“स्वाभाविक रूप से तेजी से मुँहासे से छुटकारा कैसे निकालना +मुंह से साफ”

अब आपको भी अपने Pimple और Acne हटाने के लिए थोड़ा Serious हो जाना चाहिए और इन्हें हटाने के लिए गंभीरता से सोचना चाहिए. अपने कील – मुंहासो को दूर करने के लिए आप ऊपर बताये गये, सभी टिप्स और उपायों को अपनी दिनचर्या में शामिल करे.

दलिया खाना जहाँ हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहतर होता है वही यह हमें शारारिक मजबूती भी देता है. आप दलिये का इस्तेमाल अपने पिम्पल दूर करने के लिए करे. आप दलीये के साथ शहद मिला ले और फिर दोनों को अच्छी तरह मिक्स कर ले. इस पेस्ट को फिर अपने कील – मुंहासो में लगाये और 20 मिनट बाद इसे पानी से धो ले.

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल माउथवॉश के तौर पर भी किया जा सकता है। आधा छोटा चम्मच बेकिंग सोडा एक छोटे गिलास पानी में मिलायें। पानी से अपना मुंह भर लें, बिना निगलें हुए, और इसे मसूड़ों और दांतो के बीच में हिलाते हुए कुल्ला करें।

कॉफी एक बहुत अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है। यह ब्लड सर्कुलेशन को उचित रखने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है। यह सेल्‍युलाइट को कम करने में मदद करता है। आप नारियल तेल और कॉफी पाउडर को मिलाकर, कॉफी स्क्रब बनाएँ और इसे अपनी जांघों और नितंबों पर लगाएँ। इसे 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगाकर छोड़ दें और फिर धो लें। इसके अलावा, कॉफी के बीज का पाउडर बनाकर उसे अपने बॉडी लोशन में मिलाएं और त्वचा पर 5 मिनट तक इसे लगा रहने दें, फिर गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इस उपाय को हफ्ते में दो बार करें।

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आप किसी पार्टी में जाने के लिए invited हों जहाँ तरह तरह के खाने-पीने की चीजों का इंतजाम हो… लेकिन इसी वक़्त कमबख्त मुंह के छालों ने आपको परेशान कर रखा हो? मेरे साथ तो कई बार ऐसा हो चुका है! लेकिन घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि ऐसे कई आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं। 

वहाँ रहे हैं एक बार आप छालरोग उपचार खोजने का फैसला किया, लेकिन केवल डॉक्टर कि चुना छालरोग उपचार दवा की प्रभावकारिता का मूल्यांकन कर सकते हैं विकल्प की एक बहुत कुछ के अनुरूप होगा आप व्यक्तिगत रूप से। सोरायसिस के उपचार कोई साइड इफेक्ट नहीं होना चाहिए।

वात और कफ को शांत करने के लिए सूखी अदरक और काली मिर्च उत्कृष्ट हैं। ये श्वसन प्रणाली के स्वास्थ्य को बनाए रखने और पाचन और संचलन को बढ़ाने में सहायक होती है। ये सामग्री शरीर में गर्मी उत्पन्न करती हैं।

आयुर्वेद में, हल्दी को कैविटी दर्द से राहत प्रदान करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इसमें मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुणों के साथ एंटी-इंफ्लेमेंटरी गुण मसूढ़ों को स्‍वस्‍थ रखने के साथ बैक्‍टीरियल संक्रमण के कारण दांतों के गिरने की समस्‍या को भी रोकता है। प्रभावित दांत पर थोड़ी सा हल्‍दी पाउडर लगाकर इसे कुछ मिनटों के लिए छोड़ दें। फिर गुनगुने पानी से अच्‍छे से कुल्‍ला कर लें।

पिम्पल का देसी इलाज नीम है नीम के पत्ते को पीस दें और साथ में हल्दी मिला के चेहरे पर लगाएँ तो पिम्पल्स गायब हो जायेंगे पिंपल्स हटाने के लिए आप एलोवेरा का रस, मुल्तानी मिटटी और हल्दी का मिश्रण पिम्पल्स पर लगाएँ गुलाब की पंखुड़ी को पीस दें और निम्बू के रस के साथ अपने चेहरे पर घिसें और 30 मिनट के बाद धो दें पिंपल्स हटाने के लिए आप हल्दी और बेसन का निम्बू के रस के साथ उबटन बना के चेहरे पर अच्छी तरह से पांच मिनट तक घिसें केटली में पानी उबालें और भाप को त्वचा पर लगाएँ और साथ में रुई या कपड़े से चेहरा घिसते जाइए ताकि मैल, मृत कोशिका और तेल सभी कुछ निकल जाए|

lifestyle news bollywood news in hindi fashion fashion news love Cricket fashion_traind entertainment latest news beauty tips bollywood news bollywood lifestyle Entertainment_news entertainment news latest latest fashion trends lifestyle_news health news bollywood_actress

मुँहासे एक गंभीर समस्या है, लेकिन साथ मेंसक्षम दृष्टिकोण और जटिल उपचार आपकी त्वचा बिल्कुल सही दिखेगी। विशेषज्ञों की सहायता कभी भी ज़रूरत से ज़्यादा नहीं होती है, बल्कि स्वतंत्र रूप से भी, दृढ़ता और दृढ़ता से दिखती है, चेहरे पर मुंह से छुटकारा पाना संभव है।

ज्यादा पानी पीएं: एक कारण जिसकी वजह से दुर्गंधित सांस या आपकी सांस और खराब हो जाती है, वह है मुंह का सूखापन। पानी गंध मुक्त होता है और यह मदद करता है आपके दांतो में से बचे हुए खाने के अवशेष को निकालने में, जो बैक्टीरीया के उपज का कारण होते हैं। यह मुंह में लार (सलाइवा) बनाने में भी मदद करता है जो आपके मुंह को साफ़ रखता है और उस पदार्थ को निकालता है जिसकी वजह से आपके मुंह में दुर्गंध रहती है।[८]

जिस तरह हम अपने शरीर को साफ रखते हैं रोज नहाते हैं रोज अपना मुंह धोते हैं उसी तरह हमें अपने कानों की सफाई कमी जरूर ध्यान रखना चाहिए आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे विश्व में कहां से जुड़ी समस्याएं काफी ज्यादा पैदा हो रही है और इस सब का सबसे बड़ा कारण है कानों में जमी रहने वाली महल आज हम जो वीडियो आपको लाए हैं उसमें आपको बहुत ही अच्छे और उपयोगी जानकारी काम से जुड़ी हुई दी गई है!

आंतरिक अंगों, अधिक कामकाज और रोगों के रोगतनाव, हार्मोनल विकार, एलर्जी प्रतिक्रियाओं त्वचा पर चकत्ते की उपस्थिति के आंतरिक कारण हैं। एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं चेहरे पर लाल मुँहासे की उपस्थिति से होती हैं, अधिकतर गालों पर। जीवों के नशे में, बैक्टीरिया या चेहरे पर शरीर और शरीर के कामों की गड़बड़ी के प्रभाव के कारण, मर्दों के धब्बे होते हैं। चेहरे पर गहरे चमड़े के नीचे मुँहासे अंतःस्रावी विकार का एक परिणाम हो सकता है। जब सफेद धब्बे चेहरे पर दिखाई देते हैं, तो यह आंतरिक परजीवी के लिए जांच करने के लिए आवश्यक नहीं होगा।

हैलीमिटर का इस्तेमाल करें: अगर आप लगातार सांस की दुर्गंध से परेशान है, तो इसके इलाज के लिए आपके डेंटिस्ट के पास हैलीमिटर होगा। हैलीमिटर एक प्रकार का विशेष यंत्र है जो आपकी सांस की गति को जानने के लिए बनाया गया है। यह एक प्रकार का सांस की जांच करने वाला यंत्र है जो शराब या अन्य पदार्थ की जांच करता है जिसे पुलिस भी इस्तेमाल करती है।[१७]

डिस्‍क्‍लेमर: आयुर्वेदप्लस पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

कभी न कभी इस समस्या का सामना सबको करना पड़ता है।खूबसूरत मुस्कान हर चेहरे को आकर्षक बनाती है| अगर प्यारी सी मुस्कान के बावजूद कोई आपकी सांसों की दुर्गंध के कारण पास आकर बात ना करना चाहे, तो आज के इस लेख को पूरा पड़ें , इस नुस्खे में आप अपनी समस्या का समाधान पा लोगे |

Sir mujhe pimple ke sath2 bade2 ghao hoo jate h jisme push bhar jata h. Maine homeopathy ayurvedic and alopethic medicine li h phir v 4 year se padeshan hu. Or chechak ke daag hatane k v upay bataye. Please please reply sir

इपोह: सुल्तान अजलान शाह कप के दूसरे मुकाबले में भारत जीत की ओर अग्रसर थी। टीम ने गत चैंपियन इंग्लैंड के खिलाफ 52वें मिनट तक एक गोल की बढ़त थी लेकिन उसने बार बार मौके गंवाते हुए 27वें सुल्तान अजलान [Read more…]

मेरी उम्र 25 साल की है पीईचले दो महीनो से अब मेरे चेहरे पर बहुत से दाने निकल रहे हैं मैं किया करूँ कोई जल्दी से कील मुहाँसो को मिटाने का आसान सा घरेलू तरीके और नुस्खे बताएँ जिससे मेरा चेहरा पहले की तरह सॉफ हो जाए|

गुलाब जल भी एक बढ़िया उपाय है. मुहासों को दूर करने का यदि आप गुलाब जल के अंदर काली मिर्च के कुछ दाने पिस कर मिलाये और उसको रात को अपने मुह पर लगाकर सोने के बाद सुबह उस धो ले इससे भी आपके चेहरे पर मुहासों को दूर करने मु मदत मिलती है. और यदि आप नींबू के रस को भी गुलाब जल के अंदर मिला कर लगा सकते है.

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis): यदि आपको मधुमेह हैं जिसके कारण आपका शरीर ग्लूकोस के जगह वसा को जलाये, और कीटोन सांस पैदा करें जैसा की पिछले चरण में बताया । यह एक गंभीर स्थिति हैं जिसका जल्द से जल्द इलाज होना चाहिये ।

ऑइली त्वचा से पूरी तरह से छुटकारा पाना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप इस सामान्य समस्या को हल करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं। महंगे और केमिकल युक्त उत्पादों का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बहुत से लोगों ने घरेलू उपायों को इस समस्या के लिए मेहतर और प्रभावी पाया है। 

अगर डायबिटीज के रोगियों को कहीं पर चोट लग जाती है तो उस जगह पर जहाँ चोट लगी है वहां सुबह मुँह की लार लगाये घाव भरने लगेगा। क्योकि मुंह की लार एंटीसेप्टिक होती है। वह रोगों की सबसे अच्‍छी दवा हैं, जो आपको फ्री में मिलती हैं। जिसके असंतुलन के कारण ही आज व्यक्ति कई रोगों से ग्रस्त है। जबकि किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के मुंह में प्रतिदिन 1000 से 1500 मिलीलीटर लार बनती है जो मुंह में मौजूद कैविटी, हानिकारक बैक्टीरिया और बारीक भोजन के कणों को साफ करने में मदद करती है। लार में ‘सलाइवा पैरोटिड ग्लैंड हार्मोन’ (एसपीजीएच) पाया जाता है जो त्वचा से उम्र के प्रभावों को कम करते है और आप लंबे समय युवा दिख सकते हैं। साथ ही लार में लाइसोजाइम नामक एंटी-बैक्टीरियल तत्व और इम्यून प्रोटीन ‘ए’ होते हैं जो मसूढ़ों और गले को कई प्रकार के हनिकारक इंफेक्‍शन से बचाते हैं।

अगर आप भी दाग – धब्बो या कील मुहांसों से परेशान है तो यह Article आपको इनसे छुटकारा पाने में बहुत Help कर सकता है. आप इस आर्टिकल में बताये गये Tips को अपनाकर अपने चेहरे से कील – मुंहासो को बड़ी आसानी खत्म कर सकते है.

आप शहद के साथ थोड़े पिसे हुए बादाम मिलाकर मिश्रण भी बना सकते हैं। मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए हल्के हाथों से इस पेस्ट से अपनी त्वचा की मालिश करें। फिर अपने चेहरे को गर्म पानी में भिगोये हुए कपड़े की सहायता से पोंछे इससे आपके बंद छिद्र खुलेंगे। यह प्रक्रिया सप्ताह में एक बार करें।

अगर अपनी अपने अब आज आप इन इस इसके इससे इसे उनके उस और कई कर करने करें कहानी का काम कार कि किया किसी की कुकर कुछ के बाद के लिए के लिये के साथ केक को कोई क्या खास गया घर घी घोंसले चम्मच चाहिए जब जा जाता है जाती जाने जो जोधपुर ज्यादा ठीक तक तथा तरह तो त्वचा थी थे थोड़ा दिन दिया दूध देखा द्वारा धर्म नमक नहीं ना नाना पाटेकर नीबू ने पर पहले पानी पीपल पुजारी जी पुरस्कार पेस्ट फिर फिल्म बड़ा बन बर्तन बस बहुत बार भी मिला मिलाकर मुंह में में एक मेदा मेरे मैं यह या ये रंग रम्भा रही रहीम रहे राजस्थानी रात रूप लगा लीजिये ले लें वाले विजयदान देथा वो शक्ति शिव सब सभी सा साड़ी साहित्य सी से सेवन हर हल्दी हिन्दी ही हुआ हुए है और हैं हो होता है होती होने होली

योगासन आपके बालों के बढ़ने में अहम भूमिका निभाते है साथ ही ये आपका ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक करते है इस योगासन को आप कभी भी कर सकते है, रात को सोने से पहले भी लेकिन योग के साथ आपको अपने बालों का ख्याल भी रखना होगा उनकी जड़ो को सही सलामत रखें ताकि बालों का झड़ना कम हो सके।

कोई समस्या नहीं निचोड़ pimples में विशेष रूप से खतरनाक चेहरे पर आंतरिक pimples फैलाएंगे। जब संक्रमण का एक बहुत बड़ा खतरा फैलता है, जो सबसे ज्यादा त्वचा की गिरावट को उत्तेजित करता है, और सबसे खराब – मस्तिष्क के जहाजों में मिल सकता है। धब्बे के बाहर फैलाए जाने के बाद के निशान हैं, फिर से छुटकारा पाने में बहुत मुश्किल है;

विटामिन-डी से भरपूर आहार लें: विटामिन-डी आपके मुंह में बैक्टीरिया होने से रोकता है। विटामिन-डी का सेवन हम अपने आरक्षित आहार और पेय के रूप में कर सकते हैं, विटामिन-डी आम तौर पर और अधिक प्रभावशाली रूप में सूरज की रोशनी से मिलता है।[११]

“गहरे छेद” दाँतों में जड़ो के पास हो जाते हैं जो की नियमित तौर पर फ्लॉस नहीं हो पाते।इनमे सड़ा अन्न और कीड़े पैदा हो जाते हैं जिससे साँसों में दुर्गन्ध आती हैं – जो सड़े हुए दाँतों (दर्दनाक, संक्रमित मसूड़ों) को जन्म देता हैं।

मुंह की दुर्गंध (Mouth Smell) की समस्या अक्सर दूसरों के सामने शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। जिसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे ब्रेकफास्ट न करना, मुंह की सफाई न करना, खराब डाइजेशन (Digestion Problem ) और सलाइवा की कमी जैसी कई समस्याएं होती हैं। इसे खान-पान में सुधार करके काफी हद तक कम किया जा सकता है|

सोरायसिस में अलग अलग तरीकों से पता चला है। कभी कभी छोटी bumps चपटा कर रहे हैं, कई बार बड़े सजीले टुकड़े के साथ उठाया त्वचा मोटी कर रहे हैं। बढिया, लाल रंग के धब्बे विशिष्ट सोरायसिस, के साथ ही सूखी त्वचा गुलाबी रंग के होते हैं।

One thought on ““स्वाभाविक रूप से तेजी से मुँहासे से छुटकारा कैसे निकालना +मुंह से साफ””

  1. कील मुहांसों को दूर करने के लिए चेहरे की त्वचा को बार बार धोते रहें और बिलकुल स्वच्छ रहें चेहरे के त्वचा के छिद्र को खुल्ला और साफ़ रहें उस के लिए आप हर रोज रात को और सवेरे उठ के भाप से त्वचा साफ़ करें फल और सब्जी ज्यादा अधिक मात्रा में खाएँ साबुन से चेहरा न धोएँ सिर्फ बेसन, चावल का आटा और हल्दी का प्रयोग करेंतले हुए, मसालेदार आहार को कम मात्रा में खाएँ पानी अधिक मात्रा में पिएं पूरा नींद लें|
    I am showing the Bay leaf plant & in our local language it is called Tejpat (তেজ পাত). The leaves have a very good aroma and are mainly used as a spice in Indian cooking since ages. The fresh leaves are very mild and do not develop their full flavor until several weeks after picking and drying. The bay leaves can be powdered and if consumed for 30 days is very effective in treating diabetes. I am showing here two ways how to get the maximum health benefit from its leaves.
    मुसब्बर वेरा जेल एक त्वचा सुखदायक और शुद्ध करने वाला एजेंट है जो मुंह से जल्दी से इलाज कर सकता है मुसब्बर वेरा पत्ती से कुछ ताजे मुसब्बर वेरा पल्प तैयार करें और इसे सीधे पंप पर डालें और इसे छोड़ दें। इसे पूरी तरह सूखने के बाद इसे धो लें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *