“आप मुँहासे निशान से छुटकारा कैसे मिलता है |एक ज़िट से छुटकारा पाने का सबसे तेज़ तरीका है”

एलोवेरा में रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं, जो मुँहासे का कारण बनने वाली तेलीय त्वचा के उपचार के लिए आदर्श होते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा आपकी त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में भी मदद करता है। 

योग और आयुर्वेदिक उत्पादों का इस्तेमाल करने से आपकी जीवन शैली में कई बदलाव आते हैं। इसके लिए आप शराब का सेवन करना बंद करें। मेडिटेशन करें इससे तनाव दूर होता है। अगर आप हमेशा अच्छे आकार में रहना चाहती हैं तो इन आसनों को रोजाना करें।

निवदेन – Friends अगर आपको ‘ Homemade Remedies for pimple solution in Hindi ‘ पर यह लेख अच्छा लगा हो तो हमारे Facebook Page को जरुर like करे और  इस post को share करे | और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

तमाम कोशिशों के बावजूद कई बार चेहरे पिंपल्स यानी मुंहासे हो जाते हैं। खासकर टीनएज में यह समस्या ज्यादा होती है. मुँहासे चेहरे पर कई कारणों से हो सकते हैं , जैसे चेहरे पर जमी गन्दगी को ठीक से साफ न करना या चेहरे का अत्यधिक तैलीय होना आदि , मुँहासे होने पर हमें काफी या मसालेदार भोजन का उपयोग कम करना चाहिए और फलों का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए, पिम्पल्स को दूर करने का सबसे आसान तरीका आप घर पर रह कर आजमा सकते हैं.

जितना हो सके पानी पीएं और संतुलित आहार खाएं: शायद संतुलित आहार खाने से आपके धब्बे गायब नहीं होंगे | लेकिन, संतुलित आहार आपके शरीर को संतुलित बनाकर त्वचा को अच्छा बनाने में मदद करेगा | 8 से 10 गिलास पानी पीने से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर फ़ेंक कर आपको पतला और जवान बनाता हैं | आप विटामिन ए, सी, और इ भी लें सकते हैं |

गुलाब जल फेस क्लीन करने में काफ़ी उपयोगी है। गुलाब जल में काली मिर्च के दस से बारह दाने पीस कर मिलाये और रात को चेहरे पर लगा कर सुबह गुनगुने पानी से फेस धो ले। इस उपाय से स्किन पर निखार आता है और मुंहासे भी साफ़ होते है।

शराब मुंह को सूखा कर देता है क्योंकि उसमें ड्यूरेटिक इफेक्ट होता है। मुंह के सुखापन के कारण बैक्टीरिया जमा हो जाता है जिसकी वजह से मुंह से बदबू आती है। पानी शरीर को हाइड्रेटेड रखता है और शरीर से टॉक्सिंस को बाहर कर देता है। [ये भी पढ़ें: पैरों के कॉर्न को ठीक करने के घरेलू उपाय]

मुंह से शराब की बदबू को दूर करने के लिए लोग परेशान रहते हैं, लेकिन उन्हें इससे छुटकारा पाने का सही से पता नहीं चल पाता है। शराब पीने के बाद अत्यधिक पानी पीने से भी शराब की बदबू से निजात पाया जा सकता है।

नई द‍िल्‍ली : सर्दियों में मूली के पराठे, मूली की सब्‍जी, मूली का अचार और सलाद हर घर के भोजन का अहम हिस्‍सा हैं. हालांकि ज्‍यादातर लोग ऐसे हैं जो मूली की शक्‍ल देखकर ही मुंह बनाने लगते हैं. अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शामिल हैं तो आपके लिए मूली के फायदों को जानना बेहद जरूरी है. जी हां, मूली भले ही आपको मामूली सब्‍जी, लेकिन यह औषध‍िय गुणों से भरपूर है. अगर आप रोजाना इसे अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो कैंसर, डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर समेत कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे और आपकी लाइफस्‍टाइल हो जाएगी बेहद हेल्‍दी:

English: Prevent Bad Breath, Français: éviter la mauvaise haleine, Italiano: Prevenire l’Alito Cattivo, Español: evitar el mal aliento, Deutsch: Mundgeruch vorbeugen, Português: Prevenir o Mau Hálito, Nederlands: Een slechte adem voorkomen, 中文: 防止口臭, Русский: предотвратить неприятный запах изо рта, Bahasa Indonesia: Mencegah Bau Mulut, Čeština: Jak předcházet zápachu z úst, العربية: منع رائحة الفم الكريهة, 日本語: 口臭を防ぐ, ไทย: ป้องกันการเกิดกลิ่นปาก, Tiếng Việt: Phòng ngừa Chứng hôi miệng, 한국어: 입 냄새 예방하는 법

मुंह के छालो की समस्या दिखने में जितनी छोटी हैं उतनी ही अधिक कष्टदायी हैं। अक्सर तीखा और रुक्षण भोजन करने से या कब्ज की समस्या के कारण ये समस्या हो जाती हैं। अगर आपको कब्ज रहती हैं तो पहले अपनी कब्ज का इलाज कीजिये। क्यूंकि छालो को सही कर लोगे तो कब्ज के कारण ये समस्या फिर से उत्पन्न हो जाएगी।

    संतरे के छिलके में सिट्रिक एसिड (citric acid) और विटामिन सी (vitamin c) भरपूर मात्रा में पायी जाती है। संतरे के छिलके को आप दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से छुटकारा पाने के लिए इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आप संतरा का रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, हालांकि संतरे का छिलका मुंहासों को दूर करने में ज्‍यादा कारगर साबित होता है। संतरे के छिलकों को धूप में सुखा ले, पूरी तरह सूखने के बाद पाउडर तैयार कर के डब्बे में रख लें। पाउडर को पानी में अच्छी तरह मिलाकर पेस्‍ट तैयार कर लें। इस पेस्‍ट को दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) पर लगाएं और इसको अच्छी तरह सूखने दें। इसके बाद अपने चेहरे को हल्का गुनगुने पानी से धो लें इससे आपको दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से जल्द ही छुटकारा मिलेगी।

    मुंहासों के इलाज के लिए एलोवेरा बहुत ही कारगर प्राकृतिक उपाय हैं। इसके अलावा सौंदर्य से संबंधित बहुत से समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से किया जा सकता है। यह एक पूर्णरूप प्राकृतिक क्रीम होने के साथ यह एक प्राकृतिक कंडीशनर भी है। जिसका गूदा चेहरे पर नियमित रूप से लगाने पर चेहरा खूबसुरत, मुलायम एवं चमकदार बन जाता है। एलोवेरा चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) को भी हटा देता है। यदि सुबह – शाम चेहरे पर आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का इस्तेमाल करते हैं तो जल्दी ही आपको इसका परिणाम नजर आएगा।

नमक में मौजूद एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुणों के कारण यह कैविटी के इलाज के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है। यह दर्द और सूजन को कम करने, किसी भी प्रकार के संक्रमण और मुंह में बैक्‍टीरिया की वृद्धि को रोकने में मदद करता है। इसके लिए एक चम्‍मच नमक को गर्म पानी में मिला लें। फिर इस पानी को मुंह में कुल्‍ला करें। समस्‍या के दूर होने तक इस उपाय को दिन में तीन बार करें। इसके अलावा, आधा चम्‍मच नमक, थोड़ा सा सरसों का तेल और नींबू का रस मिलाकर पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट से कुछ मिनटों तक मसूड़ों पर मसाज करें। बैक्‍टीरिया को मारने के लिए इस उपाय को कुछ दिन तक दिन में दो बार करें।

Psoriasis के छुटकारा पाने के लिए कैसे? पहले एक रोग की अवस्था पर तय और बाद में सोरायसिस के उपचार की नियुक्ति। Psoriasis के प्रकारनिर्धारित कारकों में से एक है। अपने चिकित्सक शायद आप एक शुरुआत के लिए कुछ सामयिक क्रीम की सिफारिश करेगा और केवल बाद में एक अलग और अधिक गंभीर छालरोग उपचार दवाओं के साथ इलाज किया जा सकता।

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

इस तरह के चकत्ते का उपचार लंबे समय से है, क्योंकिComedones हल नहीं करते हैं और अपने आप से बाहर मत जाओ। गुणात्मक उपचार के लिए इस तरह के मुँहों का कारण जानने के लिए महत्वपूर्ण है, जो एक नियम के रूप में, हार्मोनल असंतुलन या अनुचित शरीर स्वच्छता के होते हैं।

चेहरे पर पंप हमेशा मनोवैज्ञानिक कारण होते हैंअसुविधा, और कठिन संक्रमण वर्षों में कई परिसरों का कारण हो सकता है और कोई नींव या पाउडर इस समस्या को हल करने में मदद कर सकता है। इतना कैसे अपने चेहरे पर pimples से छुटकारा पाने के लिए? सबसे पहले, यह समझना चाहिए कि कोई भीत्वचा पर चकत्ते सिर्फ एक कॉस्मेटिक समस्या नहीं हैं एक अनुभवी त्वचाविद् या कॉस्मेटोलॉजिस्ट के साथ परामर्श करने से चेहरे पर मुँहासे के उपचार के उपाय और विधि के चयन के लिए समय कम हो जाएगा। इसके अलावा विशेषज्ञ सलाह देंगे कि क्या चिकित्सक को पता करने के लिए आवश्यक है, कि वह परिभाषित करें, चेहरे पर क्यों मौजूद हैं।

डिस्‍क्‍लेमर: आयुर्वेदप्लस पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

1 मुहांसो से छुटाकारा पाने के लिए इंहे कभी भी ना फोड़े वरना इसका सीरम निकल कर पूरे चेहरे पर मुहांसे फैला देगा। मुहासों को तौलिए से ना रगड़े, ऐसे करने से आपके पूरे चेहरे पर मुहासे फैल सकते हैं। बेहतर होगा कि इसको अपने आप ही खत्‍म होने दें।

सेब के सिरके में महान स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह त्वचा के लिए भी अच्छा होता है। सेल्युलाईट से प्रभावित क्षेत्रों पर सेब के सिरके का उपयोग करने से त्वचा में फंसे विषाक्त पदार्थों को निकाला जा सकता है। यह सूजन को कम करने में भी मदद करता है। त्वचा में इसके प्रयोग से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। सेब के सिरके में पानी की बराबर मात्रा मिलाकर त्वचा पर लगा सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, यह शहद या पानी के साथ मौखिक रूप से भी लिया जा सकता है। यह वजन घटाने और सेल्युलाईट को कम करने में मदद करता है। 

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

च्युइंगम सलाइवा के उत्पादन को उत्तेजित करता है जो एसिड, बैक्टीरिया और गंध से पैदा होने वाले कणों को खत्म करने में मदद करता है। तो शराब पीने के बार च्युइंगम चबाने से मुंह से आने वाली शराब की बदबू कम हो जाती है। [ये भी पढ़ें: पालतू कुत्ते से मक्खियों को दूर रखने के घरेलू उपाय]

–> अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा भी मौजूद है तो समझिए पिंपल रफूचक्कर हो गया क्योंकि असल में बर्फ पिंपल की लालिमा को कम करती है और उसके इर्द – गिर्द जमा गंदगी और तेल को निकाल देती है | आप को केवल इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटकर उसे कुछ सेकेण्ड के लिए त्वचा पर फेरना है |

हल्दी में मौजूद एन्टीसेप्टिक और एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण छालों को न सिर्फ ठीक करते हैं बल्कि यह गुण छालों को दुबारा होने से भी रोकते हैं। हल्दी पाउडर में कुछ बूंद पानी मिलकर पेस्ट तैयार  कर ले और अब इस पेस्ट को छालों पर लगायें, इससे दर्द से तुरन्त राहत मिल जाएगा।

सोरायसिस आमतौर पर कर सकते हैं हो प्रतिष्ठित से अन्य रोगों द्वारा विशेष लक्षण psoriasis के लक्षण: लाल और गुलाबी रंग के धब्बे जो thickened है, शुष्क त्वचा। यह आमतौर पर घुटने, कोहनी और खोपड़ी को प्रभावित करती है। मूल रूप से अभिव्यक्ति हर जगह शरीर पर प्रकट कर सकते हैं। लेकिन अधिक बार यह आघात, पुनरावर्ती मलाई, abrasions के स्थान पर प्रकट होता है।

कॉफी एक बहुत अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है। यह ब्लड सर्कुलेशन को उचित रखने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है। यह सेल्‍युलाइट को कम करने में मदद करता है। आप नारियल तेल और कॉफी पाउडर को मिलाकर, कॉफी स्क्रब बनाएँ और इसे अपनी जांघों और नितंबों पर लगाएँ। इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें। इसके अलावा, कॉफी के बीज का पाउडर बनाकर उसे अपने बॉडी लोशन में मिलाएं और त्वचा पर 5 मिनट तक इसे लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इस उपाय को हफ्ते में दो बार करें।

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

आपको यह पता होगा की शराब और तम्बाकू हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही नुकसानदायक है. ये चीजे हमारे चेहरे के लिए भी सही नहीं होते. युवावस्था आने पर कई लड़के दूसरो की देखा – देखी में सिगरेट व तम्बाकू खाना लेना शुरू कर देता है. फलस्वरूप उनके face में कील – मुंहासे होने लगते है. आपको इन चीजो से बचना चाहिए.

कैस्टर ऑयल के साथ टी-ट्री ऑयल को मिलाकर मिश्रण तैयार करें। इस मिश्रण को रूई की सहायता से मस्से के पर थपथपाते हुए रखें। इसके बाद रूई को उस क्षेत्र पर चिपका दें और इसे 3-4 घंटे के लिए छोड़ दें। इस प्रक्रिया को दिन में दो बार अवश्य रूप से दोहराएं।

वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

लार में सोडियम, पोटैशियम, फास्फेट, कैल्शियम, प्रोटीन, ग्लूकोज जैसे तत्व होते हैं जो दांतों को मजबूत बनाते हैं। इसमें मौजूद तत्व दांतों को हानिकारक संक्रमणों से बचाते हैं जिससे दांत सड़ते नहीं। यह दांतों पर सुरक्षा कवच की तरह काम करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *