“मुँहासे युक्तियाँ जल्दी से ब्रेकआउट से छुटकारा पाने के लिए”

कैमोमाइल फूलों का एक बड़ा चमचा भरेंउबलते पानी का एक गिलास और 5 मिनट के लिए उबाल लें या इसे पानी के नहाने पर खड़े रहें। 40 मिनट के बाद, तनाव, जलसेक प्राप्त हुआ, सुबह में और बिस्तर पर जाने से पहले चेहरे को पोंछते हैं। कैमोमाइल लिंडन फूलों के साथ मिश्रण कर सकते हैं

4. नींबू  (Nimbu):-  मुहासों वाले चेहरे पर नींबू के रस को लगाने से यह त्वचा (skin) से oilly परत को हटा देता है और चेहरे के पिम्प्लेस को साफ करता है. नीबू के रस मे शहद (honey) को मिला कर इसका पेस्ट बना ले और इसे चेहरे पर 10 से 15 मिनट तक लगाये रखे. इसके बाद चेहरे को साफ व शीतल जल से धो ले इस प्रयोग से चहरे के अंदर की धुल मिटटी साफ हो जाती है. चहरे पिम्प्लेस भी खत्म हो जाते है और चेहरा सुंदर दिखाई देने लग जाता है.

शुद्ध टी ट्री आयल लगाना अगर त्वचा में जलन, लालिमा या ज़्यादा शुष्क त्वचा का कारण बनता है, तो टी ट्री आयल में पानी का उपयोग कर उसको पतला करें या एलोवेरा जैल के साथ यह मिश्रण बनाएं और फिर अपने चहरे पर लगाएं। (और पढ़ें – टी ट्री ऑयल के फायदे)

ध्यान रखें, अपनी जीभ को भी अवश्य साफ करें, क्योंकि आप की जीभ पर काफी बैक्टीरिया जमा हुए होते हैं, जिसकी वजह से सांस में दुर्गन्ध हो सकती है। जीभ के ऊपर पीछे से आगे की तरफ ब्रश करें और जीभ के कोनों को न भूलें। अपने जीभ पर चार बार से ज्यादा बार ब्रश न करें और ध्यान रखें कि ब्रश करते वक्त जीभ के ज्यादा पीछे तक ब्रश न करें।

फिलर का प्रयोग करें: मुँहासे आपकी त्वचा पर हमेशा के लिए दाग छोड़ सकते हैं, जिसे भरना नामुमकिन साबित हो सकता है | फिलर इंजेक्शन इन निशानों को भरकर त्वचा को एक समान बनाता है | लेकिन, इस प्रक्रिया को 4-6 महीनों में दोहराना पड़ता है |[१०]

बर्फ़ का प्रयोग करें: यह एक घरेलू उपचार है जो धब्बों को फीका करके सूजी हुई त्वचा को ठीक करता है | एक साफ़ कपड़े या तोलिये में बर्फ को बंद कर प्रभावित त्वचा पर 1-2 मिनट तक लगाते रहें जब तक वह जगह सुन्न न हो जाए |

” यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। ”

उन मामलों में जहां चेहरे पर चकत्ते का कारण होता हैबाह्य कारकों के प्रभाव से, सौंदर्य प्रसाधन चिकित्सक, चेहरे पर मुँहासे के लिए एक उपाय का चयन करता है, जिससे त्वचा के प्रकार और विशेषताओं को ध्यान में रखता है। इसके समानांतर, त्वचा की देखभाल की रणनीति परिभाषित की जाती है, और वातावरण की नकारात्मक प्रभाव से चेहरे की त्वचा की रक्षा के लिए तैयारी भी निर्धारित की जाती है।

–> अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा भी मौजूद है तो समझिए पिंपल रफूचक्कर हो गया क्योंकि असल में बर्फ पिंपल की लालिमा को कम करती है और उसके इर्द – गिर्द जमा गंदगी और तेल को निकाल देती है | आप को केवल इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटकर उसे कुछ सेकेण्ड के लिए त्वचा पर फेरना है |

हार्मोन परिवर्तन: सोरायसिस हार्मोन और जीव के अधीन है परिवर्तन के साथ दृढ़ता से जुड़ा है। सोरायसिस में अपने चरम यौवन के दौरान अवधि या रजोनिवृत्तिके दौरान है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की त्वचा बेहतर स्थिति का अनुभव। लेकिन जैसे ही बच्चे का जन्म होता है यह काफी अन्य तरह के दौर है।

4 – रात को सोने से पहले कच्चे दूध के साथ जायफल को घिसे और इसका लेप तैयार कर ले, और लेप को चेहरे पर लगा कर सो जाये. सुबह चेहरा साफ पानी से धो दे, कुछ दिन ऐसा लगातार करने से  चेहरे पर होने वाले मुहासों से छुटकारा मिलता हैं.

अपने दांतो को फ्लॉस करें: फ्लॉस करना अच्छे स्वस्थ मुंह का जरूरी अंश है। फ्लॉस करने से आपके दांतो के बीच में से प्लैक और बैक्टीरिया निकल जाता है, जो कि अच्छे से अच्छे ब्रश से भी नहीं निकलता। दिन में कम से कम एक बार फ्लॉस जरूर करें।[२]

वहाँ रहे हैं एक बार आप छालरोग उपचार खोजने का फैसला किया, लेकिन केवल डॉक्टर कि चुना छालरोग उपचार दवा की प्रभावकारिता का मूल्यांकन कर सकते हैं विकल्प की एक बहुत कुछ के अनुरूप होगा आप व्यक्तिगत रूप से। सोरायसिस के उपचार कोई साइड इफेक्ट नहीं होना चाहिए।

The information Provided in this video is based out of various Ayurvedic & Natural Medicare books. If you have or suspect that you have a health problem, contact your personal health care Provider / Doctor.

बर्फ के प्रयोग से भी आप जल्द ही मुँह के छालों से छुटकारा पा सकते है. मुंह में छाले होने पर बर्फ के एक टुकड़े को लेकर छाले वाले जगह पर सिकाई करें. इससे छालो के दर्द से काफी राहत मिलती है और इसके कुछ समय के प्रयोग से छाले जल्दी सही हो जाती है.

एलोवेरा में रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं, जो मुँहासे का कारण बनने वाली तेलीय त्वचा के उपचार के लिए आदर्श होते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा आपकी त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में भी मदद करता है। 

दालचीनी आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है, लेकिन यह सोचकर इसका अधिक मात्रा में सेवन न करें। यदि आपको लगता है कि एक बार में जादा खुराक लेने से आपको दालचीनी का जल्दी लाभ मिलेगा, तो आप जो सोच रहे है वह बिलकुल गलत है। क्योंकि इसके बहुत जादा सेवन से आपको लाभ मिले ना मिले परंतु इसके दुस्प्रभाव का सामना आपको अवश्य करना पड़ सकता है

अध्ययन में, दालचीनी ने गठिया दर्द से जुड़े साइटोकिन्स (cytokines) को कम करने के लिए सकरात्मक प्रभाव दिखाए हैं। मरीजों को सुबह-शाम शहद के एक चम्मच के साथ दालचीनी पाउडर का आधा चम्मच मिलाकर खाने से एक हफ्ते के बाद गठिया के दर्द में काफी राहत मिली और वे एक महीने के भीतर दर्द के बिना चल-फिर भी पा रहे थे।

बर्फ के क्यूब्स आपके गले पर बुरा प्रभाव दाल सकते हैं | यह आपके tonsils को प्रभावित करता है और ठंड और खांसी पैदा कर सकती है | tonsillitis से पीड़ित लोगों को वास्तव में बर्फ़ क्यूब्स से दूर रहना चाहिए | भले ही ice cube आपके गले को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं, लेकिन बर्फ के टुकड़े  लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती हैं | आप इससे फायदा प्राप्त करने के लिए अपने चहेर पर लागू कर सकते हैं | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं | अपने daily beauty regime में बर्फ के क्यूब्स को शामिल करना एक बहुत अच्छा विचार हो सकता है | चेहरे पर बर्फ लगाने के लाभ कई हैं जो की निम्नलिखित हैं |

हल्दी में मौजूद एन्टीसेप्टिक और एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण छालों को न सिर्फ ठीक करते हैं बल्कि यह गुण छालों को दुबारा होने से भी रोकते हैं। हल्दी पाउडर में कुछ बूंद पानी मिलकर पेस्ट तैयार  कर ले और अब इस पेस्ट को छालों पर लगायें, इससे दर्द से तुरन्त राहत मिल जाएगा।

One thought on ““मुँहासे युक्तियाँ जल्दी से ब्रेकआउट से छुटकारा पाने के लिए””

  1. १ टीस्पून अच्छा अच्छी अपनी अपने अब आदि आप आपका आपकी आपके आपको इस इसके इसमें इससे इसे इस्तेमाल उनके उम्र उसके उसे एक ऐसे और कई कटा कप कम कर करके करते करना करने करने के करें का काम कि किया किसी की कुछ के बाद के लिए के साथ को कोई क्या खुद गरम घर चेहरे पर जब ज़रूरी जा जाता है जाती जाने जैसे जो ज़्यादा टेबलस्पून डालकर तक तरह तेल तो त्वचा था थी दिन दिशा दें दोनों ध्यान न करें नज़र नमक नहीं ने पर पसंद पहले पानी फिर फिल्म बच्चे बच्चों बना बहुत बात बार बॉलीवुड भी माह मिनट मुंबई मुझे में मैं यदि या ये रखें रही रहे लगाएं लहसुन लें लेकिन वो सकता है सकती हैं समय साड़ी साथ ही साल से हर ही हुआ हुई हुए हूं है और हो होता है होती होने होम
    मुंह से आने वाली दुर्गंध कई बार लोगों से दूरी का सबसे बड़ा कारण बन जाती हैं। हम दोस्तों के बीच बैठे हैं और कोई हमसे हमारे मुंह से आ रही दुर्गंध (बदबू) के बारे में कहता हैं, तो हमें दोस्तों के बीच नीचा देखना पड़ता हैं । इसी बीच दोस्त हमें दस तरह के उपाय बताने लगते हैं, कोई अच्छे टूथपेस्ट का सुझाव देता हैं तो कोई माउथ स्प्रे के बारे में बतलाने लगता हैं, लेकिन इन सबके बीच यदि आप कुछ घरेलू नुस्खे या उपाय अपनाएं तो आप मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पा सकते हैं । ये किफायती भी होंगे और असरकारक भी । दुर्गंध को यूं पहचानें घर पर अकेले में या बात करते समय जब लोग आपके सामने न खड़े हों तो उस वक्त अपने मुंह पर हथेली रखकर सांस छोड़िए, इससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि आपका सांसों में दुर्गंध हैं या नहीं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *