगर हाथ से फोड़ दे तो पिम्पल्स के दाग चेहरे पर रह जाते है। अक्सर कील मुंहासों के ज़रिए शरीर की गर्मी बाहर निकलती है जो खाने पिने की गलत आदतों से हो जाती है। अगर त्वचा को पोषण देने वाली चीज़े खाए और तले हुए फुड से दूर रहे तो बार बार पिम्पल का निकलना रोक सकते है। हरी सब्जियां, फल और पानी त्वचा को स्वस्थ रखने का उत्तम उपाय है। आज इस लेख में पिम्पल्स कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे जानेंगे, natural home remedies tips to remove pimples in hindi.

ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड का उपयोग करें: ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड कई त्वचा उत्पादनों में पाए गए हैं, जैसे कि क्रीम, मलहम, और स्क्रब | ये त्वचा के धब्बों को पूरी तरह हटाने से पहले, त्वचा की परत को निकालकर, हाइपरपिगमेंट को बाहर लाती है |[७]

स्‍वाद और सुगंध से भरपूर दालचीनी को मसालों में अहम स्‍थान दिया गया है। दालचीनी का दोनों ही मसाले और दवा के रूप में उपयोग का लंबा इतिहास है। वास्तव में प्राचीन काल में, यह मसाला इतना बहुमूल्य खजाना माना जाता था कि इसकी कीमत सोने से भी ज्यादा थी।यह श्रीलंका एवं दक्षिण भारत में बहुतायत में मिलता है। यह एक वृक्ष की छाल होती है। यह गरम मसाला तो है ही यह पाचन, वातहर, स्तंभण, गर्भाशय उत्तेजक, गर्भाशय संकोचक एवं शरीर उत्तेजक है। चाय, काफी में दालचीनी डालकर पीने से मीठी हो जाती है तथा सर्दी भी ठीक हो जाता है।

2 चंदन का पाऊडर पिंपल भगाने में बहुत लाभकारी होता है। यह न सिर्फ आपके चेहरे को फ्रेश करेगा बल्कि पिंपल को दुबारा लौटने से भी रोकेगा। चंदन पाऊडर को पिंपल पर 2-3 घंटो के लिए लगा रहने दें और चेहरे को ठंडे पानी से धो कर सूखा लें।

लौंग कैविटी के साथ-साथ किसी भी प्रकार की दांतों से जुडी समस्‍याओं के लिए रामबाण होता है। एंटी-इंफ्लेमेंटरी, एनाल्‍जेसिक और एंटी-बैक्‍ट‍ीरियल गुणों के कारण लौंग दर्द को कम करने और कैविटी को फैलने से रोकता है। समस्‍या होने पर 1/4 चम्‍मच तिल के तेल में 2 से 3 बूंदें लौंग के तेल की मिलाकर लें। इस मिश्रण को रात को सोने से पहले कॉटन बॉल में लेकर प्रभावित दांत में लगाये।   

इसके साथ ही कुछ लक्षण psoriasis के लक्षण हो सकता है। यह psoriasis vulgaris, जो रोग, guttate सोरायसिस छोटे धब्बे, जो बूंदों की तरह कर रहे हैं की विशेषता, व्युत्क्रम सोरायसिस underarms क्षेत्र, नाभि और नितम्बों, पास में एक नियम के रूप में की खोज की, और तरल अंदर के साथ छोटे फफोले द्वारा देखा pustular सोरायसिस का सबसे व्यापक प्रकार है शामिल हैं। इसके अलावा, एक अलग-अलग रोग हथेलियों और तलवों पर प्रकट होता palmoplantar सोरायसिस कहा जाता है।

मैने आप की साइट पर कील मुहांसों के ज़ल्दी ठीक करने का लेख पड़ा मुझे बहुत ही लाभ हुआ तथा जिनसे भी शेयर किया उनेहें भी लाभ हुआ इसलिए वो भी आप को धन्यवाद दे रहे हैं प्लीज़ हम सब की गुड विश एक्सेपट करें वेरी नाइस आर्टिकल्स

Barf ke tukde थके आँखों को शांत करने का काम करता है | काम पर एक लंबा और थका देने वाला दिन होने के बाद, कुछ सुखदायक प्रभावों के लिए अपनी आंखों पर कुछ बर्फ के cubes रखें । यह आसान तरीका सिर्फ आपकी आंखों पर शीतलन प्रभाव नहीं देगा, बल्कि थकन आँखों को राहत भी दे सकता है । जब भी आप थके हुए है तो इस आसान सौंदर्य टिप को आज़माएं | Tips on eye care से जुडी जानकारी यहाँ पर पढ़े |

सामग्री: कैलेंडुला officinalis, आइरिस versicolor, आवश्यक तेल के मिश्रण (Cedrus एटलांटिका लकड़ी शेविंग्स, Melaleuca alternifolia पत्ता-शाखा, Melaleuca छोटी सी पत्ती), Persea gratissima फल तेल, Rosa mosqueta बीज का तेल, Simmondsia chinensis बीज का तेल, Triticum vulgare कर्नेल तेल)।

–> संतरे में मौजूद विटामिन सी पिपल्स को निकालने में मदद करता है | संतरे को मुहांसे पर इस्तेमाल करने से पूर्व त्वचा को भली – भांति गुनगुने पानी से धो ले ताकि त्वचा के पोर्स खुल सके | इसके बाद संतरे के छिलके को pimple पर लगाकर  एक घंटे तक छोड़ दे |

“रात भर मुंह से कैसे छुटकारा पाता है -कैसे जल्दी से pimples से छुटकारा पाने के लिए”

Home Remedy (Gharelu Nuskhe) for Pimple Marks (Acne Scars) on Face in Hindi. Muhase ke nishan se chutkara pane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay in Hindi. Muhase ke daag hatane ke upay in Hindi. Chehre (face) ke daag dhabbe hatane ke upay in Hindi. Kale daag mitane ke upay in Hindi.

आंवला जैसी जड़ी-बूटी भी कैविटी के इलाज में होती है। इसमें भरपूर मात्रा में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और विटामिन सी के कारण यह बैक्‍टीरिया और संक्रमण से लड़ने में मदद करती है। यह संयोजी ऊतक के विकास को बढ़ावा देकर मसूड़ों के लिए बहुत लाभकारी होती है। इसके अलावा, यह मुंह को साफ करने और बदबूदार सांस से छुटकारा पाने में आपी मदद करता है। नियमित रूप से ताजा आंवला खाये। यह आधा गिलास पानी के साथ आधा चम्‍मच आंवला पाउडर नियमित रूप से लें।

* लौंग का तेल : आप मुंह के छालों को ठीक करने के लिए लौंग के तेल की भी मदद ले सकते हैं। क्योंकि आपकी जीभ काफी संवेदनशील होती है, अतः इसके उपचार का तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है। इस उपचार के लिए 4 से 5 बूँदें लौंग का तेल, आधा चम्मच जैतून का तेल, गर्म पानी और रुई की आवश्यकता होगी।

नर्म नीम की पत्तियों का पेस्ट थोड़ा पानी मिलाकर बनाएं। इस पेस्ट में कुछ हल्दी पाउडर मिलाएं और फिर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। 20 मिनट के लिए इसको लगाकर छोड़ दें और फिर इसे धो लें। एक सप्ताह में कम से कम दो बार यह करें। आप दिन में एक या दो बार नीम का तेल भी लगा सकते हैं जब तक आपको सुधार ना दिखे।

दलिया तेल, गंदगी और अन्य टॉक्सिन्स को बाहर निकल देता है। शहद में जीवाणुरोधी गुण होता है जो बैक्टीरिया से मुकाबला करता है और एक्ने (acne) बनाने के कारण को रोकती है और इसका ठंडक देने वाला गुण प्रभावित क्षेत्र को ठीक करने में मदद करता है और लाली और सूजन को रोकता है।

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

मुंह के अल्‍सर में दर्द होने पर यह आराम देता है। 1 चम्‍मच नारियल दूध में थोड़ा सा शहद मिक्‍स कर के प्रभावित स्‍थान पर मालिश करें। इसे दिन में 2 या 3 बार करें। आप चाहें तो इस घो से अपने मुंह को धो भी सकते हैं।

मुल्तानी मिट्टी तैलीय और मुँहासे प्रवण त्वचा के लिए अच्छी है और यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर, उनको रोम छिद्र से मुक्त करती है। यह आपके रंग में सुधार करने में भी मदद करती है। (और पढ़ें – आठ दिन के लिए यह उबटन लगाएँ, काले से गोरा रंग और सुंदर त्वचा पाएँ)

वज्रासन को डायमंड पोज के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को आप खाना खाने के बाद भी कर सकती हैं। ऐसा नहीं है कि खाना खाने के बाद इसे करने से आपको किसी तरह का कोई नुकसान होगा । यह आसन उनके लिए काफी फायदेमंद होता है जो कि अपना वजन कम करना चाहते हैं। इतना ही नहीं इस आसन को करने से सूजन से भी छुटकारा मिलता है, साथ ही पाचन संबंधित परेशानियों से बालों का झड़ना भी बढ़ जाता है।

अगर आपको बार-बार मुंह के छाले Muh ke chhale हो रहे हैं तो अपने मुंह की सफाई पर विशेष ध्यान दीजिए। ज्यादा मसालेदार और गरिष्ठ भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक न हो रहे हों तो जल्द चिकित्सक से सलाह व उपचार अवश्य लीजिए।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

अगर आप भी अपने बाल झड़ने की समस्या से लगातार परेशान है तो घबराने की जरुरत नही है। हम आपके लिए लेकर आए है कुछ ऐसे योगासन जिनकी मदद से आप पल भर में इससे छुटकारा पा सकती है, योगा सबसे सरल और आसान तरीका भी साबित होगा आपके लिए।

homeveda, ayurveda, home remedy, home remedies, natural remedies, natural cure, home cure symptoms, medicine, health, bad breath, bad breath causes, , bad breath disease, bad breath cures, halitosis causes, how to get rid of bad breath, rid, remedies, remedy, cure, cures, causes, cause, how, to, what, how to cure bad breath, home Stuart Edge , top video, must watch, video about bed breath, multi rose life, short films

नई दिल्ली: उत्तर पूर्व के तीन राज्यों में हुए चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी की इतनी बुरी हालात हो गई है। बीजेपी के बेहतर नतीजों के बाद पार्टी नेताओं ने कांग्रेस पार्टी पर हमले आरंभ कर दिए हैं। बीजेपी के वरिष्ठ [Read more…]

अस्वीकरण: इस साइट पर उपलब्द सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

“14 साल के मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए |मुँहासे की दवा से छुटकारा”

सेहत संबंधी कई ऐसी समस्याएं होती हैं जिन्हें हम रोग तो नहीं कह सकते हैं लेकिन दर्द, संक्रमण, खाने और निगलने में दिक्कतें आदि हमारे लिए परेशानी का सबब होती हैं। मुंह के छाले भी एक ऐसी ही समस्या है। इनसे उपचार के लिए अगर बाजार में मिलने वाले जेल या क्रीम उपलब्ध हैं लेकिन आ चाहें तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं।

साधारण पानी की बजाए, स्ट्रांग ग्रीन टी को बर्फ के ट्रे में जमा दें | अब इसका प्रयोग अपने मुँहासों पर करें | हरी चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो बर्फ के ठंडेपन के साथ और ज्यादा अच्छे से काम करते हैं |

मुंह से आने वाली दुर्गंध कई बार लोगों से दूरी का सबसे बड़ा कारण बन जाती हैं। हम दोस्तों के बीच बैठे हैं और कोई हमसे हमारे मुंह से आ रही दुर्गंध (बदबू) के बारे में कहता तो हमें दोस्तों के बीच नीचा देखना पड़ता हैं । इसी बीच दोस्त हमें दस तरह के उपाय बताने लगते हैं, कोई अच्छे टूथपेस्ट का सुझाव देता हैं तो कोई माउथ स्प्रे के बारे में बतलाने लगता हैं, लेकिन इन सबके बीच यदि आप कुछ घरेलू नुस्खे या उपाय अपनाएं तो आप मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पा सकते हैं । ये किफायती भी होंगे और असरकारक भी । दुर्गंध को यूं पहचानें घर पर अकेले में या बात करते समय जब लोग आपके सामने न खड़े हों तो उस वक्त अपने मुंह पर हथेली रखकर सांस छोड़िए, इससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि आपका सांसों में दुर्गंध हैं या नहीं ।

त्वचा को लंबे समय तक खूबसूरत बनाए रखना है तो आपको उसका प्राकृतिक उपचार करने की जरूरत है।इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीको के बारे में बताने जा रहे है जिनके इस्तेमाल से आप सिर्फ कुछ दिनों में पिम्पल्स की समस्या से छुटकारा पा सकती है।

लेज़र उपचार करवाएं: अगर आपके मुँहासे कई महीनों के बाद भी ठीक नहीं हो रहें हैं, तो लेज़र उपचार करवाएं | आप कौन सा इलाज करवाना चाहते हैं, उसके मुताबिक लेज़र कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करती है और दाग को भाप बनाकर साफ़ करती है |[९]

तैलीय त्वचा आजकल की धूल धक्कड़ भरी दुनिया में बहुत ही आम समस्या हो गयी है। त्वचा की बाहरी परत पर अतिरिक्त तेल इकट्ठा होने से अक्सर व्हाइटहेड्स और ब्लैकहैड्स, छोटे छोटे दाने और अन्य त्वचा समस्याएं हो जाती हैं। 

कई बार मुँहासे तो ठीक हो जाते हैं पर उनके दाग इतने गहरे हो जाते हैं कि वह जल्‍दी से जाने का नाम नहीं लेते हैं। इससे जल्दी छुटकारा पाने के लिए हम बाज़ार मे पाए जाने वाले रसायन युक्त उत्पादो का प्रयोग करते हैं, बिना उनके नुकसानों के बारे में सोचे। इसलिए अलग-अलग तरह की क्रीम का प्रयोग करने से अच्‍छा है कि आप इन चेहरे के दाग धब्बों को हटाने के लिए घरेलू उपाय अपनाएं।

नेज़ल रिन्स (nasal rinse) का प्रयोग करें: अपनी दवा की दुकान से एक खारा नेज़ल रिन्स खरीदें या पुराने ज़माने के नेति पॉट का उपयोग करें। अपने साइनस से खारा पानी और एक नमकीन घोल निकालने से आपकी नाक और गले के पीछे की बलगम साफ होगी।

मेथी हमारे चेहरे को साफ़ रखने में सहायक होती है. यह दाग – धब्बे हटाने काफी सहायता करती है. मेथी के पत्तो का या मेथी के बीजो को उबालकर आप इनका पेस्ट बना सकते है और जहाँ आपके Pimple निकले है वहां पर Use कर सकते है. इसके पेस्ट को अपने face पर 15 minute लगाये रखे और फिर पानी से धो ले.

 Sarita, for more than 6 decades, has been refreshing the minds and moods of millions of its readers. It appeals to an urban and socially conscious intelligentsia. Sarita carries a distinctive mix of articles on subjects ranging from politics, society, economy, travel, health, fiction, poetry, life and entertainment. Its deeply introspective articles invite its readers to delve into the softer issues of life, relationship, family and personal development, and prepare themselves for a modern, progressive lifestyle. Sarita’s stories always make a delightful read. Humour and satire remain an integral part of Sarita. No edition of Sarita is complete without its refreshing cartoon strips and satirical illustrations.

वात और कफ को शांत करने के लिए सूखी अदरक और काली मिर्च उत्कृष्ट हैं। ये श्वसन प्रणाली के स्वास्थ्य को बनाए रखने और पाचन और संचलन को बढ़ाने में सहायक होती है। ये सामग्री शरीर में गर्मी उत्पन्न करती हैं।

जब लोक उपचार के चेहरे पर मुँहासे का इलाज करते हैंप्रयोग करने और संदिग्ध व्यंजनों का प्रयोग न करें इसके अलावा, सुनिश्चित करें कि उत्पाद आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त है। उपयोग की अनुशंसित विधि का पालन करें, अन्यथा, मुँहासे ठीक होने पर, आप एक क्षतिग्रस्त त्वचा के साथ शेष जोखिम उठा सकते हैं।

शहद की एंटीबायोटिक गुण मुँहासे में सुधार करने में मदद कर सकते हैं प्रभावित क्षेत्रों में एक चम्मच को लागू करें, या 1 / 2 कप शहद को 1 कप सादे दलिया के साथ मिलाकर एक मुखौटा बनाएं और इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें। आप दालचीनी, हल्दी और शहद की एक पेस्ट भी बना सकते हैं, इसे 10 मिनट के लिए लागू करें और फिर से कुल्ला।

एक नैचुरल एंटी एजिंग और एंटी ऐंजनंट है क्योंकि इसमें विटामिन ‘सी’ पाई जाती है जो चेहरे को अंदर गहराई से साफ करती है। नींबू का रस दाग धब्बों कील मुहांसों को दूर करने एवं चेहरे का स्कीन टोन को निखारने में मदद करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से चेहरा दाग धब्बों से रहित एवं ख़ूबसूरत बन जाता है।

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

शहद और गिलेसरीन के प्रयोग से भी आप छालों की समस्या से छुटकारा पा सकते है.  मुंह में छाले होने पर शहद और गिलेसरीन का इस्तेमाल काफी अच्छा रहता है. शहद और गिलेसरीन को आपस में मिलाये और इस मिश्रण को कॉटन की मदद से लों में लगाए. इससे मुंह के छाले धीरे-धीरे कम होने लगेंगे.

बेशक, हमेशा उपलब्ध नहींउचित उपचार के लिए पर्याप्त समय, कभी-कभी आपातकालीन उपाय आवश्यक हैं बहुत जल्दी से यह मुँहासे की मात्रा को कम करने में मदद करता है, साथ ही ज़ेंरनिटाइटिस की सूजन की तीव्रता भी। इस दवा में एक शक्तिशाली एंटीबायोटिक शामिल है, जो रोगजनकों को नष्ट कर देता है। इसके अलावा, ज़ेंरिएट सक्रिय रूप से बड़ी चक्कर आती है, उनके प्रसार को रोक देता है।

English: Get Rid of Bad Breath, Français: se débarrasser de sa mauvaise haleine, Italiano: Curare l’Alito Cattivo, Español: eliminar el mal aliento, Português: Se Livrar do Mau Hálito, Deutsch: Mundgeruch loswerden, Nederlands: Van een slechte adem afkomen, Русский: избавиться от запаха изо рта, 中文: 摆脱口臭, Čeština: Jak se zbavit páchnoucího dechu, Bahasa Indonesia: Mengatasi Napas Tak Sedap, ไทย: ดับกลิ่นปาก, العربية: التخلُّص من رائحة الفم الكريهة, Tiếng Việt: Đẩy lùi chứng Hôi miệng, 한국어: 심한 입 냄새 제거하는 법, 日本語: 口臭を消す

Home remedies for acne on face: Almost everyone, in the age of puberty and adolescence, encounters pimples. This age is more prone to pimples because this is the growth age, where body undergoes so many physical, biological and hormonal changes. Pimple is a kind of skin inflammation in which a red swollen structure or lesion full of puss forms on the skin and irritates the  area by causing itching and pain.

सेल्‍युलाइट से ज्यादातर महिलाओं को भय होता है। यह 80% से अधिक महिलाओं को प्रभावित करता है। फैट के शरीर पर जमाव को सेल्‍युलाइट कहते हैं, जिससे त्‍वचा असमान हो जाती है। सेल्युलाइट ज्यादातर थाईज, पेट और हिप्स में पाया जाता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं को आम तौर पर सेल्‍युलाइट होने का खतरा अधिक होता है। हालांकि इसके लिए कोई निश्चित कारण नहीं है। सेल्‍युलाइट के कई कारण हो सकते हैं जैसे आहार, हार्मोन परिवर्तन, निर्जलीकरण, धीमी चयापचय दर, कुल शरीर की चर्बी और शारीरिक गतिविधि में कमी आदि। यहां तक कि अधिक तनाव भी सेल्‍युलाइट का कारण बन सकता है। महंगी सर्जरी के बजाय आप कुछ घरेलू तरीकों के द्वारा सेल्‍युलाइट से छुटकारा पा सकते हैं। आइए प्राकृतिक रूप से सेल्‍युलाइट को कम करने के उपायों के बारे में जानें :-

नई दिल्ली: उत्तर पूर्व के तीन राज्यों में हुए चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी की इतनी बुरी हालात हो गई है। बीजेपी के बेहतर नतीजों के बाद पार्टी नेताओं ने कांग्रेस पार्टी पर हमले आरंभ कर दिए हैं। बीजेपी के वरिष्ठ [Read more…]

हमेशा मुँह में थोड़ा सा पानी लें और अच्छी तरह से मुँह में चारों और तेज़ी से घुमाए जिससे की दाँतो के बीच में फसे अन्न के कण निकल जाएँ। जब आप अपने दाँतों (कम से कम दिन में दो बार होना चाहिए) को ब्रश करते हैं अपनी जीभ की सफाई के लिए टूथब्रश, एक चम्मच के किनारे, या एक जीभी का प्रयोग कर सकते हैं।

ऊपर दी गई सामग्री को मिलाकर पेस्ट तैयार करें और इस पेस्ट को मस्से के ऊपर लगाते हुए इसे कपड़े से कवर कर लें। कुछ घंटों तक पट्टी लगे रहने के बाद दोबारा इस प्रक्रियां को दोहराते हुए दूसरी पट्टी का उपयोग करें। इसी प्रक्रिया को इसी तरह से दोहराने से आपको जल्द ही अच्छे परिणाम प्राप्त हो जाएंगे। जल्दी परिणाम प्राप्त करने के लिए इसे आप दिन में दो बार करें।

अगर आप को जल्दी चेहरे पर से कील मुहांसों से छुटकारा पाना है तो आप रोज कुच्छ दिनो तक सफेद प्याज का रस में एक चमच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएँ चेहरा सूखने पर धोकर साफ टॉवेल से साफ करके स्टीम लें जल्दी ही आप के कील और मुहाँसे सॉफ हो जाएँगे

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

इंंसान की अंतर आत्मा जितनी मायने रखती है उतना ही उसका चेहरा क्योंकि हमारा चेहरा हमारा आतमविशवास, हमारी खुशी, हमारा सुख- दुख, सब दर्शाता है। चाहे बडे़ हो या बच्चे या युवा सब ही चाहते है कि उनका चेहरा हमेशा तरोताजा, तनदरुस्त रहे। खास‌कर महिलाओं के चेहरे कि खूबसूरती बहुत मायाने रखती है। वो हमेशा अपने चहरे को सुंदर एवं रखना चाहतीं हैं ताकि उनकी खूबसूरती उन्हें एक अलग पहचान दे सके। सब चाहते हैं कि उनका चेहरा किल,  दाग-धब्बों से दूर रहे पर अफसोस कि उपाय न पता होने के कारण वो कुछ नहीं कर पाते अपने चेहरे के लिए लेकिन अब कोई चिंता की बात नहीं है क्योंकि इस लेख में दागों, घाव के निशानों और धब्बों को दूर करने के कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में बताया गया है। कुछ घरेलू नुस्खे ऐसे हैं जो इन दाग धब्बों पर धीरे-धीरे और काफी गहराई से प्रभाव छोड़ते हैं। 

मुल्तानी मिट्टी में कई प्राकृतिक खनिज होते हैं और इसमें त्वचा का रंग साफ करने के भी गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

“मुंह खोने का सबसे तेज़ तरीका कैसे मुँहासे से मुक्ति पाने”

निवेदन- आपको How to Remove Pimples and Acne in Hindi ये आर्टिकल कैसा लगा हमे अपने कमेन्ट के माध्यम से जरूर बताये क्योंकि आपका एक Comment हमें और बेहतर लिखने के लिए प्रोत्साहित करेगा और हमारे Facebook Page को जरूर LIKE करे.

एलोविरा का प्रयोग करें: एलोविरा का रस एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो कई प्रकार कि बिमारियों, चोट लगना, जल जाना, या मुँहासों को दूर करता है | यह त्वचा को फिर से नया बनाकर नमी प्रदान करता है | एलोविरा को किसी भी दुकान में पाया जा सकता है, लेकिन एलोविरा के पत्तियों का रस सब से ज्यादा उपयोगी माना गया है | इसके जैल को धब्बों पर लगाकर छोड़ दें | धोने की भी जरुरत नहीं है |

3 – गुलाब जल में बराबर मात्रा में निम्बू का रस मिलाकर मिश्रण तैयार कर लीजिये और उस मिश्रण को चेहरे पर करीब आधे घंटे तक लगा कर रखे फिर ताजे पानी से चेहरा धो ले, इस प्रयोग को चेहरे पर करीब 15  दिन तक करें, जिससे आपके चेहरे के मुँहासे ठीक हो जायेंगे.

विटामिन-डी से भरपूर आहार लें: विटामिन-डी आपके मुंह में बैक्टीरिया होने से रोकता है। विटामिन-डी का सेवन हम अपने आरक्षित आहार और पेय के रूप में कर सकते हैं, विटामिन-डी आम तौर पर और अधिक प्रभावशाली रूप में सूरज की रोशनी से मिलता है।

जानिये मुहासों के बारे में सभी बातें। मुहासों से जुड़े भ्रम और इसके कारणों को समझिये। आसान और प्राकृतिक टिप्स के साथ कैसे पा सकते हैं मुहासों से छुटकारा। मुहासों और इसके दाग को हटाने के विभिन्न तरीकों और इससे जुड़े आहार के बारे में भी जानिये।

    शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल (anti-becterial) के गुण पाये जाते है। जो सौन्दर्य और स्वास्थ्य दोनों क्षेत्र में बहुत ही अच्छा काम करता है। इसको खाने के अलावा अपने मुंहासो पर रोजाना शहद लगाने से चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) आसानी से हो जातें हैं। शहद का लेप को 10 – 15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्का गरम पानी से धो लें। इससे दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से आसानी से निजात पाया जा सकता है।

ताज़े निम्बू का रस लगाएं: निम्बू में प्राकृतिक विरंजन (bleaching ) गुण होते है जिनसे मुहासों के दाग फीके हो जाते हैं | समान मात्रा में निम्बू का रस और पानी मिलाकर, इस मिश्रण को सिर्फ अपने धब्बों पर लगाएं | 15-20 मिनट के बाद धो लें या पूरी रात इस मिश्रण को लगे रहने दें | “चूंकि निम्बू के रस में 2 PH होता है और त्वचा की 4.0-7.0 PH होती है इसलिए अगर इसे लम्बे समय तक त्वचा पर छोड़ा जाए, तो त्वचा जल भी सकती है | खट्टे रस में बर्गप्टेन (Bergapten) नामक रसायन होते हैं जो डीएनए में मिलकर त्वचा को नुकसान पहुँचाते हैं |” इसलिए इसे सावधानी से प्रयोग करें और कम समय के लिए प्रयोग करने से शुरू करें।

अपनी नाक को ज़्यादा ब्लो न करें, खासकर एक साइड पर। उसका ज़ोर बलगम को आपके साइनस और कानों में और अंदर ब्लो कर सकता है, जिससे सिरदर्द व कान में दर्द होगा। अगर आपको ब्लो करने की ज़रूरत है, तो ऐसा आराम से व दोनों नॉस्ट्रील्स के साथ करें।

अगर गले की बलगम इतनी गाढ़ी हो जाए कि आप न सांस ले पा रहे हैं और न ही निगल पा रहे हैं, तो अस्थायी उपचार के लिए तुरंत पानी पिएँ और फ़िर नाक ब्लो करें और 2 मिनटों के लिए गुंजन करें। यदि आप अब भी सांस न ले पाएँ और आपकी बलगम बढ़ती जा रही है, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ।

धूप में कुछ नीम के पत्ते सुखाकर पीस लें। इस पाउडर को, हल्दी पाउडर और गुलाब जल में मिलाकर एक पेस्ट बनाएं और दानों पर लगाकर २० मिनट बाद धो लें। नीम के पाउडर की जगह आप चन्दन के पाउडर का भी प्रयोग कर सकते हैं जो मुँहासों को कम करने के लिए अच्छा उपाय है।

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

नींबू में विटामिन सी होता है और फीटोनुट्रिएंट्स जिन्हें फ्लेवनॉइड्स कहते हैं जिनमें मजबूत एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबायोटिक असर होता है। शरीर के भीतर हो रहीं उपापचयी (मेटाबॉलिक) प्रतिक्रियाओं के दौरान उत्पन्न हुए मुक्त कण, शरीर की स्वस्थ कोशिकाओं (सेल्स) को नुकसान पहुंचा सकते हैं। नींबू में एंटीऑक्सीडेंट इन मुक्त कण की कार्रवाई को प्रतिबंधित करते हैं और नींबू का रस मुँहासों के लिए एक शानदार उपाय है।

All the information, content and live chat provided on the site is intended to be for informational purposes only, and not a substitute for professional or medical advice. You should always speak with your doctor before you follow anything that you read on this website. Any health question asked on this site will be visible to the people who browse this site. Hence, the user assumes the responsibility not to divulge any personally identifiable information in the question. Use of this site is subject to our Terms & Conditions

बलगम (जिसे कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।

Turmeric has great antimicrobial and antiseptic properties and works for all skin problems. It can be used by mixing with water and making a thick and smooth paste. Apply this paste properly in the pimple region and leave it for some time to dry. It helps in killing the bacteria in the pimple. Once it is dried wash it off with normal water. Repeat the process daily to see better results.

एसिडिटी का प्रमुख लक्षण है रोगी के सीने या छाती में जलन। अनेक बार एसिडिटी की वजह से सीने में दर्द भी रहता है, मुंह में खट्टा पानी आता है। जब यह तकलीफ बार-बार होती है तो गंभीर समस्या का रूप धारण कर लेती है।

कैमोमाइल फूलों का एक बड़ा चमचा भरेंउबलते पानी का एक गिलास और 5 मिनट के लिए उबाल लें या इसे पानी के नहाने पर खड़े रहें। 40 मिनट के बाद, तनाव, जलसेक प्राप्त हुआ, सुबह में और बिस्तर पर जाने से पहले चेहरे को पोंछते हैं। कैमोमाइल लिंडन फूलों के साथ मिश्रण कर सकते हैं

लार में सोडियम, पोटैशियम, फास्फेट, कैल्शियम, प्रोटीन, ग्लूकोज जैसे तत्व होते हैं जो दांतों को मजबूत बनाते हैं। इसमें मौजूद तत्व दांतों को हानिकारक संक्रमणों से बचाते हैं जिससे दांत सड़ते नहीं। यह दांतों पर सुरक्षा कवच की तरह काम करती है।

आज के समय में बहुत से लड़के – लड़कियां एक बात से बहुत परेशान होते है और वह है चेहरे पर कील – मुंहासो का होना. किसी के भी चेहरे पर दाग – धब्बे अच्छे नहीं लगते और इससे एक खुबसूरत चेहरा भी बदसूरत नजर आने लग जाता है.

अपने चेहरे की मांसपेशियों का प्रयोग करें: नाक के अंदर (cavity) मूवमेंट करना अटके हुए बलगम को निकाले में सहायक हो सकता है। गार्गलिंग और गुनगुनाने के बारे में तो पहले ही बता दिया गया है, आप इन सबका प्रयास भी कर सकते हैं: