“मुँहासे scabs से छुटकारा _मुँहासे blemishes से छुटकारा”

पपीता विरोधी ऑक्सीडेंट्स और एंजाइमों में समृद्ध है, जो कि बैंपिरिया पर दाना पैदा करने के लिए काम करते हैं। प्रभावित क्षेत्र पर कच्ची पपीता के एक ताज़ा तैयार पेस्ट का उपयोग करें। इसे 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें और कुल्ला बंद करें।

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

किसी भी लड़के या लड़की के मुंह पर मुहासे होने का सबसे प्रमुख कारण उसकी त्वचा का बेजान होना  और पूर्ण  पोषण ना मिल पाना यह मुहासे होने का सबसे बड़ा कारण होता है.और इसके  अलावा और भी बहुत से कारण है. जिनसे मुहासे हो सकते है. उनके बारे में हम आपको निचे बता रहे है.

खीरा त्वचा को शीतलता, कसावट और कोमलता प्रदान करने वाले गुणों के कारण बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा, विटामिन ए, विटामिन ई, मैग्नीशियम और पोटेशियम सहित उच्च विटामिन और खनिज मौजूद होने के कारण ये ऑयली त्वचा के लिए बहुत अच्छा होता है।

हल्दी खाएँ: यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक आपके शरीर में बलगम बनाने वाले बैक्टीरिया को मारता है। आप जो कुछ भी पीते हैं उसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाएँ या इसे एक गिलास पानी के साथ पिएँ। प्रतिदिन इस पदार्थ के कुछ छोटे चम्मच आपको बहुत जल्दी बलगम-मुक्त कर देंगे।

Posted in Face, Skin    Tagged acne home remedies, acne problems, dermatologist in ghaziabad, dermatologist in greater noida, home remedies, pimple problems, skin doctor in ghaziabad, skin doctor in greater noida, skin problems, skin tips skin tips    Leave a comment   

मुँहासे की समस्या खासतौर पर हारमोन्स में परिवर्तन एवं त्वचा की अधिक तैलीय ग्रंथियों के कारण होता है पर कभी – कभी शारीरिक सफाई का ध्यान न रखने, चॉकलेट अधिक खाने व निरंतर व्यायाम न करने से भी निकल आते है |

दोस्तों पिम्पल्स हटाने के तरीके, Home remedies tips to remove Pimples (Acne) in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास कील मुंहासे का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

अपने मुँहासों पर एक प्राकृतिक एसिड को डालें: नींबू के ताज़ा रस तथा एपल साइडर विनेगर (apple cider vinegar) को भी मुँहासों के इलाज के लिए प्रयोग किया जा सकता है। यदि आपके मुँहासों का मुहँ खुल गया है तो यह ज्यादा दर्दनाक हो सकता है। इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें तथा फिर ठण्डे पानी से धो लें।

पिछले कई सालों से सिर दर्द, ठंड, खांसी, कंजस्टेड नाक, छाती और गले के कहर के इलाज के लिए विक्स का इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन यह इसका एकमात्र उपयोग नहीं है। आप इसे कई अन्य चीजों के लिए भी उपयोग कर सकते हैं

फूड एलर्जैन्स से बचें: किसी भी खाने के लिए एलर्जी या संवेदनशीलता बलगम का निर्माण एवं उसे गाढ़ा कर सकती है। अगर आपकी बलगम की समस्या स्थायी है और किसी विशिष्ट कोल्ड या बीमारी से संबंधित नहीं है, तो उसका टेस्ट कराना फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इससे आप यह जान पाएँगे कि कहीं इस बलगम का कारण फूड एलर्जी तो नहीं है। सबसे आम फूड एलर्जैन्स हैं:

धूप में कुछ नीम के पत्ते सुखाकर पीस लें। इस पाउडर को, हल्दी पाउडर और गुलाब जल में मिलाकर एक पेस्ट बनाएं और दानों पर लगाकर २० मिनट बाद धो लें। नीम के पाउडर की जगह आप चन्दन के पाउडर का भी प्रयोग कर सकते हैं जो मुँहासों को कम करने के लिए अच्छा उपाय है।

लेकिन कॉलेज के समय में जो पिम्पल मेरे चेहरे पर आये उनको छुड़ाने में मुझे 8 महीने से ज्यादा लग गये. मेरे चेहरे में पहले एक फुंसी आई फिर दूसरी और देखते ही देखते ही यह संख्या रोजाना लगातार बढती जा रही थी. जो भी पिम्पल पुराना हो जाता है वह चेहरे पर मुंहासे में बदल जाता. जो मेरे चेहरे पर एक काले दाग की तरह दिखाई देता था.

सोने के अभाव, बहुत अधिक तनाव, अस्वस्थ भोजन की आदत और एक व्यस्त जीवन शैली भी मुँहासे पैदा होने का कारण हो सकती है। मुँहासे चेहरे, छाती पर, पीठ और सिर पर दिखाई दे सकते हैं। यद्यपि इनका कोई निश्चित इलाज नहीं है, किंतु कई सरल घरेलू प्राकृतिक सामग्री हैं, जिनका उपयोग मुँहासे हटाने के लिए किया जा सकता है।

यदि आप अक्सर बीमार पड़ जाते हैं, तो इसका मतलब है कि आपका इम्युनिटी कमजोर है। आप इस हर्बल काढ़े की मदद से इसे मजबूत कर सकते हैं। इस काढ़े में कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण है। ये काढ़ा वात और कफ को शांत करता है, पाचन को उत्तेजित करता है, प्रतिरक्षा में वृद्धि करता है।

पुलिस ने बताया कि जब मामले की जानकारी हुई तो केस दर्ज कर सुरेश को पकड़ने की तैयारी की गई। उसमान ने बताया कि उसकी और मारिया की 2005 में शादी हुई थी और वह 2012 में आपसी सहमति से अलग हो गए थे। सुरेश की मारिया से मुलाकात फेसबुक के जरिए हुई थी और दोनों में जल्द ही प्यार हो गया और दोनों साथ में रहने लगे। इस बीच सुरेश अपने घर गया जहां उसके परिवार ने उसकी शादी लता से करा दी।

छालों के उपचार के लिए मार्किट में कई सरे जेल और क्रीम उपलब्ध है. लेकिन अगर आप चाहे तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं। आज हम आपको 6 ऐसे आसान उपाए बताएँगे जिनके प्रयोग से आप बहुत जल्द ही मुँह के छालों से छुटकारा पा सकते है.

शहद, त्वचा की सतह पर जमा अतिरिक्त तेल को कम करने में मदद करता है। साथ ही छिद्र और झुर्रियों को भी होने से रोकता है। शहद में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो त्वचा को पोषण देते हैं और त्वचा को बिना ऑयली बनाये पर्याप्त रूप से मॉइस्चराइज करते हैं। इसके अलावा, शहद के प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण मुँहासे पैदा करने वाली ऑयली त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं।

 Sarita, for more than 6 decades, has been refreshing the minds and moods of millions of its readers. It appeals to an urban and socially conscious intelligentsia. Sarita carries a distinctive mix of articles on subjects ranging from politics, society, economy, travel, health, fiction, poetry, life and entertainment. Its deeply introspective articles invite its readers to delve into the softer issues of life, relationship, family and personal development, and prepare themselves for a modern, progressive lifestyle. Sarita’s stories always make a delightful read. Humour and satire remain an integral part of Sarita. No edition of Sarita is complete without its refreshing cartoon strips and satirical illustrations.

दाग और धब्बे हटाने के कुछ नुस्खे जैसे मुलैठी त्वचा की संवेदनशीलता को बढ़ा सकते हैं। अतः जब आप दाग धब्बे हटाने के लिए किसी घरेलू नुस्खे का प्रयोग कर रहे हैं तो धूप में बाहर निकलने से पहले सही सनस्क्रीन (sunscreen) का प्रयोग अवश्य करें।

क्या आप foundation के तहत एक primer का उपयोग करते हैं? अगली बार, मेकअप लागू करने से पहले अपने चेहरे पर एक बर्फ के टुकडे से massage करे | यह trick आपकी त्वचा को एक चिकनी कैनवास में बदल सकता है! यह अस्थायी रूप से pores को कम कर देता है और मेकअप को flawless दिखने में मदद करता है ।

सेहत संबंधी कई ऐसी समस्याएं होती हैं जिन्हें हम रोग तो नहीं कह सकते हैं लेकिन दर्द, संक्रमण, खाने और निगलने में दिक्कतें आदि हमारे लिए परेशानी का सबब होती हैं। मुंह के छाले भी एक ऐसी ही समस्या है। इनसे उपचार के लिए अगर बाजार में मिलने वाले जेल या क्रीम उपलब्ध हैं लेकिन आ चाहें तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं।

मेरे चेहरे पर बहुत सारे पिंपल्ज़ हैं यह बीच बीच में ठीक भी हो जाते हैं लेकिन फिर से वापस भी आ जाते हैं यदि मैं भाप वाला फार्मूला पर्योग करूँ तो क्या यह पिंपल्ज़ हमेशा के लिए ठीक हो सकते हैं? प्लीज़ रेप्लाई सर

मुंह के छालो की समस्या दिखने में जितनी छोटी हैं उतनी ही अधिक कष्टदायी हैं। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।

हॉर्सरेडिश आपके चेहरे से काले धब्बे और अन्य दाग दूर करने में काफी प्रभावशाली साबित होता है। हॉर्सरेडिश लेकर इसे किस लें और इससे एक महीन पेस्ट तैयार कर लें तथा अपने चेहरे के प्रभावित भागों पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग दिन में कम से कम 2 बार करें और एक महीने में आपको काफी प्रभाव दिखेगा।

बागेश्वरी एक सम्पूर्ण ‘साहित्य ,महिला व युवा पत्रिका’ है ,  ! उनसे जुडी ढेरों जानकारियां , टिप्स , रसोई , स्वास्थ्य ,कविता ,कहानियां ,समाचार व मनोरंजन को समाहित किया गया है …आशा है आप सभी सुधि पाठकों को प्रयास पसंद आएगा ! फ़िल्मी समाचार ,रसोई टिप्स , आभूषण , विज्ञान , अजूबे समाचार आदि कई सामग्री , वीमेन मैगज़ीन , युवा पत्रिका !@ YoguruTechnologies

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

“मुंह को दूर करने का आसान तरीका सबसे अच्छा मुँहासे”

रात को भोजन के बाद एक छोटी हरड़ चूसे। इस से आमाशय और आंतड़ियों के दोषो के कारण महीनो ठीक ना होने वाले मुंह व् जीभ के छाले ठीक हो जाते हैं। हरड़ को चूसते रहने से पाचक अंग शक्तिशाली बन जाते हैं, पेट के कीड़े भी नष्ट होते हैं।

सेहत संबंधी कई ऐसी समस्याएं होती हैं जिन्हें हम रोग तो नहीं कह सकते हैं लेकिन दर्द, संक्रमण, खाने और निगलने में दिक्कतें आदि हमारे लिए परेशानी का सबब होती हैं। मुंह के छाले भी एक ऐसी ही समस्या है। इनसे उपचार के लिए अगर बाजार में मिलने वाले जेल या क्रीम उपलब्ध हैं लेकिन आ चाहें तो अपने किचन में मौजूद चीजों से ही इसका उपचार आसानी से कर सकते हैं।

इस साइट की कुकीज़ की सामग्री और विज्ञापनों को अनुकूलित करने के लिए उपयोग किया जाता है, सामाजिक मीडिया सुविधाओं को उपलब्ध कराने और यातायात का विश्लेषण. Además, हम अपने सामाजिक मीडिया सहयोगियों के साथ वेब के अपने उपयोग के बारे में जानकारी साझा, विज्ञापन और वेब विश्लेषण.स्वीकारेंऔर अधिक पढ़ें

Gulab jal me barabar matra me nimbu ka ras milakar mishran tayaar kar lijiye or us mishran ko chehre par karib aadhe ghante tak laga kar rakhe fir taje pani se chehra dho le, is pryog ko chehre par karib 15 din tak kare , jisse apke chehre ke muhase thik ho jayenge.

For more articles on skincare, check out our skincare section. Follow us on Facebook and Twitter for all the latest updates! For daily free health tips, sign up for our newsletter. And to join discussions on health topics of your choice, visit our forum.

परेशान करने वाली चीज़ों से दूर रहें: घरेलू क्लीनर्स, एनैमल्स (enamels), रंग के धुएँ और अन्य रसायन रेस्पीरेटरी स्थिति को बिगाड़ते हैं और बलगम के स्तर को बढ़ाते हैं। अपने घर में ताजी हवा आने के लिए अपनी खिड़कियों को खुला रखें, अपनी बीमारी के दौरान परेशान करने वाली चीज़ों को अंदर रखें और ऐसी जगह जाने से बचें जहाँ ये सब होने की संभावना है (जैसे बार या एक पेंट की दुकान।[४]

#1 – Dermasis, 94 अंक हमारे 100 के। Dermasis लक्षण है कि आपकी त्वचा लाल और एक दो गुना दृष्टिकोण के साथ बद देखो करने के लिए कारण से लड़ने में मदद करता है एक प्राकृतिक छालरोग उपचार फार्मूला है। Dermasis के सक्रिय संघटक, चिरायता का एसिड, 2% को उत्तेजित करता मृत की इस परत के बहा त्वचा कोशिकाओं आपके सोरायसिस को कम करने में मदद करने के लिए।

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के लिए किंग्स इलेवन पंजाब ने मुख्य कोच और गेंदबाजी कोच के नाम का ऐलान कर दिया है। पंजाब ने वेंकटेश प्रसाद को गेंदबाजी कोच, जबकि ब्रेड हॉज को मुख्य कोच [Read more…]

भोजन में दालचीनी पाउडर का 1 चम्‍मच रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम करता है। इसके प्रयोग से टाइप टू डायबीटिज में रक्‍त शर्करा 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकती है। टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के लिए दालचीनी एक वरदान से कम नहीं है। दालचीनी टाइप-2 मधुमेह पर सकरात्मक प्रभाव डालता है और मधुमेह रोगी को एक स्वस्थ और साधारण जीवन व्यतीत करने में मदद करता है।

पूरा नींद लें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करेंपानी अधिक मात्र में पिएं कास्मेटिक का उपयोग ही न करें फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ|

पायरिया से परेशान लोग मूली के रस से दिन में 2-3 बार कुल्ले करें और इसका रस पिएं तो बहुत फायदा होगा. मूली के रस से कुल्ला करना, मसूड़ों-दांतों पर मलना और पीना दांतों के लिये बहुत लाभकारी है. मूली को चबा-चबा कर खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं.

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आप किसी पार्टी में जाने के लिए invited हों जहाँ तरह तरह के खाने-पीने की चीजों का इंतजाम हो… लेकिन इसी वक़्त कमबख्त मुंह के छालों ने आपको परेशान कर रखा हो? मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। 

निवदेन – Friends अगर आपको ‘ Homemade Remedies for pimple solution in Hindi ‘ पर यह लेख अच्छा लगा हो तो हमारे Facebook Page को जरुर like करे और  इस post को share करे | और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

ठंड के दिनों में धुप में बैठने में बहुत मज़ा आता है, और इस आराम के दौरान सनबर्न को ध्यान नहीं देते । ये sunburns आपकी त्वचा की गुणवत्ता को बर्बाद कर सकते हैं और यह वास्तव में दर्द का कारण बन सकते हैं | ice cube को aloe vera के साथ इस्तेमाल करना sunburn के सबसे अच्छा उपचार में से एक हो सकता है | Aoe vera का शीतलन प्रभाव सनबर्न में आराम प्रदान करता है | इसके स्थान पर खीरा का भी इस्तेमाल किया जा सकता है |

मुझे कील – मुंहासो से सबसे ज्यादा राहत नींबू के रस से ही मिली थी. नींबू बड़ी आसानी से कम Price में बाजार में उपलब्ध हो जाता है. यह हमारे त्वचा को काफी सुन्दर बनाता है. आप नींबू को काटकर उसका रस अपने दाग या मुंहासो में लगा ले.

हालत पूरी तरह से इलाज करने के लिए कोई सोरायसिस उपचार है। हालांकि, छालरोग उपचार आम तौर पर प्रभावी है और हालत समाशोधन या सोरायसिस के धब्बे को कम करने के द्वारा नियंत्रित होगा। सोरायसिस में छूट जाओ और रोग के कोई लक्षण दिखा सकते हैं। चल रहे अनुसंधान सक्रिय रूप से सीखने कैसे सोरायसिस और खोज बेहतर छालरोग उपचार और एक संभव इलाज से भविष्य में छुटकारा पाने के लिए पर प्रगति कर रहा है।

दाग धब्बों को दूर करने के लिए लाल मसूर की दाल और दूध का भी पैक बनाया जा सकता है। 1 चम्मच साफ़ और धुली लाल मसूर की दाल को कच्चे दूध में भिगोकर रखें। सुबह इसे दूध के साथ पीसकर एक दानेदार पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर हलके हाथों से रगडें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और इसके बाद कुछ देर तक दोबारा अपने चेहरे को रगड़कर इसे गुनगुने पानी से धो लें। हफ्ते में इसका 2 बार प्रयोग करने पर आपको 15 दिनों में फर्क दिखने लगेगा।

* लहसुन : लहसुन की 2 कलियों का रस निकालकर 1 गिलास पानी में मिलाकर कुल्ला करें। रोजाना 4 से 5 दिन तक इसका प्रयोग करने से मुंह के छाले कम हो जाते हैं। लहसुन की कली को पानी के साथ पीसकर उसमें थोड़ा-सा देसी घी मिलाकर मलहम तैयार करें। इस मलहम को छालों पर लगाने से छाले खत्म हो जाते हैं।

मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। तो आइये हम detail में जानते हैं कि Mouth Ulcers (muh ke chhale) होने के कारण क्या-क्या हैं और हम किस प्रकार इनसे निजात पा सकते हैं।

फेसबुक के जरिए मारिया को जब यह पता लगा तो उसने सुरेश पर शादी करने का दबाव डाला, सुरेश ने उससे भी शादी कर ली। पुलिस को जब मारिया की लाश मिली तो वह सुरेश की तलाश में उसके गांव पहुंचे। सुरेश को इसकी जानकारी हो गई और वह नेपाल भाग गया। पुलिस ने उसे नेपाल से गिरफ्तार किया।

सूर्य किरणों: रोगियों के बहुमत आमतौर पर लगता है कि सूरज की रोशनी के लिए उनकी हालत अच्छी है। फिर भी, कुछ विचार बहुत अधिक सूरज की रोशनी अपने लक्षण बदतर बना देता है कि। धूप की कालिमा सोरायसिस एक बहुत बढ़ रहा है।

ग्रीन या ब्लैक टी (चाय) पीएं: चाय में पॉलीफेनोल्स (polyphenols) मौजूद होता है, जो सल्फर को दूर करने में और मुंह के बैक्टीरिया को कम करने में मदद करता है। यह मुंह को हाइड्रेट (जलयोजित) करने में भी सहायता करता है। अच्छे नतीजे के लिए दिन में कई बार बिना मिठास वाली गर्म चाय को पीयें।[१४]

मुल्तानी मिट्टी के बराबर, चंदन पाउडर और गुलाब जल के अनुपात को मिक्स करें। आप पेस्ट में बेहतर स्थिरता लाने के लिए और गुलाब जल को मिला सकते हैं। अपने चेहरे पर यह गीली मिट्टी पैक लगाएं। सूख जाने के बाद इसको धो लें। सप्ताह में एक बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

जितना हो सके पानी पीएं और संतुलित आहार खाएं: शायद संतुलित आहार खाने से आपके धब्बे गायब नहीं होंगे | लेकिन, संतुलित आहार आपके शरीर को संतुलित बनाकर त्वचा को अच्छा बनाने में मदद करेगा | 8 से 10 गिलास पानी पीने से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर फ़ेंक कर आपको पतला और जवान बनाता हैं | आप विटामिन ए, सी, और इ भी लें सकते हैं |

“क्या pimples से छुटकारा पाने में मदद करता है -मुँहासे के मुँहासे के निशान”

वैसे तो मुंह की रखना ही मुंह की बदबू को दूर करने का अचूक उपाय है। इसलिए मुंह की सफाई रखें और खाना खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें। साथ ही दिन में दो बार अच्छे से ब्रश करें। ऐसा लगातार करने से मुंह की बदबू हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

Bahut acche topic par post likhi hai aapne! aajkal pimples ki bahut jyada problem young generation me ho rahi hai….khubsurat banne ki chahat sabhi ko hoti hai…aapne jo upay bataye hain veh bahut kaam ke hain….dhanyabad!

लेकिन कॉलेज के समय में जो पिम्पल मेरे चेहरे पर आये उनको छुड़ाने में मुझे 8 महीने से ज्यादा लग गये. मेरे चेहरे में पहले एक फुंसी आई फिर दूसरी और देखते ही देखते ही यह संख्या रोजाना लगातार बढती जा रही थी. जो भी पिम्पल पुराना हो जाता है वह चेहरे पर मुंहासे में बदल जाता. जो मेरे चेहरे पर एक काले दाग की तरह दिखाई देता था.

निवेदन- आपको How to Remove Pimples and Acne in Hindi ये आर्टिकल कैसा लगा हमे अपने कमेन्ट के माध्यम से जरूर बताये क्योंकि आपका एक Comment हमें और बेहतर लिखने के लिए प्रोत्साहित करेगा और हमारे Facebook Page को जरूर LIKE करे.

यदि आप अक्सर बीमार पड़ जाते हैं, तो इसका मतलब है कि आपका इम्युनिटी कमजोर है। आप इस हर्बल काढ़े की मदद से इसे मजबूत कर सकते हैं। इस काढ़े में कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण है। ये काढ़ा वात और कफ को शांत करता है, पाचन को उत्तेजित करता है, प्रतिरक्षा में वृद्धि करता है।

How to Remove Pimples from Face in Hindi. Teji/tezi se muhase hatane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay. Muhase hatane ke upay. Muhase ke liye gharelu upay. Pimple hatane ke tarike Hindi me. Pimple ke gharelu nuskhe. Muhase ka gharelu ilaj Hindi me. Muhase ka ilaj. मुँहासे हटाने के उपाय। मुहासे हटाने के लिए घरेलू उपचार। Pimples on face treatment at home in Hindi. Pimples problem solution in Hindi. Pimple and acne treatment in Hindi.

अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल ऑफ नेचुरल प्रोडक्ट में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, मुलेठी की जड़ दांतों को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है। मुलेठी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍टीरिया के कारण होने वाली कैविटी के विकास को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा यह जडी-बूटी प्‍लॉक को कम करने में भी मदद करती है। नियमित रूप से दांतों में ब्रश करने के लिए मुलेठी की जड़ के पाउडर का प्रयोग करें। इसके अलावा आप टूशब्रश करने के लिए मुलेठी की स्‍टीक का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

5 टूथपेस्‍ट तो हम दांत साफ करने के लिए प्रयोग करते हैं, पर इसके इस्‍तमाल से आप अपने चेहरे के पिंपल को भी साफ कर सकते हैं। अगर रात में सोने से पहले इसको अपने चेहरे के मुहांसे पर लगा रहने देगें तो यह उन मुहासों को ठंडा कर के सुखा देगा।

ऊपर दी गई सामग्री को मिलाकर पेस्ट तैयार करें और इस पेस्ट को मस्से के ऊपर लगाते हुए इसे कपड़े से कवर कर लें। कुछ घंटों तक पट्टी लगे रहने के बाद दोबारा इस प्रक्रियां को दोहराते हुए दूसरी पट्टी का उपयोग करें। इसी प्रक्रिया को इसी तरह से दोहराने से आपको जल्द ही अच्छे परिणाम प्राप्त हो जाएंगे। जल्दी परिणाम प्राप्त करने के लिए इसे आप दिन में दो बार करें।

पुनरुज्जीवित करने वाले गुण होते है। यह फंगल संक्रमण वाले कीटाणुओं को मारता है, घावों और निशानों को भरता है, त्वचा को चिकना कर देता है और नरम बनाता है, और प्रभावित क्षेत्र में नई कोशिकाओं के विकास को प्रोत्साहित करता है।

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

दूध चेहरे की रंगत बढ़ाता है, दूध मे लॅकटिक अम्ल होता है जो त्वचा को कोमल और सुंदर बनाता है। इसके लिए कच्चे दूध का उपयोग करे। दूध मे रूई भिगोकर पूरे चेहरे पर लगाए फिर 15 मिनिट के बाद गर्म पानी से धो ले,रोज सुबह इस विधि का उपयोग करे।

“अपने मुंह को दूर करने के लिए -बर्फ का उपयोग मुँहासे से छुटकारा”

मुंह से आने वाली दुर्गंध कई बार लोगों से दूरी का सबसे बड़ा कारण बन जाती हैं। हम दोस्तों के बीच बैठे हैं और कोई हमसे हमारे मुंह से आ रही दुर्गंध (बदबू) के बारे में कहता हैं, तो हमें दोस्तों के बीच नीचा देखना पड़ता हैं । इसी बीच दोस्त हमें दस तरह के उपाय बताने लगते हैं, कोई अच्छे टूथपेस्ट का सुझाव देता हैं तो कोई माउथ स्प्रे के बारे में बतलाने लगता हैं, लेकिन इन सबके बीच यदि आप कुछ घरेलू नुस्खे या उपाय अपनाएं तो आप मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पा सकते हैं । ये किफायती भी होंगे और असरकारक भी । दुर्गंध को यूं पहचानें घर पर अकेले में या बात करते समय जब लोग आपके सामने न खड़े हों तो उस वक्त अपने मुंह पर हथेली रखकर सांस छोड़िए, इससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि आपका सांसों में दुर्गंध हैं या नहीं ।

Sir mere chere pr chote chote ched type ke gadde achanak do mah se ho rahe ha aur maine ej scrub kiya tha to chamra chil kr kala ho gaya ha aur apbe aap katne ke jaisa lamba lline face pr tun chaar jagah ho gaya ha. Maine ek doctor ko bhi dikhaya pr usko lagane se gadde aur bhi barne lage ha sir mai kya karu plz plese help me

सूर्य किरणों: रोगियों के बहुमत आमतौर पर लगता है कि सूरज की रोशनी के लिए उनकी हालत अच्छी है। फिर भी, कुछ विचार बहुत अधिक सूरज की रोशनी अपने लक्षण बदतर बना देता है कि। धूप की कालिमा सोरायसिस एक बहुत बढ़ रहा है।

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

पीठ के मुहाँसे भी चेहरे के मुहंसों की तरह ही भयानक होते है। रिसर्च में ये पता चला है कि जिन लोगों को चेहरे के मुहांसों की समस्या ज़्यादा होती है, वही लोग पीठ के मुहांसों से भी उतने ही पीड़ित होते है। पीठ के मुहांसों का एक पहलू ये भी है कि इनके तक पहुँचना और इनका इलाज करना बहुत मुश्किल है क्योंकि इन तक पहुँचना और इनको देख पाना एक आसान नहीं है। मुहांसों का कहीं भी शरीर पर निकलना में मुख्य कारण हार्मोनल असंतुलन है। ये यौवन अवधि के दौरन एस्ट्रोजन (estrogen) और टेस्टास्टरोन (testosterone) हॉर्मोन (hormones) के अधिक स्राव के कारण होते है और जैसे ही कोई 20 साल की उम्र को पार करता है ये अपने आप चले जाते है। ये मुंहासे आपकी छाती, कंधे, पैर और हिप्स पर भी हो सकते हैं। बॉडी लोशन, मसाज ऑयल (massage oil) और सनस्क्रीन (sunscreen) आदि का इस्तेमाल करने से रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और मुंहासे हो जाते हैं। तनाव, अनियमित नींद, अस्वस्थ लाइफस्टाइल, खानपान की ग़लत आदतें और अधिक काम का बोझ भी कुछेक कारण है मुहाँसे निकालने का। यहाँ हम आज कुछ ऐसे ही घरेलू उपाय और घरेलू उपचारों की बात करेगें जिसकी मदद से आप पीठ के कील मुहांसों से निजात पा सकेगें।

गम में ज़ाइलीटोल (Xylitol) पाया जाता है, एक शुगर-फ्री स्वीटनर जो की सनौबर पेड़ की छाल (birch bark) से बनता है, खासतौर पर दुर्गंधयुक्त सांस को रोकने में मददगार होता है। यह आपके दांत को खराब होने से बचाता है, और के घिसे हुए इनेमल को मिनरल देकर पुनः निर्माण करने में मदद कर सकता है।[६]

टूथपेस्ट का आप नियमित रूप से उपयोग अपने दांत साफ करने के लिए करते हैं, लेकिन यह आपकी मुँहासो की समस्या को भी ठीक कर सकता है। यह मुँहासों के लिए सबसे आसान घरेलू उपचारों में से एक है। बिस्तर पर जाने से पहले प्रभावित क्षेत्र पर सफेद टूथपेस्ट की एक छोटी सी मात्रा लगाएं। टूथपेस्ट सूजन को कम करता है और मुँहासों को सुखा देता है। एक या दो दिन के भीतर आप महत्वपूर्ण सुधार देख सकते हैं। (और पढ़ें – टूथपेस्ट के हैरान कर देने वाले पाँच फायदे)

एक बलगम निकालने वाली दवाई लें: यह ऐसी दवाईयाँ होती हैं जो आपके गले और नाक की बलगम को तोड़ती हैं और आसानी से इसे खाँसकर अपने शरीर से निकालने में आपकी मदद करती हैं। इनमें से बहुत सारी स्थानीय दवा की दुकानों पर ओवर-द-काउंटर उपलब्ध होती हैं, जबकि कुछ को डॉक्टर लिखकर देते हैं। खुराक निर्देशों का पालन करें और बलगम की वजह से हो रहे जमाव से आराम पाने के लिए दवाई को रोज़ लें।[३]

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और त्वचा की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

घर सौंदर्य ट्रिक्स यह अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम यूरोपीय संघ में एक भागीदार है, एक विज्ञापन कार्यक्रम सहबद्ध वेबसाइटों विज्ञापन और Amazon.es के लिए लिंक के लिए कमीशन प्राप्त करने के लिए एक साधन प्रदान करने के लिए बनाया.

कभी अल्सर फूट भी सकता है जिससे पूरे पेट में संक्रमण हो जाता है तथा पेट में तेज दर्द रहता है। लम्बे समय तक अल्सर रहने से केंसर होने का खतरा हो सकता है। इसके साथ ही आयुर्वेदिक नुस्खे से भी एसिडिटी का इलाज किया जा सकता हैं |

निजी स्वच्छता के नियमों की उपेक्षा मत करो दिन में 2 बार अपना चेहरा धो लें, एक व्यक्तिगत तौलिया या नैपकिन के साथ त्वचा को साफ करें आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त अतिरिक्त चेहरे का शुद्ध उपयोग करें। विशेष रूप से अच्छी तरह से बिस्तर पर जाने से पहले त्वचा को साफ;

आज का दौर खुद को दूसरो से बेहतर साबित करने का दौर है. हर किसी की चाह अपनी अलग पहचान बनाने की है. लेकिन जब किसी भी Person के Face पर pimples हो जाते है तो यह उसके Confidence को बहुत Low कर देता है. उसके मन में खुद के लिए हीन – भावना आने लगती है. वह व्यक्ति लोगो से मिलने में कतराने लगता है.

Tags: Home remedies for pimples in hindiपिम्पल की दवापिम्पल कैसे दूर करेपिम्पल टिप्स इन हिंदीपिम्पल ट्रीटमेंटपिम्पल मुँहासे कैसे हटाएपिम्पल हटाने के घरेलू उपाय नुस्खेपिम्पल्स के दागपिम्पल्स हटाने के तरीकेमुँहासे हटाने के उपाय

तमाम कोशिशों के बावजूद कई बार चेहरे पर पिंपल्स यानी मुंहासे हो जाते हैं। खासकर टीनएज में यह समस्या ज्यादा होती है. मुँहासे चेहरे पर कई कारणों से हो सकते हैं , जैसे चेहरे पर जमी गन्दगी को ठीक से साफ न करना या चेहरे का अत्यधिक तैलीय होना आदि , मुँहासे होने पर हमें काफी या मसालेदार भोजन का उपयोग कम करना चाहिए और फलों का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए, पिम्पल्स को दूर करने का सबसे आसान तरीका आप घर पर रह कर आजमा सकते हैं.

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

एसिडिटी का प्रमुख लक्षण है रोगी के सीने या छाती में जलन। अनेक बार एसिडिटी की वजह से सीने में दर्द भी रहता है, मुंह में खट्टा पानी आता है। जब यह तकलीफ बार-बार होती है तो गंभीर समस्या का रूप धारण कर लेती है।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

जिन लोगो को समय समय पर पिम्प्लेस हो जाते है उन लोगो के लिए करेला एक बहुत ही अच्छा उपाय है. करेले को काटकर उबाल ले या उसके रस को निकालकर पीने से यह खून (blood) को साफ कर देता है. जिससे पिम्प्लेस (pimples) पूरी तरह से खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर व कोमल दिखाई देने लग जाता है.

This is a health and medical awareness book. It helps to easily identify diseases and explains the symptoms. It also indicates that in the daily routine what precautions are taken, cause of diseases, measures to avoid, things to consider, have been well contained. Moreover, “e;How to change the life style”e;, etc. have also been scientifically detailed in the book.

सर मेने भी बहुत क्रीम उपयोग करके देखि पर कुछ फर्क नही पडा है और मैने डॉक्टर से इलाज भी करवाया परन्तु जब तक इलाज चलता तब तक थोडे कम हो जाते है पिम्पल फिर इलाज बंद होने के बाद वापस शुरू हो जाते है। मैं पिछले 3 साल से परेशान हु पिम्पल से बहुत बार इलाज भी करवाया परन्तु कुछ फर्क नही पडा।अब मुझे क्या करना की मैं पिम्पल से छुटकारा पा सकु

लहसुन खाएँ: अदरक की तरह, लहसुन बहुत शक्तिशाली होता है और जीवाणुओं को मारने और आपके गले को बलगम-मुक्त करने में अच्छा काम करता है। कच्चे लहसुन की कई कलियों को रोज़ खाएँ और अपने खाने में भी इसे घिसें। अगर आप कर सकते हैं, तो लहसुन को सुबह उठते ही खाएँ क्योंकि यह ढंग से बलगम बहने से पहले ही उसे मारने में मदद करता है।

रेडकरंट आंवला परिवार का सदस्य है और यह काले धब्बों पर जमे मेलेनिन (melanin) को हल्का करता है। कुछ रेडकरंट लें और इन्हें पीसकर 1 चम्मच शहद के साथ मिश्रित करें। इस पैक को अपने चेहरे पर लाएं और काले धब्बों पर ध्यान केन्द्रित करें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़कर पानी से धो लें। अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना करें।

अपनी पहली पत्नी के साथ न रह पाने से परेशान एक फिजियोथेरपिस्ट ने अपनी दूसरी पत्नी मारिया मैसी की हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने अपनी पत्नी का शव बेड के ही बॉक्स में छिपा दिया। महिला का शव कई दिनों बाद पुलिस ने तुगलकाबाद घर से बरामद किया।

How to get rid of acne and pimples, how to remove acne, how to stop acne by simple beauty secrets. Remove acne scars, remove acne over night, remove acne at home, acne treatment, how to get rid of acne scars, how to get rid of acne naturally,

FROM WEB10 Indian divas who never got marriedCRITICSUNIONSend Money to India for $0 + Great Exchange RatesVianex10 best Mortgage Lenders of 2018.CRITICS UNIONFROM NAVBHARAT TIMESसर्जरी की वजह से श्रीदेवी का न‍िधन बताने वालों को एकता कपूर ने दिया जवाब पेश हुई एक मिसाल अमिताभ को पहले ही हो गया था श्रीदेवी की मौत का आभास? From The WebMore From NBT

दाल और आलू का पेस्ट : इस बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खे से आप मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पा सकते है आलू और दाल से बना पेस्ट मूछ के सफेद बाल को हटाने में बहुत मदद आता है आलू में ब्लीचिंग के प्राकृतिक गुण होने के कारण आलू को दाल के साथ मिलाकर दाढ़ी व् मूछो का प्राकृतिक रंग वापिस आ जाता है।

एलोविरा का प्रयोग करें: एलोविरा का रस एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो कई प्रकार कि बिमारियों, चोट लगना, जल जाना, या मुँहासों को दूर करता है | यह त्वचा को फिर से नया बनाकर नमी प्रदान करता है | एलोविरा को किसी भी दुकान में पाया जा सकता है, लेकिन एलोविरा के पत्तियों का रस सब से ज्यादा उपयोगी माना गया है | इसके जैल को धब्बों पर लगाकर छोड़ दें | धोने की भी जरुरत नहीं है |

Rat ko sone se pahle kacche dudh ke sath jayfal ko ghise or isk alep tayaar kar le, or is lep ko chehre par laga kar so jaye. Subh chehra saaf pani se dho dey. Kuch din aisa lgatar karne se chehre par hone wale muhaso se chutkara milta hai.

डायबिटीज, कैंसर और दिमागी रोगों के लिए फायदेमंद है दालचीनी वाला दूधखतरनाक बीमारी है लिवर सिरोसिस, तुरंत बदलें अपने खान-पान की आदतेंये 7 चीजें शरीर में पानी की कमी को पूरा कर देती हैं पर्याप्त पोषणये 3 घरेलू नुस्खे अस्‍थमा के असर को तुरंत कर देंगे कमरोजाना खाएं ये 6 फूड, 60 साल तक याद्दाश्‍त रहेगी तेजरोज सुबह पीएं लहसुन वाली चाय, होंगे ये 5 चमत्कारिक फायदे

“त्वचा के नीचे मुँहासे से छुटकारा पाने के तरीके +मुँहासे फ़ोटोशॉप से छुटकारा पाने के लिए”

पिम्पल्स के दाग कैसे दूर करे – आधा-आधा चम्मच नींबू का रस और हल्दी में चौथाई चम्मच नमक और एक चम्मच पानी मिलाकर गर्म करके चेहरे पर लगाये फिर सूखने के बाद चेहरा धोयें। चेहरे के दाने मुँहासे व उनके निशान मिट जायेंगे। यह हर चौथे दिन लगायें

अच्छा लिखा हे !मैंने बहुत क्रीम का इस्तेमाल किया लेकिन मैं किसी भी क्रीम से कभी संतुष्ट नहीं थी, फिर मैंने मस्तानी फेस क्रीम की कोशिश की। मैं हमेशा अमृता फार्मा के उत्पादों को खरीदने का सुझाव देता हूं क्योंकि यह प्राकृतिक और बहुत प्रभावी है| आप यह मस्तानी फेसक्रीम जरूर इस्तेमाल करे और आपको १०० परसेंट रिजल्ट आएगा |

नई दिल्ली: विवादों से घिरी संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ के रिलीज डेट की घोषणा कर दी गई है। ये फिल्म सिनेमाघरों में 25 जनवरी को रिलीज होगी। फिल्म की सीधी टक्कर अक्षय कुमार की फिल्म ‘पैडमैन’ के साथ [Read more…]

ज्यादा रेशे वाले (फाइबर से भरपूर) आहार लें: ताजा और कुरकुरा भोजन आपके दांतो को साफ़ रखने के साथ-साथ, यह दुर्गन्धयुक्त सांस को भी रोकेगा। इससे आपकी पाचनशक्ति में सुधार होगा और विषैले तत्व आपके शरीर से निकल जाएंगे।[९]

दोस्तों पिम्पल्स हटाने के तरीके, Home remedies tips to remove Pimples (Acne) in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास कील मुंहासे का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

–> मुहाँसे पर कच्चे दूध में जायफल घिसकर लगाने से भी मुहाँसे से छुटकारा मिलता है | जायफल घिसे कच्चे दूध को बीस मिनट तक त्वचा पर लगाकर रखने के बाद गुनगुने पानी से धो दें | इस उपाय से मुँहासों के साथ रंग साफ़ होगा और झाईयां भी दूर होती है |

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved. CNN and the CNN logo are registered marks of Cable News Network, LP LLLP, displayed with permission. Use of the CNN name and/or logo on or as part of NEWS18.com does not derogate from the intellectual property rights of Cable News Network in respect of them. © Copyright Network18 Media and Investments Ltd 2016. All rights reserved.

अगर आपको कभी ऐसा अहसास हो कि बिना कुछ खाए आपका शरीर भारी हो रहा है, तो ऐसे में आप यह मान चलिए कि आपके नर्वस सिस्टम में कोई ना कोई परेशानी जरूर है। आप इस लक्षण को नजरअंदाज बिल्कुल ना करें। तनाव ऐसा कारण है जिस कारण आपके बालों का झड़ना काफी बढ़ जाता है। इस योगा आसन को करें और देखें कि आपके बाल किस तरह से सही हो जाते हैं।

Turmeric has great antimicrobial and antiseptic properties and works for all skin problems. It can be used by mixing with water and making a thick and smooth paste. Apply this paste properly in the pimple region and leave it for some time to dry. It helps in killing the bacteria in the pimple. Once it is dried wash it off with normal water. Repeat the process daily to see better results.

बेकिंग सोड़ा से साफ़ करें: बेकिंग सोड़ा के इस्तेमाल से त्वचा के दाग धब्बों को कम किया जा सकता है | 1 छोटा चमच्च बेकिंग सोड़ा को 1 छोटे चमच्च पानी में मिलाकर घोल तैयार करें | इसे अपने चेहरे पर गोलाकार में रगड़ते हुए 2 मिनट तक लगाएं | गुनगुने पानी से चेहरे को धोलें और अच्छे से पोंछ लें | “यह एक जाना माना नुस्खा है, लेकिन इसे पहले थोड़े समय के लिए प्रयोग करें और फिर धीरे धीरे समय बढ़ाएं। बेकिंग सोड़ा में 7.0 PH होता है जो त्वचा के PH से बहुत ज्यादा है | अगर PH की मात्रा को बढ़ा दी जाएगी, तो लम्बे समय तक मुँहासे नहीं जाएंगे और अधिक संक्रमण और सूजन का भी डर रहेगा |”[२]

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के लिए किंग्स इलेवन पंजाब ने मुख्य कोच और गेंदबाजी कोच के नाम का ऐलान कर दिया है। पंजाब ने वेंकटेश प्रसाद को गेंदबाजी कोच, जबकि ब्रेड हॉज को मुख्य कोच [Read more…]

लहसुन रक्त से विषाक्त पदार्थों की सफाई करके मुँहासों से मुक्त, और दमकती त्वचा देता है। लहसुन को छील लें और जहाँ मुँहासे हैं, वहां मल लें। या फिर, लहसुन की कलियों को पीसकर दही के साथ मिलाएं और जहाँ दाने हैं वहां लगाएं।

एंटी बैक्‍टीरियल के साथ-साथ एंटीबायोटिग गुणों से समृद्ध होने के कारण, लहसुन दांतों के टूटने और कैविटी की समस्‍या को दूर करने में मदद करता है। यह दर्द से राहत देने और स्‍वस्‍थ मसूड़ों और दांतों के लिए भी अच्‍छा होता है। 3 से 4 लहसुन की कली को कुचलकर और 1/4 चम्‍मच सेंधा नमक मिलाकर पेस्ट बना लें। फिर इसे संक्रमित दांत पर लगाकर 10 के लिए छोड़ दें। कैविटी को कम करने के लिए इस उपाय को कुछ दिनों के लिए दिन में दो बार करें।  

त्वचा के चकत्ते का इलाज – (Freckles)- त्वचा पर जहाँ कहीं भी चकते हों, उन पर नींबू का टुकड़ा मसले। नींबू में फिटकरी का पाउडर भरकर धीरे धीरे लगाये। इससे चकते हल्के होते हैं और त्वचा में निखार आ जाता है। इसके अलावा हाथ धोकर नींबू का रस रगड़ने से हाथ नरम हो जाते हैं और नाखून सुंदर हो जाते है|

एबॉट के बाउंसर से घायल हुए विल पुकोस्की जेब्रा क्रॉसिंग तो है पर नहीं मिलता पूरा समय चित्तरंजन एवेन्यू में 70 वर्ष पुराने मकान का हिस्सा ढहा इस बार स्नूकर में भारत ने पाकिस्तान को किया धराशायी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले – कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नॉन सीरियस नेता हैं

लेज़र उपचार करवाएं: अगर आपके मुँहासे कई महीनों के बाद भी ठीक नहीं हो रहें हैं, तो लेज़र उपचार करवाएं | आप कौन सा इलाज करवाना चाहते हैं, उसके मुताबिक लेज़र कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करती है और दाग को भाप बनाकर साफ़ करती है |[९]

यदि आपको मिल गया है तो एक दाना दिया गया है जो वास्तव में दूर नहीं जा सकता है, विटामिन ई की गोली को ख़त्म कर दें (या कुछ आहार ई तेल खरीद लें) और अपने दोष को रगड़ें। आप इसे 10 मिनट या एक ही दिन में छोड़ सकते हैं, हालांकि खाद्य आहार उसी समय मॉइस्चराइज रखता है जैसे कि किसी भी लाली और दूषित घटते समय (जो वास्तव में आप की तलाश में हैं)। यह पिलकों को खोलने में मदद कर सकता है और आपको ब्रेकआउट्स बचा सकता है अगर आप इसे नियमित आधार पर उपयोग करते हैं।

पिम्पल्स का इलाज के लिए रसायनिक पदार्थ का उपयोग करने से बेहतर होगा की आप प्राकृतिक उत्पादो का उपयोग करे। घरेलू उत्पाद बहुत सस्ते होते है और इनका कोई बुरा असर भी नही पड़ता। चेहरे पर दाने के उपाय, त्वचा की देखरेख करना वो भी सुंदरता के साथ यह बहुत ज़रूरी है। कुछ घरेलू उपचार की सूची नीचे दी गई है जो काले दाग (black spots) धब्बे, मुँहासे के निशान से दूर रहने मे आपकी मदद करेगे।

अपने मुंह में मौजूद खराब स्वाद को पहचाने: अगर आपके मुंह का स्वाद खराब है, तो इसका अर्थ यह है कि, आपकी सांस दूर्गंधित है। आपने कई बार ध्यान दिया होगा कि, खाना खाने के बाद, भोजन का स्वाद आपके मुंह में कई देर तक बना रहता है। कई पदार्थ जिनका स्वाद तेज होता है और वह अपनी खुशबूदार गुणों से भी जाने जाते है, जैसे कि लहसुन, प्याज़, या अधिक ज्यादा मसालेदार भोजन।[१६]

धूप में अधिक रहने से सूरज की किरणें हमारे चेहरे का हाल बुरा कर देती है. सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणें हमारी त्वचा और हमारे चेहरे के लिए अच्छी नहीं होती. अधिक प्रदूषित जगहों पर जाने से आपको धूल और मिटटी का सामना करना पड़ता है जो आपकी Skin Cells के लिए सही नहीं होते.

एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़े से शहद के साथ एक छोटी दालचीनी का पाउडर मिलाएं; पानी न मिलाये क्योंकि यह शहद के असर नष्ट कर देगा। प्रत्येक दाने पर पेस्ट की एक छोटी सी परत लगाएं और रात भर के लिए रहने दें; अगली सुबह गुनगुने पानी से धो लें। यदि आवश्यक हो तो कुछ दिनों के लिए दोहराएँ।

Ice cubes are easily available in each home. Gently rubbing an ice cube on the pimple reduces the temperature of the affected area and kills the bacteria. You can repeat this process often at home for quick heal.

निखिल जी हमारा उत्साह बढ़ाने के लिए आपका बहुत धन्यवाद. निखिल जी आज जब मैं युवाओ को देखता हूँ तो तब उन्हें देखकर लगता ही की वे कितना खुबसूरत बनने की चाह रखते है. इसी चक्कर में वे कई गलतियाँ कर देते है. उन्ही में एक है कील – मुंहासे. उनकी त्वचा की समस्या को मैंने आज इस पोस्ट में तब विस्तार से लिखा. धन्यवाद

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

आज हम आपको बतांगे कैसे आप सांसों तथा मुहं की दुर्गन्ध से छुटकारा पा सकते हो इसके लिए आपको कहीं  बाहर जाने की आवश्कता नहीं बल्कि आप घर बैठे ही इस समस्या का समाधान कर सकते हो ,तो आये जानते है Bad Breathing Home Remedy के बारे में |

अगर डायबिटीज के रोगियों को कहीं पर चोट लग जाती है तो उस जगह पर जहाँ चोट लगी है वहां सुबह मुँह की लार लगाये घाव भरने लगेगा। क्योकि मुंह की लार एंटीसेप्टिक होती है। वह रोगों की सबसे अच्‍छी दवा हैं, जो आपको फ्री में मिलती हैं। जिसके असंतुलन के कारण ही आज व्यक्ति कई रोगों से ग्रस्त है। जबकि किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के मुंह में प्रतिदिन 1000 से 1500 मिलीलीटर लार बनती है जो मुंह में मौजूद कैविटी, हानिकारक बैक्टीरिया और बारीक भोजन के कणों को साफ करने में मदद करती है। लार में ‘सलाइवा पैरोटिड ग्लैंड हार्मोन’ (एसपीजीएच) पाया जाता है जो त्वचा से उम्र के प्रभावों को कम करते है और आप लंबे समय तक युवा दिख सकते हैं। साथ ही लार में लाइसोजाइम नामक एंटी-बैक्टीरियल तत्व और इम्यून प्रोटीन ‘ए’ होते हैं जो मसूढ़ों और गले को कई प्रकार के हनिकारक इंफेक्‍शन से बचाते हैं।

मुल्तानी मिट्टी में कई प्राकृतिक खनिज होते हैं और इसमें त्वचा का रंग साफ करने के भी गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

प्राकृतिक जड़ी बूटियाँ खाएँ: मुलैठी (licorice), मेथी और चिकवीड (chickweed) जैसी जड़ी बूटियाँ खाना आपके गले से बलगम साफ करने में मदद करेगा। इन्हें अपने खाने में जोड़ें या अगर आप स्वाद को बर्दाशत कर सकते हैं, तो इन्हें कच्चा खाएँ या पानी में उबालकर इनकी चाय बनाएँ।[२]

2 चंदन का पाऊडर पिंपल भगाने में बहुत लाभकारी होता है। यह न सिर्फ आपके चेहरे को फ्रेश करेगा बल्कि पिंपल को दुबारा लौटने से भी रोकेगा। चंदन पाऊडर को पिंपल पर 2-3 घंटो के लिए लगा रहने दें और चेहरे को ठंडे पानी से धो कर सूखा लें।

Tooth paste has many benefits, other than helping in cleaning teeth. You can apply white toothpaste directly on the pimple and let it dry. Follow up with gentle wash. It helps in healing the pimple and acne soon.

अगर अपनी अपने अब आज आप इन इस इसके इससे इसे उनके उस और कई कर करने करें कहानी का काम कार कि किया किसी की कुकर कुछ के बाद के लिए के लिये के साथ केक को कोई क्या खास गया घर घी घोंसले चम्मच चाहिए जब जा जाता है जाती जाने जो जोधपुर ज्यादा ठीक तक तथा तरह तो त्वचा थी थे थोड़ा दिन दिया दूध देखा द्वारा धर्म नमक नहीं ना नाना पाटेकर नीबू ने पर पहले पानी पीपल पुजारी जी पुरस्कार पेस्ट फिर फिल्म बड़ा बन बर्तन बस बहुत बार भी मिला मिलाकर मुंह में में एक मेदा मेरे मैं यह या ये रंग रम्भा रही रहीम रहे राजस्थानी रात रूप लगा लीजिये ले लें वाले विजयदान देथा वो शक्ति शिव सब सभी सा साड़ी साहित्य सी से सेवन हर हल्दी हिन्दी ही हुआ हुए है और हैं हो होता है होती होने होली

“स्वाभाविक रूप से मुँहासे से छुटकारा कैसे करें _मुँहासे को दूर कैसे करें”

१ टीस्पून अच्छा अच्छी अपनी अपने अब आदि आप आपका आपकी आपके आपको इस इसके इसमें इससे इसे इस्तेमाल उनके उम्र उसके उसे एक ऐसे और कई कटा कप कम कर करके करते करना करने करने के करें का काम कि किया किसी की कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या खुद गरम घर चेहरे पर जब ज़रूरी जा जाता है जाती जाने जैसे जो ज़्यादा टेबलस्पून डालकर तक तरह तेल तो त्वचा था थी दिन दिशा दें दोनों ध्यान न करें नज़र नमक नहीं ने पर पसंद पहले पानी फिर फिल्म बच्चे बच्चों बना बहुत बात बार बॉलीवुड भी माह मिनट मुंबई मुझे में मैं यदि या ये रखें रही रहे लगाएं लहसुन लें लेकिन वो सकता है सकती हैं समय साड़ी साथ ही साल से हर ही हुआ हुई हुए हूं है और हो होता है होती होने होम

कोई समस्या नहीं निचोड़ pimples में विशेष रूप से खतरनाक चेहरे पर आंतरिक pimples फैलाएंगे। जब संक्रमण का एक बहुत बड़ा खतरा फैलता है, जो सबसे ज्यादा त्वचा की गिरावट को उत्तेजित करता है, और सबसे खराब – मस्तिष्क के जहाजों में मिल सकता है। धब्बे के बाहर फैलाए जाने के बाद के निशान हैं, फिर से छुटकारा पाने में बहुत मुश्किल है;

अपने दांत अच्छे से साफ करें: मुंह कि दुर्गन्ध को दूर करने के लिए दांतो को अच्छी तरह से साफ करना एक अच्छा तरीका है, जो आप आसानी से कर सकते हैं। दिन में दो बार, कम से कम दो मिनट के लिए ब्रश करें और ध्यान रखें कि आप मुंह के अंदर सभी जगह अच्छी तरह से साफ कर रहे हैं। खास तौर पर जहां दांत और मसूड़े आपस में मिलते हैं वहां ध्यान केंद्रित करें।[१]

आरोपी सुरेश सिंह ने हत्या को अंजाम देने के बाद लाश को बेड में इसलिए छिपा दिया कि वह सर्दियों में गल जाएगा और तब तक उसे सोचने का समय मिल जाएगा। मारिया ने सुरेश से शादी करने के बाद अपना नाम बदलकर सावित्री मेहरा कर लिया था। हत्या के बाद सुरेश अपने घर उत्तराखंड भाग गया और वहां रहने लगा। हालांकि पुलिस ने स्थानीय मदद से उसे धर दबोचा।

बवासीर में कच्ची मूली या मूली के पत्तों की सब्जी बनाकर खाना फायदेमंद होता है. हर रोज सुबह उठते ही एक कच्ची मूली खाने से पीलीया रोग में आराम मिलता है. अगर पेशाब का बनना बंद हो जाए तो मूली का रस पीने से पेशाब दोबारा बनने लगती है. आधा गिलास मूली का रस पीने से पेशाब के साथ होने वाली जलन और दर्द मिट जाता है. खट्टी डकारें आती है तो मूली के एक कप रस में मिश्री मिलाकर पीने से लाभ मिलता है.

मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। तो आइये हम detail में जानते हैं कि Mouth Ulcers (muh ke chhale) होने के कारण क्या-क्या हैं और हम किस प्रकार इनसे निजात पा सकते हैं।

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

Sir mere face par pimpals ho gaye hai aur kali si keel ho jati hai aur funsi jesi ho jati hai please help me aur sir agar ham garmi ke mosam me haldi lagae to koi nuksan to nahi hoga kyo haldi garm hoti hai

–> अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा भी मौजूद है तो समझिए पिंपल रफूचक्कर हो गया क्योंकि असल में बर्फ पिंपल की लालिमा को कम करती है और उसके इर्द – गिर्द जमा गंदगी और तेल को निकाल देती है | आप को केवल इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटकर उसे कुछ सेकेण्ड के लिए त्वचा पर फेरना है |

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

Aloe Vera हमारे चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होता है जिस कारण यह बहुत प्रसिद्ध है. इसका रस कील – मुंहासो पर लगाने से कील – मुंहासे बहुत जल्दी ठीक हो जाते है. अपने चेहरे को खुबसूरत बनाये रखने के लिए भी आप एलोवेरा का प्रयोग कर सकते है.

बालों में डेंड्रफ होना आम बात हैं। कई बार ये डेंड्रफ इतना ज्यादा बड़ जाता हैं जिससे दिनभर खुजली होती रहती हैं। खुजली की वजह से हम कई पर आसानी से बैठ भी नहीं पाते हैं। अगर आपको भी खुजली और डेंड्रफ हो रहा हैं तो हम आपको कुछ उपाए बता रहे हैं जिससे आपको खुजली से राहत मिलेगी।

चेहरे पर कील मुहाँसे ना हों इसके लिए आप रोज फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल न करें पानी अधिक मात्रा में पिएं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पूरी नींद लें साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें|

latest fashion trends Cricket bollywood latest news entertainment news entertainment bollywood_actress lifestyle news lifestyle_news Entertainment_news fashion fashion_traind beauty tips health news fashion news lifestyle bollywood news bollywood news in hindi love latest

You must be worried about what is pimple, what are the reasons behind acne on face, why pimples are coming on my face and so on so… find here answers to all the and ask us if any questions. … Continue reading What is pimples and reasons behind acne – know Everything

घर सौंदर्य ट्रिक्स यह अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम यूरोपीय संघ में एक भागीदार है, एक विज्ञापन कार्यक्रम सहबद्ध वेबसाइटों विज्ञापन और Amazon.es के लिए लिंक के लिए कमीशन प्राप्त करने के लिए एक साधन प्रदान करने के लिए बनाया.

अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल ऑफ नेचुरल प्रोडक्ट में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, मुलेठी की जड़ दांतों को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है। मुलेठी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍टीरिया के कारण होने वाली कैविटी के विकास को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा यह जडी-बूटी प्‍लॉक को कम करने में भी मदद करती है। नियमित रूप से दांतों में ब्रश करने के लिए मुलेठी की जड़ के पाउडर का प्रयोग करें। इसके अलावा आप टूशब्रश करने के लिए मुलेठी की स्‍टीक का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

“मुंह को दूर करने का आसान तरीका +मुँहासे के निशान से छुटकारा पाने के लिए केवल 9 तरीके”

भोजन में दालचीनी पाउडर का 1 चम्‍मच रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम करता है। इसके प्रयोग से टाइप टू डायबीटिज में रक्‍त शर्करा 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकती है। टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के लिए दालचीनी एक वरदान से कम नहीं है। दालचीनी टाइप-2 मधुमेह पर सकरात्मक प्रभाव डालता है और मधुमेह रोगी को एक स्वस्थ और साधारण जीवन व्यतीत करने में मदद करता है।

अध्ययन में, दालचीनी ने गठिया दर्द से जुड़े साइटोकिन्स (cytokines) को कम करने के लिए सकरात्मक प्रभाव दिखाए हैं। मरीजों को सुबह-शाम शहद के एक चम्मच के साथ दालचीनी पाउडर का आधा चम्मच मिलाकर खाने से एक हफ्ते के बाद गठिया के दर्द में काफी राहत मिली और वे एक महीने के भीतर दर्द के बिना चल-फिर भी पा रहे थे।

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

“गहरे छेद” दाँतों में जड़ो के पास हो जाते हैं जो की नियमित तौर पर फ्लॉस नहीं हो पाते।इनमे सड़ा अन्न और कीड़े पैदा हो जाते हैं जिससे साँसों में दुर्गन्ध आती हैं – जो हुए दाँतों (दर्दनाक, संक्रमित मसूड़ों) को जन्म देता हैं।

पिम्पल्स हटाने के तरीके इन हिंदी: गोरे चेहरे पर कोई दाग धब्बा या निशान पड़ जाए तो चेहरे की सुंदरता फीकी पड़ने लगती है। चेहरे पर कील मुंहासे (acne) निकलना आजकल आम हो गया है। ऑयली स्किन पर पिम्पल्स निकलने की समस्या अधिक होती है। पिम्पल को अगर हाथ से फोड़ दे तो पिम्पल्स के दाग चेहरे पर रह जाते है। अक्सर कील मुंहासों के ज़रिए शरीर की गर्मी बाहर निकलती है जो खाने पिने की गलत आदतों से हो जाती है। अगर त्वचा को पोषण देने वाली चीज़े खाए और तले हुए फुड से दूर रहे तो बार बार पिम्पल का निकलना रोक सकते है। हरी सब्जियां, फल और पानी त्वचा को स्वस्थ रखने का उत्तम उपाय है। आज इस लेख में पिम्पल्स कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे जानेंगे, natural home remedies tips to remove pimples in hindi.

अच्छा लिखा हे !मैंने बहुत क्रीम का इस्तेमाल किया लेकिन मैं किसी भी क्रीम से कभी संतुष्ट नहीं थी, फिर मैंने मस्तानी फेस क्रीम की कोशिश की। मैं हमेशा अमृता फार्मा के उत्पादों को खरीदने का सुझाव देता हूं क्योंकि यह प्राकृतिक और बहुत प्रभावी है| आप यह मस्तानी फेसक्रीम जरूर इस्तेमाल करे और आपको १०० परसेंट रिजल्ट आएगा |

फिटकरी और गुलाब जल : फिटकरी और गुलाब जल से बने पेस्ट को अपनी मूछो पर लगाकर आप मनचाहा रंग प्राप्त कर लम्बे समय तक आप जंवा बने रह सकते है इसके लिए फिटकरी को पीसकर इसके पाउडर को गुलाब जल में मिलाकर आप अपनी मूछ पर लगाए।

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

जैसा कि आप जानते हैं, त्वचा हालत का एक संकेतक हैशरीर। चेहरे पर मुँहासे की उपस्थिति के कारण दोनों बाह्य और आंतरिक कारकों का असर हो सकता है। जलवायु की स्थिति, कॉस्मेटिक तैयारी का उपयोग, पर्यावरण की स्थिति बाह्य कारक हैं जो त्वचा की स्थिति को प्रभावित करते हैं। उदाहरण के लिए, गर्मी में मुंह का प्रकटन, पराबैंगनी प्रकाश या वृद्धि हुई पसीना आना के परिणामस्वरूप हो सकता है। त्वचा का संदूषण चेहरे पर छोटे खांघों की उपस्थिति की ओर जाता है

घरेलू नुस्खे चेहरे के किसी भी दाग धब्बों के निशानों को हल्का करने की क्षमता रखते हैं। इनका सही और ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाने के लिए इनका प्रयोग निरंतर रूप से और बताये गए नुस्खे के अनुसार लंबे समय तक करें। इससे आपको बेहतरीन परिणाम मिलेंगे।

आरोपी सुरेश सिंह ने हत्या को अंजाम देने के बाद लाश को बेड में इसलिए छिपा दिया कि वह सर्दियों में गल जाएगा और तब तक उसे सोचने का समय मिल जाएगा। मारिया ने सुरेश से शादी करने के बाद अपना नाम बदलकर सावित्री मेहरा कर लिया था। हत्या के बाद सुरेश अपने घर उत्तराखंड भाग गया और वहां रहने लगा। हालांकि पुलिस ने स्थानीय मदद से उसे धर दबोचा।

यदि आप अक्सर बीमार पड़ जाते हैं, तो इसका मतलब है कि आपका इम्युनिटी कमजोर है। आप इस हर्बल काढ़े की मदद से इसे मजबूत कर सकते हैं। इस काढ़े में कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण है। ये काढ़ा वात और कफ को शांत करता है, पाचन को उत्तेजित करता है, प्रतिरक्षा में वृद्धि करता है।

Scientifically it happens when the dead skin cell and the oil secreted in skin pore club and clot in the pore and block it. This environment gives rise to bacteria which continue to reproduce and swell the area and cause redness. Various other causes like genetic problem, hormonal effect, dairy products, skincare products, forgetting to clean makeup,oily food, mental stress, etc. can also be the reason. To know more about reasons of pimples read causes of pimples and acne.

कील मुहांसों को दूर करने के लिए चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रहें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रहें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें फल और सब्जी ज्यादा अधिक मात्रा में खाएँ साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करेंतले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पानी अधिक मात्रा में पिएं पूरा नींद लें|

नई द‍िल्‍ली : सर्दियों में मूली के पराठे, मूली की सब्‍जी, मूली का अचार और सलाद हर घर के भोजन का अहम हिस्‍सा हैं. हालांकि ज्‍यादातर लोग ऐसे हैं जो मूली की शक्‍ल देखकर ही मुंह बनाने लगते हैं. अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शामिल हैं तो आपके लिए मूली के फायदों को जानना बेहद जरूरी है. जी हां, मूली भले ही आपको मामूली सब्‍जी, लेकिन यह औषध‍िय गुणों से भरपूर है. अगर आप रोजाना इसे अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो कैंसर, डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर समेत कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे और आपकी लाइफस्‍टाइल हो जाएगी बेहद हेल्‍दी:

ऑयली त्वचा पर निम्बू रगड़ने से त्वचा की चिकनाई दूर होती है और पिम्पल्स भी साफ़ होते है। शहद को नींबू में मिला कर पेस्ट बनाए और फेस पर लगाए और 15 – 20 मिनट के बाद धो ले। इस नुस्खे से चेहरे में निखार आता है और पिम्पल ठीक होते है।

चेहरे पर कील मुहाँसो को मिटाने के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें पूरा नींद लें फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ तले हुए तथा मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पानी अधिक मात्र में पिएं कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल ही न करें

Dalchini आपके रक्त में ट्राइग्लिसराइड्स और एल.डी.एल. (“खराब कोलेस्ट्रॉल”) के स्तर को काफी कम कर सकती है, जिससे हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है। दालचीनी में मौजूद सक्रिय संघटक कोशिकाओं की चीनी को तोड़ने की क्षमता को 22 गुना तक बढ़ा देते हैं।

“मुँहासे की दवाएं स्पॉट से छुटकारा पाने के लिए क्या करना है”

मुंह में छाले होने का एहसास दर्दनाक होता हैं । यह होठ, जीभ और गाल के अंदर मसूड़ों में होते हैं । ये कभी अकेले तो कभी समूह में होते हैं । ये सामान्य तौर पर सफेद व पीले रंग के होते हैं जो चारो तरफ से लाल रंग से घिरे होते हैं और आमतौर पर 8 से 10 दिन में ठीक हो जाते हैं ।

इंटरनेट डेस्क। खूबसूरत दिखना किसे अच्छा नहीं लगता। हर लड़की की चाहत होती है कि उनकी साफ और दमकती त्वचा रहे है लेकिन चेहरे पर होने वाले पिम्पल्स आजकल होना आम बात हो गई इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत सारे तरीको को अपनाती हैकई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती है। लेकिन ये उपाय कुछ देर तक ही प्रभावी रह पाते हैं।

सच में बर्फ लगाने के कई फायदे है त्वचा के लिए, जानिए कैसे ice cubes कई तरह के benefits देता है हमारे skin को in Hindi. बर्फ के टुकड़े लगाने भर से चेहरे के सुजन से ले कर फुंसी तक कम हो जाती है | गर्मियों के महीनों में भयानक गर्म होती है, इसमे बर्फ का cube हमे राहत प्रदान करता है | ice cube पूरी तरह से आपके शरीर और आत्मा को शांत करता है और आपको तेज गर्मी से बचाता है । अपने सामान्य juice में दो या तीन बर्फ के cubes को जोड़ना आपके पूरे सिस्टम को शांत करता है | आप इसे अतिरिक्त शीतलता के लिए अपने सामान्य पानी में भी इस्तेमाल कर सकते हैं । कार्यालय में काम करते वक्त मुश्किल दिन बिताने के बाद,बर्फ का एक टुकड़ा वास्तव में आपको relax महसूस कराता है |

चेहरे से पिंपल और कील निकालना आजकल साधारण सी बात हो गयी है लेकिन इनके निशान बाद मे रह जाते है जिससे चेहरे पर धब्बे जैसे नजर आते है। अगर आप अपने खान पान पर ध्यान नही रखते है तब भी आपके चेहरे पर मुहासे हो सकते है। अगर आप अपनी स्किन हो Hydrate रखते है तो आपको इस समस्या का सामना नही करना पड़ेगा इसके लिए आप दिन मे भरपूर पानी का सेवन करे।

5 टूथपेस्‍ट तो हम दांत साफ करने के लिए प्रयोग करते हैं, पर इसके इस्‍तमाल से आप अपने चेहरे के पिंपल को भी साफ कर सकते हैं। अगर रात में सोने से पहले इसको अपने चेहरे के मुहांसे पर लगा रहने देगें तो यह उन मुहासों को ठंडा कर के सुखा देगा।

दाग धब्बों को खुरचने से बचें: खुरचना आपकी त्वचा को ठीक करने की बजाए और ज्यादा खराब कर सकती है | आपके हाथों के बैक्टीरिया खुरचे हुए मुँहासों में मिलकर, आपकी त्वचा को संक्रमित करके सूजा सकती है | इसलिए, हमेशा खुरचने से बचें Track is a leading provider of news, information and entertainment across broadcast television, mobile platforms, digital media and Print media serving consumers and advertisers in strong local markets, primarily in the Madhya Pradesh & Chhattisgarh states. The company’s operations include India’s First ON WHEEL NEWS CHANNEL, News Paper, Event Management, and Marketing and their associated digital and mobile media services.

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

Tags: Home remedies for pimples in hindiपिम्पल की दवापिम्पल कैसे दूर करेपिम्पल टिप्स इन हिंदीपिम्पल ट्रीटमेंटपिम्पल मुँहासे कैसे हटाएपिम्पल हटाने के घरेलू उपाय नुस्खेपिम्पल्स के दागपिम्पल्स हटाने के तरीकेमुँहासे हटाने के उपाय

Tag : Hindi tips to remove pimple marks & pimple spots, Pimple and acne tips in Hindi, Home Remedies For Acne Scars In Hindi, pimple and acne treatment in hindi, how to remove pimple in hindi language, pimple hatane ke tarike in hindi, kil muhase muhase hatane ke upay, kil muhase ke upay hindi me, muhase ke daag hatane ke upay in hindi, daag – dhabbe kaise mitaye, funsiya kaise hataye

वैसे तो मुंह की सफाई रखना ही मुंह की बदबू को दूर करने का अचूक उपाय है। इसलिए मुंह की सफाई रखें और खाना खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें। साथ ही दिन में दो बार अच्छे से ब्रश करें। ऐसा लगातार करने से मुंह की बदबू हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और रोज़ रात को सोने से पहले इसे पी लें। यह हार्मोन संतुलन में मदद करेगा, जो त्वचा में अतिरिक्त तेल के उत्पादन को नियंत्रित करेगा। (और पढ़ें – हार्मोन्स का महत्व महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए)

बवासीर में कच्ची मूली या मूली के पत्तों की सब्जी बनाकर खाना फायदेमंद होता है. हर रोज सुबह उठते ही एक कच्ची मूली खाने से पीलीया रोग में आराम मिलता है. अगर पेशाब का बनना बंद हो जाए तो मूली का रस पीने से पेशाब दोबारा बनने लगती है. आधा गिलास मूली का रस पीने से पेशाब के साथ होने वाली जलन और दर्द मिट जाता है. खट्टी डकारें आती है तो मूली के एक कप रस में मिश्री मिलाकर पीने से लाभ मिलता है.

यदि आप लोकलाइज़्ड फैट को कम करना चाहते हैं और वांछित फिगर चाहते हैं, तो विक्स वेपोरब का उपयोग करें क्योंकि यह आपकी सहायता कर सकता है। हालांकि, यह चमत्कार नहीं कर सकता, लेकिन समस्याग्रस्त इलाके में फैट के पिघलने को उत्तेजित कर सकता है, जैसे पैर या पेट।

A) पंप या मुँहासे का कारण बनता है जब त्वचा ग्रंथियों के उत्पादन सेबम (त्वचा के तेल) के छिद्र भरा हो जाता है और इस प्रकार सेबम बच नहीं सकते वे हार्मोनल परिवर्तन, तनाव, पसीना, अत्यधिक नमी और स्टेरॉयड के उपयोग सहित कई कारकों से शुरू हो रहे हैं।

सांस की दुर्गंध, या दुर्गंधित श्वास, कभी न कभी इस समस्या का सामना सबको करना पड़ता है। सांस की दुर्गंध कई कारणों से हो सकती है, जैसे कि मुंह का सूखापन; आहार में प्रोटीन, शर्करा, या अम्ल की अधिक मात्रा; और धूम्रपान। कोई लम्बी बीमारी और दांत की सड़न भी सांस में दुर्गंध के कारण हो सकते हैं। अच्छी ओरल हेल्थ आदतों को अपनाने से और अपने आहार एवं जीवन शैली को बदलने से आप दुर्गंधयुक्त सांस से छुटकारा पा सकते हैं।

दाल और आलू का पेस्ट : इस बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खे से आप मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पा सकते है आलू और दाल से बना पेस्ट मूछ के सफेद बाल को हटाने में बहुत मदद आता है आलू में ब्लीचिंग के प्राकृतिक गुण होने के कारण आलू को दाल के साथ मिलाकर दाढ़ी व् मूछो का प्राकृतिक रंग वापिस आ जाता है।

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के लिए किंग्स इलेवन पंजाब ने मुख्य कोच और गेंदबाजी कोच के नाम का ऐलान कर दिया है। पंजाब ने वेंकटेश प्रसाद को गेंदबाजी कोच, जबकि ब्रेड हॉज को मुख्य कोच [Read more…]

१ टीस्पून अच्छा अच्छी अपनी अपने अब आदि आप आपका आपकी आपके आपको इस इसके इसमें इससे इसे इस्तेमाल उनके उम्र उसके उसे एक ऐसे और कई कटा कप कम कर करके करते करना करने करने के करें का काम कि किया किसी की कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या खुद गरम घर चेहरे पर जब ज़रूरी जा जाता है जाती जाने जैसे जो ज़्यादा टेबलस्पून डालकर तक तरह तेल तो त्वचा था थी दिन दिशा दें दोनों ध्यान न करें नज़र नमक नहीं ने पर पसंद पहले पानी फिर फिल्म बच्चे बच्चों बना बहुत बात बार बॉलीवुड भी माह मिनट मुंबई मुझे में मैं यदि या ये रखें रही रहे लगाएं लहसुन लें लेकिन वो सकता है सकती हैं समय साड़ी साथ ही साल से हर ही हुआ हुई हुए हूं है और हो होता है होती होने होम

घरेलू नुस्खों के कार्य करने की क्षमता काफी हद तक आपकी त्वचा के प्रकार और आपकी उम्र पर भी निर्भर करती है। त्वचा की नयी कोशिकाएं पैदा करने की क्षमता उम्र के साथ घटने लगती है और इसी वजह से दाग धब्बों के हल्के होने की प्रक्रिया जवान उम्र के लोगों के मुकाबले बुज़ुर्ग लोगों में काफी धीमी गति से होती है।

हैलीमिटर का इस्तेमाल करें: अगर आप लगातार सांस की दुर्गंध से परेशान है, तो इसके इलाज के लिए आपके डेंटिस्ट के पास हैलीमिटर होगा। हैलीमिटर एक प्रकार का विशेष यंत्र है जो आपकी सांस की गति को जानने के लिए बनाया गया है। यह एक प्रकार का सांस की जांच करने वाला यंत्र है जो शराब या अन्य पदार्थ की जांच करता है जिसे पुलिस भी इस्तेमाल करती है।[१७]

चेहरे की सफाई के लिये एलोवेरा एक बेहतरीन स्किन टोनर है। इसका उपयोग चेहरे पर रोज करने से त्‍वचा से अतिरिक्‍त तेल निकलता है। जिससे पिम्पल्‍स दूर होते हैं, और इसके रोजाना इस्तेमाल से दाग़ धब्बे भी खत्म हो जाते हैं। इसका इस्तेमाल आसान है बस ताजी एलोवेरा कि पत्ती लिजिए और उसे दो हिस्सों में काट दिजिए और फिर उस से निकलने वाले जेल को किनारे से निकालते हुए चेहरे पर लगाएं और 20- 25 मिनट तक चेहरे का मशाज करे। फिर चेहरा को गुनगुने पानी से धो लें।

क्या आपको याद है आपकी दादी आपके घावों पर हल्दी छिड़कने के लिए कहती थीं? खैर, चिकित्सा शोधकर्ताओं ने अब पता किया है कि हल्दी में ऐसी सामग्री शामिल होती हैं जो उसे एक शक्तिशाली रोगाणुरोधी बनाती हैं। कोई आश्चर्य नहीं कि भारत में महिलाओं ने अब तक अपनी त्वचा को स्वस्थ और दमकती रखने के लिए हल्दी के उबटन का उपयोग किया है। आप सीधे त्वचा पर हल्दी का पेस्ट लगा सकते हैं, गर्म दूध के साथ लेने से भी आप साफ़ त्वचा पा सकते हैं।

“कैसे मुँहासे तेजी से छुटकारा -धब्बे से छुटकारा पाने के लिए अच्छे तरीके”

मुंह से आने वाली शराब की बदबू से बहुत से लोग परेशान रहते हैं और इसे दूर करने के उपाय के बारे में जानने की कोशिश करते हैं। मुंह में कुछ वोलेटाइल मॉलिक्युल्स होते हैं जिसकी वजह से मुंह से बदबू आती है। शराब भी एक वोलेटाइल मॉलिक्युल्स है जिसकी वजह से बदबू की समस्या होती है। शराब आसानी से पचाने में परेशानी होती है क्योंकि शरीर इसे टॉक्सिन के रूप में देखता है। हमारा लीवन एक ड्रिंक को पचाने में एक घंटा लेता है। इस धीमे प्रोसेस की वजह से एल्कोहल आपकी रक्त कोशिकाओं में इकट्ठा हो जाता है जिस कारण बदबू आती है। आइए जानते हैं मुंह से शराब की बदबू कैसे दूर करें। [ये भी पढ़ें: शहद और नींबू के रस की मदद से करें खांसी का इलाज]

एलोवेरा में रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं, जो मुँहासे का कारण बनने वाली तेलीय त्वचा के उपचार के लिए आदर्श होते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा आपकी त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में भी मदद करता है। 

दालचीनी एक आम मसाला और स्वाद बढ़ाने वाला एजेंट है लेकिन इसके तेल में माइक्रोबियल विरोधी गुण होते हैं। शहद में पानी का असर बहुत कम होती इसका मतलब है कि इसमें नमी ज्यादा नहीं होती जो सूक्ष्म जीवाणुओं के विकास को बढ़ावा देती है। यह ध्यान में रखते हुए कि मुँहासों का पैदा होना, त्वचा के छिद्र के भीतर होने वाले संक्रमण से होता है, शहद के साथ दालचीनी का संयोजन एक कारगर उपाय है।

Sir .main pichle tren sala se raat ka cream chode nahi pa raha hoon .mera sab theek hai lekin main raat ka cream chode nahi pa raha hu.chodne par pure face per pimples ho jata hai iska kuch upay bataye aur gaddhe bharne ka upay bataye

चेहरे से  फुंसी मुहांसे से बचने के लिए साफ सफाई का पूरा ध्यान रखे, कील मुहासों से बचने के लिए अपने चेहरे को पूरी तरह साफ रखे और चेहरे को साफ पानी से ही धोए और धोते समय चेहरे को ज्यादा न रगड़े व चेहरे को बार बार हाथ न लगाये जिससे हाथ पर जमा धुल के कण चेहरे पर नही आयंगे तोलिये और रुमाल को बिना धोए अधिक समय तक उपयोग मे न लाये नही तो पिम्प्लेस और अधिक हो जायंगे

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

पिम्पल्स के दाग कैसे दूर करे – आधा-आधा चम्मच नींबू का रस और हल्दी में चौथाई चम्मच नमक और एक चम्मच पानी मिलाकर गर्म करके चेहरे पर लगाये फिर सूखने के बाद चेहरा धोयें। चेहरे के दाने मुँहासे व उनके निशान मिट जायेंगे। यह हर चौथे दिन लगायें

इसके अलावा और भी कई कारण हैं जो इस समस्या को जन्म देने का काम करते हैं। समय पर दांत को साफ ना करना, पाचन क्रिया का ठीक ना होना और धूम्रपान का सेवन करना यही इसके सबसे बड़े कारण बनते हैं। आज हम आपको इस समस्या से छुटकारा पाने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं। जिससे आप अपनी परेशानी से छुटकारा पा सकती हैं। जानें वो घरेलू उपाय…

यदि आप जानना चाहती है कि इस प्रक्रिया को करने के बाद आपको इसके परिणाम कितने समय के बाद देखने को मिलेंगे तो हम आपको बता दें कि यह आपके मस्सों के आकार पर निर्भर करता है। यदि आप इस पेस्ट को थोड़े समय के अतंराल में करेंगी तो इससे आपके मस्से के स्थान पर दाग हो सकता है। इसलिए ऊपर दी गई प्रक्रिया को रोज दोहराएं।

दोस्तों हमारा ये लेख फेस से पिम्पल गड्डे हटाने के घरेलू नुस्खे और उपाय? कैसे लगे निचे कमेन्ट में जरुर लिखे.  अगर आपके पास कोई कारगर घरेलु तरीका है तो वो भी आप हमसे साँझा कर सकते है इससे और भाइयो की भी मदद हो सकेगी .

कुछ लोग कानों की सफाई के लिए डॉक्टर का सहारा लेते हैं डॉक्टर के पास जाते हैं और डॉक्टर से कानों की सफाई करवाते हैं तो कुछ लोग राह चलते लोगों से जो भी काम साफ करने का काम करते हैं उनसे कानों की सफाई करवाते हैं लेकिन हम आपको बता दें कि यह सब आपको करने की जरूरत नहीं है आप आराम से घर बैठे कानों की सफाई कर सकते हैं जोकि सबसे आसान भी है और इसमें कोई पैसा भी खर्च नहीं होगा!

sir hamari skin teen layars se bna hota hai to chicken pox ke jo gadhe hote hai jo kis layars me hote hai jo bharte nhi ya ye teeno layars ko samapt kar deta hai jo gadhe par fir se cell nhi banta sir

मुल्तानी मिट्टी के बराबर, चंदन पाउडर और गुलाब जल के अनुपात को मिक्स करें। आप पेस्ट में एक बेहतर स्थिरता लाने के लिए और गुलाब जल को मिला सकते हैं। अपने चेहरे पर यह गीली मिट्टी पैक लगाएं। सूख जाने के बाद इसको धो लें। सप्ताह में एक बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

माथे पर मुँहासे हटाने के लिए कैसे? शायद, इस प्रश्न को प्रत्येक लड़की ने कम से कम एक बार खुद से पूछा, उसके प्रतिबिंब पर दर्पण की तलाश में। और, नींव लेते हुए और बैंग्स को कम करते हुए, उन्हें सार्वजनिक दृश्य से छिपाने की कोशिश की। हालांकि, मुँहासे से छुटकारा पाने का सही दृष्टिकोण थोड़ा अलग है: कारकों की पहचान, कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं से गुजरना, त्वचा की देखभाल के लिए सही साधन चुनना।

१ टीस्पून अच्छा अच्छी अपनी अपने अब आदि आप आपका आपकी आपके आपको इस इसके इसमें इससे इसे इस्तेमाल उनके उम्र उसके उसे एक ऐसे और कई कटा कप कम कर करके करते करना करने करने के करें का काम कि किया किसी की कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या खुद गरम घर चेहरे पर जब ज़रूरी जा जाता है जाती जाने जैसे जो ज़्यादा टेबलस्पून डालकर तक तरह तेल तो त्वचा था थी दिन दिशा दें दोनों ध्यान न करें नज़र नमक नहीं ने पर पसंद पहले पानी फिर फिल्म बच्चे बच्चों बना बहुत बात बार बॉलीवुड भी माह मिनट मुंबई मुझे में मैं यदि या ये रखें रही रहे लगाएं लहसुन लें लेकिन वो सकता है सकती हैं समय साड़ी साथ ही साल से हर ही हुआ हुई हुए हूं है और हो होता है होती होने होम

यह सभी सोरायसिस से पीड़ित रोगियों का 80% के साथ सबसे बड़े पैमाने पर छालरोग के प्रकार है। यह चांदी सफेद रंग के पैमाने और लाल रंग की सूजन पैच द्वारा प्रतिष्ठित है। घुटने, कोहनी, पीठ के निचले हिस्से पर एक यह खोज कर सकते हैं, और खोपड़ी, लेकिन यह कहीं भी हो सकते हैं।

#1 – Dermasis, 94 अंक हमारे 100 के। Dermasis लक्षण है कि आपकी त्वचा लाल और एक दो गुना दृष्टिकोण के साथ बद देखो करने के लिए कारण से लड़ने में मदद करता है एक प्राकृतिक छालरोग उपचार फार्मूला है। Dermasis के सक्रिय संघटक, चिरायता का एसिड, 2% को उत्तेजित करता मृत की इस परत के बहा त्वचा कोशिकाओं आपके सोरायसिस को कम करने में मदद करने के लिए।

3 चम्‍मच दलिये को थोड़ा पानी लेकर पकाएँ। अब इसमें 4 चम्‍मच शहद डाल दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ठंडा होने के पश्चात इसको अपनी पीठ पर फैला कर लगा दें। इसको कम से कम 15 से 20 तक लगा रहने दें। फिर इसको गुनगुने पानी से धो दीजिए। इस देसी इलाज को रोज़ाना ही दोहराएँ।

घर सौंदर्य ट्रिक्स यह अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम यूरोपीय संघ में एक भागीदार है, एक विज्ञापन कार्यक्रम सहबद्ध वेबसाइटों विज्ञापन और Amazon.es के लिए लिंक के लिए कमीशन प्राप्त करने के लिए एक साधन प्रदान करने के लिए बनाया.

Home Remedy (Gharelu Nuskhe) for Pimple Marks (Acne Scars) on Face in Hindi. Muhase ke nishan se chutkara pane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay in Hindi. Muhase ke daag hatane ke upay in Hindi. Chehre (face) ke daag dhabbe hatane ke upay in Hindi. Kale daag mitane ke upay in Hindi.

एक बड़ा चम्मच नींबू का रस, डेढ़ चम्मच शहद और एक बड़ा चम्मच दूध एक कटोरी में मिलाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और इसे 10 से 15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो दें। रोज़ाना दिन में एक बार यह उपाय करने से आपको एक सप्ताह के भीतर ही सकारात्मक परिणाम नज़र आने लगेंगे। (और पढ़ें – शहद के फायदे और नुकसान)

एक चम्मच प्याज का रस, एक चम्मच अदरक का रस, आधा चम्मच सिरका इन तीनो को मिला ले और दाग पर लगा कर कुछ मिनिट तक मालिश करे फिर 20 मिनिट के बाद ठंडा पानी ले कर धो ले। यह बहुत सरल और उपयोगी है। प्याज मे गंधक (सल्फर), विटामिन और अदरक मे आलीसिन नामक पदार्थ होता है जो त्वचा को कोमल बनाती है और त्वचा से कीटाणु को निकाल देती है।

स्नान के पानी को गर्म करके इसमें 2-3 कप समुद्री नमक डाल दें। 20-30 मिनट के लिए इसको पानी में घुल जाने दें। समुद्री नमक से स्नान के बाद एक हल्का मॉइस्चराइजर लगाएँ, लेकिन तैलीय त्वचा वाले मॉइस्चराइजर प्रयोग ना करें। आप इस रेमेडी को दिन में 2 बार दोहराएं अन्यथा एक दिन में एक बार पीठ के मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए इसको अवश्य करें।

कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन करें: लेकिन क्या आप जानते हैं की यदि आप कम कार्बोहाइड्रेट वाला खाना लेते हैं तो आपको कीटोन ब्रेथ हो सकता है। असल में आपका शरीर ऊर्जा के लिए कार्बोहाइड्रेट्स की जगह वसा को जलाता है जिससे कीटोन बनते है, जिसमे से कुछ आपके मुँह में निकलते हैं। दुर्भाग्य से, कीटोन बदबूदार होते हैं, और इसलिए आपकी साँसों से दुर्गंध आती है। यदि आप कम कार्बोहाइड्रेट्स वाली डाइट ले रहे हैं या कोई अन्य आहार जो की कार्बोहाइड्रेट्स की जगह वसा को जलाने को मजबूर करे, तो ध्यान रहे की आप कार्बोहाइड्रेट्स से परिपूर्ण नाश्ता ले जैसे की सेब या केला।

यह शरीर की इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया को बढ़ावा देता है और इस प्रकार रक्त शर्करा के स्तर को सामान्य बनाये रखने में शरीर की सहायता करता है।दालचीनी के मधुमेह से सम्बंधित लाभ उठाने के लिए दालचीनी को अपने दैनिक आहार में शामिल करें। इसका उपभोग बहुत ही सरल है। आपको बस दालचीनी पाउडर को सुबह अपने दलिया या ओर कोई अन्य आहार पर छिड़क कर खाना है या फिर अपनी शाम वाली चाय या कॉफी में इसकी एक चुटकी मिठास मिलानी है।

सब से दूर कुछ है कि सोरायसिस, पैदा कर सकते हैं उदाहरण के लिए, धूम्रपान, बहुत ज्यादा सूर्य और तनाव रखें। रोकथाम छालरोग उपचार दवा लेने के और आप न्यूनतम करने के लिए समस्या कम हो जाएगा। अभी भी यह करने के लिए बहुत अधिक सूरज के लिए किए जा उन्मूलन के लिए कुछ ला सकता हैं और विपरीत स्थिति हो सकता है अन्य लोगों के लिए उल्लेख के लायक है।

“जिटों और मुँहासे से छुटकारा पाने के तरीके |मुंह से छुटकारा पाने के लिए और रातोंरात पिटाई कैसे करें”

डायबिटीज (71) डायरिया (25) डेंगू (7) डैंड्रफ (8) थकान (37) दमा (33) दांत दर्द (56) दांतों के लिए (71) दाद-खाज (23) दिल की बीमारी (43) दिल के दौरे (25) देशी नुस्खे (1642) नपुंसकता (11) नींद की समस्या (25) पथरी (42) पसीने की बदबू (9) पाइल्स (14) पाचन (136) पीरियड्स (23) पीलिया (18) पेट की चर्बी (38) पेट के लिए (118) पेट दर्द (83) पेशाब में जलन (9) पैरों की लिए (27) पैरों की बदबू (11) बच्चों के रोग (20) बवासीर (52) बालों के लिए (229) बुखार (66) ब्लड शुगर (16) मधुमेह (41) मधुमेह (शुगर) (91) माइग्रेन (35) माहवारी के (12) मुंह की दुर्गध (21) मुँहासे (17) मोटापा (141) योगा टिप्स (21) वजन कम (51) वजन घटाने (38) वज़न घटायें (15) विटामिन (1) शीघ्रपतन (9) सर्दी जुकाम (70) सिरदर्द (65) सीने में जलन (17) सेक्स पावर (12) सेहत के लिए (10) स्वस्थ जीवन का सूत्र (219) हार्ट अटैक (30) हार्ट ब्लॉकेज (11) हृदय रोग (7) हेयर लोस (4) हेल्थ टिप्स (8) Beauty Tips (5) Health Tips (162) Yoga Tips (8)

HealthBeautyTips.co.in पर उपलब्ध सभी जानकारी हमारे लेखक के ज्ञान अनुभव तथा स्वास्थ्य क्षेत्र से सम्बंधित अन्य विशेषज्ञों की राय तथा उनके द्वारा लिखे गए विभिन्न लेखो पर गहन रिसर्च के माध्यम से होती है, फिर भी पाठकों से हमारा निवेदन है कि किसी भी जानकारी को व्यावहारिक रूप में आजमाने से पहले अपने चिकित्सक या सम्बंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ से राय अवश्य ले। क्योकि व्यक्ति विशेष की स्वास्थ्य परिस्थिति अलग-अलग होती है |

सावधान: आपको नाक साफ करने के लिए सिर्फ जीवाणुरहित पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। पानी को जीवाणुरहित करने के लिए उसे उबाल लें, फिर इस्तेमाल करने से पहले उसे ढक दें और रूम टेंपेरेचर तक ठंडा होने दें। नलके का पानी पीने के लिए सुरक्षित प्रमाणित तो हो सकता है, लेकिन तब भी उसमें रोगज़नक़ हो सकते हैं जो साइनस में घुसकर संक्रमण पैदा कर सकते हैं।

नहाने के बाद एक टोपिकल मरहम (ointment) या लोशन (lotion) का प्रयोग करें: एक मरहम को खोजें जिसमें बेंजोईल पेरोक्साइड (benzoyl peroxide), सैलिसिलिक एसिड (salicylic acid) या अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (alpha hydroxy acid) हो। इनमें से ज्यादातर ब्राण्ड बिना पर्ची के मिल जाते हैं जैसे — क्लेअरसील (Clearasil) और प्रोएक्टिव (Proactive)। अगर आप एक लोशन का प्रयोग करना चाहते हैं जो वैज्ञानिक तौर पर, इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए बनाया गया है कि वह कूल्हों पर होने वाले मुँहासों को ठीक करे — ग्रीन हार्ट लैब्स का बट एक्ने क्लीयरिंग लोशन (Butt Acne Clearing Lotion)। ज्यादातर टूथपेस्ट में कई प्रकार के पेरोक्साइड (peroxide) होते हैं, यदि आपको कुछ और न मिले तो ये मुँहासों के इलाज में प्रयोग में लाए जा सकते हैं।

एक बलगम निकालने वाली दवाई लें: यह ऐसी दवाईयाँ होती हैं जो आपके गले और नाक की बलगम को तोड़ती हैं और आसानी से इसे खाँसकर अपने शरीर से निकालने में आपकी मदद करती हैं। इनमें से बहुत सारी स्थानीय दवा की दुकानों पर ओवर-द-काउंटर उपलब्ध होती हैं, जबकि कुछ को डॉक्टर लिखकर देते हैं। खुराक निर्देशों का पालन करें और बलगम की वजह से हो रहे जमाव से आराम पाने के लिए दवाई को रोज़ लें।[३]

शुद्ध टी ट्री आयल लगाना अगर त्वचा में जलन, लालिमा या ज़्यादा शुष्क त्वचा का कारण बनता है, तो टी ट्री आयल में पानी का उपयोग कर उसको पतला करें या एलोवेरा जैल के साथ यह मिश्रण बनाएं और फिर अपने चहरे पर लगाएं। (और पढ़ें – टी ट्री ऑयल के फायदे)

Dalchini में कौमारिन नाम का एक यौगिक पाया जाता है जिसमें रक्त को पतला करने वाले गुण होते हैं। इससे पूरे शरीर के ब्लड सर्कुलेसन में सुधार आता है। हालांकि, यह ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है कि बहुत अधिक कौमारिन लिवर की कार्यशीलता पर प्रभाव डाल सकता है और उसे क्षति भी पहुंचा सकता है। इसलिए दालचीनी का उपयोग कम मात्रा में करना उत्कृष्ट माना जाता है।

हल्दी में मौजूद एन्टीसेप्टिक और एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण छालों को न सिर्फ ठीक करते हैं बल्कि यह गुण छालों को दुबारा होने से भी रोकते हैं। हल्दी पाउडर में कुछ बूंद पानी मिलकर पेस्ट तैयार  कर ले और अब इस पेस्ट को छालों पर लगायें, इससे दर्द से तुरन्त राहत मिल जाएगा।

1- अगर आपको सर्दी जुकाम की समस्या है तो इससे आराम पाने के लिए 10 ग्राम मुलेठी, 10 ग्राम काली मिर्च, 5 ग्राम लौंग, 5 ग्राम हरीतकी और 20 ग्राम मिश्री को एक साथ मिलाकर पीस लें. अब इसके पाउडर में 1 चम्मच शहद मिलाकर चाट लें. ऐसा करने से  कफ, सर्दी-खांसी और जुकाम समस्या दूर हो जाएगी.

बर्फ की ठंडक पिम्पल के समय होने वाली सूजन और लालिमा को कम करती है। इसके साथ उस जगह पर खून का दौरा बेहतर बनके मुहासे जल्दी ठीक करने में मदद करता है। एक कपडे में बर्फ के टुकड़े रख कर उसे चेहरे पर पिम्पल वाली जगह पर रखे और हटाए।

माना जाता है कि दालचीनी आम सर्दी और फ्लू को ठीक करने और उससे राहत दिलाने में बेहद उपयोगी है। गल शोथ से छुटकारा पाने के लिए, पिसी हुई दालचीनी के एक या दो चम्मच का सेवन ग्रीन टी या फिर सेब की मदिरा के साथ करें। आप श्वसन संक्रमण का स्पर्धी मुकाबला करने में दालचीनी की मदद करने के लिए नींबू का रस भी मिला सकते हैं। यदि आप सामान्य सर्दी या खाँसी से पीड़ित हैं, तो गुनगुने शहद और दालचीनी के एक-चौथाई चमच्च का मिश्रण बनाये और नाश्ते के बाद और सोने से पहले रोजाना दो बार पियें।

इसके साथ ही कुछ लक्षण psoriasis के लक्षण हो सकता है। यह psoriasis vulgaris, जो रोग, guttate सोरायसिस छोटे धब्बे, जो बूंदों की तरह कर रहे हैं की विशेषता, व्युत्क्रम सोरायसिस underarms क्षेत्र, नाभि और नितम्बों, पास में एक नियम के रूप में की खोज की, और तरल अंदर के साथ छोटे फफोले द्वारा देखा pustular सोरायसिस का सबसे व्यापक प्रकार है शामिल हैं। इसके अलावा, एक अलग-अलग रोग हथेलियों और तलवों पर प्रकट होता palmoplantar सोरायसिस कहा जाता है।

* तुलसी के पत्ते से उपचार : तुलसी के पत्ते का प्रयोग भी मुंह के छालों में बहुत फायदेमंद है, जल्द ही छालो में राहत मिलती है। तुलसी के तीन से चार पत्तों को पीसकर इसका रस निकालकर छालों पर लगाने से बहुत फायदा होता है।

Sir mere face par pimpals ho gaye hai aur kali si keel ho jati hai aur funsi jesi ho jati hai please help me aur sir agar ham garmi ke mosam me haldi lagae to koi nuksan to nahi hoga kyo haldi garm hoti hai

एक चम्मच प्याज का रस, एक चम्मच अदरक का रस, आधा चम्मच सिरका इन तीनो को मिला ले और दाग पर लगा कर कुछ मिनिट तक मालिश करे फिर 20 मिनिट के बाद ठंडा पानी ले कर धो ले। यह बहुत सरल और उपयोगी है। प्याज मे गंधक (सल्फर), विटामिन और अदरक मे आलीसिन नामक पदार्थ होता है जो त्वचा को कोमल बनाती है और त्वचा से कीटाणु को निकाल देती है।

अपने मुंह में मौजूद खराब स्वाद को पहचाने: अगर आपके मुंह का स्वाद खराब है, तो इसका अर्थ यह है कि, आपकी सांस दूर्गंधित है। आपने कई बार ध्यान दिया होगा कि, खाना खाने के बाद, भोजन का स्वाद आपके मुंह में कई देर तक बना रहता है। कई पदार्थ जिनका स्वाद तेज होता है और वह अपनी खुशबूदार गुणों से भी जाने जाते है, जैसे कि लहसुन, प्याज़, या अधिक ज्यादा मसालेदार भोजन।[१६]