“मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए टूथपेस्ट कर सकते हैं +सक्रिय मुँहासे”

पायरिया से परेशान लोग मूली के रस से दिन में 2-3 बार कुल्ले करें और इसका रस पिएं तो बहुत फायदा होगा. मूली के रस से कुल्ला करना, मसूड़ों-दांतों पर मलना और पीना दांतों के लिये बहुत लाभकारी है. मूली को चबा-चबा कर खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं.

Scientifically it happens when the dead skin cell and the oil secreted in skin pore club and clot in the pore and block it. This environment gives rise to bacteria which continue to reproduce and swell the area and cause redness. Various other causes like genetic problem, hormonal effect, dairy products, skincare products, forgetting to clean makeup,oily food, mental stress, etc. can also be the reason. To know more about reasons of pimples read causes of pimples and acne.

वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

अगर आप को जल्दी चेहरे पर से कील मुहांसों से छुटकारा पाना है तो आप रोज कुच्छ दिनो तक सफेद प्याज का रस में एक चमच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएँ चेहरा सूखने पर धोकर साफ टॉवेल से साफ करके स्टीम लें जल्दी ही आप के कील और मुहाँसे सॉफ हो जाएँगे

मसालेदार खाना खाएँ: जैसा कि आप अनुमान लगा रहे होंगे, मसालेदार खाना आपकी नाक में बलगम को तोड़ देता है और ज़्यादा आसानी से उसे बहने देता है। आप जितना संभाल सकते हैं उतना मसालेदार खाना खाकर अपने शरीर को उसकी सारी बलगम तोड़ने में मदद करेें। यह हो सकता है- तीखी मिर्च, हॉर्सरैडिश (horseradish) या वसाबी (wasabi)।

मुँहासे त्वचा कि हालत को दर्दभरा और बदरंग बना सकते हैं। इनके द्वारा छोड़े गए दाग, हमेशा इनकी अप्रिय याद दिलाते हैं। कई मुँहासों के दाग, अपने आप ही कुछ महीनों में साफ़ हो जाते है, लेकिन इन्हे जल्दी साफ़ करने के लिए आप कुछ उपाय करके, मुँहासों को आने से रोक सकते हैं | वैसे तो मुँहासों के दाग एक रात में नहीं जाएँगे, लेकिन कुछ नुस्खे, उपचारों, उत्पादनों को प्रयोग करने से कम समय में काफी फर्क पड़ेगा | आपकी त्वचा अनुसार सही नुस्खे को ढूंढें |

शरीर में जल का स्तर का संतुलन ही सिर्फ सांसों की ताजगी को बनाए रखा जा सकता है। जब हमारे शरीर में जल का स्तर कम हो जाता है तो मुंह में लार का बनना कम हो जाता है। जिससे सांसों में बदबू पनपती है। विटामिन सी- संतरा, निंबू या सभी खट्टे रस वाले फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, ये सांसों की बदबू दूर करने में मददगार हैं। विटामिन सी को जीवाणुओं से लड़ने वाले पदार्थ के रूप में जाना जाता है।

आज के समय में बहुत से लड़के – लड़कियां एक बात से बहुत परेशान होते है और वह है चेहरे पर कील – मुंहासो का होना. किसी के भी चेहरे पर दाग – धब्बे अच्छे नहीं लगते और इससे एक खुबसूरत चेहरा भी बदसूरत नजर आने लग जाता है.

A) पंप या मुँहासे का कारण बनता है जब त्वचा ग्रंथियों के उत्पादन सेबम (त्वचा के तेल) के छिद्र भरा हो जाता है और इस प्रकार सेबम बच नहीं सकते वे हार्मोनल परिवर्तन, तनाव, पसीना, अत्यधिक नमी और स्टेरॉयड के उपयोग सहित कई कारकों से शुरू हो रहे हैं।

यदि सम्भव हो तो अपने कूल्हों को धूप लगाएँ: यदि आपके पास अपना निजी आँगन (private backyard) है या न्यूड समुद्र तट (nude beach ) पास में है तो एक गर्म दिन पर अपने कूल्हों को कुछ धूप लगाएँ। सूरज प्राकृतिक रूप से ज्यादा तेल को सुखा देगा।

कोलकाता : मैंने क्लब के 100 दिनों के रिपोर्ट को देखा जिसमें यह पाया कि हिन्दुस्तान क्लब काफी बेहतर कार्य कर रहा है। यह उन्नति के मार्ग में अन्य क्लबों से काफी आगे हैं। उक्त बातें हिन्दुस्तान क्लब के स्थापना [Read more…]

–> संतरे में मौजूद विटामिन सी पिपल्स को निकालने में मदद करता है | संतरे को मुहांसे पर इस्तेमाल करने से पूर्व त्वचा को भली – भांति गुनगुने पानी से धो ले ताकि त्वचा के पोर्स खुल सके | इसके बाद संतरे के छिलके को pimple पर लगाकर  एक घंटे तक छोड़ दे |

नहाने के बाद अपनी पीठ को एक हल्के क्लीनर (cleaner) का साफ़ कर लें। फिर इसको अच्छे से सूखा लें। अब एक रूई से अपनी पीठ पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएँ। इसको सूख जाने दें और ढीले ढाले कपड़े पहन लें। फिर कुछ घंटों बाद इसको गुनगुने पानी से धो लें। मुँहासे और उसके निशानों को रोकने के लिए कम से कम एक सप्ताह के लिए रोजाना दोहराएं।

अपने भोजन पर ध्यान दें एलर्जी प्रतिक्रियाओं की प्रवृत्ति के अभाव में भी, कुछ उत्पाद मुँहासे के गठन में योगदान कर सकते हैं। बड़ी मात्रा में कॉफी, बेकरी उत्पाद, मिठाई, फैटी, तली हुई और स्मोक्ड खाद्य पदार्थ त्वचा की स्थिति पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं। बहुत सारे खाद्य पदार्थ और मसालों खाएं जो खून को शुद्ध (कच्ची सब्जियां और फलों, अदरक, हल्दी, धनिया);

अगर गले की बलगम इतनी गाढ़ी हो जाए कि आप न सांस ले पा रहे हैं और न ही निगल पा रहे हैं, तो अस्थायी उपचार के लिए तुरंत पानी पिएँ और फ़िर नाक ब्लो करें और 2 मिनटों के लिए गुंजन करें। यदि आप अब सांस न ले पाएँ और आपकी बलगम बढ़ती जा रही है, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ।

CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved. CNN and the CNN logo are registered marks of Cable News Network, LP LLLP, displayed with permission. Use of the CNN name and/or logo on or as part of NEWS18.com does not derogate from the intellectual property rights of Cable News Network in respect of them. © Copyright Network18 Media and Investments Ltd 2016. All rights reserved.

Yoghurt also works as an inflammation reducing agent and reduces the itchiness in the affected region. It can be applied directly on the pimple. It will reduce the temperature of that area and stop the growth of the bacteria in that region, thus helping to kill the pimple.

दालचीनी के बहुत सारे लाभ तो हैं परंतु आपको बताई गई कुछ सावधानियों को भी नहीं भूलना चाहिए। अतः इसके उपभोग से पहले इसके लाभ-हानि को अच्छे से समझ लें और इसका सेवन उच्च मात्रा में ना ही करें तो अच्छा होगा।

One thought on ““मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए टूथपेस्ट कर सकते हैं +सक्रिय मुँहासे””

  1. शराब पीने के बाद मुंह से आने वाले बदबू को कम करने के लिए आपको पीने से पहले कुछ खाना चाहिए। चबाने वाला भोजन सलाइवा के उत्पादन को उत्तेजित करता है और आपके पेट में भोजन आपको पीने वाले कुछ एल्कोहल को अवशोषित करने में मदद करता है।
    दही में ऐसे एंजाइम (enzymes) होते हैं जो किसी भी दाग धब्बे को दूर कर सकते हैं, और शहद प्राकृतिक रूप से आपकी रंगत को निखारता है। 1 चम्मच दही को 2 चम्मच शहद के साथ मिश्रित करें। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और काले धब्बों पर खासकर ध्यान केन्द्रित करें। इस पैक को 20 मिनट तक अपने चेहरे पर रहने दें और फिर इसे हाथों से रगड़कर पानी से साफ़ कर लें। अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना करें।
    यदि किसी व्यक्ति की आँखों के नीचे काले घेरे हो गये हैं तो वो सुबह उठ कर मुँह की लार से धीरे धीरे आँखों के नीचे मालिश करें ऐसा करने से आँखों के नीचे के काले घेरे ठीक हो जायेंगे लेकिन प्रयोग 1-2 महीने करना पड़ेगा।
    सुरेश ने पुलिस को बताया कि उसने मारिया की हत्या 11 जनवरी को तकिया से मुंह दबा कर की थी। हत्या के बाद सुरेश ने मारिया की लाश रजाई में बांध कर बेड के बक्से में छिपा दी और अपने गांव भाग गया। सुरेश ने बताया कि उसने हत्या की योजना तब बनाई जब उसकी पहली पत्नी लता को मारिया के बारे में पता लगा। लता ने सुरेश से कहा कि वह मारिया को छोड़ दे। सुरेश भी मारिया से छुटकारा पाना चाहता था और उसने हत्या को अंजाम दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *