“मुँहासे गाल से छुटकारा पाने -मुँहासे टूथपेस्ट से छुटकारा पायें”

hi nihal.. pimple ko khtm karne ka best tarika hai ki pimple hone ka kaara. aap dekho ki aapki kis bad habits ke kaaran pimples ho rahe hai. kai baar galat daily routine and other bad habis ke kaaran pimple aa jaate hai. if you quit root of couse you can end pimples on your face. aap hamari yah post padhe and then usme batayi gai couse and solution achchi tarah se read kare aur apne pimples ke saath use samjhe.. aapko problems and solution mil jayega. all the best.. visit this post : http://www.nayichetana.com/2017/02/pimple-dark-spot-kaise-door-kare-5-best-tips-in-hindi.html

सोरायसिस में अलग अलग तरीकों से पता चला है। कभी कभी छोटी bumps चपटा कर रहे हैं, कई बार बड़े सजीले टुकड़े के साथ उठाया त्वचा मोटी कर रहे हैं। बढिया, लाल रंग के धब्बे विशिष्ट सोरायसिस, के साथ ही सूखी त्वचा गुलाबी रंग के होते हैं।

नई दिल्‍ली : सांसों की दुर्गन्ध और मुंह की बदबू एक ऐसी समस्‍या है, जो कई लोगों  में पाई जाती है। आपके मित्र, सहकर्मी और अन्‍य आपके पास बैठने से कतराते हैं। मुंह से आती दुर्गन्ध और सांस की बदबू (हैलाटोसिस) अक्सर मुंह में मौजूद एक बैक्टेरिया से होती है। इस बैक्टेरिया से निकलने वाले ‘सल्फर कम्पाउंड’ की वजह से सांस की बदबू पैदा होती है। कई बार तो लोग इस समस्या से अंजान होते हैं। इस बदबू के कई कारण होते हैं, जैसे-गंदे दांत, पाचन की समस्या और धूम्रपान। कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर इस समस्‍या से छुटकारा पाया जा सकता है।

* बेकिंग सोडा : अगर आपके मुँह में छाला खट्टे पदार्थों के खाने से हुआ हो तो यह सबसे बेहतरीन उपाय है। एक कटोरे में थोड़ा सा बैंकिंग सोडा लें और उसमे थोड़ी सी पानी की मात्रा मिलाएं ज्यादा मोती पेस्ट भी नहीं बनाएं। इसके बाद इसे आप अपने छालों पर लगा लें। आप इसका उपयोग दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बैंकिंग सोडा को सीधे छालों पर लगा सकते हैं।

मुंहासों की समस्‍या एक आम समस्‍या है जो कभी भी हो सकती है, अगर आपके घर में अगले दिन कोई कार्यक्रम है और चेहरे पर एक्‍ने निकल जाये तो यह एक बुरी स्थिति होती है। इस समस्‍या से निजात पाने वाले नुस्‍खे आप घर पर भी आजमा सकते हैं। सफेद टूथपेस्‍ट सबके घर में होता है, इसे मुहांसो पर लगाकर पूरी रात के लिए छोड़ दीजिए, इससे वह गायब हो जायेगा। लहसुन को लेकर इसका रस मुहांसों पर लगा दीजिए, इससे मुहांसे आसानी से दूर हो जायेंगे।

सेब के सिरके में महान स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह त्वचा के लिए भी अच्छा होता है। सेल्युलाईट से प्रभावित क्षेत्रों पर सेब के सिरके का उपयोग करने से त्वचा में फंसे विषाक्त पदार्थों को निकाला जा सकता है। यह सूजन को कम करने में भी मदद करता है। त्वचा में इसके प्रयोग से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। सेब के सिरके में पानी की बराबर मात्रा मिलाकर त्वचा पर लगा सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, यह शहद या पानी के साथ मौखिक रूप से भी लिया जा सकता है। यह वजन घटाने और सेल्युलाईट को कम करने में मदद करता है। 

सोरायसिस एक त्वचा रोग है कि चांदी तराजू के साथ खुजली या गले में मोटी, लाल त्वचा के धब्बे का कारण बनता है। आप आमतौर पर उन्हें अपने कोहनी, घुटनों, सिर, पीठ, चेहरा, हथेलियों और पैरों पर मिलता है, लेकिन वे अपने शरीर के अन्य भागों पर दिखा सकते हैं।

5: 1 के अनुपात में जल के साथ ओर्गनिक बेकिंग सोडा मिक्स करें। यह एक गाढ़े पेस्ट के रूप में होना चाहिए। इस पेस्ट को मुँहासो के निशानों पर लगा कर रखें, जब तक यह पेस्ट सूख नहीं जाता है। उसके बाद इस पेस्ट को गुनगुने पानी से धो लें। इसे सप्ताह में तीन बार दोहराएँ जब तक आपको परिणाम ना दिख जाए।

अपनी नाक को ज़्यादा ब्लो न करें, खासकर एक साइड पर। उसका ज़ोर बलगम को आपके साइनस और कानों में और अंदर ब्लो कर सकता है, जिससे सिरदर्द व कान में दर्द होगा। अगर आपको ब्लो करने की ज़रूरत है, तो ऐसा आराम से व दोनों नॉस्ट्रील्स के साथ करें।

हालाँकि, ऐन्टिसेपटिक माउथवॉश हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म कर देता है, जो गंदी दुर्गंध को छुपाने से भी ज्यादा मददगार है। ऐसे माउथवॉश का इस्तेमाल करें, जिसमें क्लोरहेक्सिडाइन (chlorhexidine), सिटाइलपायरिडिनियम क्लोराइड (cetylpyridinium chloride), क्लोरीन डाइऑक्साइड (chlorine dioxide), ज़िंक क्लोराइड (zinc chloride) और ट्राइक्लोसैन (triclosan) मौजूद हो, जो बैक्टीरिया को खत्म करते है।

टॉन्सिल स्टोन्स (tonsil stones): ये टॉन्सिल पर सफेद धब्बे के रूप में दिखाई देते हैं जो कि केल्सीकृत भोजन, बलगम और बैक्टीरिया की गांठ हैं। यदि दिखें ,तो गलती से गले का संक्रमण मान लिए जाते हैं हालांकि कभी-कभी वे नग्न आंखों से दिखाई भी नहीं देते। हो सकता हैं आपने कसैला स्वाद अनुभव हो या निगलते समय दर्द महसूस हो।[६]

अधिक तरलदार और कम वसा वाला पौष्टिक भोजन भी सेल्युलाइट को कम करने में मदद कर सकता है। प्रोटीन युक्त भोज्य पदार्थ सेल्युलाइट की मात्रा को घटाते हैं। नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करने से फैट जलता है और सेल्‍युलाइट में कमी आती है। इसके अलावा एक अच्छी मात्रा में पानी पीने और एक्‍सरसाइज के दौरान पसीना आने से शरीर के विषाक्‍त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

नियमित रूप से दांतो की जांच करवाएं: डेंटिस्ट के पास जा कर अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाना आवश्यक है, जिसका प्रथम कारण दुर्गंधित सांस है। डेंटिस्ट, या डेन्टल हाइजीनिस्ट, आपके दांतो, मसूड़ों और मुंह की अच्छी तरह से सफाई कर देंगे।[४]

अगर आप को जल्दी चेहरे पर से कील मुहांसों से छुटकारा पाना है तो आप रोज कुच्छ दिनो तक सफेद प्याज का रस में एक चमच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएँ चेहरा सूखने पर धोकर साफ टॉवेल से साफ करके स्टीम लें जल्दी ही आप के कील और मुहाँसे सॉफ हो जाएँगे

अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल ऑफ नेचुरल प्रोडक्ट में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, मुलेठी की जड़ दांतों को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है। मुलेठी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍टीरिया के कारण होने वाली कैविटी के विकास को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा यह जडी-बूटी प्‍लॉक को कम करने में भी मदद करती है। नियमित रूप से दांतों में ब्रश करने के लिए मुलेठी की जड़ के पाउडर का प्रयोग करें। इसके अलावा आप टूशब्रश करने के लिए मुलेठी की स्‍टीक का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

मेरे चेहरे पर बहुत सारे पिंपल्ज़ हैं यह बीच बीच में ठीक भी हो जाते हैं लेकिन फिर से वापस भी आ जाते हैं यदि मैं भाप वाला फार्मूला पर्योग करूँ तो क्या यह पिंपल्ज़ हमेशा के लिए ठीक हो सकते हैं? प्लीज़ रेप्लाई सर

हार्मोन परिवर्तन: सोरायसिस हार्मोन और जीव के अधीन है परिवर्तन के साथ दृढ़ता से जुड़ा है। सोरायसिस में अपने चरम यौवन के दौरान अवधि या रजोनिवृत्तिके दौरान है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की त्वचा बेहतर स्थिति का अनुभव। लेकिन जैसे ही बच्चे का जन्म होता है यह काफी अन्य तरह के दौर है।

मोटापे से परेशान लोग वजन घटाने के लिए व्ययाम, योगा, खाने पर कंट्रोल क्या कुछ करते हैं। कुछ लोग जिम जा कर घंटो एक्सरसाइज करके पसीना बहाते हैं। कई बार ज्यादा देर जिम करने से कई तरह की शरीरिक प्रॉब्लम भी शुरू हो जाती है। ऐसे में वजन घटाने के लिए आप एक्यूप्रेशर तकनीक को भी अपना सकते हैं। यह एक ऐसी तकनीक है जिसमें शरीर के बिंदुओं को दबाना होता हैं। जिससे आपको भूख कम लगेगी और आपके वजन पर भी कंट्रोल होगा। मानव शरीर पर ऐसे बिंदु होते है जिसे दबाने से कई रोगों से छुटकारा पाया जा सकता है और मोटापे को भी कम किया जा सकता है।

ऑइली त्वचा से पूरी तरह से छुटकारा पाना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप इस सामान्य समस्या को हल करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं। महंगे और केमिकल युक्त उत्पादों का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बहुत से लोगों ने घरेलू उपायों को इस समस्या के लिए मेहतर और प्रभावी पाया है। 

3 चम्‍मच दलिये को थोड़ा पानी लेकर पकाएँ। अब इसमें 4 चम्‍मच शहद डाल दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ठंडा होने के पश्चात इसको अपनी पीठ पर फैला कर लगा दें। इसको कम से कम 15 से 20 तक लगा रहने दें। फिर इसको गुनगुने पानी से धो दीजिए। इस देसी इलाज को रोज़ाना ही दोहराएँ।

मेथी हमारे चेहरे को साफ़ रखने में सहायक होती है. यह दाग – धब्बे हटाने काफी सहायता करती है. मेथी के पत्तो का या मेथी के बीजो को उबालकर आप इनका पेस्ट बना सकते है और जहाँ आपके Pimple निकले है वहां पर Use कर सकते है. इसके पेस्ट को अपने face पर 15 minute लगाये रखे और फिर पानी से धो ले.

स्वास्थ्य, कल्याण और पौष्टिक-औषधीय पदार्थों (न्यूट्रास्युटिकल) के रिटेलर के रूप में वैश्विक विशेषज्ञता प्राप्त अमेरिकी कंपनी जीएनसी (जनरल न्यूट्रीशन सेंटर) भारत में अपनी उपस्थिति को गार्डियन हेल्थकेयर के साथ सहयोग से मजबूती दे रही है। गार्डियन हेल्थ केयर, भारत में [Read more…]

विभिन्न छालरोग उपचार के विकल्प और कभी-कभी से प्रत्येक के लिए अलग-अलग विशेषताओं के साथ विभिन्न प्रकार के psoriasis के हैं। एक नियम के रूप में, एक व्यक्ति सोरायसिस के कुछ प्रकार है। जब एक तरह स्पष्ट है, अलग रूप पैदा कर सकते हैं:

चेहरे या शरीर पर निकलने वाले अनचाहे मस्से हमारे चेहरे को बदसूरत सा बना देते हैं। इनके निकलने से चेहरे की खूबसूरती खत्म हो जाती है। त्वचा पर मस्सों का होना पेपीलोमा वायरस के कारण होता है, यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए केवल सर्जरी ही एकमात्र रास्ता होती है, लेकिन आज हम इससे छुटकारा पाने का एक कारगर उपाय बताने जा रहें हैं और इस उपाय को आप आपने घर पर ही कर आजमा सकती हैं। कैस्टर ऑयल मस्सों से छुटकारा पाने सबसे अच्छा और प्रभावी उपचार माना जाता है। इसका उपयोग करके आप इस समस्या से छुटकारा पा सकती है। तो जानें इसे उपयोग करने के तरीके के बारे में…

डेयरी उत्पाद न खाएँ: सारे डेयरी प्रोडक्टस में एक विशेष प्रोटीन, कैसिइन (casein), होता है जो ठंडा करता है और आपके शरीर में और बलगम बनाता है। अनावश्यक रूप से अधिक बलगम का निर्माण रोकने के लिए, दूध, चीज़, दही या आइसक्रीम जैसे डेयरी प्रोडक्टस न खाएँ।

“वयस्क मुँहासे इलाज +मुँहासे चेहरे का मुखौटा डाई से छुटकारा पाएं”

मुंह के छालों की समस्या जितनी सामान्य हैं उतनी ही बुरी भी। एक बार यह समस्या हो जाती हैं तो भोजन करना भी दूबर हो जाता हैं। यह समस्या कई कारणों से हो सकती हैं, जिसमें से मुख्य तीखा खाना या अपच होना हो सकता हैं। सामान्यत: छाले 5-7 दिन में ठीक हो जाते हैं। लेकिन इनको जल्दी समाप्त करने के लिए कुछ उपाय करने की आवश्यकता होती हैं। तो आइये जानते हैं उन उपायों के बारे में जिनकी सहायता से मुंह के छालों से निजात पायी जा सकें।

अपने दांत अच्छे से साफ करें: मुंह कि दुर्गन्ध को दूर करने के लिए दांतो को अच्छी तरह से साफ करना एक अच्छा तरीका है, जो आप आसानी से कर सकते हैं। दिन में दो बार, कम से कम दो मिनट के लिए ब्रश करें और ध्यान रखें कि आप मुंह के अंदर सभी जगह अच्छी तरह से साफ कर रहे हैं। खास तौर पर जहां दांत और मसूड़े आपस में मिलते हैं वहां ध्यान केंद्रित करें।[१]

धूप में अधिक रहने से सूरज की किरणें हमारे चेहरे का हाल बुरा कर देती है. सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणें हमारी त्वचा और हमारे चेहरे के लिए अच्छी नहीं होती. अधिक प्रदूषित जगहों पर जाने से आपको धूल और मिटटी का सामना करना पड़ता है जो आपकी Skin Cells के लिए सही नहीं होते.

अपनी त्वचा पर तेल ना जमने दें तली और मसालेदार चीज़ें खानी बंद कर दें जंक फूड को तो अपनी लाइफ में कभी भी शामिल हि ना करें त्वचा को हमेशा सॉफ रखें पूरी नींद लें पानी अधिक पिएं सुभय और रात को भाप लें फल और हरी पतेदार सब्जी खूब खाएँ साबुन कि जगह बेसन,चावल के आटे में हल्दी मिलाकर उसी मिश्रण से तव्चा को धोएँ

मुंह में अगर छाले हो जाएं तो जीना मुहाल हो जाता है। खाना तो दूर पानी पीना भी मुश्किल हो जाता है। लेकिन, इसका इलाज आपके आसपास ही मौजूद है। Muh ke chhale मुंह के छाले गालों के अंदर और जीभ पर होते हैं। असंतुलित आहार, पेट में दिक्कत, पान-मसालों का सेवन छाले का कारण है। छाले होने पर बहुत तेज दर्द होता है। आइए हम आपको Muh ke chhale मुंह के छालों से बचने के लिए घरेलू उपचार बताते हैं।

* लौंग का तेल : आप मुंह के छालों को ठीक करने के लिए लौंग के तेल की भी मदद ले सकते हैं। क्योंकि आपकी जीभ काफी संवेदनशील होती है, अतः इसके उपचार का तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है। इस उपचार के लिए 4 से 5 बूँदें लौंग का तेल, आधा चम्मच जैतून का तेल, गर्म पानी और रुई की आवश्यकता होगी।

आप बाजार से एलोवेरा जैल खरीद सकते हैं या एक एलोवेरा पौधे से एक पत्ता काटें और बीच में से उसको दबाएं, इसके द्वारा आप शुद्ध एलोवेरा जैल प्राप्त कर सकते हैं। दिन में दो बार प्रभावित क्षेत्र पर एलोवेरा जैल का उपयोग करें। (और पढ़ें – एलोवेरा के फायदे और नुकसान)

हल्के, जो सूखी और छोटी त्वचा पैच द्वारा विशेषता है, सोरायसिस होने पर रोगियों इस बीमारी के बारे में लगता है नहीं हो सकता है। जब व्यक्ति दरिद्र बड़ी और मोटी पैच के लाल रंग के साथ कवर किया गया है निश्चित रूप से, यह मामला नहीं है। Psoriasis के इस डिग्री गंभीर है, पैच पूरे शरीर को कवर कर सकते हैं और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसेजानने के लिए की आवश्यकता होती है।

मुँहासे एक गंभीर समस्या है, लेकिन साथ मेंसक्षम दृष्टिकोण और जटिल उपचार आपकी त्वचा बिल्कुल सही दिखेगी। विशेषज्ञों की सहायता कभी भी ज़रूरत से ज़्यादा नहीं होती है, बल्कि स्वतंत्र रूप से भी, दृढ़ता और दृढ़ता से दिखती है, चेहरे पर मुंह से छुटकारा पाना संभव है।

चेहरे पर कील मुहाँसो को मिटाने के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें पूरा नींद लें फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ तले हुए तथा मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पानी अधिक मात्र में पिएं कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल ही न करें

परीक्षण करें, अगर आपको सांस की दुर्गंध की समस्या है: यह बताना मुश्किल है कि कब आपकी सांस दूसरो को बदबूदार लगें। अगर आपकी सांस बदबूदार है, तो इन परीक्षण का इस्तेमाल करके, आप अपने मुंह में मौजूद सल्फर नमक को किसी और चीज़ में मिलाकर, सूंघ सकते हैं और स्वयं ही अपने सांस की दुर्गंध को पहचान सकते हैं।[१५]

नहाने के बाद एक टोपिकल मरहम (ointment) या लोशन (lotion) का प्रयोग करें: एक मरहम को खोजें जिसमें बेंजोईल पेरोक्साइड (benzoyl peroxide), सैलिसिलिक एसिड (salicylic acid) या अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (alpha hydroxy acid) हो। इनमें से ज्यादातर ब्राण्ड बिना पर्ची के मिल जाते हैं जैसे — क्लेअरसील (Clearasil) और प्रोएक्टिव (Proactive)। अगर आप एक लोशन का प्रयोग करना चाहते हैं जो वैज्ञानिक तौर पर, इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए बनाया गया है कि वह कूल्हों पर होने वाले मुँहासों को ठीक करे — ग्रीन हार्ट लैब्स का बट एक्ने क्लीयरिंग लोशन (Butt Acne Clearing Lotion)। ज्यादातर टूथपेस्ट में कई प्रकार के पेरोक्साइड (peroxide) होते हैं, यदि आपको कुछ और न मिले तो ये मुँहासों के इलाज में प्रयोग में लाए जा सकते हैं।

जल्दी से कील मुहाँसो से जल्दी छुटकारा पाने के लिए आप रोज चेहरे को सॉफ रखेंगे तो भी आप इन चीज़ों से मुक्ति पा सकते हैं चन्दन, मुलैठी और हल्दी जैसे घरेलू नुस्खे त्वचा के पुराने दाग धब्बों के निशानों को भी हल्का करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि काफी अच्छी तरह से इनका इस्तेमाल करने पर भी इस बात की काफी संभावना होती है कि इनका असर काफी जल्दी में दिखे।

यदि आप चाहते है की आपकी दाढ़ी और मूछ का रंग सफेद न हो तो इसके लिए अपने रोजाना के भोजन में फल, हरि सब्जियां, दाल तथा प्रोटीन युक्त पदार्थो का सेवन करें तथा जंक फ़ूड खाना,शराब का सेवन करना छोड़ दे इसके साथ ही अपने सफेद बालों को छुपाने के लिए डाई का प्रयोग बिलकुल न करें क्योकि इनमे केमिकल मिले होते है।

इन सरल और आसान प्राकृतिक उपचार का उपयोग करने से आप मुँहासो की इस समस्या का कुछ हद तक समाधान कर सकते हैं। सर्वोत्तम परिणाम के लिए, आपको एक स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना चाहिए। यदि आप सफलतापूर्वक इन घरेलू उपचारों से अपने मुँहासे का इलाज नहीं कर पा रहे, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए

चन्दन, मुलैठी और हल्दी जैसे घरेलू नुस्खे त्वचा के पुराने दाग धब्बों के निशानों को भी हल्का करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि काफी अच्छी तरह से इनका इस्तेमाल करने पर भी इस बात की काफी संभावना होती है कि इनका असर काफी महीनों में दिखे।

शहद और गिलेसरीन के प्रयोग से भी आप छालों की समस्या से छुटकारा पा सकते है.  मुंह में छाले होने पर शहद और गिलेसरीन का इस्तेमाल काफी अच्छा रहता है. शहद और गिलेसरीन को आपस में मिलाये और इस मिश्रण को कॉटन की मदद से लों में लगाए. इससे मुंह के छाले धीरे-धीरे कम होने लगेंगे.

3 चम्‍मच दलिये को थोड़ा पानी लेकर पकाएँ। अब इसमें 4 चम्‍मच शहद डाल दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने दें। ठंडा होने के पश्चात इसको अपनी पीठ पर फैला कर लगा दें। इसको कम से कम 15 से 20 तक लगा रहने दें। फिर इसको गुनगुने पानी से धो दीजिए। इस देसी इलाज को रोज़ाना ही दोहराएँ।

यदि आप जोखिम के समूह हैं और यह आपको एक जीन वाहक के रूप में विकसित कर सकते हैं तो कोई अपने परिवार में इस रोग से ग्रस्त है। उसके बाद में 50% मामलों की वे भी इस रोग से ग्रस्त बच्चों मामले में दोनों भागीदारों के एक जोड़े में सोरायसिस है है। किसी परिवार से यह रूप में अच्छी तरह से था, क्योंकि 30% psoriasis के साथ मरीजों की समस्या प्राप्त किया।

एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़े से शहद के साथ एक छोटी दालचीनी का पाउडर मिलाएं; पानी न मिलाये क्योंकि यह शहद के असर नष्ट कर देगा। प्रत्येक दाने पर पेस्ट की एक छोटी सी परत लगाएं और रात भर के लिए रहने दें; अगली सुबह गुनगुने पानी से धो लें। यदि आवश्यक हो तो कुछ दिनों के लिए दोहराएँ।

नियमित रूप से अच्छी तरह अपने मुँह को साफ करें: जीभ और दाँतों के बीच में अच्छे से ब्रश करें, इसलिए नहीं की अच्छे लगे, बल्कि ओरल हेल्थ और साफ़ सांस के लिए। मुँह की दुर्गंध के दो प्रमुख स्त्रोत बैक्टीरिया और खाद्य कण का सड़ना है। आपके मुँह में अनेक कोने और सुराख होते हैं जिनमे खाने के कण फंस जाते हैं और सड़ जाते हैं। जिसके लिए सिर्फ दांतो को ब्रश करना नाकाफी है।

If u have oily skin.. wash ur face only with water ….when oil comes on ur face.. n on pimple u can apply clindamycin phosphate 1% in a day . Or in night u should apply aziderm acid cream so that ur marks on face removes.. one tablet of vitamin c in a day.. in 10 days u see pimples gone.. marks gone . After u wash ur face with himalaya neem face wash .

1  नीबू के रस में बराबर मात्रा में गुलाब जल डालकर मिश्रण तैयार करें और उसे चेहरे पर लगाये उसे आधे घंटे रखे फिर ताजे पानी से चेहरा धोले . इस प्रयोग को 10 से 15 दिन तक करें जिससे मुँहासे ठीक हो जाते हैं .

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

अगर आप चेहरे पर फुंसी और मुहांसे (Pimples) से परेशान है तो आगे इस पोस्ट में बताये  उपायों को अपनाकर आप इनसे छुटकारा पा सकते है लोगो के तरह तरह के उपायों के बाद भी चेहरे पर Pimples यानि मुहासे हो जाते है और यह समस्या आम तोर पर किशोरावस्था (Teenage) मे बहुत अधिक देखी जाती है वैसे तो ये  ज्यादा दिन तक चेहरे पर नही रहते पर ये  खत्म होते हुए चेहरे पर बहुत ही गहरे निशान छोड़ जाते है जो चेहरे की सुन्दरता को पूरी तरह से खराब कर देते है और महंगे विदेसी प्रोडक्ट व लोशन लगाने से भी नही जाते.

“हार्मोनल मुँहासे से छुटकारा पायें _मुँहासे के फूलों से मुँहासे पाने के लिए”

Muje kafi time se pimple aa rahe hai aur maine sb try kr liya hai bt kuch farak nahi ho raha hai pahele too muje pime normal hote the bt ab jabhi pimple aate hai too vo jagh pe muje sujan bahut hi pain hota hai jiski vajh seuje full day sir dukhta hai pls muje iska reason bataye aur kya main isle ilaj ke liye homeopathy ka treatment lu ki ayuervedic

चेहरा कितना भी खूबसूरत क्‍यों ना हो अगर उसपर एक छोटा सा भी मुहांसा हो जाए तो वह पूरे चेहरे की सुंदरता को तार तार कर देता है। फिर आप जितना भी मेकप लगाकर उसे छुपाने की कोशिश करें वह बेकार ही जाता है। इसके लिए जरुरी है क‍ि आप अपने खाने-पीने पर और त्‍वचा की साफ सफाई का पूरा ध्‍यान दें।

मुंह से आने वाली शराब की बदबू से बहुत से लोग परेशान रहते हैं और इसे दूर करने के उपाय के बारे में जानने की कोशिश करते हैं। मुंह में कुछ वोलेटाइल मॉलिक्युल्स होते हैं जिसकी वजह से मुंह से बदबू आती है। शराब भी एक वोलेटाइल मॉलिक्युल्स है जिसकी वजह से बदबू की समस्या होती है। शराब आसानी से पचाने में परेशानी होती है क्योंकि शरीर इसे टॉक्सिन के रूप में देखता है। हमारा लीवन एक ड्रिंक को पचाने में एक घंटा लेता है। इस धीमे प्रोसेस की वजह से एल्कोहल आपकी रक्त कोशिकाओं में इकट्ठा हो जाता है जिस कारण बदबू आती है। आइए जानते हैं मुंह से शराब की बदबू कैसे दूर करें। [ये भी पढ़ें: शहद और नींबू के रस की मदद से करें खांसी का इलाज]

यह सोचा है कि सोरायसिस ठीक नहीं किया जा सकता है और त्वचा की यह स्थिति पुरानी है। जब आप छालरोग उपचार दवा लेने या समय-समय खराब अस्थिर होने के नाते, यह सुधार कर सकते हैं। समय पर सोरायसिस साल छूट अवस्था में रहने के लिए प्रकट नहीं होता है। सर्दियों की अवधि समय जबकि गर्मियों के महीनों, इसके विपरीत, धूप में घूमना – एक असली प्राकृतिक छालरोग उपचार के लिए धन्यवाद त्वचा में सुधार जब हालत, खराब कर सकते हैं हो सकता है।

Tags: Home remedies for pimples in hindiपिम्पल की दवापिम्पल कैसे दूर करेपिम्पल टिप्स इन हिंदीपिम्पल ट्रीटमेंटपिम्पल मुँहासे कैसे हटाएपिम्पल हटाने के घरेलू उपाय नुस्खेपिम्पल्स के दागपिम्पल्स हटाने के तरीकेमुँहासे हटाने के उपाय

sir mere chehre p bhut daane hai chote chote or pimples h jyda nhi but h or un pimples me se white color ka kuch nikalta hai or ha kbi un pimples ko foddo n to कील niklti h m kya kru jra btaeiye meri age 16 h or July m 17 ka hoanga

लेज़र उपचार करवाएं: अगर आपके मुँहासे कई महीनों के बाद भी ठीक नहीं हो रहें हैं, तो लेज़र उपचार करवाएं | आप कौन सा इलाज करवाना चाहते हैं, उसके मुताबिक लेज़र कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करती है और दाग को भाप बनाकर साफ़ करती है |[९]

अधिकतर लोगों को खुद भी नहीं मालूम होता की उनके मुँह से दुर्गन्ध आती है, ये जानने के लिए की आप की मुंह से सांस की बदबू आती है की नहीं, आप मुंह के आगे हाथ रखे और ज़ोर से साँस छोड़े और अपने हाथ को सूँघे, अब अगर हाथ से बदबू आये तो आपको मुंह से बदबू आने की समस्या है। मुंह और जीभ के छाले, मसूड़ो में इन्फेक्शन और बार बार मुंह में लार बनना मुंह की बदबू के कुछ लक्षण है।

प्राकृतिक क्रीम और शैंपू में प्राकृतिक छालरोग उपचार के उद्देश्य से हर्बल घटक शामिल करना चाहिए। इस कुशल सूत्र आमतौर पर तेजी से अवशोषित है और कपड़े और त्वचा पर किसी भी निशान छोड़ नहीं करता है। प्राकृतिक छालरोग उपचार आम तौर पर हल्के moisturizers, emollients, आवश्यक तेलों, और आपकी त्वचा की हालत में सुधार और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए PH कसरती शामिल हैं।

इसके साथ ही कुछ लक्षण psoriasis के लक्षण हो सकता है। यह psoriasis vulgaris, जो रोग, guttate सोरायसिस छोटे धब्बे, जो बूंदों की तरह कर रहे हैं की विशेषता, व्युत्क्रम सोरायसिस underarms क्षेत्र, नाभि और नितम्बों, पास में एक नियम के रूप में की खोज की, और तरल अंदर के साथ छोटे फफोले द्वारा देखा pustular सोरायसिस का सबसे व्यापक प्रकार है शामिल हैं। इसके अलावा, एक अलग-अलग रोग हथेलियों और तलवों पर प्रकट होता palmoplantar सोरायसिस कहा जाता है।

दांतों में छेद होने को वैज्ञानिक भाषा में दन्त क्षय या कैविटी कहते है। मुंह में मौजूद एसिड के कारण दांतों के इनेमल खोखले होने लगते हैं जिसके कारण कैविटी का निर्माण होता है। मुंह में मौजूद बैक्‍टीरिया (लार, खाद्य कणों एवं अन्य पदार्थों के साथ) दांतों कि सतह पर जमा होने लगते हैं जिसे प्लॉक कहा जाता है। प्‍लॉक में मौजूद बैक्‍टीरिया आपके खाने में मौजूद शुगर एवं कार्बोहाइडेट को अम्ल में परिवर्तित कर देता है इसी अम्ल के कारण दांत खोखले होने लगते हैं, फलत: कैविटी का निर्माण होता है। लेकिन कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर दांतों में मजबूती बनाने के साथ प्राकृतिक रूप से कैविटी से लड़ा जा सकता है।

मुंह की बदबू को भगाने का सबसे अचूक उपाय है पानी। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे उतना ही आपको आराम मिलेगा। पानी मुंह के अंदर क्लींजर जैसा काम करता है। दिन भर हम कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जिसकी वजह से हमारे मुंह में पहले से ही जो बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इसलिए हमें लगातार पानी पीते रहना चाहिए और सुबह-सुबह ज्यादा पानी पीना चाहिए।

मेथी को अपने सूजन को कम करने, एंटीऑक्सिडेंट और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण मुँहासे के उपचार में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। पानी के साथ ताजा मेथी के पत्ते मिक्स कर एक चिकना पेस्ट बनाएं। प्रभावित क्षेत्र पर हर्बल पेस्ट को लगाएं और 10 से 15 मिनट के लिए इसे लगाकर छोड़ दें। फिर गर्म पानी से अपना चेहरा धो लें। मुँहासो को ठीक करने के लिए, तीन से चार दिनों के लिए यह प्रक्रिया दोहराएं।

यदि आप लोकलाइज़्ड फैट को कम करना चाहते हैं और वांछित फिगर चाहते हैं, तो विक्स वेपोरब का उपयोग करें क्योंकि यह आपकी सहायता कर सकता है। हालांकि, यह चमत्कार नहीं कर सकता, लेकिन समस्याग्रस्त इलाके में फैट के पिघलने को उत्तेजित कर सकता है, जैसे पैर या पेट।

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

सोरायसिस आमतौर पर कर सकते हैं हो प्रतिष्ठित से अन्य रोगों द्वारा विशेष लक्षण psoriasis के लक्षण: लाल और गुलाबी रंग के धब्बे जो thickened है, शुष्क त्वचा। यह आमतौर पर घुटने, कोहनी और खोपड़ी को प्रभावित करती है। मूल रूप से अभिव्यक्ति हर जगह शरीर पर प्रकट कर सकते हैं। लेकिन अधिक बार यह आघात, पुनरावर्ती मलाई, abrasions के स्थान पर प्रकट होता है।

बात जब चेहरे की आती है तो शहद का नाम जुबां पर अपने आप ही आ जाता है. शहद हमारे कील – मुंहासो को दूर करने में बहुत जल्दी असर करता है. शहद का उपयोग हमें सोते समय करना चाहिए और सुबह उठकर फिर मुँह साफ़ कर लेना चाहिए. आपके द्वारा शहद का रोजाना इस्तेमाल आपके दाग – धब्बो को कम कर देता है.

दोस्तों क्या आप जानते है हमारे मुँह की लार ही हमारी अनेक बीमारियों को चुटकी में ही ठीक कर सकती है हर रोज रात में सोने से पहले दांतों को साफ करके सोएं और सुबह उठकर बिना कुल्ला किये अपने मुँह की लार का प्रयोग करें | मुंह की लार हमारे शरीर के लिए बहुत ही उत्तम है । मुंह में बनने वाली लार हमारी सेहत के लिए कितनी फायदेमंद है इस बारे में हम कभी ध्यान ही नहीं देते। लेकिन अगर शरीर में इसकी कमी हो जाए तो मुंह का स्वाद बरकरार रखने से लेकर कई तरह की बीमारियां और संक्रमण का खतरा हो सकता है। साथ ही यह आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचाए रखने में मददगार होती है। लार बाज़ार में नही मिलती यह सभी के मुँह में भगवान ने उपहार स्वरुप दी है। आइये जाने लार क्या क्या कर सकती है। आइये जाने हमारे मुँह की लार क्या क्या कर सकती है।

एक प्रक्रिया बुलाया सेल कारोबार में, त्वचा कोशिकाओं है कि आपकी त्वचा में गहरी बढ़ने सतह को जन्म। आम तौर पर, यह एक महीने लग जाते है। क्योंकि अपने कक्षों में भी तेजी से वृद्धि में सोरायसिस, यह बस के दिनों में होता है।

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

जिन लोगो को समय समय पर पिम्प्लेस हो जाते है उन लोगो के लिए करेला एक बहुत ही अच्छा उपाय है. करेले को काटकर उबाल ले या उसके रस को निकालकर पीने से यह खून (blood) को साफ कर देता है. जिससे पिम्प्लेस (pimples) पूरी तरह से खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर व कोमल दिखाई देने लग जाता है.

“मुँहासे वापस छुटकारा _नींबू के रस का उपयोग करके मुँहासे से मुक्ति मिलें”

फिर ब्यूटीशियन पर जाएं एक अच्छा विशेषज्ञ या सिद्ध सैलून चुनना बेहतर है एक अनुभवी चिकित्सक, माथे पर मुँहासे को हटाने के लिए आवश्यक प्रक्रियाओं को सलाह देगा, और अपने चेहरे की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए आगे की देखभाल के लिए साधन का चयन करने में भी मदद करेगा।

बालों के लिए अंडा काफी अच्छा माना जाता है। नहाने से 20 मिनट पहले दो अंडों को फेंट कर लगाने से डेंड्रफ से छुटकारा मिल सकता है। ऐसा एक हफ़्ते में  दो बार अपनाने से डेंड्रफ बिल्कुल खत्म हो जाएगा और साथ ही बालों में चमक आएगी।

1 मुहांसो से छुटाकारा पाने के लिए इंहे कभी भी ना फोड़े वरना इसका सीरम निकल कर पूरे चेहरे पर मुहांसे फैला देगा। मुहासों को तौलिए से ना रगड़े, ऐसे करने से आपके पूरे चेहरे पर मुहासे फैल सकते हैं। बेहतर होगा कि इसको अपने आप ही खत्‍म होने दें।

काले दाग (black spots) धब्बे होने के कई कारण है जिनमे से मुख्य कारण कील, मुहासे, काले सिरे (ब्लैक हेड्स), फुडिया होते है। मुहासे से छुटकारा, सूरज की तेज किरण के कारण चेहरे के गड्ढे, दाग धब्बे ओर भी बढ़ जाते है जो चेहरे के सावले होने का कारण बनती है। इसके लिए आप जब भी बाहर जाए तो सन क्रीम लगा कर जाए और नीचे कुछ विधिया दी गई है मुहांसे के कारण जो दाग धब्बे से निजात दिलाने मे आपकी मदद करेगे।

वज्रासन को डायमंड पोज के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को आप खाना खाने के बाद भी कर सकती हैं। ऐसा नहीं है कि खाना खाने के बाद इसे करने से आपको किसी तरह का कोई नुकसान होगा । यह आसन उनके लिए काफी फायदेमंद होता है जो कि अपना वजन कम करना चाहते हैं। इतना ही नहीं इस आसन को करने से सूजन से भी छुटकारा मिलता है, साथ ही पाचन संबंधित परेशानियों से बालों का झड़ना भी बढ़ जाता है।

इसके कई गुण हैं – यह न केवल रक्त शर्करा के स्तर को कम रखता है बल्कि ब्लैकहैड हटाने और मुँहासों के पनपने को रोकता है। त्वचा पर लगाने के लिए मेथी के पत्तों का उपयोग करना बेहतर है न की उसके बीज का। मेथी के पत्तों को पीसकर उसमें पानी मिलाएं। इस पेस्ट को रात में मुँहासों पर लगाकर अगली सुबह गरम पानी से धो लें।

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

Bahut acche topic par post likhi hai aapne! aajkal pimples ki bahut jyada problem young generation me ho rahi hai….khubsurat banne ki chahat sabhi ko hoti hai…aapne jo upay bataye hain veh bahut kaam ke hain….dhanyabad!

FROM WEB10 Indian divas who never got marriedCRITICSUNIONSend Money to India for $0 + Great Exchange RatesVianex10 best Mortgage Lenders of 2018.CRITICS UNIONFROM NAVBHARAT TIMESसर्जरी की वजह से श्रीदेवी का न‍िधन बताने वालों को एकता कपूर ने दिया जवाब पेश हुई एक मिसाल अमिताभ को पहले ही हो गया था श्रीदेवी की मौत का आभास? From The WebMore From NBT

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।

यह शरीर की इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया को बढ़ावा देता है और इस प्रकार रक्त शर्करा के स्तर को सामान्य बनाये रखने में शरीर की सहायता करता है।दालचीनी के मधुमेह से सम्बंधित लाभ उठाने के लिए दालचीनी को अपने दैनिक आहार में शामिल करें। इसका उपभोग बहुत ही सरल है। आपको बस दालचीनी पाउडर को सुबह अपने दलिया या ओर कोई अन्य आहार पर छिड़क कर खाना है या फिर अपनी शाम वाली चाय या कॉफी में इसकी एक चुटकी मिठास मिलानी है।

भोजन में दालचीनी पाउडर का 1 चम्‍मच रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम करता है। इसके प्रयोग से टाइप टू डायबीटिज में रक्‍त शर्करा 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकती है। टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के लिए दालचीनी एक वरदान से कम नहीं है। दालचीनी टाइप-2 मधुमेह पर सकरात्मक प्रभाव डालता है और मधुमेह रोगी को एक स्वस्थ और साधारण जीवन व्यतीत करने में मदद करता है।

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

Home remedies for acne on face: Almost everyone, in the age of puberty and adolescence, encounters pimples. This age is more prone to pimples because this is the growth age, where body undergoes so many physical, biological and hormonal changes. Pimple is a kind of skin inflammation in which a red swollen structure or lesion full of puss forms on the skin and irritates the  area by causing itching and pain.

Tags:muhase hatane ke upay, Pimple hatane ke upay, pimple ke gharelu nuskhe, pimple ke upay in hindi, Pimples ka ilaj, चेहरे के गड्डे, चेहरे के गड्ढे, चेहरे पर फुंसियां, चेहरे से फुंसी, फुंसी का घरेलू इलाज, मुहासे से छुटकारा

गर्म मौसम में, पीठ पर मुँहासे वितरित की जाती हैमहिलाओं के सौंदर्य और मनोवैज्ञानिक परेशानी कई लोग यहां तक ​​कि इस तरह की चकत्ते के कारण बहुत सारे परिसरों का अनुभव करते हैं, समुद्र में आराम करने से इनकार करते हैं, एक स्विमिंग सूट में सार्वजनिक रूप से प्रकट नहीं करना चाहते। इसलिए, पीठ पर मुँहासे से छुटकारा पाने का सवाल सावधानीपूर्वक और विस्तृत अध्ययन के लिए है, और इस समस्या का उपचार एक एकीकृत दृष्टिकोण है।

–> लहसुन पिंपल को हटाने में किसी चमत्कारिक उपचार से कम नहीं है | दरअसल लहसुन एक एंटीवायरल, एंटीफंगल, एंटीसेप्टिक और एंटीऑक्सिडेंट है जो पिंपल के घाव को बड़ी आसानी से ठीक कर देता है | आपको सिर्फ इतना करना है कि शरीर के जिस भाग पर पिंपल  हो लहसुन छीलकर लगा ले | 5 मिनट तक लगे रहने के बाद हल्के गुनगुने पानी से धो ले |

चंदन पाउडर और गुलाब जल दोनों को अच्छे से मिला कर एक पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को पीठ पर लगा लें और 30 से 40 मिनट के लिए इसको लगा रहने दें। फिर इसको ठंडे पानी से धो लें। इस घरेलू नुस्खे को रोज़ाना दोहराएँ।

अपने चेहरे की मांसपेशियों का प्रयोग करें: नाक के अंदर (cavity) मूवमेंट करना अटके हुए बलगम को निकाले में सहायक हो सकता है। गार्गलिंग और गुनगुनाने के बारे में तो पहले ही बता दिया गया है, आप इन सबका प्रयास भी कर सकते हैं:

मेरी उम्र 25 साल की है पीईचले दो महीनो से अब मेरे चेहरे पर बहुत से दाने निकल रहे हैं मैं किया करूँ कोई जल्दी से कील मुहाँसो को मिटाने का आसान सा घरेलू तरीके और नुस्खे बताएँ जिससे मेरा चेहरा पहले की तरह सॉफ हो जाए|

माउथवॉश का इस्तेमाल करें: दुर्गंधयुक्त सांस पर शीघ्र प्रभाव करने के लिए माउथवॉश का इस्तेमाल करना एक उत्तम तरीका है। यह आपकी दुर्गंधित सांस को अस्थायी रूप से छिपा देता है, लेकिन यह काफी है अन्य लोगों को बुरा लगने से बचने के लिए।[७]

गुलाब जल भी एक बढ़िया उपाय है. मुहासों को दूर करने का यदि आप गुलाब जल के अंदर काली मिर्च के कुछ दाने पिस कर मिलाये और उसको रात को अपने मुह पर लगाकर सोने के बाद सुबह उस धो ले इससे भी आपके चेहरे पर मुहासों को दूर करने मु मदत मिलती है. और यदि आप नींबू के रस को भी गुलाब जल के अंदर मिला कर लगा सकते है.

#health solution #health tips #www.onlyinayurveda.com #crazy india #ayurveda for healthy life Health website health article health news Ghrelu Nuskhe health remedy #how to cure health problems solution in ayurveda desi nuskhe #how to get rid from health problems solution in ayurveda top news ayurvedic medicine #astronomy ayurved tips news #how to cure health problems solution with home remedy only in ayurveda ayurveda health tips health solution with home remedy #vastu tips for wealth creation #vastu tips for money home remedies

homeveda, ayurveda, home remedy, home remedies, natural remedies, natural cure, home cure symptoms, medicine, health, bad breath, bad breath causes, , bad breath disease, bad breath cures, halitosis causes, how to get rid of bad breath, rid, remedies, remedy, cure, cures, causes, cause, how, to, what, how to cure bad breath, home Stuart Edge , top video, must watch, video about bed breath, multi rose life, short films

आप एक पूरक के रूप में मौखिक रूप से ई पोषण भी ले सकते हैं, हालांकि असाधारण परिणामों के लिए, आप अपनी त्वचा पर तुरंत तेल लगाने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपको पियर्स और त्वचा गुस्से में आ जाती है तो आपको एक बार फिर से जला देना पड़ता है।     कोर्टिसोन इंजेक्शन ………..

Ice Cube का सबसे लोकप्रिय उपयोगों में से एक मुँहासे सिकुड़ने के लिए है | बर्फ लालिमा और सूजन को शांत कर सकता है, खासकर cystic acne को | हालांकि, याद रखें कि pimples संवेदनशील होते हैं और बैक्टीरिया से भी भरा होता है | इसलिए pimple के उपचार लिए ice का उपयोग करते वक्त सौधानियाँ बरते |

जिनके छाले बिलकुल सही नहीं हो रहे हैं वो सुबह खाली पेट और रात्रि को सोते समय मुंह में नारियल का तेल 2 चम्मच डालकर उसको चबाते रहें, ध्यान रहे इसको निगलना नहीं है, ऐसा 10 मिनट तक करना है, ऐसा करने से सिर्फ 1 से ३ दिन में छाले बिलकुल सही हो जायेंगे, इसके साथ में ये विधि टोंसिल के लिए भी संजीवनी है.

अधिकतर लोगों को खुद भी नहीं मालूम होता की उनके मुँह से दुर्गन्ध आती है, ये जानने के लिए की आप की मुंह से सांस की बदबू आती है की नहीं, आप मुंह के आगे हाथ रखे और ज़ोर से साँस छोड़े और अपने हाथ को सूँघे, अब अगर हाथ से बदबू आये तो आपको मुंह से बदबू आने की समस्या है। मुंह और जीभ के छाले, मसूड़ो में इन्फेक्शन और बार बार मुंह में लार बनना मुंह की बदबू के कुछ लक्षण है।

सामग्री: कैलेंडुला officinalis, आइरिस versicolor, आवश्यक तेल के मिश्रण (Cedrus एटलांटिका लकड़ी शेविंग्स, Melaleuca alternifolia पत्ता-शाखा, Melaleuca छोटी सी पत्ती), Persea gratissima फल तेल, Rosa mosqueta बीज का तेल, Simmondsia chinensis बीज का तेल, Triticum vulgare कर्नेल तेल)।

इस साइट की कुकीज़ की सामग्री और विज्ञापनों को अनुकूलित करने के लिए उपयोग किया जाता है, सामाजिक मीडिया सुविधाओं को उपलब्ध कराने और यातायात का विश्लेषण. Además, हम अपने सामाजिक मीडिया सहयोगियों के साथ वेब के अपने उपयोग के बारे में जानकारी साझा, विज्ञापन और वेब विश्लेषण.स्वीकारेंऔर अधिक पढ़ें

Aloe vera has ancestral popularity for its antifungal and antibacterial properties. Aloe vera gel is available in the market, but if you have aloe vera leaves in your home, then you can make use of it. Apply the aloe vera extract on the pimple and let the skin absorb it for 10 minutes. It can be applied on the face also. It kills the bacteria and reduces the redness of pimple.

“अपने मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए -मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए 7 प्राकृतिक तरीके हैं”

* बेकिंग सोडा : अगर आपके मुँह में छाला खट्टे पदार्थों के खाने से हुआ हो तो यह सबसे बेहतरीन उपाय है। एक कटोरे में थोड़ा सा बैंकिंग सोडा लें और उसमे थोड़ी सी पानी की मात्रा मिलाएं ज्यादा मोती पेस्ट भी नहीं बनाएं। इसके बाद इसे आप अपने छालों पर लगा लें। आप इसका उपयोग दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बैंकिंग सोडा को सीधे छालों पर लगा सकते हैं।

जल्दी से कील मुहाँसो से जल्दी छुटकारा पाने के लिए आप रोज चेहरे को सॉफ रखेंगे तो भी आप इन चीज़ों से मुक्ति पा सकते हैं चन्दन, मुलैठी और हल्दी जैसे घरेलू नुस्खे त्वचा के पुराने दाग धब्बों के निशानों को भी हल्का करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि काफी अच्छी तरह से इनका इस्तेमाल करने पर भी इस बात की काफी संभावना होती है कि इनका असर काफी जल्दी में दिखे।

For more articles on skincare, check out our skincare section. Follow us on Facebook and Twitter for all the latest updates! For daily free health tips, sign up for our newsletter. And to join discussions on health topics of your choice, visit our forum.

English: Prevent Bad Breath, Français: éviter la mauvaise haleine, Italiano: Prevenire l’Alito Cattivo, Español: evitar el mal aliento, Deutsch: Mundgeruch vorbeugen, Português: Prevenir o Mau Hálito, Nederlands: Een slechte adem voorkomen, 中文: 防止口臭, Русский: предотвратить неприятный запах изо рта, Bahasa Indonesia: Mencegah Bau Mulut, Čeština: Jak předcházet zápachu z úst, العربية: منع رائحة الفم الكريهة, 日本語: 口臭を防ぐ, ไทย: ป้องกันการเกิดกลิ่นปาก, Tiếng Việt: Phòng ngừa Chứng hôi miệng, 한국어: 입 냄새 예방하는 법

ऑइली त्वचा से पूरी तरह से छुटकारा पाना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप इस सामान्य समस्या को हल करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं। महंगे और केमिकल युक्त उत्पादों का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बहुत से लोगों ने घरेलू उपायों को इस समस्या के लिए मेहतर और प्रभावी पाया है। 

आप एक पूरक के रूप में मौखिक रूप से ई पोषण भी ले सकते हैं, हालांकि असाधारण परिणामों के लिए, आप अपनी त्वचा पर तुरंत तेल लगाने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपको पियर्स और त्वचा गुस्से में आ जाती है तो आपको एक बार फिर से जला देना पड़ता है।     कोर्टिसोन इंजेक्शन ………..

चेहरे के पिंपल्ज़ किस प्रकार से मिटेंगे मेरे चेहरा पिंपल्ज़ से बहुत जाएदा भर गया है मेरा पूरा चेहरा इतना खराब हो गया है कि मुझे भी अच्छा नहीं लगता पता नहीं कि ठीक भी होंगे या नहीं बहुत ही परेशान हूँ मेरी परेशानी का हल ज़रूर बताएँ|

Hare khire ko kaddukas kar ke uske ras ko ek bowl me nikal le, or is ras ko apne chehre par lagbhag ek ghante tak lga kar rakhe fir saf pani se chehre ko dho le pimples na kewal saf hunge balki pimples hona bhi kam ho jayega.

शुरू -शुरू में हो सकता है की मसूड़ों से रक्तस्राव हो क्यूंकि दाँतो और मसूड़ों के बीच से जाने कितने समय से फसे हुए अन्न के टुकड़े निकलेंगे। हिम्मते करके क्षण भर को दाँतों से निकले फ्लॉस को सूंघें तो आपको पता चलेगा कि मुँह से दुर्गंध कहाँ से आ रही है।

यदि आप अक्सर बीमार पड़ जाते हैं, तो इसका मतलब है कि आपका इम्युनिटी कमजोर है। आप इस हर्बल काढ़े की मदद से इसे मजबूत कर सकते हैं। इस काढ़े में कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण है। ये काढ़ा वात और कफ को शांत करता है, पाचन को उत्तेजित करता है, प्रतिरक्षा में वृद्धि करता है।

बलगम कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।

“मुँहासे और निशान से छुटकारा पाना मुँहासे नाक से छुटकारा”

नींबू का अम्लीय गुण खराब त्वचा के उपचार में बहुत सहायक हो सकता है। नींबू त्वचा की धूल मिट्टी को साफ कर देगा जो रोमछिद्रों में इकट्ठा हो चुका है और सीबम को मजबूत करेगा। नींबू का रस में साइट्रिक एसिड (citric acid) एक शक्तिशाली एस्ट्रिंजेंट (astringent) है जो मृत त्वचा कोशिकाओं को हटता है और नई त्वचा वृद्धि को प्रोत्साहित करता है। ये मुहांसों को सूखा देता है और उनके निशानों को हल्का कर देता है।

हल्दी खाएँ: यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक आपके शरीर में बलगम बनाने वाले बैक्टीरिया को मारता है। आप जो कुछ भी पीते हैं उसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाएँ या इसे एक गिलास पानी के साथ पिएँ। प्रतिदिन इस पदार्थ के कुछ छोटे चम्मच आपको बहुत जल्दी बलगम-मुक्त कर देंगे।

मुंह के छालो की समस्या दिखने में जितनी छोटी हैं उतनी ही अधिक कष्टदायी हैं। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।

चेहरे पर कील मुहाँसे ना हों इसके लिए आप रोज फल और सब्जी ज्यादा मात्रा में खाएँ कास्मेटिक का उपयोग बिल्कुल न करें पानी अधिक मात्रा में पिएं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पूरी नींद लें साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करें चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रखें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रखें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें|

मूली में विटामिन C, जिंक, B कांप्‍लेक्‍स और फॉस्‍फोरस होता है. मुंहासों के लिए मूली का टुकड़ा गोल काट कर मुंहासों पर लगाएं और तब तक लगाए रखें जब तक यह खुश्क न हो जाए. थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें. कुछ ही दिनों में चेहरा साफ हो जाएगा.

मुंह की दुर्गंध (Mouth Bad Smell) की समस्या अक्सर दूसरों के सामने शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। जिसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे ब्रेकफास्ट न करना, मुंह की सफाई न करना, खराब डाइजेशन और सलाइवा की कमी जैसी कई समस्याएं होती हैं। इसे खान-पान में सुधार करके काफी हद तक कम किया जा सकता है। आइए जानेंगे इनके बारे में— सबसे पहले तो दांतों और मुंह से बदबू आने के कारण जानते हैं।

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

कॉफी एक बहुत अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है। यह ब्लड सर्कुलेशन को उचित रखने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है। यह सेल्‍युलाइट को कम करने में मदद करता है। आप नारियल तेल और कॉफी पाउडर को मिलाकर, कॉफी स्क्रब बनाएँ और इसे अपनी जांघों और नितंबों पर लगाएँ। इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें। इसके अलावा, कॉफी के बीज का पाउडर बनाकर उसे अपने बॉडी लोशन में मिलाएं और त्वचा पर 5 मिनट तक इसे लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इस उपाय को हफ्ते में दो बार करें।

यहाँ पर शायद कुछ चीज़ें कूल्हों (buttocks) पर मुँहासे (acne) होने की बजाय ज्यादा शर्मनाक है- मुख्यतः जब गर्मियाँ आती हैं और बिकनी (bikinis) बाहर निकलती हैं। खुद को बीच कवर-अप (beach cover-ups ) के पीछे छिपने से रोकें तथा अपने कूल्हों पर होने वाले मुँहासों की परेशानी का समाधान खोजें। नीचे दिए गए उपचारों को आजमायें और देखें कि आपके लिए कौन-सा उपयोगी है। हर किसी की त्वचा अलग होती है, इसलिए हतोत्साहित न हों। यदि कोई विशेष उपचार आपके मुँहासों का इलाज नहीं कर पाता, तो एक अलग कोशिश करें।

दालचीनी मैंगनीज का भंडार है। इससे स्‍मरण शक्‍ति बढ़ती है। इसलिये बच्‍चों , महिलाओं, मानसिक श्रम करने वालों को ब्रेड पर मक्‍खन या शहद के साथ आधा चम्‍मच दालचीनी पाउडर लगा कर दिन में दो बार लेना लाभदायक होता है।

लहसुन की कलियों को पीसकर हल्दी मिला लें और इसे ठन्डे पानी से धो लें। इसके इस्तेमाल से पिम्पल्स की समस्या दूर हो जाएगी। पिंपल्स से छुटकारा पाने के लिए जेल युक्त टूथपेस्ट को इस पर लगाकर 1 घंटे के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से आपके पिम्पल्स एक रात में ही दूर हो जायेगे।

मुलेठी में भरपूर मात्रा में आयुर्वेदिक गुण मौजूद होते हैं. जिसके कारण ये हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है. मुलेठी में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक, प्रोटीन और वसा के गुण मौजूद होते हैं. इसके सेवन से सर्दी-खांसी, जुकाम, कफ, गले और यूरिन इंफैक्शन जैसी समस्याओं से आराम मिलता है. आज हम आपको मुलेठी के कुछ घरेलु नुस्खों के बारे में बताने जा रहें हैं.

हाइड्रेटेड रहें: सभी बीमारियों की तरह, जल्दी ठीक होने के लिए हाइड्रेटेड रहना आवश्यक है। दिन भर में हर घंटे पानी पीकर अपने शरीर को बलगम बाहर निकालने में मदद करें। आप अपनी फ्लूइड (fluid) इन्टेक (intake) को सप्लीमेन्ट (supplement) करने के लिए जूस और चाय भी ले सकते हैं।

एलोविरा का प्रयोग करें: एलोविरा का रस एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो कई प्रकार कि बिमारियों, चोट लगना, जल जाना, या मुँहासों को दूर करता है | यह त्वचा को फिर से नया बनाकर नमी प्रदान करता है | एलोविरा को किसी भी दुकान में पाया जा सकता है, लेकिन एलोविरा पत्तियों का रस सब से ज्यादा उपयोगी माना गया है | इसके जैल को धब्बों पर लगाकर छोड़ दें | धोने की भी जरुरत नहीं है |

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

एक प्रक्रिया बुलाया सेल कारोबार में, त्वचा कोशिकाओं है कि आपकी त्वचा में गहरी बढ़ने सतह को जन्म। आम तौर पर, यह एक महीने लग जाते है। क्योंकि अपने कक्षों में भी तेजी से वृद्धि में सोरायसिस, यह बस के दिनों में होता है।

अपनी अपने अब अमेरिका आज आप इस इस के उन की उन के उन्हें उन्होंने उस का उस की उस के उस ने उसे एक ऐसा ऐसे कई कभी करते करने का काम कारण किया किसी कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या गए घर जब जा जाता है जाती जाने जिस जीवन जुगुनी जो ज्यादा तक तरह तुम तेजेंद्र तो था था कि थी थीं थे दवा दिन दिया दिल्ली दी दीक्षा दे देश नहीं ने कहा नेपाल के पटना पति पत्नी पर पहले फिर फिल्म फोन बन बना बहुत बात बेटी भाजपा भारत भी मन मुंबई मुझे में मेरी मेरे मैं ने यह या रहा है रही रहे हैं रुपए लगा लिया ले कर लेकिन लोग लोगों वह वाली वाले वे सब समय साल से हम हर ही हुआ हुई हुए है और है कि हैं होगा होता है होती होने

    लड़का हो या लड़की हर किसी को अपना चेहरा सबसे प्यारा होता है। यदि उस चेहरे पर दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne) आ जाते हैं तो बहुत बुरा लगता हैं, कहीं बाहर जाने से कतराते हैं, हर जगह अपना चेहरा छुपाने का कोशिश में लगे रहते हैं। सेल्फी के शौकीन होते हुए भी सेल्फी लेने से कतराते हैं वजह सिर्फ चेहरे पर दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne) का आ जाना… तो आइये जानते हैं दाने (Pimple) एवं  मुँहासे (Acne)  होने की वजह क्या है? और इसको हटाने का घरेलु उपाय  (how to remove pimple and acne at home).

– गर्मियों में हरा ताजा पुदीना पानी मेें उबाल कर छान लें। गुनगुने पानी से कुल्ला करने से भी आराम मिलता है। इसी प्रकार मेथी को पानी में उबालकर ठंडा कर छान लें और गुनगुने पानी से कुल्ला करें। मसूड़ों की सूजन भी दूर होगी और दुर्गन्ध भी।

#2 – H-सोरायसिस, 88 अंक हमारे 100 के। H-सोरायसिस सूत्र एक निर्णायक सामयिक होम्योपैथिक उत्पाद है। सूत्र भी शुद्ध प्राकृतिक आवश्यक तेलों शामिल हैं और सुरक्षित और कोई हानिकारक रसायन या additives के साथ प्रभावी है। यह एक गहरी मर्मज्ञ क्रिया है, आपकी त्वचा पर कोमल है, और जलन, खुजली, जलन या scarring का कारण नहीं करना चाहिए।

शहद और गिलेसरीन के प्रयोग से भी आप छालों की समस्या से छुटकारा पा सकते है.  मुंह में छाले होने पर शहद और गिलेसरीन का इस्तेमाल काफी अच्छा रहता है. शहद और गिलेसरीन को आपस में मिलाये और इस मिश्रण को कॉटन की मदद से लों में लगाए. इससे मुंह के छाले धीरे-धीरे कम होने लगेंगे.

चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।

सावधान: आपको नाक साफ करने के लिए सिर्फ जीवाणुरहित पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। पानी को जीवाणुरहित करने के लिए उसे उबाल लें, फिर इस्तेमाल करने से पहले उसे ढक दें और रूम टेंपेरेचर तक ठंडा होने दें। नलके का पानी पीने के लिए सुरक्षित प्रमाणित तो हो सकता है, लेकिन तब भी उसमें रोगज़नक़ हो सकते हैं जो साइनस में घुसकर संक्रमण पैदा कर सकते हैं।

मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। तो आइये हम detail में जानते हैं कि Mouth Ulcers (muh ke chhale) होने के कारण क्या-क्या हैं और हम किस प्रकार इनसे निजात पा सकते हैं।

कुछ लोग कानों की सफाई के लिए डॉक्टर का सहारा लेते हैं डॉक्टर के पास जाते हैं और डॉक्टर से कानों की सफाई करवाते हैं तो कुछ लोग राह चलते लोगों से जो भी काम साफ करने का काम करते हैं उनसे कानों की सफाई करवाते हैं लेकिन हम आपको बता दें कि यह सब आपको करने की जरूरत नहीं है आप आराम से घर बैठे कानों की सफाई कर सकते हैं जोकि सबसे आसान भी है और इसमें कोई पैसा भी खर्च नहीं होगा!

विटामिन-डी से भरपूर आहार लें: विटामिन-डी आपके मुंह में बैक्टीरिया होने से रोकता है। विटामिन-डी का सेवन हम अपने आरक्षित आहार और पेय के रूप में कर सकते हैं, विटामिन-डी आम तौर पर और अधिक प्रभावशाली रूप में सूरज की रोशनी से मिलता है।

पुलिस ने बताया कि जब मामले की जानकारी हुई तो केस दर्ज कर सुरेश को पकड़ने की तैयारी की गई। उसमान ने बताया कि उसकी और मारिया की 2005 में शादी हुई थी और वह 2012 में आपसी सहमति से अलग हो गए थे। सुरेश की मारिया से मुलाकात फेसबुक के जरिए हुई थी और दोनों में जल्द ही प्यार हो गया और दोनों साथ में रहने लगे। इस बीच सुरेश अपने घर गया जहां उसके परिवार ने उसकी शादी लता से करा दी।

अगर इस में लापरवाही रखे तो आगे जाके यह काले दाग और धब्बे छोड़ देते है जिन्हें निकालना मुश्किल होता है| इसीलिए जवानी में ख़ास सावधानी रखे स्वछता की तो मुहासे ही न हो और अगर हो भी जाए तो बिना दाग के आप मिटा दे| पिम्पल हटाने के उपाय (pimples ke liye gharelu upay) आप जानिये और रहे मुक्त इस परेशानी से|

नॉन-एलर्जेनिक (non-allergenic) कपड़े धोने की साबुन और ब्लीच का प्रयोग अपने कपड़े तथा चादर धोने में करें: यह विशिष्ट (specific) डिटर्जेंट उन लोगों के लिए है जिनकी त्वचा बहुत संवेदनशील है। इन उत्पादों का प्रयोग जब सम्भव हो तब जलन से बचने के लिए करें या एलर्जी की प्रतिक्रिया से बचने के लिए जो कि आपके वर्तमान डिटर्जेंट से हो सकता है।

गार्गल का इस्तेमाल करें: एक कप गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिलाएँ और मिश्रण को 30 सेकंड के लिए गार्गल करें। एक दिन में कई बार यह करने से आपको अपने गले के पीछे और आपकी नाक में अटके बलगम को निकालने में मदद मिलेगी।

How to Remove Pimples from Face in Hindi. Teji/tezi se muhase hatane ke liye gharelu nuskhe upchar/upay. Muhase hatane ke upay. Muhase ke liye gharelu upay. Pimple hatane ke tarike Hindi me. Pimple ke gharelu nuskhe. Muhase ka gharelu ilaj Hindi me. Muhase ka ilaj. मुँहासे हटाने के उपाय। मुहासे हटाने के लिए घरेलू उपचार। Pimples on face treatment at home in Hindi. Pimples problem solution in Hindi. Pimple and acne treatment in Hindi.

कील मुंहासे हाथ से फोड़ने पर इसके दाग धब्बे त्वचा पर रह जाते है। पिम्पल्स के दाग और निशान हटाने के लिए पुदीने को पीस कर एक पेस्ट बना ले और चेहरे पर लगाए। एक महीने तक इस उपाय को करने से चेहरा सुंदर और साफ़ होता है।

“मुँहासे चेहरे का मुखौटा छुटकारा _अब स्वाभाविक रूप से मुँहासे से छुटकारा”

पिम्पल्स का इलाज के लिए रसायनिक पदार्थ का उपयोग करने से बेहतर होगा की आप प्राकृतिक उत्पादो का उपयोग करे। घरेलू उत्पाद बहुत सस्ते होते है और इनका कोई बुरा असर भी नही पड़ता। चेहरे पर दाने के उपाय, त्वचा की देखरेख करना वो भी सुंदरता के साथ यह बहुत ज़रूरी है। कुछ घरेलू उपचार की सूची नीचे दी गई है जो काले दाग (black spots) धब्बे, मुँहासे के निशान से दूर रहने मे आपकी मदद करेगे।

यदि आप जोखिम के समूह हैं और यह आपको एक जीन वाहक के रूप में विकसित कर सकते हैं तो कोई अपने परिवार में इस रोग से ग्रस्त है। उसके बाद में 50% मामलों की वे भी इस रोग से ग्रस्त बच्चों मामले में दोनों भागीदारों के एक जोड़े में सोरायसिस है है। किसी परिवार से यह रूप में अच्छी तरह से था, क्योंकि 30% psoriasis के साथ मरीजों की समस्या प्राप्त किया।

मेरे चेहरे पर बहुत सारे पिंपल्ज़ हैं यह बीच बीच में ठीक भी हो जाते हैं लेकिन फिर से वापस भी आ जाते हैं यदि मैं भाप वाला फार्मूला पर्योग करूँ तो क्या यह पिंपल्ज़ हमेशा के लिए ठीक हो सकते हैं? प्लीज़ रेप्लाई सर

त्वचा के छिद्र भर जाने पर सूजन आ जाती है और उस छिद्र में बैक्टीरिया के कारण पस भर जाती है इस को पिम्पल्स कहते हैं तले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ भरपूर नींद लें पानी अधिक मात्रा में लें चेहरे को बार बार धोएँ फल और सब्जी ज़ायेदा खाएँ साबुन की जगह बेसन के उबटन से मुँह धोएँ

अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल ऑफ नेचुरल प्रोडक्ट में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, मुलेठी की जड़ दांतों को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है। मुलेठी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुण बैक्‍टीरिया के कारण होने वाली कैविटी के विकास को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा यह जडी-बूटी प्‍लॉक को कम करने में भी मदद करती है। नियमित रूप से दांतों में ब्रश करने के लिए मुलेठी की जड़ के पाउडर का प्रयोग करें। इसके अलावा आप टूशब्रश करने के लिए मुलेठी की स्‍टीक का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

मुंह से शराब की बदबू को दूर करने के लिए लोग परेशान रहते हैं, लेकिन उन्हें इससे छुटकारा पाने का सही से पता नहीं चल पाता है। शराब पीने के बाद अत्यधिक पानी पीने से भी शराब की बदबू से निजात पाया जा सकता है।

हमेशा मुँह में थोड़ा सा पानी लें और अच्छी तरह से मुँह में चारों और तेज़ी से घुमाए जिससे की दाँतो के बीच में फसे अन्न के कण निकल जाएँ। जब आप अपने दाँतों (कम से कम दिन में दो बार होना चाहिए) को ब्रश करते हैं अपनी जीभ की सफाई के लिए टूथब्रश, एक चम्मच के किनारे, या एक जीभी का प्रयोग कर सकते हैं।

योग और आयुर्वेदिक उत्पादों का इस्तेमाल करने से आपकी जीवन शैली में कई बदलाव आते हैं। इसके लिए आप शराब का सेवन करना बंद करें। मेडिटेशन करें इससे तनाव दूर होता है। अगर आप हमेशा अच्छे आकार में रहना चाहती हैं तो इन आसनों को रोजाना करें।

किसी भी लड़के या लड़की के मुंह पर मुहासे होने का सबसे प्रमुख कारण उसकी त्वचा का बेजान होना  और पूर्ण  पोषण ना मिल पाना यह मुहासे होने का सबसे बड़ा कारण होता है.और इसके  अलावा और भी बहुत से कारण है. जिनसे मुहासे हो सकते है. उनके बारे में हम आपको निचे बता रहे है.

कच्चे आलू के बारे में मुझे मेरे एक दोस्त से पता चला था. उसने मुझे बोला था की उसके भाई ने भी अपने मुंहासो पर आलू का इस्तेमाल किया था. जिससे उसके दाग – धब्बे ठीक हो गये थे. आलू हमको घर में ही मिल जाता है. आलू के छिलके मुंहासे दूर करने के लिए आलू का सबसे Best Part होता है.

रेडकरंट आंवला परिवार का सदस्य है और यह काले धब्बों पर जमे मेलेनिन (melanin) को हल्का करता है। कुछ रेडकरंट लें और इन्हें पीसकर 1 चम्मच शहद के साथ मिश्रित करें। इस पैक को अपने चेहरे पर लाएं और काले धब्बों पर ध्यान केन्द्रित करें। इसे 20 मिनट के लिए छोड़कर पानी से धो लें। अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना करें।

एक प्रक्रिया बुलाया सेल कारोबार में, त्वचा कोशिकाओं है कि आपकी त्वचा में गहरी बढ़ने सतह को जन्म। आम तौर पर, यह एक महीने लग जाते है। क्योंकि अपने कक्षों में भी तेजी से वृद्धि में सोरायसिस, यह बस के दिनों में होता है।

विभिन्न छालरोग उपचार के विकल्प और कभी-कभी उनमें से प्रत्येक के लिए अलग-अलग विशेषताओं के साथ विभिन्न प्रकार के psoriasis के हैं। एक के रूप में, एक व्यक्ति सोरायसिस के कुछ प्रकार है। जब एक तरह स्पष्ट है, अलग रूप पैदा कर सकते हैं:

“मुँहासे से मुक्ति पाने से कैसे मुँहासे से छुटकारा पा सकते हैं मुंह से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार”

Psoriasis त्वचा है कि तेजी से प्रजनन लाल रंग के सूखे धब्बे का कारण बनता है पर त्वचा की सतह और त्वचा और अधिक मोटा होना त्वचा सेल की जरूरत पर जोर देता की एक शर्त है। हालत बढ़ नहीं रहा है। के रूप में बहुत जल्दी त्वचा सेल बनाता है, तराजू कि परिणाम के रूप में दिखाई देते हैं और गुच्छे भी सूखी। सोरायसिस आमतौर पर घुटने, कोहनी, खोपड़ी पर फैला हुआ है।

सोरायसिस आमतौर पर कर सकते हैं हो प्रतिष्ठित से अन्य रोगों द्वारा विशेष लक्षण psoriasis के लक्षण: लाल और गुलाबी रंग के धब्बे जो thickened है, शुष्क त्वचा। यह आमतौर पर घुटने, कोहनी और खोपड़ी को प्रभावित करती है। मूल रूप से अभिव्यक्ति हर जगह शरीर पर प्रकट कर सकते हैं। लेकिन अधिक बार यह आघात, पुनरावर्ती मलाई, abrasions के स्थान पर प्रकट होता है।

दाल और आलू का पेस्ट : इस बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खे से आप मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पा सकते है आलू और दाल से बना पेस्ट मूछ के सफेद बाल को हटाने में बहुत मदद आता है आलू में ब्लीचिंग के प्राकृतिक गुण होने के कारण आलू को दाल के साथ मिलाकर दाढ़ी व् मूछो का प्राकृतिक रंग वापिस आ जाता है।

अपने दांतो को फ्लॉस करें: फ्लॉस करना अच्छे स्वस्थ मुंह का जरूरी अंश है। फ्लॉस करने से आपके दांतो के बीच में से प्लैक और बैक्टीरिया निकल जाता है, जो कि अच्छे से अच्छे ब्रश से भी नहीं निकलता। दिन में कम से कम एक बार फ्लॉस जरूर करें।[२]

Gulab jal me barabar matra me nimbu ka ras milakar mishran tayaar kar lijiye or us mishran ko chehre par karib aadhe ghante tak laga kar rakhe fir taje pani se chehra dho le, is pryog ko chehre par karib 15 din tak kare , jisse apke chehre ke muhase thik ho jayenge.

Hello sir, mera naam Sonika h,, mere face pr pimples to ab nhi h Lekin unke nishan reh Gye h jisse face bht khrab dikhta h aap Aisa kuch btayiye jisse meri skin bht beautiful ho jaye, time jyada lgega uski koi problem nhi h bs thik hona chahiye….

#1 – Dermasis, 94 अंक हमारे 100 के। Dermasis लक्षण है कि आपकी त्वचा लाल और एक दो गुना दृष्टिकोण के साथ बद देखो करने के लिए कारण से लड़ने में मदद करता है एक प्राकृतिक छालरोग उपचार फार्मूला है। Dermasis के सक्रिय संघटक, चिरायता का एसिड, 2% को उत्तेजित करता मृत की इस परत के बहा त्वचा कोशिकाओं आपके सोरायसिस को कम करने में मदद करने के लिए।

चेहरे पर पंप हमेशा मनोवैज्ञानिक कारण होते हैंअसुविधा, और कठिन संक्रमण वर्षों में कई परिसरों का कारण हो सकता है और कोई नींव या पाउडर इस समस्या को हल करने में मदद कर सकता है। इतना कैसे अपने चेहरे पर pimples से छुटकारा पाने के लिए? सबसे पहले, यह समझना चाहिए कि कोई भीत्वचा पर चकत्ते सिर्फ एक कॉस्मेटिक समस्या नहीं हैं एक अनुभवी त्वचाविद् या कॉस्मेटोलॉजिस्ट के साथ परामर्श करने से चेहरे पर मुँहासे के उपचार के उपाय और विधि के चयन के लिए समय कम हो जाएगा। इसके अलावा विशेषज्ञ सलाह देंगे कि क्या चिकित्सक को पता करने के लिए आवश्यक है, कि वह परिभाषित करें, चेहरे पर क्यों मौजूद हैं।

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

माथे पर चमड़े के नीचे और छोटे pimples पैदा कर सकते हैंबस अनुचित देखभाल के परिणामस्वरूप किसी भी मामले में आपको छोटे प्रदाहों को निचोड़ना चाहिए, जैसे कि रोगाणुओं, पड़ोसी छिद्रों में पड़ना, केवल माथे पर चिड़ियों की संख्या में वृद्धि होगी

अधिक तरलदार और कम वसा वाला पौष्टिक भोजन भी सेल्युलाइट को कम करने में मदद कर सकता है। प्रोटीन युक्त भोज्य पदार्थ सेल्युलाइट की मात्रा को घटाते हैं। नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करने से फैट जलता है और सेल्‍युलाइट में कमी आती है। इसके अलावा एक अच्छी मात्रा में पानी पीने और एक्‍सरसाइज के दौरान पसीना आने से शरीर के विषाक्‍त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

अगर अपनी अपने अब आज आप इन इस इसके इससे इसे उनके उस और कई कर करने करें कहानी का काम कार कि किया किसी की कुकर कुछ के बाद के लिए के लिये के साथ केक को कोई क्या खास गया घर घी घोंसले चम्मच चाहिए जब जा जाता है जाती जाने जो जोधपुर ज्यादा ठीक तक तथा तरह तो त्वचा थी थे थोड़ा दिन दिया दूध देखा द्वारा धर्म नमक नहीं ना नाना पाटेकर नीबू ने पर पहले पानी पीपल पुजारी जी पुरस्कार पेस्ट फिर फिल्म बड़ा बन बर्तन बस बहुत बार भी मिला मिलाकर मुंह में में एक मेदा मेरे मैं यह या ये रंग रम्भा रही रहीम रहे राजस्थानी रात रूप लगा लीजिये ले लें वाले विजयदान देथा वो शक्ति शिव सब सभी सा साड़ी साहित्य सी से सेवन हर हल्दी हिन्दी ही हुआ हुए है और हैं हो होता है होती होने होली

यह आपके चेहरे पर कोई गलत परिणाम नहीं देते . मुहाँसे के लिए मेडिकल इलाज लेने से पहले हमेशा ही घरेलु इलाज लेना चाहिए क्यूंकि मेडिकल इलाज से चेहरे की प्राकृतिक सुन्दरता चली जाती हैं और चेहरा बेजान हो जाता हैं .अपने चेहरे से मुहाँसे हटाने के लिए पहले साधारण घरेलु इलाज करे जिससे चेहरे में और अधिक निखार आता हैं .

रात को भोजन के बाद एक छोटी हरड़ चूसे। इस से आमाशय और आंतड़ियों के दोषो के कारण महीनो ठीक ना होने वाले मुंह व् जीभ के छाले ठीक हो जाते हैं। हरड़ को चूसते रहने से पाचक अंग शक्तिशाली बन जाते हैं, पेट के कीड़े भी नष्ट होते हैं।

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

शरीर में जल का स्तर का संतुलन ही सिर्फ सांसों की ताजगी को बनाए रखा जा सकता है। जब हमारे शरीर में जल का स्तर कम हो जाता है तो मुंह में लार का बनना कम हो जाता है। जिससे सांसों में बदबू पनपती है। विटामिन सी- संतरा, निंबू या सभी खट्टे रस वाले फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, ये सांसों की बदबू दूर करने में मददगार हैं। विटामिन सी को जीवाणुओं से लड़ने वाले पदार्थ के रूप में जाना जाता है।

यह आपको जमे हुए फैट से लड़ने, सेल्युलाईट और खिंचाव के निशान हटाकर त्वचा के टिश्यू फर्म बनाने में सहायता कर सकता है। आपको सिर्फ विक्स वेपोरब, कपूर, बेकिंग सोडा और थोड़े से अल्कोहल के साथ एक क्रीम तैयार करने की ज़रूरत है। समस्याग्रस्त क्षेत्रों में परिणामस्वरूप क्रीम लगाएं और काले प्लास्टिक या एक क्लैंपिंग स्ट्रिप के साथ कवर करें। यह आप घर पर, ऑफिस में या व्यायाम करने से पहले कर सकते हैं।

कई बार मुँहासे तो ठीक हो जाते हैं पर उनके दाग इतने गहरे हो जाते हैं कि वह जल्‍दी से जाने का नाम नहीं लेते हैं। इससे जल्दी छुटकारा पाने के लिए हम बाज़ार मे पाए जाने वाले रसायन युक्त उत्पादो का प्रयोग करते हैं, बिना उनके नुकसानों के बारे में सोचे। इसलिए अलग-अलग तरह की क्रीम का प्रयोग करने से अच्‍छा है कि आप इन चेहरे के दाग धब्बों को हटाने के लिए घरेलू उपाय अपनाएं।

इसके साथ ही कुछ लक्षण psoriasis के लक्षण हो सकता है। यह psoriasis vulgaris, जो रोग, guttate सोरायसिस छोटे धब्बे, जो बूंदों की तरह कर रहे हैं की विशेषता, व्युत्क्रम सोरायसिस underarms क्षेत्र, नाभि और नितम्बों, पास में एक नियम के रूप में की खोज की, और तरल अंदर के साथ छोटे फफोले द्वारा देखा pustular सोरायसिस का सबसे व्यापक प्रकार है शामिल हैं। इसके अलावा, एक अलग-अलग रोग हथेलियों और तलवों पर प्रकट होता palmoplantar सोरायसिस कहा जाता है।

जो लोग परीक्षा की चिंता या घबराहट से चिंतित हैं, वे मन को शांत रखने के लिए दालचीनी से बनी हुई चाय पी सकते हैं। यकीन मानिये यह वास्तव में आपके चिंता को कोसों दूर भेज उसे आनंद और एकाग्रता से प्रतिस्थापित कर देगा और आप ख़ुशी-ख़ुशी अपना कार्य पूरा कर सकेंगे।

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के लिए किंग्स इलेवन पंजाब ने मुख्य कोच और गेंदबाजी कोच के नाम का ऐलान कर दिया है। पंजाब ने वेंकटेश प्रसाद को गेंदबाजी कोच, जबकि ब्रेड हॉज को मुख्य कोच [Read more…]

पिछले कई सालों से सिर दर्द, ठंड, खांसी, कंजस्टेड नाक, छाती और गले के कहर के इलाज के लिए विक्स वेपोरब का इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन यह इसका एकमात्र उपयोग नहीं है। आप इसे कई अन्य चीजों के लिए भी उपयोग कर सकते हैं

जिस तरह हम लोग रोज नहाए रोज मुंह धोए बिना नहीं रह पाते हैं उसी तरह हमें अपने कानों का भी जरुर ख्याल रखना चाहिए क्योंकि कानों की सफाई अगर हम नहीं करेंगे तो धीरे-धीरे कान के अंदर जो हमारा महल है वह जनता जाएगा जनता जाएगा और एक समय ऐसा आएगा कि उसकी वजह से हमारे कान की सुनने की क्षमता बहुत ही ज्यादा कम हो जाएगी साथ ही कान में दर्द होना भी शुरू हो जाएगा!

एंटी बैक्‍टीरियल के साथ-साथ एंटीबायोटिग गुणों से समृद्ध होने के कारण, लहसुन दांतों के टूटने और कैविटी की समस्‍या को दूर करने में मदद करता है। यह दर्द से राहत देने और स्‍वस्‍थ मसूड़ों और दांतों के लिए भी अच्‍छा होता है। 3 से 4 लहसुन की कली को कुचलकर और 1/4 चम्‍मच सेंधा नमक मिलाकर पेस्ट बना लें। फिर इसे संक्रमित दांत पर लगाकर 10 के लिए छोड़ दें। कैविटी को कम करने के लिए इस उपाय को कुछ दिनों के लिए दिन में दो बार करें।  

अगर आप भी अपने बाल झड़ने की समस्या से लगातार परेशान है तो घबराने की जरुरत नही है। हम आपके लिए लेकर आए है कुछ ऐसे योगासन जिनकी मदद से आप पल भर में इससे छुटकारा पा सकती है, योगा सबसे सरल और आसान तरीका भी साबित होगा आपके लिए।

टॉन्सिल स्टोन्स (tonsil stones): ये टॉन्सिल पर सफेद धब्बे के रूप में दिखाई देते हैं जो कि केल्सीकृत भोजन, बलगम और बैक्टीरिया की गांठ हैं। यदि दिखें ,तो गलती से गले का संक्रमण मान लिए जाते हैं हालांकि कभी-कभी वे नग्न आंखों से दिखाई भी नहीं देते। हो सकता हैं आपने कसैला स्वाद अनुभव हो या निगलते समय दर्द महसूस हो।[६]

Turmeric has great antimicrobial and antiseptic properties and works for all skin problems. It can be used by mixing with water and making a thick and smooth paste. Apply this paste properly in the pimple region and leave it for some time to dry. It helps in killing the bacteria in the pimple. Once it is dried wash it off with normal water. Repeat the process daily to see better results.

फिटकरी और गुलाब जल : फिटकरी और गुलाब जल से बने पेस्ट को अपनी मूछो पर लगाकर आप मनचाहा रंग प्राप्त कर लम्बे समय तक आप जंवा बने रह सकते है इसके लिए फिटकरी को पीसकर इसके पाउडर को गुलाब जल में मिलाकर आप अपनी मूछ पर लगाए।

    शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल (anti-becterial) के गुण पाये जाते है। जो सौन्दर्य और स्वास्थ्य दोनों क्षेत्र में बहुत ही अच्छा काम करता है। इसको खाने के अलावा अपने मुंहासो पर रोजाना शहद लगाने से चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) आसानी से दूर हो जातें हैं। शहद का लेप को 10 – 15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्का गरम पानी से धो लें। इससे दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से आसानी से निजात पाया जा सकता है।

Mera naam kuldeep h or sir mai apne face oar hone wale pimples se kaphee pareshan hu . Mere face pe pinples pichle kareeb 4 saal se h me jab bhi dawaee leta hu tab ye thik ho jaate h but dawaee ko band karne ke baad ye pehle jaise wapas hi jaate h. Sir mere face oe rojana bahut sare white colour ke pimples aa jate h or ek – do din me ye khatam ho kar wapas naye nikalne suru ho jaate h aisa sir mere sath pichhle 2 saloo se ho rha h or sir pimples ke wajah se mera ghar se niklna mushkil ho gya h or sir mere face pe pimples ke daag bhi h or unki wajah se mere face par kuch jagah par small holes ho gye h .

homeveda, ayurveda, home remedy, home remedies, natural remedies, natural cure, home cure symptoms, medicine, health, bad breath, bad breath causes, , bad breath disease, bad breath cures, halitosis causes, how to get rid of bad breath, rid, remedies, remedy, cure, cures, causes, cause, how, to, what, how to cure bad breath, home Stuart Edge , top video, must watch, video about bed breath, multi rose life, short films

Tags: Home remedies for pimples in hindiपिम्पल की दवापिम्पल कैसे दूर करेपिम्पल टिप्स इन हिंदीपिम्पल ट्रीटमेंटपिम्पल मुँहासे कैसे हटाएपिम्पल हटाने के घरेलू उपाय नुस्खेपिम्पल्स के दागपिम्पल्स हटाने के तरीकेमुँहासे हटाने के उपाय

“गर्दन के मुँहासे pimples के लिए प्राकृतिक उपचार से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है”

मेलनिन के मात्रा कम होने के कारण मूछ और दाढ़ी के बाल सफेद होने लगते है मेलनिन ऐसा तत्व है जो आपके बालों और त्वचा के रंग को सही रखने में मदद करता है लेकिन उम्र के साथ शरीर में मेलनिन की मात्र कम होने के कारण बालों और त्वचा का रंग फीका पड़ने लगता है

Scientifically it happens when the dead skin cell and the oil secreted in skin pore club and clot in the pore and block it. This environment gives rise to bacteria which continue to reproduce and swell the area and cause redness. Various other causes like genetic problem, hormonal effect, dairy products, skincare products, forgetting to clean makeup,oily food, mental stress, etc. can also be the reason. To know more about reasons of pimples read causes of pimples and acne.

ताज़े निम्बू का रस लगाएं: निम्बू में प्राकृतिक विरंजन (bleaching ) गुण होते है जिनसे मुहासों के दाग फीके हो जाते हैं | समान में निम्बू का रस और पानी मिलाकर, इस मिश्रण को सिर्फ अपने धब्बों पर लगाएं | 15-20 मिनट के बाद धो लें या पूरी रात इस मिश्रण को लगे रहने दें | “चूंकि निम्बू के रस में 2 PH होता है और त्वचा की 4.0-7.0 PH होती है इसलिए अगर इसे लम्बे समय तक त्वचा पर छोड़ा जाए, तो त्वचा जल भी सकती है | खट्टे रस में बर्गप्टेन (Bergapten) नामक रसायन होते हैं जो डीएनए में मिलकर त्वचा को नुकसान पहुँचाते हैं |” इसलिए इसे सावधानी से प्रयोग करें और कम समय के लिए प्रयोग करने से शुरू करें।

एक बड़ा चम्मच नींबू का रस, डेढ़ चम्मच शहद और एक बड़ा चम्मच दूध एक कटोरी में मिलाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और इसे 10 से 15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो दें। रोज़ाना दिन में एक बार यह उपाय करने से आपको एक सप्ताह के भीतर ही सकारात्मक परिणाम नज़र आने लगेंगे। (और पढ़ें – शहद के फायदे और नुकसान)

मुंह की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आसान घरेलू उपाय – तुरंत दिखाएगी असर सांस की बदबू को हटाने के साथ-साथ यह नुस्खा आपके दांतों को भी सफेद करेगा – ELIMINATE BAD BREATH IN 5 MINUTES! ये जादुई ड्रिंक सांस की बदबू से लेकर कैंसर जैसी बिमारी को रोकने की क्षमता रखती है !! यह घरेलू औषधि दिला सकती है सांस की बदबू से छुटकारा – SAY GOODBYE TO BAD BREATH, PLAQUE, TARTAR AND KILL HARMFUL BACTERIA IN YOUR MOUTH WITH ONLY ONE INGREDIENT

किसी भी प्रकार का दाद हो, उस पर सुबह उठकर बिना मुहं धोये मुहं की लार लगाने से पुराने से पुराना दाद भी ठीक हो जाता है। साथ ही एक्जिमा, अन्‍य फोड़े-फुन्‍सी, मुंहासे ठीक करने में भी सुबह की लार का उपयोग किया जाता है। शरीर में होने वाले फोड़े-फुन्सियों या घाव के पश्‍चात जो दाग शेष रह जाते है उनको दूर करने में भी सुबह की लार बहुत काम आती है। शरीर में कही कट छिल गया हो, अथवा कोई घाव हो गया हो तो भी उसके लिए सुबह की लार बहुत फायदा करती है।

कभी-कभी हल्के-फुल्के बुखार के साथ भी छाले हो जाते हैं, वहीं कुछ स्त्रियों में महावारी आने से पहले ये हो जाते हैं। तनाव के कारण भी छाले हो सकते हैं। छालों होने का कारण दांतों की समस्या से भी जुड़ा हो सकता है। किसी दांत का तेज किनारा, ब्रश करते हुए या डेंचर पहनते व उतारते समय बने जख्म भी छाले बन परेशानी पैदा कर सकते हैं।

डेयरी उत्पाद न खाएँ: सारे डेयरी प्रोडक्टस में एक विशेष प्रोटीन, कैसिइन (casein), होता है जो ठंडा करता है और आपके शरीर में और बलगम बनाता है। अनावश्यक रूप से अधिक बलगम का निर्माण रोकने के लिए, दूध, चीज़, दही या आइसक्रीम जैसे डेयरी प्रोडक्टस न खाएँ।

#health solution #health tips #www.onlyinayurveda.com #crazy india #ayurveda for healthy life Health website health article health news Ghrelu Nuskhe health remedy #how to cure health problems solution in ayurveda desi nuskhe #how to get rid from health problems solution in ayurveda top news ayurvedic medicine #astronomy ayurved tips news #how to cure health problems solution with home remedy only in ayurveda ayurveda health tips health solution with home remedy #vastu tips for wealth creation #vastu tips for money home remedies

यदि आप अपने चेहरे पर कपूर के अंदर नींबू रस , हल्दी पाउडर , और 2,3, चम्मच बेसन मिला कर लगते है. तो इससे आपके मुह से मुहासे और झुरिया साफ हो जाती है और यदि बेसन को लस्सी या दही में मिला कर फेस पर लगाने से भी झाइयां और कील मुँहासे दूर हो जाते है.

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

* लौंग का तेल : आप मुंह के छालों को ठीक करने के लिए लौंग के तेल की भी मदद ले सकते हैं। क्योंकि आपकी जीभ काफी संवेदनशील होती है, अतः इसके उपचार का तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है। इस उपचार के लिए 4 से 5 बूँदें लौंग का तेल, आधा चम्मच जैतून का तेल, गर्म पानी और रुई की आवश्यकता होगी।

किशोरावस्था एक ऐसी अवस्था है जिसमे शरीर का विकास (growth) पूरी तरह से होने लग जाता है जिससे शरीर के हारमोंस मे बदलाव आते रहते है इसी वजह से चेहरे पर कील, मुहांसे, दाने जैसी समस्या शुरु होने लग जाती है. तथा फुंसी और मुहासों का एक कारण skin पर मौजूद तैलीय परत को भी माना जाता है .जिससे रुखी त्वचा की ऊपर आने की प्रकिया रुक जाती है और पिम्प्लेस हो जाते है

नारियल का तेल और कड़ी पत्ता : दाढ़ी और मूछ के सफेद बालों से छुटकारा पाने के लिए कुछ कड़ी पत्ते ले और इन्हे नारियल के तेल में डालकर उबाल ले तेल में पत्तो को उबालने के बाद उसे उतारकर ठंडा कर ले और फिर इस तेल से अपनी दाढ़ी और मूछो की मालिश करें इस तेल का प्रयोग आप अपने सिर के बालों को काला करने के लिए भी कर सकते है इस तेल से मालिश करने से आपके सफेद बाल कुछ ही दिनों में काले हो जायंगे।

Psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसे? पहले एक रोग की अवस्था पर तय और बाद में सोरायसिस के उपचार की नियुक्ति। Psoriasis के प्रकारनिर्धारित कारकों में से एक है। अपने चिकित्सक शायद आप एक शुरुआत के लिए कुछ सामयिक क्रीम की सिफारिश करेगा और केवल बाद में एक अलग और अधिक गंभीर छालरोग उपचार दवाओं के साथ इलाज किया जा सकता।

पिम्पल्स के दाग कैसे दूर करे – आधा-आधा चम्मच नींबू का रस और हल्दी में चौथाई चम्मच नमक और एक चम्मच पानी मिलाकर गर्म करके चेहरे पर लगाये फिर सूखने के बाद चेहरा धोयें। चेहरे के दाने मुँहासे व उनके निशान मिट जायेंगे। यह हर चौथे दिन लगायें

सोरायसिस एक त्वचा रोग है कि चांदी तराजू के साथ खुजली या गले में मोटी, लाल त्वचा के धब्बे का कारण बनता है। आप आमतौर पर उन्हें अपने कोहनी, घुटनों, सिर, पीठ, चेहरा, हथेलियों और पैरों पर मिलता है, लेकिन वे अपने शरीर के अन्य भागों पर दिखा सकते हैं।

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

4  जायफल को गाय के दूध के साथ घीसे और लेप तैयार करें इस लेप को चेहरे पर लगाये कुछ देर बाद इसे मलते हुए उबटन की तरह निकल दे यह प्रयोग 4 से 5 दिन करे आपको मुँहासे से राहत मिलेगी .और दाग धब्बे भी दूर होंगे .

Aloe Vera हमारे चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होता है जिस कारण यह बहुत प्रसिद्ध है. इसका रस कील – मुंहासो पर लगाने से कील – मुंहासे बहुत जल्दी ठीक हो जाते है. अपने चेहरे को खुबसूरत बनाये रखने के लिए भी आप एलोवेरा का प्रयोग कर सकते है.

माथे पर चमड़े के नीचे और छोटे pimples पैदा कर सकते हैंबस अनुचित देखभाल के परिणामस्वरूप किसी भी मामले में आपको छोटे प्रदाहों को निचोड़ना चाहिए, जैसे कि रोगाणुओं, पड़ोसी छिद्रों में पड़ना, केवल माथे पर चिड़ियों की संख्या में वृद्धि होगी

कोलकाता : मैंने क्लब के 100 दिनों के रिपोर्ट को देखा जिसमें यह पाया कि हिन्दुस्तान क्लब काफी बेहतर कार्य कर रहा है। यह उन्नति के मार्ग में अन्य क्लबों से काफी आगे हैं। उक्त बातें हिन्दुस्तान क्लब के स्थापना [Read more…]

“कैसे 6 घंटे में मुँहासे से छुटकारा |मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए रहस्य”

दही में ऐसे एंजाइम (enzymes) होते हैं जो किसी भी दाग धब्बे को दूर कर सकते हैं, और शहद प्राकृतिक रूप से आपकी रंगत को निखारता है। 1 चम्मच दही को 2 चम्मच शहद के साथ मिश्रित करें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और काले धब्बों पर खासकर ध्यान केन्द्रित करें। इस पैक को 20 मिनट तक अपने चेहरे पर रहने दें और फिर इसे हाथों से रगड़कर पानी से साफ़ कर लें। अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना करें।

During summer season our body use to smell very bad due to excessive sweating. Take around 15 numbers of bay leaves & grind or crushed the leaves & boil in 1 litre of water till the leaves are fully cooked & mix the water with 8 litres of water & wash your body daily, then bad body odour will disappear in minutes. If washed regularly skin diseases, sunburn skin also get cured naturally within a few days. REMEDY NO-2…. Take two spoonful of bay leaves juice, tulsi leaves, mint leaves, neem leaves & mix them properly. Now wash your face 5 times a day with the juice to get completely cured from pimples & even clears the pimples spot which use to stay on your face after the pimples leaves your face.

Mera naam kuldeep h or sir mai apne face oar hone wale pimples se kaphee pareshan hu . Mere face pe pinples pichle kareeb 4 saal se h me jab bhi dawaee leta hu tab ye thik ho jaate h but dawaee ko band karne ke baad ye pehle jaise wapas hi jaate h. Sir mere face oe rojana bahut sare white colour ke pimples aa jate h or ek – do din me ye khatam ho kar wapas naye nikalne suru ho jaate h aisa sir mere sath pichhle 2 saloo se ho rha h or sir pimples ke wajah se mera ghar se niklna mushkil ho gya h or sir mere face pe pimples ke daag bhi h or unki wajah se mere face par kuch jagah par small holes ho gye h .

बेबी ऑयल में किसी तरह के केमिक्ल्स नहीं होते और डेंड्रफ को कम करने में मदद करता है। इसलिए रात को सोने से पहले बेबी ऑयल लगा कर बालों को तौलिये से बांध लें और सुबह उठ कर अच्छे एंटी-डेंड्रफ शैम्पू से बालों को साफ करें।

वज्रासन को डायमंड पोज के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को आप खाना खाने के बाद भी कर सकती हैं। ऐसा नहीं है कि खाना खाने के बाद इसे करने से आपको किसी तरह का कोई नुकसान होगा । यह आसन उनके लिए काफी फायदेमंद होता है जो कि अपना वजन कम करना चाहते हैं। इतना ही नहीं इस आसन को करने से सूजन से भी छुटकारा मिलता है, साथ ही पाचन संबंधित परेशानियों से बालों का झड़ना भी बढ़ जाता है।

I am showing the Bay leaf plant & in our local language it is called Tejpat (তেজ পাত). The leaves have a very good aroma and are mainly used as a spice in Indian cooking since ages. The fresh leaves are very mild and do not develop their full flavor until several weeks after picking and drying. The bay leaves can be powdered and if consumed for 30 days is very effective in treating diabetes. I am showing here two ways how to get the maximum health benefit from its leaves.

सुरेश ने पुलिस को बताया कि उसने मारिया की हत्या 11 जनवरी को तकिया से मुंह दबा कर की थी। हत्या के बाद सुरेश ने मारिया की लाश रजाई में बांध कर बेड के बक्से में छिपा दी और अपने गांव भाग गया। सुरेश ने बताया कि उसने हत्या की योजना तब बनाई जब उसकी पहली पत्नी लता को मारिया के बारे में पता लगा। लता ने सुरेश से कहा कि वह मारिया को छोड़ दे। सुरेश भी मारिया से छुटकारा पाना चाहता था और उसने हत्या को अंजाम दिया।

दालचीनी एक आम मसाला और स्वाद बढ़ाने वाला एजेंट है लेकिन इसके तेल में माइक्रोबियल विरोधी गुण होते हैं। शहद में पानी का असर बहुत कम होती है इसका मतलब है कि इसमें नमी ज्यादा नहीं होती जो सूक्ष्म जीवाणुओं के विकास को बढ़ावा देती है। यह ध्यान में रखते हुए कि मुँहासों का पैदा होना, त्वचा के छिद्र के भीतर होने वाले संक्रमण से होता है, शहद के साथ दालचीनी का संयोजन एक कारगर उपाय है।

शुद्ध टी ट्री आयल लगाना अगर त्वचा में जलन, लालिमा या ज़्यादा शुष्क त्वचा का कारण बनता है, तो टी ट्री आयल में पानी का उपयोग कर उसको पतला करें या एलोवेरा जैल के साथ यह मिश्रण बनाएं और फिर अपने चहरे पर लगाएं। (और पढ़ें – टी ट्री ऑयल के फायदे)

यह आसन हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं। इसके साथ ही इस आसन को करने से जहरीले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और हमारा शरीर शुद्ध हो जाता है। इस आसन को करने से दिमाग शांत हो जाता है और कब्ज से राहत मिलती है। बालों के गिरने और सफेद बाल होने पर विशेषज्ञ हमेशा से ही इसी आसन को करने का सुझाव देते हैं।

Turmeric has great antimicrobial and antiseptic properties and works for all skin problems. It can be used by mixing with water and making a thick and smooth paste. Apply this paste properly in the pimple region and leave it for some time to dry. It helps in killing the bacteria in the pimple. Once it is dried wash it off with normal water. Repeat the process daily to see better results.

मुँहासे से छुटकारा पाने में सबसे मुश्किल हैकिशोरावस्था। इस तरह की चकत्ते हार्मोनल विकारों के परिणाम हैं। एण्ड्रोजन के अधिक मात्रा में वसामय ग्रंथियों की वृद्धि हुई गतिविधि होती है, जिसके परिणामस्वरूप त्वचा पर चकरा पड़ता है। ऐसे मामलों में हार्मोन थेरेपी में दुष्प्रभाव हो सकते हैं, इसलिए आपको मुँहासे के लिए विशेष रूप से धन के चयन की आवश्यकता है। कुछ मामलों में, ब्यूटीशियन अतिरिक्त प्रक्रियाओं को लिख सकता है, उदाहरण के लिए तरल नाइट्रोजन के साथ मालिश, त्वचा पिलिंग, विशेष सफाई। इसके अलावा, दवाएं जो वसामय ग्रंथियों की गतिविधि को कम करती हैं, और संयुक्त दवाएं जो बैक्टीरिया को नियंत्रित करने में प्रभावी होती हैं

नई दिल्ली: विवादों से घिरी संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ के रिलीज डेट की घोषणा कर दी गई है। ये फिल्म सिनेमाघरों में 25 जनवरी को रिलीज होगी। फिल्म की सीधी टक्कर अक्षय कुमार की फिल्म ‘पैडमैन’ के साथ [Read more…]

दरअसल मुंह में छाले होना एक आम समस्या है। कई बार भोजन में गडबड़ी या तीखा भोजन करने से जीभ पर, होंठों पर और अंदर छाले हो जाते हैं जो आमतौर पर पांच सात दिन में ठीक भी हो जाते हैं। कभी-कभी छाले लम्बे समय तक ठीक नहीं होते जो भोजन करते व बोलते समय तकलीफ देते हैं। कई बार गंभीर हो जाने पर इनसे खून भी निकलता है। ऐसे में डॉक्टर से इनकी जांच अवश्य करानी चाहिए, क्योंकि ये घातक भी हो सकते हैं।

Disclaimer: TheHealthSite.com does not guarantee any specific results as a result of the procedures mentioned here and the results may vary from person to person. The topics in these pages including text, graphics, videos and other material contained on this website are for informational purposes only and not to be substituted for professional medical advice.

Hello sir, mera naam Sonika h,, mere face pr pimples to ab nhi h Lekin unke nishan reh Gye h jisse face bht khrab dikhta h aap Aisa kuch btayiye jisse meri skin bht beautiful ho jaye, time jyada lgega uski koi problem nhi h bs thik hona chahiye….

हल्के, जो सूखी और छोटी त्वचा पैच द्वारा विशेषता है, सोरायसिस होने पर रोगियों इस बीमारी के बारे में लगता है नहीं हो सकता है। जब व्यक्ति दरिद्र बड़ी और मोटी पैच के लाल रंग के साथ कवर किया गया है निश्चित रूप से, यह मामला नहीं है। Psoriasis के इस डिग्री गंभीर है, पैच पूरे शरीर को कवर कर सकते हैं और psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसेजानने के लिए की आवश्यकता होती है।

एक अंडे के सफेद भाग फेटें फिर उसमें आधे नींबू का रस डालें और अच्छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए सूखने दें और फिर गर्म पानी से धो लें। यह त्वचा में कसाव लाता है और अतिरिक्त तेल को सोखता है।

मुल्तानी मिट्टी में कई प्राकृतिक खनिज होते हैं और इसमें त्वचा का रंग साफ करने के भी गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी और पानी को मिश्रित करके एक पेस्ट तैयार करें। इसमें नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं और अपने चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। इसे सूखने तक अपने चेहरे पर छोड़ दें। अगर आप अपने पूरे चेहरे पर यह पैक लगा रहे हैं तो इसे पूरी तरह सूखने ना दें। अपने चेहरे को दोनों हाथों से रगड़कर काफी मात्रा में पानी से इसे धो लें।

लार में सोडियम, पोटैशियम, फास्फेट, कैल्शियम, प्रोटीन, ग्लूकोज जैसे तत्व होते हैं जो दांतों को मजबूत बनाते हैं। इसमें मौजूद तत्व दांतों को हानिकारक संक्रमणों से बचाते हैं जिससे दांत सड़ते नहीं। यह दांतों पर सुरक्षा कवच की तरह काम करती है।

Psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसे? पहले एक रोग की अवस्था पर तय और बाद में सोरायसिस के उपचार की नियुक्ति। Psoriasis के प्रकारनिर्धारित कारकों में से एक है। अपने चिकित्सक शायद आप एक शुरुआत के लिए कुछ सामयिक क्रीम सिफारिश करेगा और केवल बाद में एक अलग और अधिक गंभीर छालरोग उपचार दवाओं के साथ इलाज किया जा सकता।

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

Bhai mere chehre bhut oily h or khub daane or keel muhase ho rhe h or agar m chehre ko thoda daabata hu to isme se white color ka bhut hi gaandi badbuu ka paste nikal taa h or kabhi kabhi white color ki keel bhi nikalti h us ko nikal kr fodo to same wesa hi paste baan jta h isi chehre se kaise khatam kru. …. please batayega journey. …