“मुँहासे हटाने का सबसे तेज़ तरीका कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए वास्तव में तेजी से”

बर्फ के क्यूब्स का उपयोग त्वचा से बड़े आकार के छिद्रों को रोकने के लिए किया जा सकता है | वे न केवल छिद्र को कम करते हैं और उन्हें छोटा करते हैं, बल्कि आपके चेहरे पर अतिरिक्त तेल के उत्पादन को रोकते हैं | लगातार त्वचा में ice cube से massage करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है |

मुलैठी त्वचा से मेलेनिन दूर करने की अपनी खूबी की वजह से जानी जाती है। मुलैठी की जडें किसी भी काले धब्बे को दूर करने में काफी कारगर साबित होती हैं। मुलैठी की जड़ों का एक पेस्ट तैयार करें और इसमें शहद की कुछ बूँदें मिश्रित करें। इस पेस्ट को चेहरे के काले धब्बों पर लगाएं और 15 मिनट रखने के बाद पानी से धो लें। रोजाना इस विधि का प्रयोग करने पर आपको 1 से 2 हफ़्तों में अच्छे परिणाम मिलने शुरू हो जाएंगे। चेहरे पर मुलैठी का प्रयोग करने से पहले एक पैच टेस्ट (patch test) करवा लें।

ऑयली त्वचा पर निम्बू रगड़ने से त्वचा की चिकनाई दूर होती है और पिम्पल्स भी साफ़ होते है। शहद को नींबू में मिला कर पेस्ट बनाए और फेस पर लगाए और 15 – 20 मिनट के बाद धो ले। इस नुस्खे से चेहरे में निखार आता है और पिम्पल ठीक होते है।

यदि आपको मिल गया है तो एक दाना दिया गया है जो वास्तव में दूर नहीं जा सकता है, विटामिन ई की गोली को ख़त्म कर दें (या कुछ आहार ई तेल खरीद लें) और अपने दोष को रगड़ें। आप इसे 10 मिनट या एक ही दिन में छोड़ सकते हैं, हालांकि खाद्य आहार उसी समय मॉइस्चराइज रखता है जैसे कि किसी भी लाली और दूषित घटते समय (जो वास्तव में आप की तलाश में हैं)। यह पिलकों को खोलने में मदद कर सकता है और आपको ब्रेकआउट्स बचा सकता है अगर आप इसे नियमित आधार पर उपयोग करते हैं।

मुंह में एक छोटा सा घाव होता है जिसे हम अल्‍सर बोलते हैं। अगर यह मुंह में छाला हो जाए तो खाने-पीने में बड़ी तकलीफ हो जाती है। इसमें काफी जलन और दर्द भी महसूस होती है। वैसे तो यह बीमारी कुछ ही दिनों के लिए होती है और हफ्ते भर में ठीक भी हो जाती है।

यदि आप अक्सर पेट की बीमारियों से पीड़ित होते हैं जैसे गैस, अपच, कब्ज, सूजन आदि। यह अक्सर तब होता है जब आपकी पाचन प्रणाली अच्छी तरह से काम नहीं कर रही होती है। इसे सुधारने के लिए आप सौंफ और अजवाइन से बना काढ़े का सेवन कर सकते हैं। दोनों में कार्मिनटिव गुण होते हैं जो गैस को बनने से रोकते हैं और बेहतर पाचन में सहायता करते हैं।

सेल्‍युलाइट से ज्यादातर महिलाओं को भय होता है। यह 80% से अधिक महिलाओं को प्रभावित करता है। फैट के शरीर पर जमाव को सेल्‍युलाइट कहते हैं, जिससे त्‍वचा असमान हो जाती है। सेल्युलाइट ज्यादातर थाईज, पेट और हिप्स में पाया जाता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं को आम तौर पर सेल्‍युलाइट होने का खतरा अधिक होता है। हालांकि इसके लिए कोई निश्चित कारण नहीं है। सेल्‍युलाइट के कई कारण हो सकते हैं जैसे आहार, हार्मोन परिवर्तन, निर्जलीकरण, धीमी चयापचय दर, कुल शरीर की चर्बी और शारीरिक गतिविधि में कमी आदि। यहां तक कि अधिक तनाव भी सेल्‍युलाइट का कारण बन सकता है। महंगी सर्जरी के बजाय आप कुछ घरेलू तरीकों के द्वारा सेल्‍युलाइट से छुटकारा पा सकते हैं। आइए प्राकृतिक रूप से सेल्‍युलाइट को कम करने के उपायों के बारे में जानें :-

योगासन के अलावा आपको कुछ पैसे आयुर्वेदिक उत्पादों पर भी लगाने चाहिए, जिनकी मदद से आपके बालों में मौजदू गंदगी और जमा हुआ मैल बाहर निकल आएगा। इसके अलावा यह आपके बालों को झड़ने से भी बचाता है। क्योंकि सब इस बात को जानते हैं कि रोकथाम इलाज से बेहतर है।

वहाँ रहे हैं एक बार आप छालरोग उपचार खोजने का फैसला किया, लेकिन केवल डॉक्टर कि चुना छालरोग उपचार दवा की प्रभावकारिता का मूल्यांकन कर सकते हैं विकल्प की एक बहुत कुछ के अनुरूप होगा आप व्यक्तिगत रूप से। सोरायसिस के उपचार कोई साइड इफेक्ट नहीं होना चाहिए।

” यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। ”

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

छाछ मे लॅकटिक एसिड होता है जो की अल्फा हाइड्रॉक्सिल एसिड की तरह काम करता है। यह एक प्रकार का प्रकतिक एसिड है जो चेहरे की मृत त्वचा, धूल और तेल को निकालता है। एक कटोरी मे छाछ ले और रूई की मदद से दाग पर लगाए और अगर मुमकिन है तो आधी मात्रा मे नीबू का रस भी मिला कर मास्क की तरह भी उपयोग सकते है।

दखल, जो आंतरिक समस्याओं के कारण दिखाई दिया,व्यापक रूप से इलाज किया जाता है ऐसे मामलों में, यहां तक ​​कि सबसे महंगी दवाओं के साथ उपचार का कोई सकारात्मक परिणाम नहीं होगा यदि आप एक साथ पूरे जीव का इलाज नहीं करते हैं। इसलिए, इलाज करने और चेहरे पर मुँहासे से छुटकारा पाने से पहले, समस्या का सही कारण स्थापित करने के लिए इतना महत्वपूर्ण है। पहले से ही परीक्षा के परिणाम को ध्यान में रखते हुए, सौंदर्य प्रसाधन ने अतिरिक्त त्वचा देखभाल उत्पादों को नियुक्त किया है।

वैसे तो मुंह की सफाई रखना ही मुंह की बदबू को दूर करने का अचूक उपाय है। इसलिए मुंह की सफाई रखें और खाना खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें। साथ ही दिन में दो बार अच्छे से ब्रश करें। ऐसा लगातार करने से मुंह की बदबू हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

अगर मुँहासों में संक्रमण हो जाए तो इनमें दर्द, जलन और पस निकलने लगता है जो की एक अत्यधिक गंभीर समस्या बन सकता है | मुहाँसे अक्सर 15 से 25 साल की आयु में निकलते है पर यह तय नहीं है क्योंकि यह अन्य आयु वर्ग के लोगों को भी हो सकते है |

हालाँकि, ऐन्टिसेपटिक माउथवॉश हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म कर देता है, जो गंदी दुर्गंध को छुपाने से भी ज्यादा मददगार है। ऐसे माउथवॉश का इस्तेमाल करें, जिसमें क्लोरहेक्सिडाइन (chlorhexidine), सिटाइलपायरिडिनियम क्लोराइड (cetylpyridinium chloride), क्लोरीन डाइऑक्साइड (chlorine dioxide), ज़िंक क्लोराइड (zinc chloride) और ट्राइक्लोसैन (triclosan) मौजूद हो, जो बैक्टीरिया को खत्म करते है।

चेहरे के काले दाग धब्बे, प्याज मे क्रत्रिम प्रतिरोधक गुण होते है जो की मुहसो के दाग धब्बे दूर करने मे आपकी मदद करेगे। तो शांतीपूवर्क इस विधि का उपयोग करे। प्याज ले और उसका रस निकल कर चेहरे के संक्रमित स्थान पर लगाए और कुछ मिनिट तक रहने दे फिर साधारण पानी से धो दे।

पिम्पल्स हटाने के तरीके इन हिंदी: गोरे चेहरे पर कोई दाग धब्बा या निशान पड़ जाए तो चेहरे की सुंदरता फीकी पड़ने लगती है। चेहरे पर कील मुंहासे (acne) निकलना आजकल आम हो गया है। ऑयली स्किन पर पिम्पल्स निकलने की समस्या अधिक होती है। पिम्पल को अगर हाथ से फोड़ दे तो पिम्पल्स के दाग चेहरे पर रह जाते है। अक्सर कील मुंहासों के ज़रिए शरीर की गर्मी बाहर निकलती है जो खाने पिने की गलत आदतों से हो जाती है। अगर त्वचा को पोषण देने वाली चीज़े खाए और तले हुए फुड से दूर रहे तो बार बार पिम्पल का निकलना रोक सकते है। हरी सब्जियां, फल और पानी त्वचा को स्वस्थ रखने का उत्तम उपाय है। आज इस लेख में पिम्पल्स कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे जानेंगे, natural home remedies tips to remove pimples in hindi.

ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड का उपयोग करें: ग्लाइकोलिक या सेलीसीलिक एसिड कई त्वचा उत्पादनों में पाए गए हैं, जैसे कि क्रीम, मलहम, और स्क्रब | ये त्वचा के धब्बों को पूरी तरह हटाने से पहले, त्वचा की परत को निकालकर, हाइपरपिगमेंट को बाहर लाती है |[७]

स्‍वाद और सुगंध से भरपूर दालचीनी को मसालों में अहम स्‍थान दिया गया है। दालचीनी का दोनों ही मसाले और दवा के रूप में उपयोग का लंबा इतिहास है। वास्तव में प्राचीन काल में, यह मसाला इतना बहुमूल्य खजाना माना जाता था कि इसकी कीमत सोने से भी ज्यादा थी।यह श्रीलंका एवं दक्षिण भारत में बहुतायत में मिलता है। यह एक वृक्ष की छाल होती है। यह गरम मसाला तो है ही यह पाचन, वातहर, स्तंभण, गर्भाशय उत्तेजक, गर्भाशय संकोचक एवं शरीर उत्तेजक है। चाय, काफी में दालचीनी डालकर पीने से मीठी हो जाती है तथा सर्दी भी ठीक हो जाता है।

2 चंदन का पाऊडर पिंपल भगाने में बहुत लाभकारी होता है। यह न सिर्फ आपके चेहरे को फ्रेश करेगा बल्कि पिंपल को दुबारा लौटने से भी रोकेगा। चंदन पाऊडर को पिंपल पर 2-3 घंटो के लिए लगा रहने दें और चेहरे को ठंडे पानी से धो कर सूखा लें।

लौंग कैविटी के साथ-साथ किसी भी प्रकार की दांतों से जुडी समस्‍याओं के लिए रामबाण होता है। एंटी-इंफ्लेमेंटरी, एनाल्‍जेसिक और एंटी-बैक्‍ट‍ीरियल गुणों के कारण लौंग दर्द को कम करने और कैविटी को फैलने से रोकता है। समस्‍या होने पर 1/4 चम्‍मच तिल के तेल में 2 से 3 बूंदें लौंग के तेल की मिलाकर लें। इस मिश्रण को रात को सोने से पहले कॉटन बॉल में लेकर प्रभावित दांत में लगाये।   

इसके साथ ही कुछ लक्षण psoriasis के लक्षण हो सकता है। यह psoriasis vulgaris, जो रोग, guttate सोरायसिस छोटे धब्बे, जो बूंदों की तरह कर रहे हैं की विशेषता, व्युत्क्रम सोरायसिस underarms क्षेत्र, नाभि और नितम्बों, पास में एक नियम के रूप में की खोज की, और तरल अंदर के साथ छोटे फफोले द्वारा देखा pustular सोरायसिस का सबसे व्यापक प्रकार है शामिल हैं। इसके अलावा, एक अलग-अलग रोग हथेलियों और तलवों पर प्रकट होता palmoplantar सोरायसिस कहा जाता है।

मैने आप की साइट पर कील मुहांसों के ज़ल्दी ठीक करने का लेख पड़ा मुझे बहुत ही लाभ हुआ तथा जिनसे भी शेयर किया उनेहें भी लाभ हुआ इसलिए वो भी आप को धन्यवाद दे रहे हैं प्लीज़ हम सब की गुड विश एक्सेपट करें वेरी नाइस आर्टिकल्स

Barf ke tukde थके आँखों को शांत करने का काम करता है | काम पर एक लंबा और थका देने वाला दिन होने के बाद, कुछ सुखदायक प्रभावों के लिए अपनी आंखों पर कुछ बर्फ के cubes रखें । यह आसान तरीका सिर्फ आपकी आंखों पर शीतलन प्रभाव नहीं देगा, बल्कि थकन आँखों को राहत भी दे सकता है । जब भी आप थके हुए है तो इस आसान सौंदर्य टिप को आज़माएं | Tips on eye care से जुडी जानकारी यहाँ पर पढ़े |

सामग्री: कैलेंडुला officinalis, आइरिस versicolor, आवश्यक तेल के मिश्रण (Cedrus एटलांटिका लकड़ी शेविंग्स, Melaleuca alternifolia पत्ता-शाखा, Melaleuca छोटी सी पत्ती), Persea gratissima फल तेल, Rosa mosqueta बीज का तेल, Simmondsia chinensis बीज का तेल, Triticum vulgare कर्नेल तेल)।

–> संतरे में मौजूद विटामिन सी पिपल्स को निकालने में मदद करता है | संतरे को मुहांसे पर इस्तेमाल करने से पूर्व त्वचा को भली – भांति गुनगुने पानी से धो ले ताकि त्वचा के पोर्स खुल सके | इसके बाद संतरे के छिलके को pimple पर लगाकर  एक घंटे तक छोड़ दे |

One thought on ““मुँहासे हटाने का सबसे तेज़ तरीका कैसे मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए वास्तव में तेजी से””

  1. बलगम (जिसे कफ के रूप में भी जाना जाता है), ज़ुकाम और अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण का एक आम उत्पाद है। बलगम से निपटना बहुत मुश्किल हो सकता है और ऐसा लग सकता है कि यह कभी खतम नहीं होगी। अगर आप अपने गले और नाक में बन रहे बलगम से राहत पाना चाहते हैं, तो उपचार के इन तरीकों में से कुछ की कोशिश करें।
    जिनके छाले बिलकुल सही नहीं हो रहे हैं वो सुबह खाली पेट और रात्रि को सोते समय मुंह में नारियल का तेल 2 चम्मच डालकर उसको चबाते रहें, ध्यान रहे इसको निगलना नहीं है, ऐसा 10 मिनट तक करना है, ऐसा करने से सिर्फ 1 से ३ दिन में छाले बिलकुल सही हो जायेंगे, इसके साथ में ये विधि टोंसिल के लिए भी संजीवनी है.
    Aloe Vera हमारे चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होता है जिस कारण यह बहुत प्रसिद्ध है. इसका रस कील – मुंहासो पर लगाने से कील – मुंहासे बहुत जल्दी ठीक हो जाते है. अपने चेहरे को खुबसूरत बनाये रखने के लिए भी आप एलोवेरा का प्रयोग कर सकते है.
    English: Get Rid of Mucus, Français: vous débarrasser des mucosités, Italiano: Liberarsi del Muco, Español: eliminar la mucosidad, Deutsch: Schleim loswerden, Português: Se Livrar de Muco, Nederlands: Van neusslijm afkomen, Русский: избавиться от мокроты, 中文: 摆脱粘痰困扰, Čeština: Jak se zbavit hlenu, Bahasa Indonesia: Menghilangkan Lendir di Hidung dan Tenggorokan, 日本語: 喉や鼻から粘液を取り除く, العربية: التخلّص من المخاط, ไทย: กำจัดน้ำมูก ‐ เสมหะ, Tiếng Việt: Xử lý khi bị Chảy nước mũi, 한국어: 코 점액 제거하는 법

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *