“मुँहासे 24 घंटे से छुटकारा पाने के लिए _स्पष्ट मुँहासे निशान”

मुंह में एक छोटा सा घाव होता है जिसे हम अल्‍सर बोलते हैं। अगर यह मुंह में छाला हो जाए तो खाने-पीने में बड़ी तकलीफ हो जाती है। इसमें काफी जलन और दर्द भी महसूस होती है। वैसे तो यह बीमारी कुछ ही दिनों के लिए होती है और हफ्ते भर में ठीक भी हो जाती है।

– मसूड़ों में सूजन होने पर या दांतों में सड़न होने पर मुंह में होने वाली दुर्गन्ध को दूर करने के लिए एक कप गुनगुने पानी में एक चम्मच अदरक का रस और थोडा नमक मिलाकर उस पानी को मुंह में रखकर उसे पी लें। धीरे-धीरे ऐसा करें जब तक पानी खत्म न हो जाए।

–> अगर आपके घर में बर्फ का एक टुकड़ा भी मौजूद है तो समझिए पिंपल रफूचक्कर हो गया क्योंकि असल में बर्फ पिंपल की लालिमा को कम करती है और उसके इर्द – गिर्द जमा गंदगी और तेल को निकाल देती है | आप को केवल इतना करना है कि एक कपड़े में बर्फ के टुकड़े को लपेटकर उसे कुछ सेकेण्ड के लिए त्वचा पर फेरना है |

अध्ययन में, दालचीनी ने गठिया दर्द से जुड़े साइटोकिन्स (cytokines) को कम करने के लिए सकरात्मक प्रभाव दिखाए हैं। मरीजों को सुबह-शाम शहद के एक चम्मच के साथ दालचीनी पाउडर का आधा चम्मच मिलाकर खाने से एक हफ्ते के बाद गठिया के दर्द में काफी राहत मिली और वे एक महीने के भीतर दर्द के बिना चल-फिर भी पा रहे थे।

* तुलसी के पत्ते से उपचार : तुलसी के पत्ते का प्रयोग भी मुंह के छालों में बहुत फायदेमंद है, इससे जल्द ही छालो में राहत मिलती है। तुलसी के तीन से चार पत्तों को पीसकर इसका रस निकालकर छालों पर लगाने से बहुत फायदा होता है।

बर्फ की ठंडक पिम्पल के समय होने वाली सूजन और लालिमा को कम करती है। इसके साथ उस जगह पर खून का दौरा बेहतर बनके मुहासे जल्दी ठीक करने में मदद करता है। एक कपडे में बर्फ के टुकड़े रख कर उसे चेहरे पर पिम्पल वाली जगह पर रखे और हटाए।

हार्मोन परिवर्तन: सोरायसिस हार्मोन और जीव के अधीन है परिवर्तन के साथ दृढ़ता से जुड़ा है। सोरायसिस में अपने चरम यौवन के दौरान अवधि या रजोनिवृत्तिके दौरान है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की त्वचा बेहतर स्थिति का अनुभव। लेकिन जैसे ही बच्चे का जन्म होता है यह काफी अन्य तरह के दौर है।

* एलोवेरा : एलोवेरा जेल या उसका रास मुँह के छालों के काफी प्रभावी उपचार है। एलोवेरा के ताजे पत्तों से एक कटोरे में निकालें फिर इसे प्रभावित क्षेत्रों में लगाएं। कुछ देर तक लगे रहने के बाद बहार थूक सकते हैं। दिन में कई बार इसका उपयोग करने से जल्दी आपो छालों से मदद मिलेगी। इसके अलावा आप एलोवेरा के पत्तों का रस निकलपर पी सकते हैं।

आज के समय में मुहासे होने आम बात है. लेकिन आज काल के लडके और लडकियों  अपने मुहासों से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग तरह के Fairness Cream के इस्तेमाल करते है. और कई बार उनके मुहासे उनसे ठीक भी नहीं होते है. और बहुत से लोगो को यह सूट भी नहीं करती है. और इनको लगाने से उनको नुकसान भी  हो जाता है. और यह अभी Fairness Cream बहुत महंगी भी होती है.जिनको बहुत से लोग खरीद भी नहीं सकते है इस हम आपको इन मुहासों को ठीक करने के कुछ घरेलु उपाय बतायेगे जिनको की आप बड़ी ही आसानी से कर सकते है.

एलोवेरा में रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं, जो मुँहासे का कारण बनने वाली तेलीय त्वचा के उपचार के लिए आदर्श होते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा आपकी त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में भी मदद करता है। 

अगर इस में लापरवाही रखे तो आगे जाके यह काले दाग और धब्बे छोड़ देते है जिन्हें निकालना मुश्किल होता है| इसीलिए जवानी में ख़ास सावधानी रखे स्वछता की तो मुहासे ही न हो और अगर हो भी जाए तो बिना दाग के आप मिटा दे| पिम्पल हटाने के उपाय (pimples ke liye gharelu upay) आप जानिये और रहे मुक्त इस परेशानी से|

बर्फ के क्यूब्स का उपयोग त्वचा से बड़े आकार के छिद्रों को रोकने के लिए किया जा सकता है | वे न केवल छिद्र को कम करते हैं और उन्हें छोटा करते हैं, बल्कि आपके चेहरे पर अतिरिक्त तेल के उत्पादन को रोकते हैं | लगातार त्वचा में ice cube से massage करने से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है |

मुल्तानी मिट्टी के बराबर, चंदन पाउडर और गुलाब जल के अनुपात को मिक्स करें। आप पेस्ट में एक बेहतर स्थिरता लाने के लिए और गुलाब जल को मिला सकते हैं। अपने चेहरे पर यह गीली मिट्टी पैक लगाएं। सूख जाने के बाद इसको धो लें। सप्ताह में एक बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

नींबू में मुहांसों से लड़ने के कुछ रासायनिक गुण मौजूद होते है| नींबू का सबसे बड़ा गुण आयल (चिकनाई) को खत्म करने का होता है क्योंकि इसके एसिड की रासायनिक संरचना क्षार या कसैला होती है| दूसरा नींबू एक नेचुरल एंटी बैक्टीरियल एंटीसेप्टिक है | कील मुहांसों के लिए नींबू का इस्तमाल सदियों से होता आ रहा है और आजकल काफी सारी कंपनिया नींबू युक्त प्रोडक्ट बाज़ार में उतार रही है जो पिम्पल्स के इलाज में काम आती है | इस पोस्ट में हम बतायेंगे की कैसे आप नींबू की मदद से  कील मुहासों से छुटकारा पाए|

मुँहासे से सबसे ज्यादा प्रभावित अगर कोई अंग होता है तो वह है चेहरा और भला मुहाँसे वाला चेहरा किसे पसंद होता है | शायद इसलिए चेहरे से पिपल्स हटाने के लिए सभी लोग तमाम उपाय करते है, तरह – तरह की दवाइयाँ तथा क्रीम लगाते है, डॉक्टर के पास भी जाते है लेकिन फिर भी यह समस्या जस की तस रहती है |

One thought on ““मुँहासे 24 घंटे से छुटकारा पाने के लिए _स्पष्ट मुँहासे निशान””

  1. चेहरे के किसी भी दाग धब्बे और अन्य किसी भी तरह के निशान को आसानी से घरेलू नुस्खों की मदद से ठीक किया जा सकता है, पर ये उपचार तभी प्रभाव दिखाते हैं जब इन्हें जल्दी शुरू किया जाए। अतः अगर आपके चेहरे पर हाल में ही मुहांसे के निशान आए हैं तो इसके सूखने के साथ ही ऊपर बतायी गयी घरेलू विधियों में से किसी एक का इस्तेमाल शुरू कर दें। इससे यह बात सुनिश्चित होगी कि आपको 1 हफ्ते के अंदर ही मुहांसों के दाग से छुटकारा प्राप्त हो जाएगा।
    कच्चे आलू के बारे में मुझे मेरे एक दोस्त से पता चला था. उसने मुझे बोला था की उसके भाई ने भी अपने मुंहासो पर आलू का इस्तेमाल किया था. जिससे उसके दाग – धब्बे ठीक हो गये थे. आलू हमको घर में ही मिल जाता है. आलू के छिलके मुंहासे दूर करने के लिए आलू का सबसे Best Part होता है.
    जानिये मुहासों के बारे में सभी बातें। मुहासों से जुड़े भ्रम और इसके कारणों को समझिये। आसान और प्राकृतिक टिप्स के साथ कैसे पा सकते हैं मुहासों से छुटकारा। मुहासों और इसके दाग को हटाने के विभिन्न तरीकों और इससे जुड़े आहार के बारे में भी जानिये।
    यह आपको जमे हुए फैट से लड़ने, सेल्युलाईट और खिंचाव के निशान हटाकर त्वचा के टिश्यू फर्म बनाने में सहायता कर सकता है। आपको सिर्फ विक्स वेपोरब, कपूर, बेकिंग सोडा और थोड़े से अल्कोहल के साथ एक क्रीम तैयार करने की ज़रूरत है। समस्याग्रस्त क्षेत्रों में परिणामस्वरूप क्रीम लगाएं और काले प्लास्टिक या एक क्लैंपिंग स्ट्रिप के साथ कवर करें। यह आप घर पर, ऑफिस में या व्यायाम करने से पहले कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *