“मुँहासे का कारण बनता है _मुंहासे की लालिमा से छुटकारा मिल जाता है”

निजी स्वच्छता के नियमों की उपेक्षा मत करो दिन में 2 बार अपना चेहरा धो लें, एक व्यक्तिगत तौलिया या नैपकिन के साथ त्वचा को साफ करें आपकी त्वचा के प्रकार के लिए उपयुक्त अतिरिक्त चेहरे का शुद्ध उपयोग करें। विशेष रूप से अच्छी तरह से बिस्तर पर जाने से पहले त्वचा को साफ;

चेहरे से  फुंसी मुहांसे से बचने के लिए साफ सफाई का पूरा ध्यान रखे, कील मुहासों से बचने के लिए अपने चेहरे को पूरी तरह साफ रखे और चेहरे को साफ पानी से ही धोए और धोते समय चेहरे को ज्यादा न रगड़े व चेहरे को बार बार हाथ न लगाये जिससे हाथ पर जमा धुल के कण चेहरे पर नही आयंगे तोलिये और रुमाल को बिना धोए अधिक समय तक उपयोग मे न लाये नही तो पिम्प्लेस और अधिक हो जायंगे

Sir mere face par pimpals ho gaye hai aur kali si keel ho jati hai aur funsi jesi ho jati hai please help me aur sir agar ham garmi ke mosam me haldi lagae to koi nuksan to nahi hoga kyo haldi garm hoti hai

Tags:muhase hatane ke upay, Pimple hatane ke upay, pimple ke gharelu nuskhe, pimple ke upay in hindi, Pimples ka ilaj, चेहरे के गड्डे, चेहरे के गड्ढे, चेहरे पर फुंसियां, चेहरे से फुंसी, फुंसी का घरेलू इलाज, मुहासे से छुटकारा

मुँहासे एक गंभीर समस्या है, लेकिन साथ मेंसक्षम दृष्टिकोण और जटिल उपचार आपकी त्वचा बिल्कुल सही दिखेगी। विशेषज्ञों की सहायता कभी भी ज़रूरत से ज़्यादा नहीं होती है, बल्कि स्वतंत्र रूप से भी, दृढ़ता और दृढ़ता से दिखती है, चेहरे पर मुंह से छुटकारा पाना संभव है।

एक बलगम निकालने वाली दवाई लें: यह ऐसी दवाईयाँ होती हैं जो आपके गले और नाक की बलगम को तोड़ती हैं और आसानी से इसे खाँसकर अपने शरीर से निकालने में आपकी मदद करती हैं। इनमें से बहुत सारी स्थानीय दवा की दुकानों पर ओवर-द-काउंटर उपलब्ध होती हैं, जबकि कुछ को डॉक्टर लिखकर देते हैं। खुराक निर्देशों का पालन करें और बलगम की वजह से हो रहे जमाव से आराम पाने के लिए दवाई को रोज़ लें।[३]

ट्राईमिथाइलएमीन्यूरिया (trimethylaminuria): यदि आपका शरीर ट्राईमिथाइलएमीन्यूरिया रसायन को नहीं तोड़ पाता हैं तो वह लार में छूट जाता हैं जिसके कारण मुँह से दुर्गंध आती हैं । यह आपके पसीने के द्वारा जारी हो सकता हैं, जो कि शरीर की दुर्गंध का लक्षण हो सकता है ।

1 मुहांसो से छुटाकारा पाने के लिए इंहे कभी भी ना फोड़े वरना इसका सीरम निकल कर पूरे चेहरे पर मुहांसे फैला देगा। मुहासों को तौलिए से ना रगड़े, ऐसे करने से आपके पूरे चेहरे पर मुहासे फैल सकते हैं। बेहतर होगा कि इसको अपने आप ही खत्‍म होने दें।

अपने मुँहासों पर एक प्राकृतिक एसिड को डालें: नींबू के ताज़ा रस तथा एपल साइडर विनेगर (apple cider vinegar) को भी मुँहासों के इलाज के लिए प्रयोग किया जा सकता है। यदि आपके मुँहासों का मुहँ खुल गया है तो यह ज्यादा दर्दनाक हो सकता है। इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें तथा फिर ठण्डे पानी से धो लें।

शुरू -शुरू में हो सकता है की मसूड़ों से रक्तस्राव हो क्यूंकि दाँतो और मसूड़ों के बीच से जाने कितने समय से फसे हुए अन्न के टुकड़े निकलेंगे। हिम्मते करके क्षण भर को दाँतों से निकले फ्लॉस को सूंघें तो आपको पता चलेगा कि मुँह से दुर्गंध कहाँ से आ रही है।

दलिया खाना जहाँ हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहतर होता है वही यह हमें शारारिक मजबूती भी देता है. आप दलिये का इस्तेमाल अपने पिम्पल दूर करने के लिए करे. आप दलीये के साथ शहद मिला ले और फिर दोनों को अच्छी तरह मिक्स कर ले. इस पेस्ट को फिर अपने कील – मुंहासो में लगाये और 20 मिनट बाद इसे पानी से धो ले.

लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है जो हमारी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है।कहते हैं सुबह की लार पेट के लिए बेहद लाभदायक होती है। जब आप पानी पीते हैं तो रात भर मुंह में जमा लार पानी के साथ आपके पेट के अंदर जाती है। जो पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। इसलिए सुबह की लार बेहद कीमती है। इसे यूं ही बर्बाद न करें।

पिम्पल्स का इलाज के लिए रसायनिक पदार्थ का उपयोग करने से बेहतर होगा की आप प्राकृतिक उत्पादो का उपयोग करे। घरेलू उत्पाद बहुत सस्ते होते है और इनका कोई बुरा असर भी नही पड़ता। चेहरे पर दाने के उपाय, त्वचा की देखरेख करना वो भी सुंदरता के साथ यह बहुत ज़रूरी है। कुछ घरेलू उपचार की सूची नीचे दी गई है जो काले दाग (black spots) धब्बे, मुँहासे के निशान से दूर रहने मे आपकी मदद करेगे।

चेहरे को रोज़ एक्सफोलिएट करें: मृत त्वचा को निकालकर अच्छी नयी त्वचा पाने के लिए, चेहरे को रगड़कर साफ़ करें | मुँहासे चेहरे के ऊपरी परत को ही नुकसान पहुँचाते हैं, इसलिए रगड़ने से इनके धब्बे कम हो जाते हैं | संवेदनशील त्वचाओं के लिए बनी हुई फ़ेशियल स्क्रब से आप अपने चेहरे को रगड़ सकते हैं |

ज्यादा अदरक खाएँ: अदरक के प्राकृतिक जीवाणुरोधी गुणों की वजह से, इसका सदियों से कोल्ड और साइनस (sinus) के लक्षणों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया गया है। अदरक ऐसे गुणों के लिए भी जाना जाता है जो बलगम को तोड़ते हैं। अगर आप स्वाद को बर्दाशत कर सकते हैं, तो इसे कच्चा खाएँ या हल्के कैन्डीड फॉर्म (candied form) में खाएँ। आप अदरक को उबलते पानी में घिसकर एक चाय भी बना सकते हैं जो आपके गले को बलगम मुक्त करने के लिए दोगुना काम करेगी।

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

Dalchini आपके रक्त में ट्राइग्लिसराइड्स और एल.डी.एल. (“खराब कोलेस्ट्रॉल”) के स्तर को काफी कम कर सकती है, जिससे हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है। दालचीनी में मौजूद सक्रिय संघटक कोशिकाओं की चीनी को तोड़ने की क्षमता को 22 गुना तक बढ़ा देते हैं।

फिर ब्यूटीशियन पर जाएं एक अच्छा विशेषज्ञ या सिद्ध सैलून चुनना बेहतर है एक अनुभवी चिकित्सक, माथे पर मुँहासे को हटाने के लिए आवश्यक प्रक्रियाओं को सलाह देगा, और अपने चेहरे की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए आगे की देखभाल के लिए साधन का चयन करने में भी करेगा।

छाछ मे लॅकटिक एसिड होता है जो की अल्फा हाइड्रॉक्सिल एसिड की तरह काम करता है। यह एक प्रकार का प्रकतिक एसिड है जो चेहरे की मृत त्वचा, धूल और तेल को निकालता है। एक कटोरी मे छाछ ले और रूई की मदद से दाग पर लगाए और अगर मुमकिन है तो आधी मात्रा मे नीबू का रस भी मिला कर मास्क की तरह भी उपयोग सकते है।

Dalchini में कौमारिन नाम का एक यौगिक पाया जाता है जिसमें रक्त को पतला करने वाले गुण होते हैं। इससे पूरे शरीर के ब्लड सर्कुलेसन में सुधार आता है। हालांकि, यह ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है कि बहुत अधिक कौमारिन लिवर की कार्यशीलता पर प्रभाव डाल सकता है और उसे क्षति भी पहुंचा सकता है। इसलिए दालचीनी का उपयोग कम मात्रा में करना उत्कृष्ट माना जाता है।

केसर के कुछ दानों को 2 चम्मच दूध में रातभर भिगोकर रख दें। इस पात्र को फ्रिज (fridge) में रखें, जिससे कि ये खराब ना हो जाए। सुबह केसर के दानों को दूध में मसल लें और इसका प्रयोग चेहरे पर करें। खासकर काले धब्बों और एक्ने (acne) के निशानों पर इसे लगाएं। इसे पूरी तरह सूखने दें और फिर सादे पानी से धो लें। इस उपचार का प्रयोग रोजाना करने से आपको 1 हफ्ते में फर्क दिखने लगेगा।

वास्तव में, दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन से स्वस्थ को खतरा हो सकता है और आपके लिवर को नुकसान पहुंच सकता है। दालचीनी या उसका तेल का अधिक उपयोग समय से पूर्व दर्द को उत्पन्न कर सकता है या फिर गर्भाशय के संकुचन को भी प्रेरित कर सकता है।

CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved. CNN and the CNN logo are registered marks of Cable News Network, LP LLLP, displayed with permission. Use of the CNN name and/or logo on or as part of NEWS18.com does not derogate from the intellectual property rights of Cable News Network in respect of them. © Copyright Network18 Media and Investments Ltd 2016. All rights reserved.

एप्पल साइडर विनेगर का प्रयोग करें: एप्पल साइडर विनेगर, आपकी त्वचा के PH को संभालकर समय के साथ इसे सुधारते हुए लाल रंग के दाग को कम करता है | पानी ओर सिरके को आधा- आधा मिलाकर रुई से प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं, जब तक कि दाग साफ़ न हो जाए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *