“मुँहासे त्वचा से छुटकारा पाने के लिए क्या जल्दी से मुंह से छुटकारा दिलाया जाता है”

एक स्टेरॉयड (steroid ) इंजेक्शन लें: यदि आपको विशेष रूप से बड़े पित्त वाले मुँहासे हो गए हैं जो कि बहुत ज्यादा दर्दनाक भी है तो आप स्टेरॉयड इंजेक्शन का सहारा ले सकते हैं। ये एक दिन से कम समय में ही उसके आकार को घटा सकते हैं तथा मुँहासों में होने वाले दर्द को भी कम कर सकते हैं।

sir mere chehre p bhut daane hai chote chote or pimples h jyda nhi but h or un pimples me se white color ka kuch nikalta hai or ha kbi un pimples ko foddo n to कील niklti h m kya kru jra btaeiye meri age 16 h or July m 17 ka hoanga

अपनी त्वचा को धूप से बचाएं: सूर्य कि UV किरणे, त्वचा कि पिग्मेंट निर्माण करने वाली कोशिकाओं को उत्तेजित करती हुई आपके मुँहासों के धब्बों को ओर ज्यादा खराब कर सकती है |[१]अगर आप धूप में जा रहें हैं, तो सनस्क्रीन या चौड़ी टोपी पहने और जहाँ तक हो छाँव में चलें |

चाहे बच्चा हो या कोई जवान , जिस किसी की भी आँखें कमजोर है और उसको कोई भी नंबर का चश्मा लगा हो उन लोगो को पानी की कुल्ला किये बिना , रात भर मुँह में इकट्ठी हुई लार को आँखों में काजल या गुलाब जल की तरह लगानी है | यह आप रात को सोते समय और सुबह उठकर लगाये और मुँह 1-2 घंटे बाद धोये ताकि लार अपना काम कर सके। कैसा भी चश्मा हो उतरने के 100% आसार रहते है लेकिन आपको प्रयोग तब तक जारी रखना पड़ेगा जब तक आपके चश्मे का नंबर धीरे धीरे कम होकर शून्य न हो जाये परिणाम 100% मिलेगा बच्चो का चश्मा जल्दी उतर जायेगा लेकिन बड़ो को कुछ वक़्त लग सकता है लार का कोई साइड इफ़ेक्ट नही है

आप एक पूरक के रूप में मौखिक रूप से ई पोषण भी ले सकते हैं, हालांकि असाधारण परिणामों के लिए, आप अपनी त्वचा पर तुरंत तेल लगाने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपको पियर्स और त्वचा गुस्से में आ जाती है तो आपको एक बार फिर से जला देना पड़ता है।     कोर्टिसोन इंजेक्शन ………..

अपनी अपने अब अमेरिका आज आप इस इस के उन की उन के उन्हें उन्होंने उस का उस की उस के उस ने उसे एक ऐसा ऐसे कई कभी करते करने का काम कारण किया किसी कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या गए घर जब जा जाता है जाती जाने जिस जीवन जुगुनी जो ज्यादा तक तरह तुम तेजेंद्र तो था था कि थी थीं थे दवा दिन दिया दिल्ली दी दीक्षा दे देश नहीं ने कहा नेपाल के पटना पति पत्नी पर पहले फिर फिल्म फोन बन बना बहुत बात बेटी भाजपा भारत भी मन मुंबई मुझे में मेरी मेरे मैं ने यह या रहा है रही रहे हैं रुपए लगा लिया ले कर लेकिन लोग लोगों वह वाली वाले वे सब समय साल से हम हर ही हुआ हुई हुए है और है कि हैं होगा होता है होती होने

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल माउथवॉश के तौर पर भी किया जा सकता है। आधा छोटा चम्मच बेकिंग सोडा एक छोटे गिलास पानी में मिलायें। पानी से अपना मुंह भर लें, बिना निगलें हुए, और इसे मसूड़ों और दांतो के बीच में हिलाते हुए कुल्ला करें।

शरीर में जल का स्तर का संतुलन ही सिर्फ सांसों की ताजगी को बनाए रखा जा सकता है। जब हमारे शरीर में जल का स्तर कम हो जाता है तो मुंह में लार का बनना कम हो जाता है। जिससे सांसों में बदबू पनपती है। विटामिन सी- संतरा, निंबू या सभी खट्टे रस वाले फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, ये सांसों की बदबू दूर करने में मददगार हैं। विटामिन सी को जीवाणुओं से लड़ने वाले पदार्थ के रूप में जाना जाता है।

डॉक्टर का निदान होगा यदि मुर्गा नहीं हैंकुछ अन्य त्वचा रोग, और आवश्यक विटामिन दवाओं से संतृप्त लेने में मदद करें। इसके अलावा, यदि आप माथे पर प्रजनन करने वाले चिड़ियों के साथ चिंतित हैं, तो उपचार में विशेष मलहम शामिल हो सकते हैं।

चाय के पेड़ के तेल में सभी प्रकार की छिलके और त्वचा की सामग्री को साफ़ करने का श्रेय जाता है – कीट काटता है, एथलीट का पैर, और मामूली जलता है – और यह ज़ाप जिट्स को भी सहायता कर सकता है। बस एक कपास झाड़ू पर कुछ चापलूसी और अभी zit करने के लिए इसे अभ्यास। डॉ। बोवे ने चेतावनी दी, “शुरूआत में इसे पतला, तथ्य से कुछ लोगों को तुरंत इसे लागू करने के लिए बहुत भावुक हो,” डॉ बोवे चेताते हैं ..     नींबू……….

निवेदन- आपको How to Remove Pimples and Acne in Hindi ये आर्टिकल कैसा लगा हमे अपने कमेन्ट के माध्यम से जरूर बताये क्योंकि आपका एक Comment हमें और बेहतर लिखने के लिए प्रोत्साहित करेगा और हमारे Facebook Page को जरूर LIKE करे.

काले दाग (black spots) धब्बे होने के कई कारण है जिनमे से मुख्य कारण कील, मुहासे, काले सिरे (ब्लैक हेड्स), फुडिया होते है। मुहासे से छुटकारा, सूरज की तेज किरण के कारण चेहरे के गड्ढे, दाग धब्बे ओर भी बढ़ जाते है जो चेहरे के सावले होने का कारण बनती है। इसके लिए आप जब भी बाहर जाए तो सन क्रीम लगा कर जाए और नीचे कुछ विधिया दी गई है मुहांसे के कारण जो दाग धब्बे से निजात दिलाने मे आपकी मदद करेगे।

पुनरुज्जीवित करने वाले गुण होते है। यह फंगल संक्रमण वाले कीटाणुओं को मारता है, घावों और निशानों को भरता है, त्वचा को चिकना कर देता है और नरम बनाता है, और प्रभावित क्षेत्र में नई कोशिकाओं के विकास को प्रोत्साहित करता है।

कान के पास के बिंदु को दबाने से भूख पर कंट्रोल होता है और जरूरत से ज्यादा खाने की आदत से छुटकारा होता हैं। एक्यूप्रेशर तकनीक अपनाते हुए कान के पास फ्लैप हिस्से को दो से तीन मिनट तक दबाना होगा। वैसे तो आप इस तकनीक को सुबह या शाम किसी भी वक्त अपना सकते हैं, लेकिन सुबह के समय इस हिस्से को दबाना ज्यादा बढ़िया रहेगा।

आश्चर्य की बात है कि जिस चीज़ से आप बचना चाहते हैं, वह उसी समय हो जाती है। जैसे एक अतिथि आपके दरवज़े पर आ जाये जब आप खरीदारी के लिए निकल रहे हों, टीवी पर फिल्म का चरमोत्कर्ष आने वाला हो और बिजली चली जाये, और हाँ, ज़्यादातर किशोरों(टीनएजर) की व्यथा – मुँहासों का प्रकोप कॉलेज फेस्ट या किसी की शादी के २-३ दिन पहले जब आप सबसे अच्छा दिखना चाहते हैं। पहली २ घटनाओं के बारे में आप तुरंत कुछ नहीं कर सकते लेकिन मुँहासों का नियंत्रण आप निश्चित रूप से कर सकते हैं। कुछ सरल सामग्री का उपयोग करके जो आमतौर से हर रसोई में मिल जाती हैं, उनसे इस भद्दे मुँहासों को ठीक करना संभव है।

चेहरे या शरीर पर निकलने वाले अनचाहे मस्से हमारे चेहरे को बदसूरत सा बना देते हैं। इनके निकलने से चेहरे की खूबसूरती खत्म हो जाती है। त्वचा पर मस्सों का होना पेपीलोमा वायरस के कारण होता है, यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए केवल सर्जरी ही एकमात्र रास्ता होती है, लेकिन आज हम इससे छुटकारा पाने का एक कारगर उपाय बताने जा रहें हैं और इस उपाय को आप आपने घर पर ही कर आजमा सकती हैं। कैस्टर ऑयल मस्सों से छुटकारा पाने सबसे अच्छा और प्रभावी उपचार माना जाता है। इसका उपयोग करके आप इस समस्या से छुटकारा पा सकती है। तो जानें इसे उपयोग करने के तरीके के बारे में…

    शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल (anti-becterial) के गुण पाये जाते है। जो सौन्दर्य और स्वास्थ्य दोनों क्षेत्र में बहुत ही अच्छा काम करता है। इसको खाने के अलावा अपने मुंहासो पर रोजाना शहद लगाने से चेहरे के दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) आसानी से दूर हो जातें हैं। शहद का लेप को 10 – 15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्का गरम पानी से धो लें। इससे दाने (Pimple) एवं मुँहासे (Acne) से आसानी से निजात पाया जा सकता है।

वात और कफ को शांत करने के लिए सूखी अदरक और काली मिर्च उत्कृष्ट हैं। ये श्वसन प्रणाली के स्वास्थ्य को बनाए रखने और पाचन और संचलन को बढ़ाने में सहायक होती है। ये सामग्री शरीर में गर्मी उत्पन्न करती हैं।

कील मुहांसों को दूर करने के लिए चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रहें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रहें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें फल और सब्जी ज्यादा अधिक मात्रा में खाएँ साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करेंतले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पानी अधिक मात्रा में पिएं पूरा नींद लें|

कोई फर्क नहीं पड़ता कि कारण क्या है, लगभग हर किसी के लिए चिंताओं का कारण हमेशा चिंतन होता है हालांकि, यदि आप मुँहासे से ग्रस्त हैं तो त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करना एक अच्छा विचार है, लेकिन आप इन उपायों से छुटकारा पाने के लिए इन घरेलू उपचारों की कोशिश कर सकते हैं:

एक पेस्ट बनाने के लिए थोड़े से शहद के साथ एक छोटी दालचीनी का पाउडर मिलाएं; पानी न मिलाये क्योंकि यह शहद के असर नष्ट कर देगा। प्रत्येक दाने पर पेस्ट की एक छोटी सी परत लगाएं और रात भर के लिए रहने दें; अगली सुबह गुनगुने पानी से धो लें। यदि आवश्यक हो तो कुछ दिनों के लिए दोहराएँ।

इन सरल और आसान प्राकृतिक उपचार का उपयोग करने से आप मुँहासो की इस समस्या का कुछ हद तक समाधान कर सकते हैं। सर्वोत्तम परिणाम के लिए, आपको एक स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना चाहिए। यदि आप सफलतापूर्वक इन घरेलू उपचारों से अपने मुँहासे का इलाज नहीं कर पा रहे, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए

बर्फ के क्यूब्स आपके गले पर बुरा प्रभाव दाल सकते हैं | यह आपके tonsils को प्रभावित करता है और ठंड और खांसी पैदा कर सकती है | tonsillitis से पीड़ित लोगों को वास्तव में बर्फ़ क्यूब्स से दूर रहना चाहिए | भले ही ice cube आपके गले को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं, लेकिन बर्फ के टुकड़े  लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती हैं | आप इससे फायदा प्राप्त करने के लिए अपने चहेर पर लागू कर सकते हैं | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं | अपने daily beauty regime में बर्फ के क्यूब्स को शामिल करना एक अच्छा विचार हो सकता है | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं जो की निम्नलिखित हैं |

1 –  हरे खीरे को कद्दूकस कर के उसके रस को एक बाउल में निकाल ले , और इस रस को अपने चेहरे पर लगभग एक घंटे तक लगा कर रखे फिर साफ पानी से चेहरे को धो ले इससे पिम्पल्स न केवल साफ होगा बल्कि पिम्पल्स होना भी कम हो जायेगा.

Aloe Vera हमारे चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होता है जिस कारण यह बहुत प्रसिद्ध है. इसका रस कील – मुंहासो पर लगाने से कील – मुंहासे बहुत जल्दी ठीक हो जाते है. अपने चेहरे को खुबसूरत बनाये रखने के लिए भी आप एलोवेरा का प्रयोग कर सकते है.

जिस तरह हम लोग रोज नहाए रोज मुंह धोए बिना नहीं रह पाते हैं उसी तरह हमें अपने कानों का भी जरुर ख्याल रखना चाहिए क्योंकि कानों की सफाई अगर हम नहीं करेंगे तो धीरे-धीरे कान के अंदर जो हमारा महल है वह जनता जाएगा जनता जाएगा और एक समय ऐसा आएगा कि उसकी वजह से हमारे कान की सुनने की क्षमता बहुत ही ज्यादा कम हो जाएगी साथ ही कान में दर्द होना भी शुरू हो जाएगा!

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

One thought on ““मुँहासे त्वचा से छुटकारा पाने के लिए क्या जल्दी से मुंह से छुटकारा दिलाया जाता है””

  1. चंदन का घोल तैयार करें: चंदन से त्वचा की कई बीमारियां ठीक होती है और इसे बनाना भी एकदम आसान है | 1 बड़ा चमच्च चंदन पाउडर को गुलाबजल या दूध में मिलाकर घोल बनाएं | अब इस घोल को प्रभावित क्षेत्र पर 30 मिनट तक लगाकर धोलें | इस प्रक्रिया को दोहराते रहें, जब तक आपके धब्बे पूरी तरह से गायब न हो जाए |
    जवानी की देहलीज़ पर कदम रखते ही पिंपल्स याने मुहासे प्रकट होते है| इस के पीछे मुख्या कारण है की शरीर में होरमोन्स का निर्माण होने लगता है और इस के कारण त्वचा में तेल उत्पन्न होने लगता है जो मेल के साथ मिल के छिद्र को बंद कर देते है| परिणाम यह होता है की छिद्र के अन्दर बैक्टीरिया का फैलाव होता है और त्वचा पर मुहासे निकल आते है|
    अध्ययन में, दालचीनी ने गठिया दर्द से जुड़े साइटोकिन्स (cytokines) को कम करने के लिए सकरात्मक प्रभाव दिखाए हैं। मरीजों को सुबह-शाम शहद के एक चम्मच के साथ दालचीनी पाउडर का आधा चम्मच मिलाकर खाने से एक हफ्ते के बाद गठिया के दर्द में काफी राहत मिली और वे एक महीने के भीतर दर्द के बिना चल-फिर भी पा रहे थे।
    All the tips mentioned here are strictly informational. This site does not provide any medical or health or beauty advice. Consult with your doctor or other health care provider before using any of these tips or treatments. Copyright 2014 Gharelu Nuskhe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *